home / xSEO
Multani Mitti ke Fayde | मुल्‍तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान

Multani Mitti ke Fayde | मुल्‍तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान

मुल्तानी मिट्टी को अंग्रेजी में ‘फुलर्स अर्थ’ भी कहा जाता है, जो हाईली एक्टिव मिट्टी के रूप में जानी जाती है। खूबसूरती के लिए इस्तेमाल की जाने वाली यह मिट्टी अनेक गुणों से भरपूर होती है। मुल्तानी मिट्टी एक नेचुरल स्किन केयर प्रोडक्ट है, जो जो लगभग हर भारतीय घर में देखा जा सकता है। यह दिखने में मिट्टी जैसा दिखता है लेकिन त्वचा के लिए बहुत अधिक अनुकूल है। यह खनिजों और पानी में उच्च है, और यह भूरे और हरे रंग सहित विभिन्न रंगों में आता है। इसमें कोई गंध या स्वाद नहीं है। मुल्तानी मिट्टी एक बढ़िया फेस मास्क भी है, जो चेहरे पर कई तरह से काम करके इसे खूबसूरत बनाती है। अनेक पोषक तत्वों से भरपूर मुल्तानी मिट्टी जब चेहरे पर लगाने के बाद धीरे धीरे सूख जाती है तो स्किन से एक्स्ट्रा ऑयल को हटा देती है। हम आपको यहां multani mitti ke fayde मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान के बारे में बता रहे हैं।

Multani Mitti ke Fayde | मुल्तानी मिट्टी के फ़ायदे 

यह हाइड्रेटेड एल्यूमीनियम सिलिकेट्स से बना है और मैग्नीशियम क्लोराइड और कैल्शियम बेंटोनाइट से भरपूर है, जो बेंटोनाइट क्ले के समान है। यह भूरे, हरे और सफेद जैसे प्राकृतिक रंगों की एक विस्तृत श्रृंखला में पाया जाता है। यह पाकिस्तान के मुल्तान से निकलती है और अब इसे वर्षों से भारत ले जाया जा रहा है। यह दिखने में मिट्टी जैसा होता है लेकिन यह मिट्टी की तुलना में बहुत महीन होता है।  multani mitti lagane ke fayde मुल्तानी मिट्टी रोज लगाने के फायदे बहुत देखे गए हैं। जानिए कुछ ऐसे ही multani mitti ke fayde मुल्तानी मिटटी के फायदे।

Multani Mitti aur Haldi ke Fayde | मुल्तानी मिट्टी और हल्दी के फायदे 

अगर आप एक्ने से परेशान हैं तो मुल्तानी मिट्टी और हल्दी के फायदे आपके लिए किसी चमत्कार से कम नहीं। आपको बस इनके साथ थोड़े से चन्दन पाउडर की ज़रुरत भी पड़ेगी। इसके लिए 1 चम्मच चंदन पाउडर, 1/4 छोटा चम्मच हल्दी और 1 छोटा चम्मच मुल्तानी मिट्टी के पाउडर को 2 बड़े चम्मच पानी में तब तक मिलाएं जब तक आपको गाढ़ा पेस्ट न मिल जाए। अब इसे सीधे मुंहासों पर लगाएं और सूखने दें। आप इसे रात भर के लिए छोड़ भी सकते हैं। बाद में गुनगुने पानी से धोकर चेहरा सुखा लें।

Multani Mitti aur Haldi ke Fayde

Multani Mitti aur Gulab Jal ke Fayde | मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल के फायदे 

त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल के फायदे कई हैं, खासतौर पर अगर आपकी कॉम्बिनेशन स्किन है। त्वचा के हाइड्रेट रखने के लिए गुलाब जल और मुल्तानी मिटटी का फेस पैक एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है। इसके लिए आपको ज्यादा कुछ करने की ज़रूरत नहीं है बस १ छोटा चम्मच गुलाब जल और मुल्तानी मिट्टी पाउडर लें और दोनों को अच्छी तरह से मिला लें। अब इस पैक को साफ, सूखे चेहरे पर लगाएं। 10 मिनट के लिए छोड़ दें। बाद में गुनगुने पानी से धोकर चेहरा सुखा लें। इसके बाद मॉइस्चराइज़र ज़रूर लगाएं। 

