Advertisement

वेलनेस

वजन कम करने से लेकर हाइट बढ़ाने तक जानिए रस्सी कूदने के फायदे – Rassi Kudne ke Fayde

Supriya SrivastavaSupriya Srivastava  |  Jul 28, 2021
रस्सी कूदने के फायदे, Rassi Kudne ke Fayde

फिट रहने के लिए लोग क्या-क्या नहीं करते। अपनी रोजाना की डाइट में कमी कर देते हैं। जिम में घंटों पसीना बहा देते हैं यहां तक कि सुबह-सुबह उठकर योग करने से भी गुरेज नहीं करते। मन कि फिट रहने के लिए योग करना और जिम जाना अच्छी बात है लेकिन अगर हम आपसे कहें कि बिना यह सब कुछ किये भी आप फिर रह सकते हैं तो क्या आप मानेंगे। जी हां, बिना बेफिजूल की डाइट किए, जिम में घंटों पसीना बहाये और नींद का बलिदान दिए बिना भी आप फिट रह सकते हैं, वो भी सिर्फ कुछ समय रस्सी कूदकर। रस्सी कूदना यानी (Skipping Rope) फिट रहने का एक सबसे आसान तरीका है। इसके लिए यह आपका ज्यादा समय भी नहीं लेता। रस्सी कूदने के फायदे (rassi kudne ke fayde) भी अनेक हैं, जो हम आपको यहां बताने जा रहे हैं।

रस्सी कूदने के फायदे – Rassi Kudne ke Fayde

रस्सी कूदना सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसकी अच्छी बात यह है कि आप शाम के समय भी रस्सी कूद सकते हैं। शाम के समय रस्सी कूदना भी सुबह के समय रस्सी कूदना जितने बराबर लाभ देता है। इसके अलावा रस्सी कूदने के कई तरीके भी होते हैं। मगर रस्सी कूदने का सही तरीका ही आपको फायदे पहुंचाता है। जैसे आप दोनों पैरों से एक साथ उछल कर रस्सी कूद सकते हैं। इसके अलावा एक पैर से भी रस्सी कूदी जा सकती है मगर इसके लिए आपको काफी प्रैक्टिस की जरूरत पड़ेगी। अगर आपने बच्चों को रस्सी कूदते देखा है तो एक तरीका और समझ आएगा होगा। जैसे रस्सी के दोनों छोरों को दो अलग-अलग लोग पकड़े हों और उसे घुमा रहे हों। इस दौरान आप बीच में कूदकर रस्सी कूदने का आनंद ले सकते हैं। रस्सी कूदने में न सिर्फ मजा आता है बल्कि इसके कई स्वस्थ लाभ (skipping rope benefits in hindi) भी मिलते हैं।

Skipping Benefits in Hindi

वजन कम करने के लिए

अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो रस्सी कूदना आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, रस्सी कूदने से शरीर की एक्स्ट्रा कैलोरी बर्न होती है, जिससे न सिर्फ शरीर की चर्बी कम होती है बल्कि साथ-साथ वजन भी कम होता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि दिन में महज कुछ मिनट के लिए रस्सी कूदने पर ही कई सारी कैलोरी बर्न हो जाती है। इसलिए वजन कम करने के लिए रस्सी कूदना लाभकारी होता है।

शारीरिक ऊर्जी बढ़ाने के लिए

अगर आपको थोड़ा काम करने के बाद ही थकान और आलस आ जाता है तो रस्सी कूदना आपके लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है। शारीरिक ऊर्जी बढ़ाने के लिए रस्सी कूदना काफी फायदेमंद होता है। रस्सी कूदने से हाथों, पैरों के साथ शरीर के अन्य अंगों का भी व्यायाम हो जाता है और पूरा शरीर ऊर्जावान बना रहता है। 

