पान के पत्ते के फायदे - Paan Khane ke Fayde, Benefits of Paan Leaf in Hindi | POPxo

पान के पत्ते के फायदे, इसमें छुपे हैं कई बेमिसाल औषधीय गुण - Paan Khane ke Fayde

पान के पत्ते के फायदे, इसमें छुपे हैं कई बेमिसाल औषधीय गुण - Paan Khane ke Fayde

पान का भारत के इतिहास और परंपराओं से गहरा नाता है। पान के पत्ते के इस्तेमाल से हम कई गंभीर बीमारियों को भी आसानी से दूर कर सकते हैं। आज भी भारत के गली, नुक्कड़, चौराहे पर पाने की दुकान आपको मिल जाएगी, यह इस बात को दर्शाता है कि आज भी जनता को पान उतना ही पसंद है जितना कभी नवाबों को हुआ करता था। पान तांबूली या नागवल्ली नामक लता का पत्ता होता है। इस लता के पत्ते छोटे- बड़े कई प्रकार के होते हैं। पान के पत्ते की आकृति मनुष्य के दिल के आकार से मिलती है। इसे अंग्रेजी में 'बीटल लीफ', हिंदी में 'पान का पत्ता' और तेलुगु में 'तमालपाकु' के नाम से भी जाना जाता है। स्वाद के आधार पर पान के पत्ते चार प्रकार के होते हैं - कटु, कषाय, तिक्त और मधुर पान। पान के पत्ते के औषधीय गुण का उल्लेख चरक संहिता में भी किया गया है। पान में वाष्पशील तेलों के अलावा अमीनो एसिड, कार्बोहाइड्रेट और कई विटामिन्स प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं।


पान भारतीय परंपरा का अहम हिस्सा है। खाना खाने के बाद मुंह का जायका बनाए रखने के लिए राजा- महाराजा के समय से लेकर आज तक पान का इस्तेमाल किया जाता है। चाहे कोई पूजा- पाठ हो या फिर कोई दूसरा अवसर, पान के पत्ते का उपयोग शुभ माना जाता है। इसका कारण है पान के पत्ते का शुभता का प्रतीक होना और साथ इसमें छुपे चमत्कारी आयुर्वेदिक गुण। आइए जानें पान के पत्तों की खूबियों (pan ke fayde) के बारे में -


तिल और मस्से हटाने के लिए पान के फायदे - Betel Leaf for Moles


पान के पत्तों के घरेलू नुस्खे - Home Remedies of Betel Leaves in Hindi


पान के नुकसान - Betel Leaf Side Effects in Hindi


पान के बारे में पूछे जाने वाले आम सवाल और उनके जवाब - FAQ's


पान के पत्ते के फायदे - Paan ke Patte ke Fayde


paan leaf benefits


ज्यादातर लोग पान को सादा खाने की बजाय तंबाकू-सुपारी या फिर उसपर गिलौरी डाल कर खाना पसंद करते हैं। लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि पान सिर्फ स्वाद ही नहीं बढ़ाता है बल्कि इसके कई स्‍वास्‍थ्य लाभ भी होते हैं। आइए जानते है पान के पत्तों के कुछ आधारभूत फायदों के बारे में (pan ke patte ke fayde) -


भूख बढ़ाए


जिन लोगों को भूख न लगने की शिकायत रहती है, उनके लिए पान बहुत ही फायदेमंद है। सुबह के समय नाश्ते के दौरान काली मिर्च के साथ पान का सेवन करने से भूख ठीक से लगने लगती है।


डायबिटीज़ में कारगर - For Diabities


पान के पत्ते का ब्लड शुगर कंट्रोल करने में सहायक होते हैं और इसे एंटी डायबिटिक गुण के लिए भी जाना जाता है। एक स्टडी में ये भी सामने आया है कि जो लोग नियमित रूप से पान का सेवन करते हैं उन्हें डायबिटीज़ होने का खतरा कम रहता है।


