लाइफस्टाइल

जानिये मक्के खाने के फायदे और मक्के खाने के नुकसान – Makka Khane ke Fayde

Supriya SrivastavaSupriya Srivastava  |  Apr 15, 2019
मक्का खाने के फायदे - Makka Khane ke Fayde, Corn Benefits in Hindi, मक्का खाने के नुकसान

बारिश का मौसम अपने साथ कई सुहाने पल लेकर आता है। प्यार करने वालों के लिए ये मौसम सबसे ज्यादा रोमांटिक होता है और खाने के शौकीन लोगों का मन बारिश होते ही चाय, पकौड़ा और गरम- गरम भुट्टा खाने के लिए मचल उठता है। एक तो नरम भुट्टा, ऊपर से उसमें रगड़ा हुआ नींबू और नमक… अहा! पढ़ते ही मुंह में पानी आ गया न। कुछ ऐसा ही होता है भुट्टे का स्वाद, थोड़ा मीठा तो थोड़ा नमकीन। कोयले की आंच में सिके हुए देसी भुट्टे हों या फिर स्टीम किए हुए मसालेदार अमेरिकन कॉर्न, टेस्ट में कोई किसी से पीछे नहीं होता। स्वाद में बेमिसाल ये भुट्टा यानि मक्का (Corn) सेहत के लिए भी किसी वरदान से कम नहीं होता है। भुट्टे को पोषण के हिसाब से बेहतरीन माना जाता है। इसकी खासियत यह है कि पकाने के बाद इसकी पौष्टिकता और भी ज्यादा बढ़ जाती है। हम आपको बता रहे हैं, सेहत से जुड़े मक्का के फायदे और नुकसान, जो आपको हैरान कर देंगे।

मक्के का आटा भी है फायदेमंद – Benefits of Corn Flour

मक्के की रोटी कैसे बनाएं – How To Make Makki Ki Roti In Hindi?

मक्के के नुकसान – Side Effects Of Corn In Hindi

मक्का खाने के फायदे – Corn Benefits in Hindi 

Bhutta khane ke fayde

ज़ुकाम से दिलाए मुक्ति

क्या आप भुट्टा खाने के फायदे (bhutta khane ke fayde) जानते हैं? भुट्टा ज़ुकाम के लिए काफी फायदेमंद होता है? जी हां, अगर आप ज़ुकाम की समस्या से जूझ रहे हैं तो भुट्टा खाने के बाद उसके बीच से दो टुकड़े कर लें। इसके बाद भुट्टे के दोनों बीच वाले हिस्सों को एक साथ नाक के पास रखकर ज़ोर से सूंघने की कोशिश करें। ऐसा 4- 5 बार करें। इससे ज़ुकाम में काफी आराम मिलता है।

वज़न घटाने के साथ कई बीमारियों से भी लड़ता है टमाटर, जानिए इसके सभी फायदे और नुकसान

शरीर की ऊर्जा बढ़ाए

मक्के के फायदे (makka ke fayde) हमारे स्वास्थय के लिए बहुत लाभदायक हैं। स्‍टार्च की अधिक मात्रा होने के कारण मकई को स्‍टार्च वाली सब्‍जी माना जाता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा काफी अधिक होती है, जो आपको लंबे समय तक ऊर्जा दिलाने में मदद करता है। इसके अलावा यह मस्तिष्‍क और नर्वस सिस्‍टम को अच्छी तरह से काम करने में मदद करता है। लगभग एक कप मक्‍का में 29 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है। इसी वजह से ये शरीर की ऊर्जा बढ़ाने में मददगार होता है। अगर आप शारीरिक गतिविधियां अधिक करते हैं या फिर एथलीट हैं तो आपके लिए मक्का काफी फायदेमंद साबित हो सकता है।

ऊर्जा को बनाए रखने के लिए डाइट में शामिल करें अखरोट

अधिक ऊर्जा प्राप्‍त करने के लिए एक्सरसाइज़ से एक-दो घंटे पहले मक्‍के का सेवन करना चाहिए।

