home / xSEO
Kaunch Beej Ke Fayde - कौंच के बीज के फायदे और नुकसान - Kaunch Beej Powder Benefits in Hindi

कौंच बीज के फायदे और नुकसान – Kaunch Beej ke Fayde Aur Nuksan

इस बात में कोई दो राय नहीं है कि एक संतुलित आहार जिसमें कार्बोहाइड्रेट, वसा, प्रोटीन, विटामिन, एंटीऑक्सिडेंट और खनिजों के सभी आवश्यक पोषक तत्व शामिल हैं, शरीर और दिमाग को स्वस्थ रखने का काम करता है। फिर भी, बदलते मौसम में खुद को बीमारियों से बचा पाना कई बार मुमकिन नहीं हो पाता। इसके अलावा, आज काम और घर पर तनावपूर्ण वातावरण के चलते अपच, तंत्रिका तंत्र की खराबी और बांझपन जैसी कई बीमारियों जन्म ले लेती हैं, जिससे युवा पुरुषों और महिलाओं की एक बड़ी संख्या प्रभावित होती है। मगर इसमें इतना परेशां होने वाली भी कोई बात नहीं है क्योंकि प्रकृति में पाए जाने वाले वनस्पतियों के ढेर, सब्जियों, फलों, नट्स, जड़ी-बूटियों के कई पौष्टिक तत्वों के अलावा एक बेहद चिकित्सीय फल है, कौंच बीज। हम यहां आपको कौंच के बीज के फायदे और नुकसान (kaunch beej ke fayde aur nuksan) के बारे में बता रहे हैं।  चंद्रप्रभावटी के फायदे

क्या होता है कौंच बीज – What is Kaunch Beej in Hindi 

कौंच बीज (मुकुना प्रुरेन्सिस) कौंच बीज के पेड़ से संबंधित एक फलीदार पौधा है – जो कि राजमा के समान दिखता है। कौंच बीज कपिकाचू जड़ी बूटी का बीज है, जो अपने उच्च औषधीय मूल्यों के लिए जाना जाता है। भारत के दक्षिणी हिस्सों में पूनाइकली बीज के रूप में भी जाना जाता है, कौंच बीज एक कामोद्दीपक है जो स्पर्म काउंट की संख्या और उनकी गुणवत्ता को बढ़ाता है। इसमें मौजूद अवसादरोधी गुणों के साथ यह यौन इच्छा को बढ़ाता है और खून में टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है। कौंच बीज जड़ी बूटी के लगभग सभी भागों में बहुमूल्य औषधीय गुण होते हैं, जिनमें से इसका बीज सबसे प्रसिद्ध हैं।  कमरख फल के फायदे

What is Kaunch Beej in Hindi

कौंच बीज के फायदे – Kaunch ke Beej ke Fayde 

प्रजनन संबंधी विसंगतियों, आंत की शिकायतों, मस्तिष्क संबंधी विकारों जैसे पार्किंसंस के अलावा कौंच बीज के फायदे (kaunch beej benefits in hindi) मधुमेह के लक्षणों को ठीक करने, कैंसर को रोकने, प्रतिरक्षा बढ़ाने, हृदय स्वास्थ्य में सुधार, गठिया में जोड़ों के दर्द को कम करने और गुर्दे के कार्यों को बढ़ाने में बहुत प्रभावी है। कौंच बीज और उनके हरे घेरे बेहद प्रभावशाली नजर आते हैं। इनमें सभी आवश्यक मैक्रोन्यूट्रिएंट्स – कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, वसा और प्रोटीन के साथ-साथ प्रमुख सूक्ष्म पोषक तत्वों – विटामिन और मिनरल्स शामिल हैं। कौंच बीज में विटामिन सी और ई की काफी मात्रा होती है। कौंच बीज में बी कॉम्प्लेक्स विटामिन – थायमिन, राइबोफ्लेविन, नियासिन और फोलिक एसिड के साथ-साथ कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन और फॉस्फोरस भी पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं। यही वजह है कि बात जब कौंच बीज बेनिफिट्स (kaunch beej ke fayde) की आती है तो इसके गुण बस यही नहीं थमते। पारिजात फूल के फायदे

गर्भावस्था और ब्रेस्टमिल्क में फायदेमंद – Kaunch Beej Benefits for Pregnancy in Hindi 

गर्भावस्था और ब्रेस्टमिल्क में कौंच बीज के फायदे देखने को मिलते हैं। इसके लिए कुछ कौंच बीज को रात भर भिगोकर अगली सुबह सेवन करें। ऐसा करने से गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के स्वास्थ्य पर काफी लाभ होता है। कौंच बीज में प्रचुर मात्रा में आयरन और कैल्शियम होने के कारण, यह दूध उत्पादन को बढ़ाने और गर्भवती महिलाओं और युवा माताओं में हार्मोनल गतिविधियों को संतुलित करने के लिए बेहद फायदेमंद है। सोआ के बीज के फायदे