सिरदर्द में फायदेमंद - Beneficial in Migraine


कितना भी सिर दर्द क्यों न हो रहा हो, पान के पत्तों को पीसकर इस मिश्रण का लेप माथे पर लगाने से सिरदर्द मिनटों में दूर भाग जायेगा।


घाव भरने में सहायक


पाने के पत्तों का रस घाव पर लगाने और उस पर पट्टी बांधकर दो दिन के अंदर ही घाव को सही किया जा सकता है। इसके अलावा पान के पत्तों का इस्तेमाल बालतोड़ फोड़े-फुंसी के इलाज के लिए भी किया जाता है। पान के पत्ते गरम करके उसमें अरंडी का तेल लगाकर फोड़े पर लगाने से आराम मिलता है।


खांसी और जुकाम में राहत - For Cold and Cough


पान के पत्ते खांसी, जुकाम और कफ आदि को ठीक करने में बेहद कारगर होते हैं। इसके अलावा पान के पत्ते सांस लेने की समस्या, अस्थमा जैसी बीमारियों में भी काफी राहत पहुंचाते हैं। अगर आपको सर्दी लग गई है तो पान के पत्ते को शहद के साथ मिलाकर खाने से फायदा मिलता है।


pan leaf beneficial for pimples


मुहांसे दूर करे - Get Rid of Pimples


पान के इस्तेमाल से चेहरे पर होने वाले कील- मुहांसे, दाग- धब्बों से छुटकारा पाया जा सकता है। क्योंकि पान में एंटी बैक्टीरियल गुण पाये जाते हैं जो कि स्किन को फंगल इंफेक्शन से बचाते हैं। मुहांसे से छुटकारा पाने के लिए पान के 8 से 10 पत्ते लेकर अच्छे से पीस लें। फिर इसे 2 गिलास पानी में गाढ़ा होने तक उबालें। बाद में इसे फेसपैक की तरह इस्तेमाल करें। इससे मुहांसे तो दूर हो ही जाएंगे, साथ ही दाग भी नहीं पड़ेंगे।


मॉर्निंग ब्यूटी रुटीन टिप्स


आवाज मोटी होने से रोके


अगर सामान्य की तुलना में आपकी आवाज भारी और मोटी होती जा रही है तो आपको इसके लिए पान का सेवन करना चाहिए। जी हां पान के इस्तेमाल से आवाज साफ और पतली हो सकती है। पान का पानी पीने से आपके गले संबंधित समस्याओं का समाधान हो जाता है।


दांतों के लिए लाभदायक - Beneficial for Teeth


पान में मौजूद एंटी बैक्टीरियल गुण मुंह में मौजूद रोगाणुओं, बैक्टीरिया और श्वास से जुड़े अन्य रोगों से बचाते हैं। पान का पत्ता चबाने से मुंह साफ रहता है और दांत भी स्वस्थ बने रहते हैं साथ ही मसूड़ों को मजबूत बनाये रखने में भी मिलती है।


गैस्ट्रिक समस्याओं का समाधान


पेट से जुड़ी कैसी भी दिक्कत हो, पान का सेवन करने से तरावट मिलती है क्योंकि पान की तासीर ठंडी होती है इसीलिए पान के पत्ते के रस को पीने से गैस्ट्रिक अल्सर को रोकने में भी काफी मदद मिलती है।


मुंह की दुर्गंध दूर करें


पान खाने के फायदे (paan khane ke fayde) हमारे जीवन में बहुत से हैं। पान को ऐसे ही नहीं सबसे बढ़िया माउथ फ्रेशनर माना जाता है बल्कि इसमें कई ऐसे यौगिक होते हैं सांसों में बदबू को खत्म करते हैं। यही कारण है कि ज्यादातर माउथ फ्रेशनर में पान का ही इस्तेमाल किया जाता है।


paan ke patte ke benefits in hindi


कामोत्तेजना बढ़ाए


पान को कामोत्तेजना बढ़ाने में भी सहायक माना जाता है। पहले के समय में लोग अपने अंतरंग पलों को और भी खुशनुमा बनाने और सेक्स पावर बढ़ाने के तौर पर इस्तेमाल करते थे। पान खाने से क्या लाभ होता है? कहते हैं कि सेक्स से पहले पान खाने से इसमें और भी आनंद आता है।


