home / xSEO
शरीर की गर्मी दूर करने के उपाय

शरीर की गर्मी दूर करने के उपाय – Body ki Garmi ka Ilaj in Hindi 

गर्मी का मौसम आते ही कई लोग हाय-तौबा करना शुरू कर देते हैं। इसक कारण है बाहर निकली हुई चिलचिलाती धूप और हवा के रूप में चलती हुई गरम लू के थपेड़े, जो मानों हमें एक ज़ोरदार थप्पड़ मार कर कहते हैं, “हिम्मत कैसे हुई तुम्हारी घर से बाहर निकलने की, चल अंदर चल”। ये तो रही मज़ाक की बात लेकिन सच यही है कि अप्रैल से सितम्बर तक का मौसम हम सब पर कहर बनकर टूटता है। जैसे-जैसे बाहर का तापमान बढ़ता है, वैसे-वैसे अंदर हमारे एसी का बिल भी बढ़ता चला जाता है। यही सब वजहें शरीर में ज्यादा गर्मी होने के कारण भी बनती हैं। इसके लिए आप चाहें तो शरीर को ठंडक पहुंचाने वाले फल का सेवन भी कर सकते हैं। मगर सिर्फ इनसे ही काम नहीं चलेगा। हम यहां आपको शरीर की गर्मी दूर करने के उपाय sharir ki garmi kaise door kare के बारे में बता रहे हैं। 

शरीर में ज्यादा गर्मी होने के कारण

Causes of Excessive Heat in the Body in Hindi

इन दिनों गर्मी का मौसम चरम पर है, राजधानी दिल्ली हो या फिर यूपी, राजस्थान जैसे राज्य, हर तरह पारा 45 डिग्री को पार कर रहा है। ऐसे में शरीर की गर्मी बढ़ना लाज़मी है। शरीर में गर्मी बढ़ने के कारण कई हो सकते हैं। इनमें से कुछ हम आपको यहां बता रहे हैं। 

1- तीव्र शारीरिक व्यायाम करना। यह गर्मी में वृद्धि का कारण बन सकता है क्योंकि सक्रिय मांसपेशियां और संबंधित रक्त परिसंचरण गतिविधि बहुत अधिक गर्मी पैदा करती है।

2- कुछ चिकित्सीय स्थितियां जो आपके शरीर के तापमान को प्रभावित करती हैं, जैसे गठिया के प्रकार, ल्यूकेमिया और तंत्रिका संबंधी विकार।

3- ऐसी दवाएं लेना जो शरीर के उच्च तापमान का कारण बनती हैं, जैसे कि कुछ एंटीबायोटिक्स, ओपिओइड और एंटीहिस्टामाइन।

4- मसालेदार, तैलीय या तला हुआ खाना खाना। इसके अलावा, नट्स, मीट और अन्य उच्च प्रोटीन खाद्य पदार्थ गर्मी बढ़ने का कारण बनते हैं।

5- कैफीन या अल्कोहल का सेवन करना।

6- टाइट-फिटिंग, सिंथेटिक कपड़े पहनना। इस प्रकार के कपड़े शरीर को आसानी से सांस नहीं लेते हैं, खासकर अगर वे तंग हों।

7- अत्यधिक गर्म और उमस भरे मौसम में समय बिताना। यह विशेष रूप से संभव है यदि आपने सीधे धूप में समय बिताया है या शारीरिक गतिविधि कर रहे हैं।

शरीर में गर्मी के लक्षण 

शरीर में गर्मी बढ़ना कोई आम बात नहीं है। अगर आप गर्मियों में अपना ध्यान नहीं रखते हैं तो आपके शरीर में गर्मी पैदा होगी। कई लोगों का शरीर गर्मी में भी ठंडा रहता है, ऐसा इसलिए क्योंकि वे समय-समय पर न सिर्फ पानी पीते रहते हैं बल्कि गर्मी के मौसम को देखते हुए अपना ध्यान भी रखते हैं। मगर सब करने के बावजूद अगर बॉडी में गर्मी बढ़ रही है तो शरीर में गर्मी के लक्षण कुछ इस तरह से नज़र आएंगे।  