Kaunch Beej Benefits for Pregnancy in Hindi

दिल के लिए कौंच बीज के फायदे – Kaunch Beej Benefits for Heart in Hindi 

कौंच बीज पूरी तरह से कोलेस्ट्रॉल और सोडियम से रहित होता है, इसलिए कौंच बीज से बने व्यंजनों का सेवन हृदय रोग वाले लोग सुरक्षित रूप से कर सकते हैं। इसके अलावा, आहार फाइबर और विटामिन बी 3 या नियासिन की प्रचुरता अच्छे एचडीएल स्तर को बढ़ाने और खराब एलडीएल स्तर को कम करने में मदद करती है। यह हृदय की मांसपेशियों के कार्य को आसान बनाता है और हृदय स्वास्थ्य में सुधार करता है।

खून बढ़ाए कौंच बीज – Kaunch Beej Help to Improve Blood in Hindi

आयरन की कमी से होने वाला एनीमिया हर साल अनगिनत भारतीय पुरुषों, महिलाओं और बच्चों को प्रभावित करता है, जिससे अत्यधिक थकान और कम का एहसास होता है। कौंच बीज आयरन का एक पावरहाउस है, जो खून में कम हीमोग्लोबिन के स्तर का अनुभव करने वाले लोगों के लिए वरदान के रूप में कार्य करता है, इस प्रकार कौंच बीज के फायदे एनीमिया का प्रभावी ढंग से इलाज करता है।

डायबिटीज में फायदेमंद – Kaunch Beej to Prevent Diabetes in Hindi  

कौंच बीज, कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट में उच्च होने के कारण तत्काल ऊर्जा प्रदान करते हैं। इसमें फाइटेट्स, टैनिन, पॉलीफेनोल्स-पौधे के रसायनों के ढेर सारे तत्व शामिल होते हैं, जो पाचन प्रक्रिया को धीमा कर देते हैं। यह डायबिटीज मेलिटस वाले लोगों में हाई ब्लड शुगर को कम करता है। इसके अलावा, इसकी कम पाचनशक्ति और समृद्ध फाइबर सामग्री के कारण, वजन घटाने में तेजी लाने और मधुमेह और मोटापे जैसी अन्य जीवन शैली की बीमारियों से बचाने के लिए कौंच के बीज का उपयोग काफी अच्छा है।

हड्डियां बनाए मजबूत –  Kaunch Ke Beej Ke Fayde To  Strength in Hindi 

कौंच बीज प्राकृतिक कैल्शियम का बेहतरीन स्रोत होने के कारण बढ़ते बच्चों की हड्डियों को मजबूत करता है। यह वृद्ध लोगों में ऑप्टिमम बोन डेन्सिटी को भी पुनर्स्थापित करता है। साथ ही ऑस्टियोपोरोसिस के लक्षणों को कम करने में सहायता करता है। जबकि युवा लोग प्रतिदिन कौंच बीज का सेवन कर सकते हैं, मध्यम आयु वर्ग और वृद्ध वयस्कों को गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल और किडनी विकारों से दूर रहते हुए हड्डियों के स्वास्थ्य को बढ़ाने के लिए, कौंच बीज की मात्रा को मापने की आवश्यकता होती है।

Kaunch Ke Beej Ke Fayde To Strength in Hindi

आंत की समस्याओं का करे इलाज – Treat Bowel Problem With Kaunch in Hindi 

कौंच बीज में विटामिन सी, विटामिन ई, बी-कॉम्प्लेक्स विटामिन, आयरन, कैल्शियम, एंटीऑक्सिडेंट, प्रोटीन, फाइबर, पर्याप्त कैलोरी और उपयोगी असंतृप्त वसा जैसे प्रमुख पोषक तत्व पाए जाते हैं। रात में गहरी नींद के बाद, पेट और आंतें सुबह में मेटाबॉलिज्म के चरम स्तर को प्रदर्शित करती हैं। इसलिए, नाश्ते के लिए कौंच बीज व्यंजन खाने से पाचक रस सक्रिय हो जाते हैं और कौंच बीज में पाए जाने वाले पोषक तत्वों को पूरी तरह से आत्मसात कर लेते हैं, जो रक्तप्रवाह में अवशोषित हो जाते हैं और शरीर के महत्वपूर्ण अंगों जैसे हृदय, मस्तिष्क, फेफड़े, लीवर और किडनी में स्थानांतरित हो जाते हैं।

नपुंसकता के लिए कौंच बीज के फायदे – Kaunch Beej Ke fayde for Infertility in Hindi 

ऐसा नहीं है कि इनफर्टिलिटी की परेशानी का सामना सिर्फ महिलाओं को ही करना पड़ता है। पुरुषों में भी यह समस्या आम है, जिसे नपुंसकता कहते हैं। कौंच बीज बेनिफिट्स नपुंसकता में भी देखने को मिलते हैं। कौंच के बीज के सेवन से स्पर्म काउंट और उसकी क्वालिटी में सुधार देखा गया है। कौंच के बीज का उपयोग न सिर्फ स्पर्म को नुकसान से बचाता है बल्कि नपुंसकता की समस्या को भी दूर करता है। 

