जायफल के फायदे - Jaiphal Ke Fayde, jaiphal ke fayde | POPxo

जायफल के फायदे और नुकसान - Jaifal ke Fayde

जायफल के फायदे और नुकसान - Jaifal ke Fayde

अगर आप अपनी जिंदगी को जॉयफुल बनाना चाहते हैं तो किचन में मौजूद जायफल नाम के मसाले की अहमियत को समझें। ये सिर्फ जायके के लिए ही नहीं बल्कि अपने चमत्कारिक औषधीय गुणों के लिए भी जाना जाता है। समस्या चाहे त्वचा से संबंधित हो या सेहत से, जायफल में हर वो गुण मौजूद है, जो इन सभी समस्याओं का समाधान करता है। तो आइए जानते हैं जायफल के अद्भुत फायदों के बारे में और उससे जुड़े कुछ घरेलू उपाय भी ...


जायफल के फायदे - jaiphal ke fayde


जायफल से जुड़े घरेलू नुस्खे - Home Remedies of Nutmeg in Hindi


जायफल के नुकसान - Side Effects of Nutmeg in Hindi


क्या है जायफल? - What is Nutmeg in Hindi


Benefits Of Nutmeg


मिरिस्टिका वृक्ष के बीज को जायफल कहते हैं। दिखने में छोटे नाशपाती की तरह, यह 1 इंच से डेढ़ इंच तक लंबा होता है, जिसमें हल्के लाल या पीले रंग का गूदा भी होता है। पकने पर ये फल दो भागों में फट जाता है और इसके अंदर सिंदूरी रंग का बीजोपांग दिखाई देने लगता है, जिसे जावित्री भी कहते हैं।


अखरोट के सभी फायदे और नुकसान


जावित्री के अंदर एक गुठली होती है, जिसके ऊपरी भाग को यानि खोल को तोड़ने पर अंदर जायफल (nutmeg) मिलता है। जायफल का वानस्पतिक नाम Myristica fragrans है जिसे संस्कृत में जातीफल कहते हैं। ये चीन, ताइवान, मलेशिया, ग्रेनाडा, केरल, श्रीलंका और दक्षिणी अमेरिका में खूब पैदा होता है।


क्या आपको पता हैं हेल्थ से जुड़े ये 10 फैक्ट्स


जायफल के फायदे - jaiphal ke fayde


बात अगर रसोई घर की करें तो जायफल और जावित्री का स्वाद लगभग समान होता है। जायफल अधिक मीठा होता है वहीं जावित्री अधिक स्वादिष्ट होता है। खाने में स्वाद और खुशबू लाने के लिए अकसर इन मसालों का इस्तेमाल किया जाता है। सिर्फ यही नहीं, परंपरागत चिकित्सा में जायफल और जायफल के तेल का इस्तेमाल नसों और पाचन प्रणाली से संबंधित बीमारियों के लिए भी किया जाता था। हम में से बहुत से लोग जायफल का इस्तेमाल घर पर मसाले के तौर पर करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि जायफल (Nutmeg) में ऐसे कई गुण होते हैं जो हर आयु के लोगों को सेहतमंद बनाए रखने में मदद करते हैं? जायफल में कई पोषक तत्वों के साथ ही साथ ही एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन, एंटी- इंफ्लेमेट्री गुण, फाइबर और मिनरल्स भी मौजूद हैं, जो हमारे शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए बहुत जरूरी हैं। बच्चे हों या बड़े, सब के लिए जायफल वरदान के तौर पर काम करता है। तो आइये जानते हैं कि जायफल किन- किन रोगों से किस तरह से बचाता है और क्या हैं जायफल के फायदे (jaifal ke fayde)


स्किन के लिए जायफल


खाने में जायका लाने के साथ- साथ जायफल के गुण स्किन से जुड़ी हर परेशानी को दूर करने में कारगर साबित होते हैं। इसमें मौजूद एंटी- इंफ्लेमेट्री गुण मुंहासों को रोकने में काफी मदद करते हैं। जायफल का इस्तेमाल करने से झाइयां, दाग-धब्बे, काले घेरे जैसी परेशानियां भी खत्म हो जाती हैं। सिर्फ यही नहीं, अगर लंबे समय से कोई चोट का निशान आपके चेहरे की सुंदरता को कम कर रहा है तो जायफल का इस्तेमाल आपकी ये परेशानी भी कम कर सकता है।