पाचन शक्ति में लाए सुधार


पान के पत्ते चबाने सेn शरीर का पाचन तंत्र एकदम दुरुस्त रहता है। दरअसल, जब हम पान चबा कर खाते हैं तो हमारी लार ग्रंथि पर असर पड़ता है, जो पाचन तंत्र के लिए बहुत ही जरूरी है। अगर आपने भारी भोजन भी कर लिया है, तो उसके बाद आप पान खा लें। इससे आपका भोजन आसानी से पच जाएगा।


मुंह के कैंसर से निजात


एक स्टडी में पाया गया है कि पान के पत्ते को चबाने से मुंह के कैंसर से बचा जा सकता है। दरअसल पान में ज्यादा मात्रा में एस्कॉर्बिक एसिड होता है जोकि एक तरह बेहतर एंटीऑक्सिडेंट है। ये शरीर में फ्री रैडिकल को कम करता है।


पान से वजन कम करें - Betel Leaf for Weight Loss


एक्सपर्ट्स मानते हैं कि पान के पत्तों को खाने से हमारा वजन संतुलित रहता है और मेटाबॉलिज्म भी सुचारू रूप से काम करता है जिससे शरीर में एक्सट्रा फैट जमा नहीं हो पाता है। आयुर्वेद के अनुसार पान के पत्ते शरीर से मेधा धातु यानि कि बॉडी फैट को निकालने का काम करते हैं, जिससे कि वजन कम होता है। अगर पान के पत्तों को काली मिर्च के दानों के साथ रोजाना खाएं तो इस नुस्खे से 8 हफ्तों में मोटापा कम होना शुरू हो जायेगा।


मोटापा घटाने के लिए बेस्ट हैं ये बाबा रामदेव के घरेलू नुस्खे


तिल और मस्से हटाने के लिए पान के फायदे - Betel Leaf for Moles


pan leaves for moles


शरीर पर अनचाहे तिल और मस्से आगे चलकर कोई बड़ी मुसीबत को दावत दे सकते हैं। इसीलिए समय रहते ही इनका इलाज करवाना बेहद जरूरी है। कई बार लोग तिल और मस्से हटाने के लिए नये- नये नुस्खे आजमाते हैं लेकिन बहुत से लोग इस बात से अनजान होते हैं कि पान के पत्ते उन्हें बिना किसी तरह का नुकसान पहुंचाए तिल या मस्सों का जड़ से सफाया कर सकते हैं। ये बेहद पुराना और आयुर्वेदिक उपाय है। तिल या मस्से हटाने के लिए सबसे पहले पान के पत्ते पर थोड़ा सा सफेद चूना लगा लें और फिर जहां मस्सा या तिल हो, वहां पर उसे लगाएं और सूखने पर उसे हटा दें। ऐसा हफ्ते में कम से कम 3 से 4 बार करें। थोड़ी बहुत जलन महसूस होगी, लेकिन इससे आपकी स्किन को कोई भी नुकसान नहीं होगा।


जानिए टैटू (Tattoo) करवाने से पहले और बाद में किन बातों का रखना चाहिए ध्यान 


बवासीर में पान का पत्ता - Betel Leaf for Piles


बवासीर में पान काफी फायदेमंद है। भागदौड़ भरी जिंदगी में लोग कई बीमारियों से ग्रसित हो जाते हैं जिनमें से एक बवासीर भी है। इसे हैमरॉइड या पाइल्स के नाम से भी जानते हैं। इसमें मलद्वार के अंत में जो शिराएं होती हैं उनमें सूजन आ जाती है या फिर वो शिराएं बढ़ जाती हैं, जिससे मलत्याग करने में काफी दर्द होता है। पान के पत्ते से बवासीर का इलाज किया जा सकता है। पान का पत्ता ही एक ऐसी आयुर्वेदिक दवा है जोकि बवासीर जैसी समस्या को बड़ी ही आसानी से ठीक करने की क्षमता रखता है। इसके लिए पान के कुछ पत्तों को बिना पानी डाले ही पीस लें और इसका पेस्ट मलद्वार पर लगा लें। उसके ऊपर से कोई टाइट कपड़ा पहन लें। फिर सुबह ठंडे पानी से साफ कर लें। ऐसा 4 से 5 दिन लगातार करने से आपको काफी राहत महसूस होगी।