1- उच्च शरीर का तापमान। रेक्टल थर्मामीटर से प्राप्त 104 एफ (40 सी) या उससे अधिक का मुख्य शरीर का तापमान, शरीर में गर्मी बढ़ने का मुख्य संकेत है। 

2- पसीने में बदलाव। गर्म मौसम के कारण होने वाले हीटस्ट्रोक में, आपकी त्वचा छूने में गर्म और शुष्क महसूस करेगी।

3- मतली और उल्टी। आप अपने पेट में बीमार महसूस कर सकते हैं या उल्टी कर सकते हैं।

4- आपके शरीर का तापमान बढ़ने पर आपकी त्वचा लाल हो सकती है।

5- आपकी नाड़ी काफी बढ़ सकती है क्योंकि गर्मी का तनाव आपके शरीर को ठंडा करने में मदद करने के लिए आपके दिल पर भारी बोझ डालता है।

6- तेज सिर दर्द होना। 

शरीर की गर्मी कैसे दूर करें – Sharir ki Garmi Kaise Door Kare

1- पानी पीते रहें
2- गर्मी की आदत डालें
3- वजन मेंटेन रखें
4- सनबर्न से बचाव करें
5- ढीले-ढाले कपड़े पहनें
6- बीमारी में अतिरिक्त सावधानी बरतें
7- तापमान और समय का ध्यान रखें

गर्मी के मौसम में अगर आप बिना किसी सुरक्षा के बार-बार बाहर निकलते हैं तो यह आपके लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। शरीर का सुरक्षित तापमान बनाए रखने के लिए, आपके शरीर को अतिरिक्त गर्मी से छुटकारा पाना होगा। इसके लिए आप Home Remedies for Heat Stroke in Hindi भी अपना सकते हैं। मगर यह तो सिर्फ लू से बचने के उपाय हैं। अगर शरीर में गर्मी चढ़ गई तो? इसलिए हम आपको यहां बता रहे हैं कि शरीर की गर्मी कैसे दूर करें। 

पानी पीते रहें

शरीर की गर्मी को बढ़ने से रोकने के लिए पानी पीते रहना बहुत आवश्यक है। स्वस्थ शरीर के तापमान को बनाए रखने के लिए हाइड्रेटेड रहना महत्वपूर्ण है, खासकर व्यायाम के दौरान। शारीरिक गतिविधि के दिन और उससे एक दिन पहले बहुत सारे तरल पदार्थ पिएं। व्यायाम के दौरान, अपने पास एक पेय बनाकर रखें जिसमें नमक, इलेक्ट्रोलाइट्स और थोड़ी मात्रा में चीनी हो, या शरीर में उन पदार्थों को फिर से भरने में मदद करते हैं जिन्हें आपने पसीने के दौरान खो दिया था। पेट को ठंडा रखने के लिए क्या खाएं

गर्मी की आदत डालें

यदि आप अपना अधिकांश समय एयर कंडीशनिंग में बिताते हैं और अचानक पांच मील बाहर दौड़ने की कोशिश करते हैं, तो हो सकता है कि आपका शरीर उस तरह की गर्मी के लिए तैयार न हो। गर्मियों के दौरान बाहर की गतिविधि में रहना है तो शरीर को बराबर एयर कंडीशन में न रखें। उसे थोड़ी बहुत गर्मी की आदत भी पड़ने दें। 

वजन मेंटेन रखें

बढ़ा हुआ वजन बॉडी में गर्मी होने के कारण है। जो लोग मोटे होते हैं उन्हें गर्मी से संबंधित बीमारियों का अधिक खतरा होता है। अधिक वजन होने के चलते आपके शरीर की तापमान को नियंत्रित करने की क्षमता प्रभावित हो सकती है और इससे आपके शरीर की गर्मी भी बढ़ सकती है। अगर आपको अपने वजन को मेंटेन करने में मदद चाहिए तो अपने डॉक्टर से भी बात कर सकते हैं या फिर योग व व्यायाम की सहायता भी ले सकते हैं। 