Multani Mitti Roj Lagane ke Fayde | मुल्तानी मिट्टी रोज लगाने के फायदे 

इसका सबसे बड़ा गुण है इसकी तेल, पानी और रंग को सोखने की क्षमता। इसके अलावा यह अनेक मिनरल्स से भी युक्त होती है। यही वजह है कि मुल्तानी मिट्टी रोज लगाने के फायदे भी हैं। इसकी सबसे बड़ी खासियत होती है इसमें पानी की भरपूर मात्रा का होना। साधारण मिट्टी से जो बात इसे अलग बनाती है वो है पानी का निकास आसानी से न होना। यह किसी भी चीज का रंग हटा सकती है और किसी भी तरल को सोख सकती है। इसीलिए चाहे चेहरा हो, शरीर हो या बाल हों, तेल सोखने के लिए मुल्तानी मिट्टी का ही इस्तेमाल किया जाता है।

Multani Mitti and Honey Face Pack Benefits in Hindi | मुल्तानी मिट्टी और शहद के फायदे 

ड्राई स्किन वालों के लिए मुल्तानी मिट्टी और शहद के फायदे किसी वरदान से कम नहीं। ड्राई स्किन वाले छिद्रों से अशुद्धियों को दूर करने के लिए मुल्तानी मिट्टी का उपयोग क्लीन्ज़र के रूप में कर सकते हैं। हालांकि आपकी त्वचा ड्राई है इसलिए मुल्तानी मिट्टी से त्वचा को सूखने से बचाने के लिए, आप इसमें शहद के साथ दूध या क्रीम जैसे मॉइस्चराइजिंग घटक जोड़ सकते हैं जिससे त्वचा हाइड्रेटेड रहे। इसे बनाने के लिए 1 बड़ा चम्मच मुल्तानी मिट्टी में 1 बड़ा चम्मच शहद मिलाएं। अब इस मिश्रण को अपने चेहरे पर लगाएं और 15-20 मिनट तक लगा रहने दें। अब गुनगुने पानी से चेहरा धो लें। बेहतर परिणामों के लिए इस पैक को सप्ताह में दो बार लगाएं।

Multani Mitti aur Dahi ke Fayde | मुल्तानी मिट्टी और दही के फायदे 

इंस्टेंट ग्लोइंग स्किन पाने के लिए आप मुल्तानी मिट्टी और दही के फायदे आज़मा सकती हैं। इसके लिए आपको मेहनत करने की ज़रुरत भी नहीं पड़ेगी। बस दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी में एक चम्मच दही और एक चुटकी हल्दी लें। अब एक बाउल में सब कुछ मिला लें और ध्यान रखें कि मिश्रण में कोई गांठ न रह जाए। इसके बाद इसे समान रूप से अपने चेहरे पर लगाएं और 20 मिनट के लिए सूखने दें। आखिर में चेहरा गर्म पानी से धो लें और मॉइस्चराइजर ज़रूर लगाएं।