स्किन, बालों और कई रोगों के लिए दवा का काम करते हैं सरसों के बीज


सेक्स में रुचि बढ़ाने के लिए जायफल


Nutmeg Benefits For Skin


जायफल थकान और तनाव दूर करने के साथ- साथ सेक्स पावर बढ़ाने में भी मदद करता है। जिन पुरुषों का वीर्य (Semen) पतला होता है या शुक्राणु (Sperm) कम मात्रा में बनते हैं, उनके लिए जायफल औषधि के तौर पर काम करता है। एक्सपर्ट बताते हैं कि जायफल के फायदे (jaifal ke fayde) सेक्सुअल एक्टिविटी को सकारात्मक तौर पर बढ़ाने में मिलता है। पुराने समय में सेक्स से जुड़ी ज्यादातर समस्याओं का हल जायफल से ही निकाला जाता था और आज भी इसका इस्तेमाल पोराज जैसी दवाइयों को बनाने में किया जाता है जोकि सेक्स के प्रति रुचि को विकसित करता है। जायफल के गुण शारीरिक उत्तेजना को तेजी से बढ़ाता है।


बालों और त्वचा के लिए अंजीर बेहद जरूरी


पाचन तंत्र के लिए जायफल


खाने में अगर आप जायफल का इस्तेमाल करते हैं तो ये खाने में स्वाद और सुगंध बढ़ाने के साथ ही आपके पाचन तंत्र का भी ख्याल रखता है। इसका सेवन करने से भूख बढ़ती है और पेट से संबंधित रोग जैसे, कब्ज, गैस, बदहजमी, पेट में मरोड़ पड़ना व डायरिया से राहत मिलती है।


सिरदर्द के लिए जायफल 


कितना भी सिर दर्द क्यों न हो रहा हो, जायफल के गुण ये दर्द मिनटों में दूर भगा देते हैं। जी हां, सिर में दर्द होने पर जायफल को पानी या फिर कच्चे दूध में घिसकर माथे पर लेप की तरह लगाने से बहुत आराम मिलता है।


आंखों के लिए जायफल


Nutmeg Benefits For Eyes


जायफल के गुण में ऐसे कई एंटी- ऑक्सीडेंट्स होते हैं जो आंखों से संबंधित रोगों से हमारी रक्षा करते हैं। साथ ही इसके इस्तेमाल से आंखों की रोशनी भी बढ़ती है। लेकिन इस बात का जरूर ध्यान रखें कि जायफल आंखों के अंदर न चला जाये। यदि आप इसका लेप लगा रहे हैं तो सिर्फ आंखों की बाहरी त्वचा पर ही लगाएं।


अनिद्रा में जायफल


अनिद्रा यानि कि रात में नींद न आना हमारी बदलती जीवनशैली की देन है। अगर नींद पूरी नहीं होती है तो दिन भर सिर में भारीपन, शरीर में थकावट और चिड़चिड़ापन महसूस होता है। अगर आप भी ऐसी समस्याओं से जुझ रहे हैं तो जायफल के उपाय से आप इस परेशानियों से बच सकते हैं। एक रिसर्च में सामने आया है कि एक चुटकी जायफल लेने से नींद में किसी तरह का कोई खलल नहीं पड़ता है। ऐसा इसलिए होता है कि जायफल में ट्राइमाइरिसटिन नाम का केमिकल मौजूद होता है जो हमारी मांसपेशियों को आराम पहुंचाता है और उससे हमें अच्छी नींद आती है।


गर्भावस्था में जायफल


प्रेगनेंसी के दौरान भी जायफल के फायदे (jaifal ke fayde) बहुत से हैं। प्रेगनेंसी में अगर जायफल का उचित मात्रा में इस्तेमाल किया जा रहा है तो ये फायदेमंद साबित होता है। अगर आप कंसीव यानि कि गर्भधारण करने के बारे में सोच रहे हैं तो भी जायफल बहुत काम आता है। लेकिन यदि आप गर्भावस्था के दौरान जायफल का उपयोग कर रहे हैं तो अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।


अगर आपको भी महसूस हो रहे हैं ये सिम्टम्स तो हो सकता है कि आप प्रेगनेंट हों


बच्चों के लिए जायफल


Nutmeg Benefits For Children


छोटे बच्चों के लिए जायफल घर में डॉक्टर का काम करता है। छोटे बच्चों के शरीर में हर समय कोई न कोई दिक्कत बनी रहती है, कभी उन्हें दस्त की शिकायत हो जाती है तो कभी खांसी या जुकाम की। ऐसे में जायफल फायदेमंद साबित होता है। 9 महीने से छोटे बच्चों को भी मां के दूध में जायफल का चूर्ण मिलाकर देने से दस्त और खांसी- जुकाम जैसी शिकायत में राहत मिलती है।


जायफल से जुड़े घरेलू नुस्खे - Home Remedies of Nutmeg in Hindi


  • बेदाग चेहरा हासिल करने में भी जायफल के उपाय बेहद कारगर साबित होते हैं। इसके लिए आपको चाहिए 1 चम्‍मच जायफल पाउडर, 1 चम्मच दही और 1 चम्मच शहद। एक साफ कटोरी में जायफल पाउडर निकालें और उसमें दही व शहद मिला लें। इस मास्‍क को चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें। 20 मिनट के बाद पानी से चेहरा धो लें।