जोड़ों के लिए लाभदायक

रस्सी कूदना आपके जोड़ों के लिए भी लाभदायक है। दरअसल, दौड़ने के मुकाबले रस्सी कूदने पर घुटनों पर कम दबाव पड़ता है। इसके बजाय कूदने से लगने वाले झटके पूरे पैर में बंट जाते हैं और घुटनों पर सीधा जोर नहीं पड़ता। इसके अलावा अगर आपके पैरो और जांघो में दर्द या जकड़न हो तो भी रस्सी कूदने से यह काफी खुलती हैं। शुरुआत में आपको पैरों में दर्द रह सकता है लेकिन धीरे-धीरे यह दर्द गायब होकर मांसपेशियों में मजबूती की जगह ले लेगा। 

दिल के लिए फायदेमंद

क्या आप जानते हैं, रस्सी कूदना आपके दिल के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। दरअसल, रस्सी कूदने से शरीर का ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। यह ब्लड सर्कुलेशन शरीर में ब्लड को पंप करने के लिए जरूरी होता है। यही वजह है कि रस्सी कूदने से हार्ट स्ट्रोक और दिल से जुड़ी अन्य बीमारियों के जोखिम से बचा जा सकता है। बता दें कि कार्डियो एक्सरसाइज की लिस्ट में भी रस्सी कूदना शामिल है।  

Skipping Benefits for Health in Hindi

बैलेंस बनाए रखने के लिए

क्या अपने किसी बॉक्सर को रस्सी कूदते हुए देखा है ? भले ही किसी फिल्म में क्यों न देखा हो लेकिन एक बॉक्सर को हमेशा रस्सी कूदने की सलाह दी जाती है। दरअसल, रस्सी कूदने से शरीर का बैलेंस इम्प्रूव करने में मदद मिलती है। इतना ही नहीं, इससे पैरो के मूवमेंट में फुर्ती भी आती है साथ ही कंट्रोल भी बढ़ता है।

हाइट बढ़ीने के लिए

कहते हैं, लड़कियों की हाइट बस तभी तक बढ़ती है, जब तक उनके पीरियड्स आने शुरू नहीं हो जाते। मगर यह एक तरह का मिथ है। लड़कियां इसके बाद भी अपनी हाइट बढ़ा सकती है। इसी का एक तरीका है, रस्सी कूदना। अगर आप अपनी हाइट बढ़ाना चाहते हैं तो रस्सी कूदना एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है। रस्सी कूदने से रीढ़ की हड्डी, पीठ, और पेअर की काफ मसल्स स्ट्रेच होती हैं और कुछ नई मसल्स भी बनती हैं। इससे हाइट बढ़ाने में काफी मदद मिलती है। 

मानसिक स्वास्थ्य के लिए

एक्सपर्ट्स का कहना है कि जो लोग ज्यादा शारीरिक गतिविधि नहीं करते, उनमें डिप्रेशन के लक्षण जल्दी दिखाई देने लगते हैं। वहीं रस्सी कूदना मेहनत का काम होता है। इस दौरान आपका पूरा शरीर काम पर लगा होता है और मस्तिष्क को कुछ देर का आराम मिलता है। इसलिए यह कहना गलत नहीं होगा कि मानसिक स्वास्थ के लिए भी रस्सी कूदना काफी फायदेमंद होता है। 

रस्सी कूदने के नुकसान

rassi kudne ke nuksan

हर चीज़ के अपने फायदे और नुकसान होते हैं। रस्सी कूदने के अगर फायदे हैं तो नुकसान भी हैं। जैसे हाई ब्लड प्रेशर वालों को रस्सी नहीं कूदनी चाहिए। अगर वे रस्सी कूदना ही चाहते हैं तो पहले अपने डॉक्टर से इस बारे में सलाह जरूर ले लें। इसके अलावा अगर कोई पहले से दिल से जुडी किसी बीमारी से जूझ रहा हो तो उसे भी रस्सी नहीं कूदना चाहिए। रस्सी कूदते समय हम अक्सर अपने पंजों के बल कूद रहे होते हैं, इससे पैरों में मोच आने की आशंका बनी रहती है। इसके अलावा अगर आप रस्सी कूदने के आदी नहीं है तो रस्सी में पेअर फंसकर गिरने का डर भी बना रहता है।