Multani Mitti aur Dahi ke Fayde
Multani Mitti aur Dahi ke Fayde

Multani Mitti aur Doodh ke Fayde | मुल्तानी मिट्टी और दूध के फायदे 

अगर आपकी स्किन सेंसिटिव है तो  मुल्तानी मिट्टी और दूध के फायदे आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प है। इसमें न केवल शीतलन गुण होते हैं जो सनबर्न और खुजली वाली त्वचा को ठीक करने में मदद करते हैं बल्कि इसमें सुखदायक गुण भी होते हैं जो किसी भी जलन को ख़तम कर सकते हैं। इस फेस पैक के लिए आपको आधा कप मुल्तानी मिट्टी, एक चौथाई कप दूध और एक चम्मच ताजा निकाला हुआ एलोवेरा जेल चाहिए। एक कटोरी में सभी सामग्री मिलाएं और साफ चेहरे पर लगाएं। इसके पोषक तत्वों को आपकी त्वचा में अवशोषित करने के लिए इसे 15 से 20 मिनट के लिए छोड़ दें। एक बार जब पैक सूख जाए, तो इसे साफ करके चेहरा मॉइस्चराइज़ करें। स्वस्थ और बेदाग त्वचा के लिए ऐसा हफ्ते में एक बार करें। 

Multani Mitti se Nahane ke Fayde | मुल्तानी मिट्टी से नहाने के फायदे 

बात जब multani mitti lagane ke fayde की आती है तो मुल्तानी मिट्टी से नहाने के फायदे भी बताये जाते हैं। मुल्तानी मिट्टी से नहाने पर न सिर्फ शरीर पर जमा गंदगी साफ़ होती है बल्कि शरीर की त्वचा को एक्सफोलिएट करने में भी मदद मिलती है। इतना ही नहीं इससे नहाने पर शरीर पर चकत्ते और एलर्जी से भी छुटकारा मिलता है। मुल्तानी मिट्टी को प्राकृतिक मॉइस्चराइज़र माना जाता है यही वजह है कि इसे लगाने से शरीर की त्वचा में निखार आता है। मुल्तानी मिट्टी से नहाने के लिए आप इसका पैक बनाकर चेहरे व शरीर के अन्य हिस्सों पर लगाएं व पानी से साफ़ करते हुए नहा लें। 

Multani Mitti aur Chandan powder ke fayde | मुल्तानी मिट्टी और चंदन पाउडर के फायदे 

तैलीय त्वचा के साथ बड़े पोर्स, मुंहासे, ब्लैकहेड्स और व्हाइटहेड्स और सुस्त त्वचा जैसी परेशान करने वाली त्वचा की समस्याएं आती हैं। ऐसे में मुल्तानी मिट्टी और चंदन पाउडर के फायदे तैलीय और मुंहासे वाली त्वचा के लिए वरदान है। इसे बनाने के लिए एक कटोरी में दो बड़े चम्मच मुल्तानी मिट्टी लें और उसमें एक चम्मच चंदन पाउडर और एक चम्मच हल्दी मिलाएं। तीनों सामग्री को अच्छी तरह मिला लें। अब इसमें आवश्यकतानुसार थोडा़ सा पानी डालें और इन सभी को मिलाकर चिकना पेस्ट बना लें। इस फेस पैक को फेशियल ब्रश की मदद से साफ चेहरे पर लगाएं और करीब 20 मिनट तक लगा रहने दें। पैक को गुनगुने पानी से धो लें और हल्के मॉइस्चराइजर से चेहरा मॉइस्चराइज़ करें। 

Multani Mitti aur Nimbu powder ke fayde| मुल्तानी मिट्टी और नींबू के फायदे 

त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी और नींबू के फायदे भी देखने को मिलते हैं। यह सरल एक्सफोलिएंट मिश्रण मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने और फिर से रिफ्रेश करने में मदद कर सकता है। इसके लिए 1 छोटा चम्मच मुल्तानी मिट्टी में 1 चम्मच ग्लिसरीन, 1/4 छोटा चम्मच नींबू का रस और 1/2 छोटा चम्मच गुलाब जल मिलाएं और पेस्ट बना लें। अब सर्कुलर मोशन में इसे साफ, सूखी त्वचा पर लगाकर धीरे से मालिश करें। उसके बाद गुनगुने पानी से चेहरे को धोकर सुखा लें। नींबू और अन्य खट्टे फल त्वचा में जलन पैदा कर सकते हैं, ऐसी स्थिति में पहले कान के पीछे थोड़ा सा पेस्ट लगाकर इसका स्किन एलेर्जी टेस्ट कर लें। 