पान के पत्तों के घरेलू नुस्खे - Home Remedies of Betel Leaves in Hindi


Betel Leaf Benefits and Medicinal Properties


  • अगर नींद न आने की समस्या से छुटकारा पाना है तो सोने से थोड़ा पहले पान को नमक और अजवायन के साथ चबाने से नींद अच्छी आती है।

  • मुंह के छाले ठीक करने के लिए पान के पत्ते को पानी में डालकर उबाल लें, फिर इसी पानी से कुल्ला करें, मुंह के छालों से आराम मिलेगा।


मुंह में हो गए हैं छाले तो ट्राई करें ये घर वाले नुस्खे 


  • अगर आपको शरीर में खुजली की शिकायत रहती है तो पान के पत्तों को पानी में उबाल कर अपने नहाने वाले पानी में मिला लें। 10 दिन लगातार इस पानी से नहाने से शरीर की खुजली दूर हो जाती है।

  • अगर आंखों में जलन या लाली हो रही है तो पान के पत्तों को पानी में उबाल कर ठंडा कर लें और उसी पानी से आंखें धो लें।

  • पान में 10 ग्राम कपूर को लेकर दिन में तीन से चार बार चबाने से पायरिया दूर हो जाता है। लेकिन ध्यान रहे कि इस दौरान पान की पीक पेट में नहीं जाने पाए।

  • अगर आप जल गये हों तो उस जगह पर पान के पत्तों को पीसकर पेस्ट बना लें और लगा लें। कुछ देर बाद इस पेस्ट को धो दें, वहां पर शहद लगा दें, जलन तुरंत बंद हो जाएगी और साथ ही जलने का निशान भी नहीं पड़ेगा।

  • अगर किसी महिला को स्तन पान करवाने में दिक्कत महसूस होती है तो पान के कुछ पत्तों धो कर उस पर सरसों का तेल लगा कर तवे पर हल्का सेंक लें और गुनगुना होने पर इन्हें दोनों स्तनों के निपल्स के आस- पास रखें, इससे सूजन और दर्द दोनों ही चला जायेगा।

  • मसूड़ों में सूजन हो या फिर उससे खून आ रहा हो तो ऐसे में पान 2 कप पानी में 4 पान के पत्ते को डाल कर उबाल लें। इस पानी से गरारे करने से तकलीफ मिनटों में दूर हो जाएगी।

  • गर्मियों में बहुत से लोगों को अक्सर नाक से खून (नकसीर) आने जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है, ऐसे इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए पान के पत्ते को मसल कर सूंघें, इससे बहुत जल्दी आराम मिलेगा।

  • अगर आपको ब्रोंकाइटिस हो तो पान के 8 से 10 पत्ते लेकर 2 कप पानी में रॉक शुगर के साथ उबाल लें, जब पानी उबल का एक तिहाई रह जाए तो इसे हल्का गुनगुना करके दिन में तीन पर पीने से आराम मिलेगा।

  • अगर पीठ के निचले हिस्से में दर्द हो रहा है तो पान के पत्तों के रस में नारियल का तेल मिलाकर मालिश करने से दर्द कम करने में मदद मिलती है।

  • अगर शरीर थका और सुस्त महसूस कर रहा है तो पान के पत्तों के रस में शहद मिलाकर इसे एक एनर्जी टॉनिक के रूप में भी आप ले सकते हैं।

  • पान के पत्ते चबाने या फिर पानी में उबाल कर गरारा करने से मुंह से बदबू आने की समस्या खत्म हो जाती है।

  • अगर किसी महिला का सफेद पानी आने की समस्या है तो इसके लिए पान के 10 पत्ते 2 लीटर पानी में उबाल लें और फिर इस पानी से अपनी योनि को धोएं। इससे सफेद पानी आने की परेशानी में राहत मिलेगी।