Corn benefits in hindi

वज़न बढ़ाने में मददगार

इंटरनेट पर वजन घटने के तो कई उपाय मिल जाएंगे लेकिन बात जब वज़न बढ़ाने की आती है तो कुछ उपाय ही मिल पाते हैं। इन्हीं उपायों में से एक है भुट्टा यानि मक्का (Corn)। अगर आप अपना वजन बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं तो मक्के का सेवन आपके लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है। वज़न बढ़ाने के लिए आपको सही मात्रा में कैलोरी का सेवन करने की आवश्यकता होती है। मक्‍का में कार्बोहाइड्रेट और कैलोरी पर्याप्‍त मात्रा में पाई जाती है, जो वज़न बढ़ाने में काफी हद तक सहायक होती है। यदि आपका वजन सामान्‍य से कम है तो आप अपने आहार में आज से ही मक्‍के को शामिल करें।  

एजिंग से लड़ने और डैंड्रफ को दूर भगाने में माहिर है टमाटर, जानिए इसके आसान घरेलू नुस्खे

एनीमिया को करे दूर

एनीमिया का सबसे बड़ा कारण है, शरीर में खून की कमी होना। एनीमिया के कारण रोगी हमेशा थका हुआ महसूस करता है, जिससे उसकी कार्यक्षमता प्रभावित होती है। इसका सबसे बड़ा कारण है शरीर में विटामिन B12 और फोलिक एसिड की कमी होना। मक्के में ये दोनों ही भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। साथ ही एनीमिया में रोगी को ज्यादा से ज्यादा आयरन युक्त आहार लेने की सलाह भी दी जाती है। मक्के में मौजूद आयरन शरीर में नई लाल रक्‍त कोशिकाओं को बनाने में भी मदद करता है।

गर्भवती महिलाओं के लिए वरदान

Corn benefits for pregnant women

गर्भवती महिलाओं को अपने आहार मे मक्का ज़रूर शामिल करना चाहिए क्‍योंकि इससे मां और बच्‍चे दोनों को स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त होता है। गर्भवती महिलाओं में फोलिक एसिड की कमी के कारण होने वाले बच्‍चे का वजन कम हो सकता है। मक्के में फोलिक एसिड अच्छी मात्रा में पाया जाता है, जो गर्भवती महिलाओं के लिए बहुत ही महत्‍वपूर्ण होता है। इसका अधिक सेवन करने से पहले एक बार डॉक्टर की राय अवश्य लें।

कैंसर से बचाए

आजकल की लाइफस्टाइल में कैंसर जैसी घातक बीमारी कब दबे पांव चली आती है, पता ही नहीं चलता। कई प्रकार के कैंसर के प्रभाव को एंटीऑक्‍सीडेंट की सहायता से कम किया जा सकता है। कई शोध इस बात को प्रमाणित कर चुके हैं कि मक्‍का में पाये जाने वाले एंटीऑक्‍सीडेंट्स कैंसर से बचाने में मददगार होते हैं और कैंसर पैदा करने वाले मुक्‍त कणों यानि फ्री रैडिकल्स से लड़ने का काम करते हैं। इसमें मौजूद तत्‍व लिवर और स्‍तन कैंसर में विशेष रूप से उपयोगी होते हैं।

बाल और त्वचा के लिए आयुर्वेद का तोहफा है आर्गन ऑयल, जानिए इसके सभी फायदे और नुकसान

बढ़े कोलेस्ट्रॉल को करे संतुलित

कोलेस्‍ट्राॅल दो प्रकार के होते है, अच्‍छे कोलेस्‍ट्राॅल और खराब कोलेस्‍ट्राॅल। खराब कोलेस्‍ट्राॅल फैटी भोजन का सेवन करने के कारण बढ़ता है, जो आपके दिल को कमजोर करता है। इससे हमारे दिल की कार्यक्षमता पर बुरा असर पड़ता है और हमें दिल की बीमारियां होने का खतरा भी बढ़ जाता है। अगर आपको लगता है कि आपके शरीर में कोलेस्‍ट्रॉल (cholesterol) की मात्रा बढ़ने लगी है तो आप मक्‍के का सेवन कर इसे नियंत्रित कर सकते हैं। स्‍वीट कॉर्न यानी मक्‍का में विटामिन सी, केरोटेनॉइड्स और बायोफ्लेवोनॉयड काफी मात्रा में होता है, जो रक्‍त में कोलेस्‍ट्रॉल की मात्रा को कम करके रक्‍त प्रवाह को सुचारु बनाता है।