  • एक गिलास दूध के साथ एक चुटकी जायफल पाउडर (nutmeg powder in hindi) लेने से सर्दी का असर शरीर को प्रभावित नहीं करता है। जिन लोगों को ठंड ज्यादा लगती है, उन्हें ये नुस्खा ज़रूर आजमाना चाहिए।

  • जायफल का तेल मांसपेशियों के दर्द, जोड़ों के दर्द और आर्थराइटिस में होने वाली पीड़ा से राहत दिलाता है।

  • मुंह के छाले ठीक न हो रहे हों तो जायफल को पानी में पकाकर उस पानी से कुल्ला या फिर गरारा करें। इससे कुछ ही समय में मुंह के छाले ठीक हो जायेंगे।

  • डिलीवरी के बाद अगर किसी महिला को लगातार कमर में दर्द की शिकायत बनी हुई है तो घिसे हुए जायफल को पानी में मिलाकर कमर पर सुबह और शाम लगाने से आराम मिलता है।

  • अगर 9 महीने के बच्चे को दस्त लग जायें तो जायफल उसके लिए रामबाण इलाज है। जायफल को एक चिकने पत्थर की सहायता से 20- 25 बार घिस कर पेस्ट तैयार कर लें। फिर मां के दूध के जरिये या एक चम्मच पानी में मिलाकर शिशु को पिला दें, तुरंत आराम मिलेगा।

  • जायफल के लाभ बच्चों की खांसी और जुकाम को दूर करने में भी मिलता है। इसके लिए जायफल के पाउडर (nutmeg powder in hindi) और सोंठ को बराबर मात्रा में गाय के घी में मिलाकर बच्चे को सुबह और शाम चटायें, तुरंत आराम मिलेगा।

  • अगर दांत में कीड़ा लगा हो और दर्द भी असहनीय हो तो जायफल के तेल को थोड़ी रुई में लेकर कीड़े लगे दांतों के नीचे 2 से 3 घंटे रख दें।  इससे दर्द तो कम होगा ही, कीड़ा भी मर जायेगा।

  • अगर आप फटी एड़ियों से परेशान हैं तो जायफल को पीसकर एड़ियों की फटी हुई दरारों में भर दें। कुछ ही दिनों में आपको इसका असर अपनी एड़ियो पर दिखने लगेगा।

  • कंसीव यानि कि गर्भधारण करने के बारे में सोच रही हैं तो जायफल और मिश्री को 50- 50 ग्राम की बराबर मात्रा में लेकर चूरन बना लें। फिर पीरियड आने के बाद 6 ग्राम की मात्रा में इसका सेवन करें। उसके बाद संबंध बनाएं, इससे गर्भधारण की संभावना ज्यादा बढ़ जाएगी।

  • रात में नींद नहीं आती तो एक चुटकी जायफल के पाउडर (nutmeg powder in hindi) में थोड़ा शहद मिलाकर सोने से 20 मिनट पहले लें, अच्छी और भरपूर नींद आएगी।

  • गैस या फिर कब्ज की शिकायत रहती है तो जायफल और नींबू के रस का पेस्ट बना लें। सुबह और शाम खाने के बाद इस पेस्ट का दो चम्मच सेवन करें, देखिए कैसे ये तकलीफ दूर होती है।

  • अगर चोट लगने पर कोई गहरा घाव हो गया है, जिसे भरने में समय लग रहा है तो जायफल के लाभ आपको घाव ठिक करने में मिल सकते हैं। आप बस जायफल के तेल को घाव पर मरहम की तरह लगाएं, घाव जल्दी भरने लगेगा।


मोटापा घटाने के लिए बेस्ट हैं ये बाबा रामदेव के घरेलू नुस्खे


जायफल के नुकसान - Side Effects of Nutmeg in Hindi


किसी भी चीज की अति बुरी होती है इसीलिए हर चीज का इस्तेमाल एक सीमा तक ही करना चाहिए। ठीक ऐसा ही जायफल के नुकसान भी है। अगर आप जायफल का ज्यादा मात्रा में सेवन कर रहे हैं तो ये आपके शरीर पर विपरीत प्रभाव भी डाल सकता है और आपको उल्टी, कमजोरी, चक्कर आना, जी मिचलाना जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। एक्सपर्ट बताते हैं कि अधिक मात्रा में जायफल का उपयोग करने से शरीर पर ठीक उसी तरह का प्रभाव होता है, जैसे किसी मादक यानि कि नशीले पदार्थ का सेवन करने से होता है। जायफल के नुकसान खासतौर पर उन लोगों में देखने को मिलता है जो गर्म प्रदेशों में रहते हैं, उन्हें जायफल का ज्यादा इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।


ये भी पढ़ें -


तेज पत्ता के स्वास्थ्य संबंधी फायदे


मसालों के स्वास्थ्य लाभ


कीवी के सौंदर्य संबंधी फायदे