भूलकर भी धनतेरस के दिन न खरीदें ये सामान, सौभाग्य नहीं बल्कि दुर्भाग्य देगा दस्तक

भूलकर भी धनतेरस के दिन न खरीदें ये सामान, सौभाग्य नहीं बल्कि दुर्भाग्य देगा दस्तक

हिंदू धर्म में धनतेरस के दिन खरीददारी करना बहुत शुभ माना जाता है। ज्यादातर लोग इस दिन चांदी या फिर सोने से बने गहने या फिर सिक्के खरीदते हैं। पुराणों में धनतरेस दीपावली त्योहार के आगमन का सूचक माना जाता है। धनतेरस को धन और आरोग्य के लिए भगवान धन्वंतरि की पूजा की जाती है। माना जाता है कि इस दिन समुद्र मंथन के दौरान, अमृत का कलश लेकर धन्वंतरी प्रकट हुए थे। तभी से इस दिन को धनतेरस के रूप में मनाया जाने लगा। भगवान धन्वंतरि आरोग्य भी प्रदान करते हैं। इसे मानने के पीछे कारण ये है कि अगर हम बीमारियों से दूर हैं तो यह समझ लेना चाहिए कि हम संसार के सुखी व्यक्ति हैं। इसलिए धन का संबंध यहां आरोग्य से किया गया है। क्योंकि जिस परिवार में आरोग्य वास करता है वहां कभी भी धन- धान्य की कमी नहीं होती है। आइए जानते हैं कि धनतेरस के दिन किन चीजों की खरीददारी करनी चाहिए और किन चीजों की नहीं।


धनतेरस के ही दिन क्यों शुभ मानी जाती है खरीददारी


धनतेरस के दिन खरीददारी करने से घर में हमेशा सुख और समृद्धि बनी रहती है। मान्यता है इन दिन खरीददारी करने से उसमें तेरह गुना बढ़ोतरी होती है। पुराणों के अनुसार जब भगवान धन्‍वंतरि का जन्म हुआ तो वह एक पात्र में अमृत लेकर आए थे। भगवान धन्‍वंतरि कलश लेकर प्रकट हुए थे इसलिए इस अवसर पर बर्तन खरीदने की परंपरा है।


dhanvantri-statue-in-hindi


धनतेरस खरीददारी शुभ मुहूर्त


धनतेरस के दिन खरीददारी करने का शुभ मुहूर्त 5 नवंबर को सिर्फ 1 घंटे 57 मिनट के लिए होगा, जो कि शाम 6:20 बजे से 8:17 मिनट तक रहेगा।


इस मंत्र का करें जाप


भगवान धन्वंतरि का ध्यान कर 108 बार ‘श्री धन्वंतरि देवः शरणम मम्‘ मंत्र का जाप करें। और परिवार सहित आरोग्य रहने व धन- धान्य की प्राप्ति  के लिए सच्चे मन से प्रार्थना करें।


ये भी पढ़ें - भूलकर भी घर पर न रखें यह 7 चीजें, हो जाएगा कोई बड़ा नुकसान


धनतरेस के दिन इन चीजों की खरीददारी करना होता है शुभ


1- झाड़ू


इस दिन झाड़ू तो जरूर खरीदनी चाहिए। कहा जाता है कि जिस तरह से झाड़ू घर में सभी तरह की गंदगी को बाहर कर देतr है वैसे ही इसकी खरीदादरी करने से सारी बुराईयां और दरिद्रता की भी सफाई हो जाती है और घर में खुशियों का आगमन होता है।


book-with-pen-dhanteras


2- बिजनेस या नौकरी से जुड़ी चीजें


जी हां वास्तु एक्सपर्ट्स ये मानते हैं कि धनतरेस के दिन अपने बिजनेस या नौकरी से जुड़ी चीजों की खरीददारी शुभ मानी जाती है। इससे तरक्की के द्वार खुल जाते हैं और आपको अपार सफलता मिलती है। जैसे अगर आप व्यापारी हैं तो बही खाता खरीदें, अगर टीचर हैं तो कलम या किताब।


3- साज- श्रृंगार का सामान


कहते हैं कि जिस घर में बहू और बेटियां हंसती- खेलती और चहकती रहती हैं, वहां किसी भी तरह का कोई वास्तु दोष नहीं होता। जिन महिलाओं को साज- श्रृंगार करना पसंद है वो इस दिन इन चीजों की खरीददारी कर सकती हैं। खासतौर पर शादीशुदा महिलाओं के लिए इस दिन सुहाग का सामान खरीदना बहुत ही शुभ माना जाता है। कहते हैं कि इससे अखंड सुहाग का आशीर्वाद मिलता है।


coriander-seeds-in-dhanteras


4- धनिया के बीज


शास्त्रों के अनुसार धनतेरस के दिन धनिया के बीज खरीदना शुभ माना जाता है। कहते हैं कि इससे घर में कभी भी किसी तरह की कोई कमी नहीं होती है और बरक्कत ही होती है। खरीदे गये बीज को लक्ष्मी पूजन के दिन भगवान को अर्पित करें और उसके बाद चाहे तो अपने बगीचे में बो दें। कहते है धनिया का पेड़ आपके घर में जितना अच्छा उगेगा, उतनी ही आर्थिक स्थिति भी अच्छी होती है। आप चाहे तो धनिया के इन बीजों को अपने पर्स या फिर तिजोरी में भी रख सकते हैं।  


