इन टिप्स से अंग्रेजी बोलना सीखें - English Speaking Tips in Hindi

English Speaking Tips in Hindi - अंग्रेजी बोलना सीखें

भारत में ज्यादातर लोगों की मातृभाषा हिन्दी (Hindi) या दूसरी रीजनल (regional) भाषा होते हुए भी वे इंग्लिश (English) यानि कि अंग्रेजी भाषा को अपनी प्राइमरी लैंग्वेज (primary language) बनाने की कोशिश करते हैं। सुबह उठने से लेकर रात को सोने तक हम ऐसे कई शब्दों व वाक्यों का इस्तेमाल करते हैं, जो पूरी तरह से अंग्रेजी भाषा के ही होते हैं। ज्यादातर देशों के लोग आम बोलचाल व ऑफिशियल वर्क (official work) के लिए अपनी मातृभाषा का ही प्रयोग करते हैं पर किसी विदेशी दौरे पर होने के दौरान यह ज़रूरी है कि आपको एक और भाषा बोलनी व समझनी आनी चाहिए। दुनिया में सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा इंग्लिश है, ऐसे में इसे जानना- समझना किसी के लिए भी प्लस पॉइंट (plus point) हो सकता है। अपनी खुशी व जानकारी बढ़ाने के लिए इन आसान तरीकों से सीखें इंग्लिश।


इन ऐप्स से जल्दी सीखें इंग्लिश - Apps To Learn English


इन वेबसाइट्स से सीख सकते हैं इंग्लिश - Best Websites To Learn English


इन टिप्स से सीखें इंग्लिश बोलना - How To Speak Fluent English


इन तरीकों से होगी ग्रामर मज़बूत - How To Improve English Grammar


इंग्लिश लिखना भी है आसान - How To Write In English


बढ़ाएं अंग्रेजी का ज्ञान कोष - How To Improve English Vocabulary 


बेस्ट इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स - English Speaking Course


किसी भी नई चीज़ को सीखने से पहले एक्सपर्ट (expert) की सलाह लेना अच्छा आइडिया होता है। इंग्लिश सीखने के लिए भी अगर आप किसी इंग्लिश लर्निंग सेंटर (English Learning Centre) से इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स (English Speaking Course) कर लेंगे तो आपके लिए बेहतर रहेगा। दरअसल, ऐसे लर्निंग सेंटर्स में एडमीशन (admission) लेने से आपका अंग्रेजी भाषा का ज्ञान कोष तो बढ़ेगा ही, आप उसे पब्लिकली (publicly) बोलने में कंफर्टेबल (comfortable) और कॉन्फिडेंट (confident) भी हो जाएंगे। इन लर्निंग सेंटर्स से आप इंग्लिश बोलना, पढ़ना व समझना सीख सकते हैं।


दिल्ली - Delhi


द ब्रिटिश काउंसिल इंडिया - The British Council India


दिल्ली या उसके आसपास रहने वालों के लिए यह बेस्ट ऑप्शन है। यहां की फैकल्टी (faculty) बहुत अनुभवी है, जिससे आपका इंग्लिश लर्निंग एक्सपीरियंस (learning experience) बेहद खास और आसान बन सकता है। अगर आप टीचर (teacher) बनने के लिए अंग्रेजी सीखना चाहते हैं तो यहां आपको उसके लिए स्पेशल कोर्स (special course) करने की सुविधा भी मिलती है।


पता - 17, केजी मार्ग, अतुल ग्रोव रोड, जनपथ, बाराखंबा, नई दिल्ली, दिल्ली 110001 (17 KG Marg, Atul Grove Road, Janpath, Barakhamba, New Delhi, Delhi 110001)


ब्रिटिश सेंट कोलंबिया एकैडमी - British St. Columbia Academy


इंग्लिश सीखने के लिए यहां IELTS/ P.T.E. ट्रेनिंग प्रोग्राम्स (training programs) चलते हैं। यह एकैडमी सुभाष नगर, मोती नगर और राजौरी गार्डन के सेंटर में स्थित है। यहां फाउंडेशन कोर्स (foundation course), एडवांस्ड फ्लुएंसी कोर्स (advanced fluency course), एक्सेंट ट्रेनिंग (accent training), बिज़नेस इंग्लिश (business English), पब्लिक स्पीच (public speech), इंटरव्यू ट्रेनिंग (interview training) जैसे कोर्स उपलब्ध है।


