home / ब्यूटी
इन 5 टिप्स की मदद से आप भी अपनी आंखों के आस-पास की डेलिकेट स्किन की कर सकती हैं देखभाल

इन 5 टिप्स की मदद से आप भी अपनी आंखों के आस-पास की डेलिकेट स्किन की कर सकती हैं देखभाल

हम सभी जानते हैं कि आंखों के आस-पास की स्किन चेहरे के बाकि जगहों की स्किन से थोड़ी अलग होती है। ये बहुत ही अच्छा है कि इस एरिया पर कभी ब्रेकआउट नहीं आते हैं लेकिन यहां कई अन्य तरह की स्किन कंडीशन होती है जिसका आपको सामना करना पड़ता है। उदाहरण के लिए डार्क सर्कल्स, झुर्रियां, बंपी स्किन, ड्राई स्किन या फिर सैगिंग स्किन और ये सभी चीजें इस एरिया में होना बहुत ही सामान्य है क्योंकि यहां कि स्किन बहुत डेलिकेट होती है। आप उम्मीद कर सकते हैं कि आपकी स्किन क्लियर हो लेकिन इससे आपकी आंखों के आस-पास की स्किन पर असर नहीं होता है। इस वजह से हम यहां आपके लिए कुछ ऐसी टिप्स लाए हैं, जिनकी मदद से आप अपनी आंखों के आस-पास की स्किन को स्वस्थ बनाए रख सकती हैं।

आंखों के आसपास की स्किन को स्वस्थ रखने के टिप्स

फेस क्रीम नहीं आई क्रीम

आप हमारी इस बात से सेहमत होंगे कि चेहरे की स्किन से आंखों की स्किन थोड़ी अलग होती है और साथ ही यह ड्राई भी रहती है। साथ ही ध्यान रखें कि अगर आप अपनी आंखों को ज्यादा रब करते हैं तो इससे आपके डेलिकेट एरिया पर काफी असर होता है। इस वजह से जरूरी है कि आप आई क्रीम, आई जेल या फिर आई सीरम को अपनी आंखों के आसपास की स्किन पर लगाएं। आई क्रीम, जेल और सीरम इस एरिया में अधिक कारगर होते हैं और ये आपकी डेलिकेट स्किन को हील करने में मदद करते हैं। हो सकता है कि आप लाइटवेट मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल अपने चेहरे पर करती हों ताकि आपकी स्किन ग्रीसी ना हो और इस वजह से आप आई क्रीम, जेल या फिर सीरम की मदद से अपनी आंखों के आसपास की स्किन को मॉइश्चराइज कर सकती हैं।

अंडर आई क्रीम

अगर आपकी स्किन पर डार्क सर्कल हैं या फिर आंखों के आसपास बंपी स्किन है तो आपको इसके लिए ऐसी अंडर आई क्रीम लगानी चाहिए जिसमें एक्टिव इंग्रीडिएंट्स हो। एक गुड प्रेक्टिस यही है कि आप हमेशा अपने सीरम को आंखों के आसपास के एरिया तक लगाएं और ऐसे सीरम का इस्तेमाल करें जिसमें एक्टिव इंग्रिडिएंट्स हों। अगर सीरम आपके रूटीन का हिस्सा नहीं है तोत आप रेटिनॉल इंफ्यूस्ड आई क्रीम या फिर विटामिन सी इंफ्यूस्ड आई मास्क का इस्तेमाल कर सकती हैं।

प्रोडक्ट लगाने के लिए रिंग फिंगर का करें इस्तेमाल

डेलिकेट एरिया पर बहुत अधिक मात्रा में प्रोडक्ट ना लगाएं। साथ ही अगर आप अग्रेसिवली प्रोडक्ट लगाते हैं तो इससे आपकी स्किन को ज्यादा नुकसान होता है। इस वजह से हमेशा रिंग फिंगर या फिर पिंकी फिंगर का इस्तेमाल करें ताकि एरिया पर जेंटल प्रेशर ही डले। साथ ही इस उंगली से लगाने से प्रोडक्ट आंखों में भी नहीं लगता है। अगर आप उंगली से नहीं लगा सकती हैं तो फिर इसके लिए किसी स्किनकेयर प्रोडक्ट का इस्तेमाल कर सकती हैं।

एसपीएफ चेकलिस्ट

सनस्क्रीन एक बहुत ही जरूरी स्किनकेयर प्रोडक्ट है। अगर आप रोजाना अपनी स्किन पर एसपीएफ नहीं लगाती हैं तो इससे आपकी स्किन पर नकारात्मक प्रभाव हो सकता है और आंखों के आसपास की स्किन पर अधिक डैमेज हो सकता है। हानिकारक यूवी रेज स्किन एजिंग प्रोसेस को तेज कर सकती हैं और इस वजह से आपके आंखों की स्किन के आसपास झुर्रियां पड़ सकती हैं। इस वजह से आपको अपने चेहरे और बॉडी की तरह आंखों के आसपास भी सनस्क्रीन लगानी चाहिए।

आई लिफ्ट

फेशियल मसाज से आपकी आंखें डीपफ और डिटॉक्सिफाई होती है और इससे आपकी स्किन ब्राइटर और रेजुविनेट होती है। जैसे ही आप अपनी चीकबोन और जॉलाइन पर फेशियल मसाज करते हैं उसी तरह से आप अपनी आंखों के आसपास की स्किन पर भी मसाज कर सकते हैं। इसके लिए आप अपनी रिंग या फिर पिंकी फिंगर का इस्तेमाल कर सकती हैं या फिर अच्छे नतीजों के लिए जेड रोलर का इस्तेमाल कर सकती हैं। हमेशा चेहरे पर मसाज करने से पहले फेशियल ऑयल या फिर ऑयल बेस्ड सीरम लगा लें।

05 Aug 2022

Read More

read more articles like this

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text