5- सोने- चांदी के सिक्के


सोना और चांदी भगवान कुबेर की प्रिय धातु हैं। अगर आप सक्षम हैं तो इस सोने या फिर चांदी के सिक्के खरीदें। इस दिन चांदी खरीदने से यश, कीर्ति और ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है।


6- पीतल के बर्तन


धनतेरस के दिन हो सके तो पीतल के बर्तन जरूर खरीदने चाहिए। मान्यता है कि समुद्र मंथन के दौरान भगवान धन्वंतरि जिस अमृत कलश को लेकर प्रकट हुए थे वो पीतल का बना हुआ था और पीतल भगवान धनवंतरी की प्रिय धातु है। इसीलिए इस दिन पीतल के बर्तन की खरीददारी शुभ मानी जाती है। अगर संभव नहीं है तो स्टील के बर्तन भी खरीद सकते हैं लेकिन एलुमिनियम के बर्तन भूलकर भी न खरीदें।


7- गणेश- लक्ष्मी की मूर्ति


दीपावली में पूजी जाने वाली लक्ष्मी और गणेश जी की मूर्ति धनतेरस के दिन ही खरीदनी चाहिए। मान्यता है कि इस दिन दीपावली की पूजा के लिए गणेश लक्ष्मी खरीदने से घर धन- धान्य से भरा रहता है और आर्थिक संकट से मुक्ति मिलती है। ये मूर्ति चांदी या फिर मिट्टी से बनी हुई ले सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें कि मूर्ति की ऊंचाई हथेली की मध्यमी उंगली से ऊंची नहीं होनी चाहिए।


8- शंख


धनतेरस के दिन शंख खरीदना बहुत शुभ माना जाता है। इस दिन शंख को घर में लाकर उसे पूजा घर में रखकर उसकी भी पूजा करें और दीपावली पूजन के समय इस शंख को जरूर बजाएं। इससे घर से मां लक्ष्मी की कृपा सदैव बनी रहती हैं और उस घर से सभी संकट दूर रहते हैं।


ये भी पढ़ें -वास्तु टिप्स: भूलकर भी अपने बेड के पास न रखें ये चीजें…


धनतरेस के दिन इन चीजों की खरीददारी नहीं करनी चाहिए


1- कांच का सामान


कहते हैं कि धनतेरस के दिन कांच यानि शीशे का सामान भूलकर भी नहीं खरीदना चाहिए। दरअसल, शीशे का संबंध राहु से होता है। इसीलिए बेहतर रहेगा इन दिन शीशे की खरीददारी करने से बचें।


Capture ae424ba8-98ab-4076-9b0c-2a8a31d6cc40 2048x


2- लोहे के धातु से बने सामान


इस दिन लोहे से बना सामान खरीदने से बचें। लोहे से बनी कोई वस्तु इस दिन ना खरीदें। अगर खरीदना बहुत जरूरी ही है तो धनतेरस के एक दिन पहले या फिर बाद में खरीद लें। बहुत से लोग इस दिन गाड़ी खरीदने की योजना बनाते हैं। और इस दिन खास ऑफर भी बाजार में होते हैं। अगर ऐसा है तो आप गाड़ी का पेमेंट एक दिन पहले करके उस दिन डिलिवरी ले सकते हैं।


3- धारदार वस्तुएं


इस दिन किसी भी तरह की धार वाली चीजें नहीं खरीदनी चाहिए। इससे बहुत भारी नुकसान हो सकता है। जैसे कैंची, चाकू, आरी और हथियार।


4- काले रंग की वस्तुएं


माना जाता है कि काला रंग निगेटिव एनर्जी का सोर्स है। हिंदु धर्म में भी सभी त्योहारों में काला रंग पहनना शुभ नहीं माना जाता है। इसीलिए धनतेरस के दिन काले रंग की चीजें न ही खरीदें तो सही रहेगा।


5- एलुम‌िन‌ियम के बर्तन


कहा जाता है कि एल्युम‌िन‌ियम धातु पर राहु का प्रभाव ज्यादा होता है जिससे अन्य शुभ ग्रह प्रभावित होते हैं। साथ ही एलुम‌िन‌ियम का प्रयोग वास्तुशास्त्र, स्वास्थ्य और ज्योतिष की दृष्टि से भी बुरा ही माना जाता है। यही कारण है कि पूजा- पाठ में भी इस धातु से बने पात्रों का इस्तेमाल वर्जित होता है।


ये भी पढ़ें -सास-बहू के झगड़े खत्म करने के उपाय