Multani Mitti aur Nimbu powder ke fayde

Multani Mitti aur Aloe Vera | मुल्तानी मिट्टी और एलोवेरा के फायदे

उस तरह की त्वचा के लिए जिन्हें अतिरिक्त नमी की आवश्यकता होती है, मुल्तानी मिट्टी और एलोवेरा के फायदे देखने को मिलते हैं। एलोवेरा जेल के प्राकृतिक गुण जहां त्वचा को हाइड्रेट रखते हैं, वहीं मुल्तानी मिट्टी त्वचा को हर तरह की बाहरी समस्याओं से दूर रखती है। इन दोनों का मिश्रण त्वचा के लिए लाभदायक होता है। इसका पैक बनाने के लिए 1 छोटा चम्मच मुल्तानी मिट्टी में 1 छोटा चम्मच एलोवेरा जेल मिलाएं। अब इसे साफ, सूखे चेहरे पर लगाएं। 10 मिनट के लिए छोड़ दें। गुनगुने पानी से धो लें और थपथपा कर चेहरा सुखा लें।

Balo me Multani Mitti Lagane ke Fayde | मुल्तानी मिट्टी के फायदे बालों के लिए 

मुल्तानी मिट्टी के फायदे बालों के लिए भी देखने को मिलते हैं। मुल्तानी मिट्टी बालों को कंडीशन करने का भी बेहतरीन प्राकृतिक उपाय है। बालों के झड़ने की प्रॉब्लम है तो भी मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग करने से फ़ायदा होता है। अगर आप चाहती हैं कि आपके बाल घने, काले और मुलायम बनें तो नियमित रूप से मुल्तानी मिट्टी का हेयर मास्क लगाएं। आंवला के रस के साथ मुल्तानी मिट्टी का पैक बनाकर लगाएं, इससे बालों में प्राकृतिक चमक आएगी।

Multani Mitti ke Fayde Face ke Liye | स्किन के लिए मुल्तानी मिट्टी के फायदे

मुल्तानी मिट्टी के फायदे फेस के लिए ही अधिक देखने को मिलते हैं। मुल्तानी मिट्टी को नेचुरल स्क्रब की तरह से भी इस्तेमाल किया जा सकता है। मुल्तानी मिट्टी त्वचा के व्हाइट और ब्लैक हेड्स को साफ़ कर देती है। ये डेड सेल्स को हटाकर स्किन को क्लीन करती है और त्वचा की गंदगी साफ़ करके एक बेहतर क्लीन्जर का काम करती है। इसमें मैग्नीशियम होता है जो चेहरे के मुंहासों को दूर भगाता है। मुंहासों के दाग दूर करने के लिए भी मुल्तानी मिट्टी एक अच्छा उपाय है। मुल्तानी मिट्टी स्किन की सभी अशुद्धियों को साफ करती है। यह बेहतरीन स्किन टोनर भी है। मुल्तानी मिट्टी स्किन के ब्लड सर्कुलेशन को सुधार कर स्किन को ग्लोइंग बनाती है। चेहरे की झांइयों को हटाने के लिए भी मुल्तानी मिट्टी काफी कारगर है। सनटैन और पिगमेंटेशन को दूर करने के लिए भी मुल्तानी मिट्टी का उपयोग असरदार है। मुल्तानी मिटटी में इसेंशियल ऑयल मिलाने से स्किन सॉफ्ट हो जाती है। मुल्तानी मिट्टी एक एंटीएजिंग एजेंट भी है तो इसे चेहरे की झुर्रियों को न आने देने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं।