सनबर्न से बचाव करें

सनबर्न आपके शरीर की खुद को ठंडा करने की क्षमता को प्रभावित करता है, इसलिए चौड़ी हैट और धूप के चश्मे की मदद से अपने आप को सूरज की यूवी किरणों से बचाकर रखें। इसके अलावा कम से कम 15 के एसपीएफ़ के साथ एक अच्छी सनस्क्रीन का उपयोग करें। सनस्क्रीन हर उस जगह पर लगाएं, जो धूप के संपर्क में आ रही है या फिर आ सकती है। हर दो घंटे में फिर से लगाएं या उससे अधिक बार अगर ज़रूरत पड़े तो। 

ढीले-ढाले कपड़े पहनें

गर्मियों के दौरान तंग कपड़े पहनने से बचें। इसे बजाय ढीले-ढाले आरामदायक कपड़े पहनें। कोई भी अतिरिक्त कपड़े न पहनें। गर्म तापमान में बहुत अधिक कपड़े आपके शरीर की पसीने और खुद को ठंडा करने की क्षमता को बाधित करते हैं। जब भी संभव हो हल्के और ढीले-ढाले कपड़े पहनें। गाढ़े रंग के जैसे काले, नीले रंग के कपड़े पहनना भी अवॉयड करें। इसके बजाये हल्के रंग जैसे सफ़ेद, पीला, क्रीम आदि कलर के कपड़े पहनें।  

बीमारी में अतिरिक्त सावधानी बरतें

फ्लू जैसे संक्रमण आपके शरीर के तापमान को बढ़ा सकते हैं। यदि आपने हाल ही में किसी बीमारी पर काबू पाया है, तो इस बात से सावधान रहें कि आप बाहर कितना समय बिताते हैं। इसके अलावा यदि आप ऐसी दवाएं लेते हैं जो आपके शरीर की हाइड्रेटेड रहने और गर्मी को खत्म करने की क्षमता को प्रभावित कर सकती हैं, तो इस बारे में अपने डॉक्टर से सलाह लें। 

तापमान और समय का ध्यान रखें

दिन के उस समय का ध्यान रखें जब आप बाहर हों, क्योंकि सुबह जल्दी और देर शाम को दिन का सबसे अच्छा समय होता है। इसके अलावा हमेशा मोबाइल ऐप या ऑनलाइन पर हीट इंडेक्स, या तापमान और आर्द्रता के स्तर के संयोजन की जांच करते रहें। अगर बाहर तापमान बहुत अधिक है तो तब तक घर से न निकलें जब तक बहुत ज़रूरी न हो। गर्मी में बाहर कम निकलने से आप काफी हद तक अपने शरीर की गर्मी को बढ़ाने से रोक सकते हैं। 

अगर आपको यहां दिए गए शरीर की गर्मी दूर करने के उपाय (body ko thanda kaise rakhe) पसंद आए तो इन्हें अपने दोस्तों व परिवारजनों के साथ शेयर करना न भूलें।

ये भी पढ़ें 

Summer Skin Care Tips in Hindi  : गर्मियों के मौसम में स्किन को ग्लोइंग बनाये रखने के लिए स्किन का दोगुना ख्याल रखना जरुरी है। ऐसे में हमे समर स्किन केयर टिप्स के बारे में जानकारी होना जरुरी है। आप भी यहाँ दिए गए समर स्किन केयर टिप्स से अपनी स्किन का ख्याल रख सकते है 
Fabrics for Summer in Hindi : गर्मियों के मौसम में सही फैब्रिक का चुनाव करना जरुरी है यह हमे बॉडी रैश से लेकर और भी स्किन की परेशानियों से बचाता है ऐसे में आप भी जान लें गर्मियों में किस तरह के कपडे पहने।

23 May 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text