पता - डब्ल्यू ज़ेड 42 ए, मीनाक्षी गार्डन, तिलक नगर, सुभाष नगर मेट्रो स्टेशन के पास, नई दिल्ली - 110018 (WZ 42A, Meenakshi Garden, Tilak Nagar, Near Subhash Nagar Metro Station, New Delhi - 110018)


मुंबई - Mumbai


द ब्रिटिश काउंसिल मुंबई - The British Council Mumbai


दिल्ली की तरह ही द ब्रिटिश काउंसिल की मुंबई (Mumbai) ब्रांच में भी वर्ल्ड क्लास टीचिंग पैटर्न (world class teaching pattern) पर फोकस किया जाता है। अगर आप पढ़ने के शौकीन हैं तो यहां की लाइब्रेरी (library) में आपको अच्छा कलेक्शन मिल सकता है। यहां के कोर्सेस को अंतर्राष्ट्रीय स्वीकार्यता (International acceptance) मिली हुई है।


पता - 901, 9वीं मंजिल, टॉवर 1, वन इंडियाबुल्स सेंटर 841, सेनापति बापट मार्ग, एल्फिनस्टोन रोड, मुंबई, महाराष्ट्र 400013 (901, 9th Floor, Tower 1, One Indiabulls Centre 841, Senapati Bapat Marg, Elphinstone Road, Mumbai, Maharashtra 400013)


स्पीकवेल स्किल्स एकैडमी - Speakwell Skills Academy


यहां फेस टु फेस टीचिंग पैटर्न पर खास तौर से फोकस किया जाता है। यहां का स्टाफ काफी ट्रेंड है और स्टूडेंट्स के लिए आसान और जल्दी इंग्लिश सीखने वाले कोर्स तैयार किए गए हैं।  इस एकैडमी के टाइमिंग्स काफी फ्लेक्सिबल हैं और आप अपनी सुविधा के अनुसार उन्हें तय कर सकते हैं।


पता - ऑफिस नं. 10& 11, पांचवीं मंज़िल, रतन सीएचएस लिमिटेड, पैंटालूंस के सामने, एस. वी. रोड, बोरीवली वेस्ट, मुंबई, महाराष्ट्र - 400092 (Office No. 10 & 11, 5th Floor, Ratan CHS Ltd., Opposite Pantaloons, S.V. Road, Borivali West, Mumbai, Maharashtra - 400092)


जयपुर - Jaipur


करियर कंपीटेंस - Career Competence


2006 में डॉ. नलिनी जोसफ (Dr. Nalini Joseph) के द्वारा शुरू हुए इस इंस्टीट्यूट (Institute) को जयपुर के बेस्ट इंग्लिश लर्निंग सेंटर्स (best English learning centres) में से एक माना जाता है। यहां के स्टूडेंट्स (students) को IELTS और TOEFL जैसे एग्ज़ैम्स (exams) के लिए भी तैयार किया जाता है।  


पता - जी 1/ 549, मुस्कान रेज़िडेंसी चित्रकूट, सेक्टर 1, प्रताप स्टेडियम के सामने, वैशाली नगर, जयपुर, राजस्थान - 302021 (G 1/ 549, Muskan Residency Chitrakoot, Sector 1, Opposite Pratap Stadium, Vaishali Nagar, Jaipur, Rajasthan - 302021)


विंग्लिश2इंग्लिश - Vinglish2English
यहां का टीचिंग अप्रोच (teaching approach) काफी लिबरल (liberal) यानि कि आसान है। यहां मस्ती (fun) के साथ चीज़ें सिखाने पर ज़ोर दिया जाता है। इसकी लोकेशन (location) भी ऐसी है कि शहर के किसी भी कोने में रहने वाला व्यक्ति यहां आसानी से पहुंच सकता है।


पता - 401 ई & एफ, क्रिस्टल मॉल, सवाई जय सिंह हाईवे बानी पार्क, जयपुर, राजस्थान - 302016 (401 E&F Crystal Mall, Sawai Jai Singh Highway, Bani Park, Jaipur, Rajasthan - 302016)