पान से जुड़ी सावधानियां


पान के पत्ते हमेशा हरे रंग ही सही होते हैं, पील रंग वाले नहीं। क्योंकि इसमें मौजूद सभी औषधीय गुण खो चुके होते हैं। पान के पत्ते हमेशा ताजे ही इस्तेमाल करें। इसके अलावा सड़े हुए पान के पत्ते, जिनका रंग काला पड़ चुका हो उसे भी न खाएं, नहीं तो इससे इंफेक्शन होने का खतरा भी बना रहता है।


पान के नुकसान - Betel Leaf Side Effects in Hindi


वैसे तो पान में कई औषधीय गुण पाए जाते हैं लेकिन जरूरत से ज्यादा और गलत तरीके से इस्तेमाल करने से आप कई गंभीर बीमारियों की चपेट में भी आ सकते हैं। एक तरफ जहां पान के पत्ते चबाने से मुंह के कैंसर से छुटकारा मिलता है, वहीं दूसरी तरफ पान को नशे की तरह इस्तेमाल करने, पान के साथ जर्दा या फिर मसाला खाने पर मुंह का कैंसर, गले का कैंसर होने का भी खतरा बना रहता है। इसीलिए सही तरीके और सही पान का इस्तेमाल करें ताकि आपका शरीर भविष्य में पड़ने वाले संकटों से अपनी रक्षा कर सके।


जायफल के फायदे और नुकसान 


पान के बारे में पूछे जाने वाले आम सवाल और उनके जवाब - FAQ's


1. क्या पान खाना हानिकारक है?


शोध से पता चला है कि धुंआ रहित तंबाकू का उपयोग करने से मुंह के कैंसर और ईसोफैगस (भोजन नली) के कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। अध्ययनों में यह भी पाया गया है कि पान भी कैंसर का खतरा बढ़ा सकता है, इसलिए तंबाकू के साथ पान चबाना अभी भी हानिकारक है।


2. क्या रोज पान खा सकते हैं?


इसमें कोई शक या दोराय नहीं है कि पान के पत्ते औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं। लेकिन अति हर चीज की बुरी होती है। इसे रोजाना खाया जा सकता है लेकिन सीमित मात्रा में।


3. पान का उपयोग किसलिए किया जाता है?


पान का इस्तेमाल राजा- महाराजाओं के समय से अब तक चला आ रहा है। वैसे ज्यादातर पान के पत्तों का उपयोग उत्तेजना बढ़ाने, एंटीसेप्टिक और एक माउथ- फ्रेशनर के रूप में किया जाता है।


4. पान के दाग को आसानी से कैसे छुड़ा सकते हैं?


अगर आपके कपड़े पर पान का दाग लग गया है तो कपड़े को खट्टे दही या फर मट्ठा में भिगोकर रख थोड़ी देर के लिए छोड़ दीजिए और फिर कुछ देर फर दाग वाले जगह को हल्के हाथों से मलिये। ऐसा करने से पान का दाग हल्का हो जायेगा। ये प्रक्रिया कम से कम 2- 3 बार करें। दाग एकदम गायब हो जायेगा।


5. क्या पान खाने से दांत पीले हो जाते हैं?


ऐसा जरूरी नहीं है कि पान खाने से दांत पीले पड़ जायें। ये इस बात पर भी निर्भर करता है कि आप पान को कितनी देर तक चबाते हैं। वैसे एक्सपर्ट कहते हैं कि पान चबाने से पायरिया नहीं होता है। अगर पान चबाने के बाद पानी से कुल्ला कर लिया जाये तो दांतों पर पीलेपन की परत नहीं चढ़ने पाती है।


ये भी पढ़ें:


भूलकर भी खाली पेट न खाएं ये चीजें, सेहत पर पड़ता है उल्टा असर 


खुबानी के स्वास्थ्य लाभ


बालों के लिए करी पत्ते के फायदे


बेर के स्वास्थ्य लाभ


पीपल के पत्ते के लाभ

Read More from Lifestyle
Load More Lifestyle Stories