home / xSEO
ashokarishta ke fayde - अशोकारिष्ट के फायदे - ashokarishta syrup uses in hindi

जानिए अशोकारिष्ट के फायदे और नुकसान – Ashokarishta ke Fayde Aur Nuksan

अशोकारिष्ट एक आयुर्वेदिक टॉनिक है जो महिलाओं के शारीरिक स्वास्थ्य और हार्मोन्स की बेहतरी के लिए रिकमेंड की जाती है। एक महिला के लिए इसे ‘नेचुरल फ्रेंड’ के रूप में जाना जाता है, अशोकारिष्ट हार्मोनल संतुलन प्रदान करता है, प्रजनन स्वास्थ्य में सुधार करता है। अशोकारिष्ट टॉनिक में सारका इंडिका नाम का एक महत्वपूर्ण घटक होता है। यह मुख्य रूप से अशोक के पेड़ की छाल में पाया जाता है और इसे काढ़े के रूप में निकाला जाता है। बाद में इसे जीरा, गुड़, आम के बीज आदि के साथ धातकी, मुस्ता, हरीतकी, आमलकी जैसी जड़ी-बूटियों के पाउडर के साथ मिश्रित किया जाता है। फिर इस मिश्रण को उबाल कर फिल्टर किया जाता है और एक टॉनिक के रूप में बनाया जाता है, जो एंटी-इंफ्लेमेटरी और कायाकल्प गुणों से भरपूर होता है। हम यहां आपको अशोकारिष्ट के फायदे (ashokarishta ke fayde) के बारे में बता रहे हैं। मगर उससे पहले जान लेते हैं कि आखिर अशोकारिष्ट क्या है? कमरख फल के फायदे

क्या है अशोकारिष्ट – What is Ashokarishta in Hindi

क्या है अशोकारिष्ट - What is Ashokarishta in Hindi

अशोकारिष्ट एक आयुर्वेदिक औषधि है जो अशोक के पेड़ की छाल और अन्य जड़ी बूटियों को मिलाकर तैयार की जाती है। यह महिलाओं से संबंधित कई समस्याओं का इलाज करने में मदद करता है, जैसे हार्मोन असंतुलन, अनियमित मासिक धर्म, पीठ दर्द और पेट दर्द। इसके अलावा यह पुरुषों में कई तरह की समस्याओं के इलाज में भी कारगर है। अशोकारिष्ट में हरीतकी और अमलकी नमक दो शक्तिशाली जड़ी-बूटियां होती हैं, जिनमें कायाकल्प करने वाले, एंटीऑक्सिडेंट और प्रतिरक्षा बढ़ाने वाले गुण होते हैं। यह पूरे शरीर को स्वस्थ रखने के साथ ऊर्जा का संचार भी करते हैं। स्टीम लेने के फायदे

अशोकारिष्ट के फायदे – Ashokarishta Benefits in Hindi

आजकल लोगों का आम बीमारियों से ग्रसित होना सामान्य बात है, लेकिन समय के साथ ये बीमारियां और जटिल हो सकती हैं। कुछ जड़ी-बूटियाँ ऐसी हैं जिनका उपयोग स्वास्थ्य समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जा सकता है। अशोकारिष्ट एक ऐसी आयुर्वेदिक दवा है, जो मानव स्वास्थ्य को ठीक करने में मदद करती है। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर अशोकारिष्ट पीने से क्या होता है और ये किस काम में आता है (ashokarishta kis kaam mein aata hai)? हम यहां आपको अशोकारिष्ट के उपयोग और अशोकारिष्ट पीने के फायदे (ashokarishta benefits in hindi) के बारे में बता रहे हैं। 

अशोकारिष्ट के फायदे - Ashokarishta Benefits in Hindi

पेल्विक इन्फ्लेमेटरी डिसीज में मददगार – Ashokarishta for Pelvic Inflammatory Disease in Hindi

अशोकारिष्ट में मौजूद स्ट्रॉन्ग एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों की अच्छाई पेल्विक इन्फ्लेमेटरी डिजीज में मददगार होती है। इसके अलावा अशोकारिष्ट में शक्तिशाली हर्बल घटक गर्भाशय, अंडाशय और अन्य प्रजनन अंगों को नुकसान को रोकने में सहायता करते हैं। यही वजह है कि ज्यादातर महिलाओं को अशोकारिष्ट के फायदे बताएं (ashokarishta syrup ke fayde) जाते हैं। 

पीरियड्स में फायदेमंद – Ashokarishta Ke Fayde Irregular Periods in Hindi

अशोकारिष्ट अनियमित मासिक धर्म चक्र की समस्या को प्रबंधित करने के लिए एक अच्छी जड़ी बूटी मानी जाती है। कुछ शोधों के अनुसार अशोकारिष्ट महिलाओं के स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में लाभकारी होता है। यह असामान्य हार्मोन समस्याओं को सामान्य करने के साथ-साथ मासिक धर्म चक्र को भी नियंत्रित करता है। इसके अलावा अशोकारिष्ट गर्भाशय के कार्य को बढ़ावा देता है, संकुचन को कम करता है और गर्भाशय को मजबूत करता है।

हड्डियां करे मजबूत – Ashokarishta Benefits for Strong Bones in Hindi

हड्डियों के कमजोर होने से शरीर भी कमजोर होने लगता है। जगह-जगह दर्द की शिकायत के साथ उम्र भी समय से पहले बढ़ने लगती है। अशोकारिष्ट में कैल्शियम और मिनरल्स की प्रचुर मात्रा हड्डियों के स्वास्थ्य को बरकरार रखने में मदद करती है।