मक्के का आटा भी है फायदेमंद – Benefits of Corn Flour in Hindi in Hindi 

Corn flour and its benefits

आइये जानें कॉर्न फ्लौर क्या होता है (corn flour kya hota hai)? कॉर्न फ्लौर को हिंदी में मक्के का आटा कहा जाता है। आपको बता दें कि सिर्फ मक्का ही नहीं बल्कि मक्के का आटा (makke ka aata) भी सेहत के लिए अच्छा होता है। मक्के (Corn) के आटे का इस्तेमाल भारतीय घरों में रोटी बनाने के लिए किया जाता है। मक्के के आटे से बने व्यंजन टेस्टी होने के साथ सेहत के लिए भी फायदेमंद होते हैं। मक्के के आटे में फाइबर होता है, साथ ही इसमें ग्लूटेन की मात्रा भी नहीं पाई जाती है। यही वजह है कि इसका सेवन शरीर को डायबिटीज और हाइपरटेंशन जैसी गंभीर बीमारियों से बचाता है और ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखता है।

सेक्स पावर बढ़ाने से लेकर बालों की खूबसूरती तक, जानिए प्याज के सभी फायदे

आंखों की रौशनी बढ़ाए

आजकल कम उम्र से ही आंखों की रौशनी कमज़ोर होने की शिकायत रहने लगी है। यहां तक कि छोटे- छोटे बच्चों को भी आपने आंखों पर चश्मा लगाए देखा होगा। मक्के का आटा आंखों की रौशनी बढ़ाने के भी काम आता है। मक्के के आटे में विटामिन A और केरोटेनॉइड्स पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं इसलिए इसका सेवन आंखों के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

पाचन शक्ति दुरुस्त करे

मक्के का आटा आपकी पाचन शक्ति सुधारने में भी कारगर साबित होता है। मक्के के आटे का सेवन करने से शरीर में पर्याप्त मात्रा में फाइबर पहुंचता है, जिससे शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर भी सामान्य बना रहता है, साथ ही कब्ज की समस्या भी पैदा नहीं होती है।

 मक्के की रोटी कैसे बनाते हैं?- How to make Makki ki Roti in Hindi?

makki ki roti

आपको पंजाबियों की पसंदीदा डिश मक्के की रोटी और सरसों का साग के बारे में तो पता ही होगा। दरअसल मक्के की रोटी लोकप्रिय पंजाबी रोटी है, जिसे पंजाबी बड़े चाव से खाते हैं। मगर मक्के की रोटी बनाना इतना आसान नहीं है, जितना आप समझ रहे हैं। ये किसी भी आम रोटी की तरह नहीं बनती। परंपरागत रूप से रोटी बनाने के लिए लोई को हथेलियों के बीच दबाकर चपटी रोटी जैसा आकार दिया जाता है। फिर इसे गर्म तवे पर सेंका जाता है। आज भी कई जगह इसी पारंपरिक तरीके से मक्के की रोटी बनाने का चलन है।

खूबसूरत और ग्लोइंग स्किन के लिए अपने आहार में जरूर शामिल करें ये सेहतमंद फूड प्रोडक्ट्स

अगर आप भी घर पर टेस्टी मक्के की रोटी बनाकर खाना चाहते हैं, तो हम आपको बता रहे हैं मक्के की रोटी बनाने का आसान तरीका (makke ki roti banane ka tarika)।

मक्के की रोटी बनाने के लिए आवश्यक सामग्री:

मक्के का आटा- 400 ग्राम

नमक- स्वादानुसार

गरम पानी

मक्खन

मक्के की रोटी बनाने की विधि:

सबसे पहले एक बर्तन में मक्के का आटा निकाल कर उसे अच्छी तरह छान लें। अब आटा में नमक डालें और गरम पानी की मदद से उसे गूंथ लें। इसके बाद 15-20 मिनट के लिये आटा रख दें ताकि वह फूल कर सेट हो जाए।

अब गैस पर तवा रख कर गरम कीजिए। थोड़ा सा आटा लेकर हथेली की सहायता से अच्छी तरह मसल कर मुलायम कीजिए, जब आटा मुलायम हो जाए तब उसमें से थोड़े से आटे की बड़ी लोई बना लीजिए।