करे अमीनो एसिड की आपूर्ति 

कौंच बीज कुछ प्रमुख अमीनो एसिड से बना होता है, जो इसे उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन का एक अनूठा स्रोत बनाता है। यह मेथियोनीन, त्वचा और बालों के स्वास्थ्य को पुनर्जीवित करने के लिए एक सल्फर-आधारित अमीनो एसिड, वेलिन और आइसोल्यूसीन प्रदान करता है जो दांतों के उचित गठन करने के लिए घायल मांसपेशियों के ऊतकों और थ्रेओनीन की मरम्मत करता है।

कौंच के बीज का उपयोग  – How to Use Kaunch Beej in Hindi

अभी तक हमने आपको कौंच बीज के फायदे बताएं। मगर कौंच बीज के फायदे उठाने के लिए यह पता होना बेहद जरूरी है कि कौंच के बीज का उपयोग कैसे करना है। आप कौंच के बीज का उपयोग इसका काढ़ा बनाकर कर सकते हैं। इसके अलावा दवा के रूप में भी आप कौंच के बीज का उपयोग कर सकते हैं। मगर इसके लिए डॉक्टर से सलाह लेना न भूलें। आप कौंच के बीज का चूर्ण पानी या दूध के साथ भी ले सकते हैं। 

How to Use Kaunch Beej in Hindi

कौंच बीज का पाउडर कैसे बनता है? – How to Make Kaunch Beej Powder in Hindi

सिर्फ कौंच बीज ही नहीं कौंच बीज पाउडर के फायदे (kaunch beej powder benefits in hindi) भी हैरान कर देने वाले हैं। इसका पाउडर बनाना भी बेहद आसान है। इसके लिए आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है बस इसे पीस लेना है। जानिए कौंच बीज पाउडर बनाने का तरीका।  

सामग्री:

2 कप कौंच बीज

पाउडर बनाने का तरीका:

– सबसे पहले 2 कप कौंच बीज को एक घंटे के लिए पानी में भिगो दें।

– अब इन्हें पूरी तरह से सुखा लें, फिर इन्हें मिक्सर में डालकर पीस लें।

– एक बार बारीक पाउडर बन जाने के बाद, पाउडर को एक साफ, एयर-टाइट जार में स्टोर करें और एक हफ्ते के भीतर इसका उपयोग करें।

कौंच बीज के नुकसान – Kaunch Beej Ke Nuksan

Kaunch Beej Ke Nuksan

हर चीज़ के अपने फायदे और नुकसान होते हैं। मगर बात जब कौंच बीज के नुकसान की आती है तो मतली, उल्टी, सिरदर्द और अनिद्रा जैसे मामले देखने को मिलते हैं। किडनी की समस्या वाले लोगों को कौंच बीज के सेवन से या तो पूरी तरह से बचना चाहिए या सीमित करना चाहिए, क्योंकि बीज में कैल्शियम की मात्रा अधिक होती है। यह ऑक्सालिक एसिड के स्तर को बढ़ा सकता है और शरीर में अधिक मूत्र पथरी या किडनी स्टोन का कारण बन सकता है।

कौंच बीज को लेकर पूछे जाने वाले सवाल-जवाब – FAQ’s 

सवाल- कौंच के बीज का सेवन कैसे करें?

जवाब- कौंच के बीज का सेवन आप कई तरह से कर सकते हैं। जैसे- काढ़ा बनाकर या इसका पाउडर बनाकर आप पानी या दूध के साथ ले सकते हैं।

सवाल- कौंच के बीज कितने रुपए किलो है?

जवाब- कौंच के बीज 40 रुपये किलो हैं।

सवाल- कौंच का पौधा कैसे होता है?

जवाल- कौंच के बीच का पौधा झाड़ीनुमा होता है और इसकी पत्तियां नीचे की ओर झुकी होती हैं। इसके पौधे में गहरे बैंगनी रंग के फूलों के गुच्छे निकलते हैं, जिसमें करीब 6 से 30 तक फूल होते हैं।  

सवाल- कौंच के बीज किस काम आते हैं?

जवाब- कौंच के बीज कई काम आते हैं। यह थकान और शारीरिक कमजोरी दूर करने के अलावा महिलाओं में दूध बनने की समस्या को भी कम करता है। 

अगर आपको यहां बताए गए कौंच बीज के फायदे (kaunch beej benefits in hindi) पसंद आए तो इन्हें अपने दोस्तों और परिवारजनों के साथ जरूर शेयर करें।

ये भी पढ़ें –
स्वास्थ्य के लिए ईसबगोल के फायदे और नुकसान

28 Sep 2021

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text