पाचन में करे सुधार – Ashokarishta Improve Digestion in Hindi

अशोकारिष्ट फाइबर का एक अच्छा स्रोत है, जो पाचन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के साथ पाचन में सुधार भी करता है। साथ ही मल त्याग को नियंत्रित करता है।एक शक्तिशाली पाचक होने के कारण, यह पाचन की समस्या में अशोकारिष्ट सिरप के फायदे बताये जाते हैं साथ ही इसे पीने की सलाह भी दी जाती है। 

इम्यूनिटी बढ़ाए – Ashokarishta for Immunity Boosting in Hindi

इम्यूनिटी यानी प्रतिरक्षा हमारे शरीर में एक बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य करती है। यह बीमारियों और संक्रमणों से लड़ने में मदद करता है, इसलिए एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली का होना बेहद जरूरी है। अशोकारिष्ट एक ऐसी जड़ी-बूटी है जिसमें ऐसे औषधीय गुण होते हैं जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने में मदद करते हैं। अशोकारिष्ट अजाजी, गुडा, चंदना और अमरष्टि जैसी आवश्यक जड़ी बूटियों का अद्भुत मिश्रण है। यह सभी इम्यूनिटी बूस्ट करने का काम करते हैं। 

ऑस्टियोपोरोसिस में दे राहत – Ashokarishta Benefits for Osteoporosis in Hindi

जब शरीर की हड्डियां कमजोर होने लगती हैं तो ऑस्टियोपोरोसिस होने का खतरा भी बना रहता है। अशोक के पेड़ की छाल कमजोर हड्डियों से छुटकारा पाने के लिए बहुत उपयोगी होती है क्योंकि इसमें कुछ ऐसे गुण होते हैं जो ऑस्टियोपोरोसिस को ठीक करने में फायदेमंद होते हैं। यही वजह है कि ऑस्टियोपोरोसिस होने पर अशोकारिष्ट लेने की सलाह दी जाती है।  

पेट दर्द में दिलाए आराम – Ashokarishta Ke Fayde Stomach Pain Ke Liye

पेट की गैस और पेट दर्द में अशोकारिष्ट का प्रयोग लाभकारी होता है। इसमें पाचन शक्ति बढ़ाने के गुण होते हैं और यह गैस से राहत दिलाने में कारगर है। यदि किसी को अपच के कारण पेट में दर्द हो रहा हो तो अशोकारिष्ट औषधि का सेवन करना चाहिए। विशेषज्ञों के अनुसार, अशोकारिष्ट पेट दर्द का एक घरेलू उपचार है, जो दर्द से प्रभावी ढंग से छुटकारा दिलाता है।

अल्सर में भी फायदेमंद – Ashokarishta Benefits for Ulcer in Hindi

अशोकारिष्ट एक आयुर्वेदिक औषधि है जो अल्सर की समस्या से राहत दिलाने में मदद करती है। कुछ शोधों के अनुसार अशोक के पेड़ की छाल मुंह के छालों को कम करती है। अशोकारिष्ट में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो अल्सर को ठीक करने में मदद करते हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि अशोकारिष्ट अल्सर को कम करने में फायदेमंद है। इसके अलावा अगर अल्सर की समस्या गंभीर है तो डॉक्टर से संपर्क करें। 

अशोकारिष्ट के नुकसान – Side Effects of Ashokarishta in Hindi 

अशोकारिष्ट के नुकसान - Side Effects of Ashokarishta in Hindi

अशोकारिष्ट पीने के फायदे तो अपने जान लीजिये अब बारी है अशोकारिष्ट के नुकसान जानने की। दरअसल, अशोकारिष्ट एक ऐसी दवा है जिसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं, लेकिन कुछ दुर्लभ मामलों में यह नुकसान भी पहुंचा सकता है। जैसे- गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को अशोकारिष्ट का सेवन न करने की सलाह दी जाती है। वहीं अशोकारिष्ट का सेवन अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे पेट में जलन और एसिडिटी हो सकती है। हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित लोगों को अशोकारिष्ट का उपयोग करने से पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। साथ ही अगर आपको डायबिटीज है तो भी इसका सेवन सावधानी से करें, क्योंकि अशोकारिष्ट में थोड़ी मात्रा में गुड़ होता है। अशोकारिष्ट महिलाओं में अनियमित मासिक धर्म को नियंत्रित करने में फायदेमंद है। लेकिन इसका ज्यादा इस्तेमाल मासिक धर्म को भी प्रभावित कर सकता है।

अशोकारिष्ट के फायदे को लेकर पूछे जाने वाले सवाल-जवाब – FAQ’s on Ashokarishta in Hindi 

सवाल- अशोकारिष्ट कैसे खाएं?

जवाब- भोजन करने के बाद रोजाना 20-25 मिली अशोकारिष्ट का सेवन किया जा सकता है। आप चाहें तो इसका सिरप भी पि सकते हैं। 

सवाल- अशोकारिष्ट की कीमत कितनी है?

जवाब- अशोकारिष्ट टॉनिक की कीमत मार्केट में 140 रुपये से लेकर 250 रुपये तक है। निर्भर करता है कि आप किस ब्रांड का टॉनिक खरीद रहे हैं। 

सवाल- क्या अशोकारिष्ट प्रेगनेंट महिलाओं के लिए अच्छा है?

जवाब- नहीं गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को अशोकारिष्ट का सेवन नहीं करना चाहिए।

अगर आपको यहां दिए गए अशोकारिष्ट के फायदे (ashokarishta ke fayde) पसंद आए तो इन्हें अपने दोस्तों और परिवारजनों के साथ सेयर करना न भूलें। 

14 Oct 2021

Read More

read more articles like this

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text