अब हाथ में थोड़ा सा पानी लगाकर आपको लोई हथेली से दबा कर बड़ी करनी है। ध्यान रहे मक्के की रोटी थोड़ी मोटी ही रहनी चाहिए।

त्वचा की रंगत निखारने और उसे खिला- खिला बनाने के लिए बेहद असरदार हैं ये 10 गुणकारी हर्ब्स

इस रोटी को गरम तवे पर डालिये। अगर तवा ठंडा रहा तो रोटी उसमें चिपक जाएगी या फिर टूट जाएगी। अब रोटी  को निचली तरफ से सिकने पर पलटे की सहायता से पलट दीजिए। जब रोटी दूसरी ओर अच्छी तरह सिक जाए, तब तवा हटाकर चिमटे की मदद से रोटी को गैस पर धीमी आग पर घुमा- घुमा कर दोनों ओर ब्राउन चित्ती होने तक सेंक लीजिए।

इस प्रक्रिया में आपको थोड़ा समय लग सकता है। अच्छी तरह से सिंकी हुई रोटी ही खाने में टेस्टी और कुरकुरी लगती है। गरमा गरम रोटी पर मक्खन या घी लगाएं। मक्के की रोटी के साथ सरसों के साग का अलग ही स्वाद है। मक्के की रोटी को आप सरसों के साग या अपनी किसी भी मनपसंद सब्जी से भी खा सकते हैं। मक्के की रोटी का स्वाद और अधिक बढ़ाने के लिये गुड़ और मक्खन भी रोटी के साथ खा सकते हैं।

मक्के की रोटी के फायदे – Makki ki Roti ke Fayde

कॉर्न फ्लौर यानी मक्के का आटा सेहत के लिए बहुत कारगर माना जाता है। यह हेल्थी होने के साथ-साथ कई नुट्रिशन गुणों से भरपूर माना जाता है। ज्यादातर मक्के की रोटी सर्दियों के मौसम में खायी जाती है। यह सेहत के लिहाज़ से बहुत फायदेमंद होती है। स्वाद और सेहत से भरपूर मक्के के आटे में विटामिन-ए, बी, ई और कई तरह के मिनरल्स जैसे आयरन, कॉपर, जिंक, मैग्नीज, सेलेनियम, पोटेशियम पाए जाते हैं। बाकी आटे के मुकाबले इसे आसानी से पचाया जा सकता है। तो चलिए आपको मक्के की रोटी खाने के फायदों (Makki ki Roti ke Fayde) के बारे में बताते हैं।

कब्ज से राहत दिलाएं 

पौष्टिक गुणों से भरपूर मक्के की रोटी पेट के लिए बहुत कारगर मानी जाती है। यह देखन में भले ही मोटी हो मगर इसे पचना बहुत आसान होता है। जिस कारण यह कब्ज़ जैसी समस्यांओं से राहत दिलाती है। पाचन क्रिया को मज़बूत बनाने और हानिकारक पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने के लिए मक्के की रोटी एक कारगर घरेलू उपाय है। 

आंखों के लिए मक्के की रोटी 

आजकल बड़ों से ज्यादा बच्चों की आँखों की रोशनी जल्दी चली जाती है। जिससे आंखें कमज़ोर होने लगती है। मगर आँखों से जुड़ी हर समस्यां के लिए मक्के का आटा बहुत कारगर है। इसमें पाया जाने वाला विटामिन A और केरोटेनॉइड्स आंखों के लिए बेहद फायदेमंद होता है।

हृदय के लिए मक्के की रोटी 

मक्के के आटे में विटामिन A और केरोटेनॉइड्स पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं इसलिए इसका सेवन दिल से जुडी बीमारियों के लिए भी बेहद फायदेमंद होता है। यह देखने में भले ही मोटी हो, मगर इसमें मौजूद पोषक तत्व हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। इसके अलावा मक्के की रोटी कोलेस्ट्रॉल को कम कर कार्डियोवस्कुलर की रिस्क को कम करता है। मक्के की रोटी में ओमेगा-३ फैटी एसिड भी होता है जो हृदय के लिए कारगर माना जाता है। 