Multani Mitti ke Fayde | हेल्थ के लिए मुल्तानी मिट्टी के फायदे

मुल्तानी मिट्टी एंटीसेप्टिक एजेंट भी है इसलिए इसका उपयोग स्किन इरिटेशन में भी कर सकते हैं।  ये त्वचा की लालिमा और सूजन को भी कम करती है। मुल्तानी मिट्टी स्किन एलर्जी को भी दूर करती है। इसके अलावा महिलाओं के मासिक धर्म में होने वाली ऐंठन, मसल्स के दर्द, सनबर्न और जलने के लिए भी मुल्तानी मिट्टी का उपयोग काफी लाभकारी सिद्ध होता है। मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल बॉडी वाश की तरह भी कर सकते हैं। इसके अलावा मुल्तानी मिट्टी का उपयोग कपड़ों से ग्रीस, तेल, वैक्स और खून के धब्बों को दूर करने के लिए भी किया जाता है।

Side Effects Of Multani Mitti in Hindi | मुल्तानी मिट्टी के नुकसान

मिट्टी या मुल्तानी मिट्टी खाने का मन करता है तो आप जान लें कि आपको एक ऐसा ईटिंग डिसऑर्डर है जिसमें ऐसी चीज़ें खाने का मन करता है। अक्सर यह आपके शरीर में किसी खास तत्व की कमी की वजह से होता है। मिट्टी में कई ऐसे तत्व होते हैं जो शरीर को नुकसान पहुंचाते हैं। इसके अलावा साधारण मिट्टी खाने से जहां पेट में कीड़ों की समस्या पैदा हो सकती है, तो वहीं मुल्तानी मिट्टी को खाना उतना ज्यादा नुकसान नहीं करता। फिर भी अगर ज्यादा मुल्तानी मिट्टी खाई जाए तो इससे किडनी स्टोन और आंत में रुकावट की प्रॉब्लम हो सकती है। अगर आप मुल्तानी मिट्टी खाने की आदत के शिकार हैं तो सबसे पहले कोशिश करें इसकी मात्रा कम करने की। कम करते- करते धीरे- धीरे इसकी मात्रा आधी कर दें। फिर जो मिट्टी आप खा रहे हैं, उसे पेट तक न जाने दें, इसे मुंह में स्वाद लेकर थूक दें। इसके बाद ब्रश कर लें। धीरे- धीरे आपकी मुल्तानी मिट्टी को खाने की आदत छूट जाएगी।

FAQ’s – मुल्तानी मिटटी से जुड़ें कुछ सवाल

सवाल- मुल्तानी मिट्टी लगाने से क्या नुकसान होता है?

जवाब- सर्दी के मौसम में मुल्तानी मिट्टी लगाने से आपकी त्वचा ड्राई हो सकती है और इसमें खिंचाव महसूस हो सकता है।

सवाल- क्या मुल्तानी मिट्टी खराब होती है?

जवाब- कच्ची मुल्तानी मिट्टी की कोई एक्पायरी डेट नहीं होती। मगर पैकेट में मिलने वाली मुल्तानी मिट्टी की नियमित रूप से जांच करनी चाहिए। 

सवाल- मुल्तानी मिट्टी को कब लगाना चाहिए?

जवाब- मुल्तानी मिट्टी को गर्मी के मौसम में लगाने से सबसे ज्यादा फायदा मिलता है।

सवाल- मुल्तानी मिट्टी से चेहरा गोरा कैसे करें?

जवाब- मुल्तानी मिट्टी त्वचा की रंगत को एक समान बनाने में भी मदद करती है। इसमें हल्की विरंजन क्रिया होती है जो दोषों और काले धब्बों को कम करने में सहायता करती है।

मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान  

मुल्तानी मिट्टी हर तरह से और हर तरह की त्वचा के लिए फायदेमंद होती है। खासतौर पर गर्मी के मौसम में यह त्वचा के लिए किसी वरदान से कम नहीं। अगर आपको यहां दिए गए  मुल्तानी मिट्टी के फायदे और नुकसान पसंद आए तो इन्हें अपने दोस्तों व परिवारजनों के साथ शेयर करना न भूलें।

17 Aug 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text