वजन नियंत्रित करने के लिए

बहुत कम लोग इस बात को जानते हैं कि मक्के की रोटी वजन कम करने के लिए भी बहुत कारगर माना जाता है। मक्के की रोटी से आपके शरीर में ऊर्जा बनाए रखने के साथ-साथ भूख को नियंत्रित करती है। जहाँ आप गेहूं या किसी अनाज की दो से तीन रोटियां कहते हैं वही मक्के की एक रोटी में आप अपना पेट भरा हुआ महसूस करेंगे।

मक्के की रोटी के नुकसान – Makki ki Roti ke Nuksan

किसी भी चीज़ की अति हमे नुक्सान पंहुचा सकती हैं, ऐसे में मक्के की रोटी भले पोषक तत्वों से भरपूर हो मगर इसका सेवन करने से पहले एक बार जान लें कि आप अधिक मात्रा में इसका सेवन न करें। क्योंकि अत्यधिक मात्रा में इसका सेवन सेहत को नुकसान पंहुचा सकता है। तो चलिए जानते हैं मक्के की रोटी से होने वाले नुकसान के बारे में। (Makki ki Roti ke Nuksan)

  • कई लोगो को मक्के की रोटी से एलर्जी की समस्यां भी हो सकती है। ऐसे में बेहतर होगा आप पहले किसी सलाहककर से सलाह करके इसका सेवन।
  • मक्के की रोटी से शरीर में शुगर की मात्रा बढ़ने के भी आसार होते हैं। अगर आप डॉयबिटीज़ के मरीज़ हैं तो मक्के की रोटी किसी डायटीशियन या अपने डॉक्टर के अनुसार ही करें। 
  • गर्भवती महिलाओं को मक्के की रोटी का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए हो सकता हैं यह उनकी सेहत के लिए नुकसानदेह हो।
  • छोटे बच्चों को कई बार पाचन सम्बन्धी परेशानी रहती है ऐसे में बच्चों को अधिक मात्रा में मक्के की रोटी का सेवन नहीं करवाना चाहिए नहीं तो उनका पेट ख़राब हो जायेगा।

मक्का खाने के नुकसान – Side Effects of Corn in Hindi

Sweet corn for health

अगर किसी चीज़ के फायदे होते हैं तो उसके कई नुकसान भी होते हैं। इसी तरह मक्का खाने के फायदे (makka khane ke fayde) और नुकसान दोनो ही हैं। मक्के का ज़्यादा सेवन आपकी सेहत पर बुरा असर डाल सकता है। जानिए मक्के और मक्के की रोटी के नुकसान के बारे में….

1- ज़रूरी नहीं कि मक्का हर किसी को सूट करे। कई लोगों को मक्के का सेवन करने से एलर्जी, त्वचा पर चकत्ते आदि समस्याएं भी हो सकती हैं।

2- मीठे मक्के को कच्‍चा नहीं खाना चाहिए क्‍योंकि इससे दस्‍त की समस्या हो सकती है।

3- कुछ लोगों को मक्के का ज्‍यादा सेवन करने से गैस, पेट फूलना और सूजन जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं।

4- ये तो हम आपको बता ही चुके हैं कि मक्का खाने से वज़न बढ़ता है। इसलिए जो लोग अपना वज़न कम करना चाहते हैं उन्‍हें मक्के का ज्‍यादा सेवन नहीं करना चाहिए क्‍योंकि यह उनके वज़न को और ज्‍यादा बढ़ा सकता है।

5- मक्का की रोटी खाने के नुकसान को भी ध्यान में ले कर चलें। मक्के की रोटी खाने के बाद अक्सर यह शिकायत रहती है कि रोटी पची नहीं। अगर आप भी ऐसी किसी समस्या से गुज़र रहे हैं तो मक्के की रोटी के साथ छाछ या फिर लस्सी ज़रूर पिएं। इससे रोटी पचने में आसानी होगी।

ये भी पढ़ें :

जानिये खुबानी के स्वास्थ्य लाभ

लू के खतरे से कैसे करें अपना बचाव

कीवी के स्वास्थ्य लाभ

ध्यान कैसे करें (मेडिटेशन)