लखनऊ - Lucknow


ऑक्सफोर्ड इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स - Oxford English Speaking Course
जैसा कि नाम से ही ज़ाहिर है, यहां ब्रिटिश इंग्लिश (British English) सिखाने पर फोकस किया जाता है। अगर आप किसी यूरोपियन देश (European country) में घूमने या शिफ्ट होने का प्लान बना रहे हैं तो यहां के कोर्स (course) आपके लिए काफी लाभदायक साबित हो सकते हैं।


पता - फैजाबाद रोड, भूतनाथ मार्केट, इंदिरा नगर, ब्लॉक डी, लखनऊ, उत्तर प्रदेश 226016 (Faizabad Rd, Bhootnath Market, Indira Nagar, Block D, Lucknow, Uttar Pradesh 226016)


ब्रिटिश स्कूल ऑफ लैंग्वेज - British School Of Language
अगर आप इंग्लिश (English) के साथ ही अपनी पर्सनैलिटी (personality) भी सुधारना चाहते हैं तो यह जगह आपके लिए बिलकुल परफेक्ट (perfect) है। यहां के टीचर्स ग्रामर (grammar) से लेकर मैनर्स (manners) तक, सब कुछ डिस्कस (discuss) करते हैं।


पता - शादाब कॉलोनी, महानगर, लखनऊ, उत्तर प्रदेश 226006 ( Shadab Colony, Mahanagar, Lucknow, Uttar Pradesh 226006)


इन ऐप्स से जल्दी सीखें इंग्लिश - Apps To Learn English


किसी भी भाषा को सीखना आसान नहीं है। इंग्लिश सीखना भी काफी ट्रिकी (tricky) हो सकता है और यह आपकी मेहनत, इच्छा व समय पर निर्भर करता है कि आपको इंग्लिश सीखने में कितना समय लग रहा है। अगर क्लासरूम टीचिंग (classroom teaching) में आप दूसरे स्टूडेंट्स (students) से पिछड़ जाते हैं या किसी वजह से क्लास अटेंड नहीं कर पा रहे हैं तो इस डिजिटल (digital) युग में ऐप्स (apps) की मदद से भी अंग्रेजी भाषा पर अपनी पकड़ मजबूत की जा सकती है।


1. Duolingo
2. FluentU
3. Babbel
4. Memrise
5. HelloEnglish
6. Rosetta Stone
7. Knudge.me


इन वेबसाइट्स से सीख सकते हैं इंग्लिश - Websites To Learn English


इंग्लिश को सीखने के प्रोसेस में अगर आप कोई भी तरीका छोड़ना नहीं चाहते हैं और अपनी तरफ से हर मुमकिन कोशिश करना चाहते हैं तो कुछ खास वेबसाइट्स (websites) को एक्सप्लोर (explore) करना भी शुरू कर दीजिए। अगर आपके पास क्लास अटेंड (attend) करने का टाइम नहीं है और ऐप्स (apps) भी आपकी पूरी मदद नहीं कर पा रहे हैं तो ये वेबसाइट्स आपके लिए मददगार साबित हो सकती हैं। घर बैठे इंग्लिश सीखने के लिए ऐसी कई वेबसाइट्स हैं, जिनका कंटेंट (content) और टीचिंग पैटर्न (teaching pattern) काफी मज़ेदार और फ्रेंड्ली (friendly) है।


1. बीबीसी लर्निंग इंग्लिश BBC Learning English
2. ब्रिटिश काउंसिल British Council
3. लाइवमोचा Livemocha


लाइफस्टाइल बदल कर सीखें इंग्लिश


यह तो सभी जानते हैं कि कोई भी नहीं चीज़ या भाषा सीखना बिलकुल भी आसान नहीं है मगर मुश्किल राह के बारे में सोचकर ही कदम पीछे हटा लेना भी कोई समझदारी वाली बात नहीं है। क्या आप जानते हैं कि अपनी लाइफस्टाइल (lifestyle) व हैबिट्स (habits) में थोड़ा बदलाव कर भी किसी भाषा को सीखने के प्रोसेस (process) को आसान बनाया जा सकता है? हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसी आसान व मज़ेदार आदतों के बारे में, जिन्हें अपनाकर आप मस्ती से अंग्रेजी सीख सकते हैं।


learn-english


पॉडकास्ट डाउनलोड करें - Download Podcasts


इंग्लिश सीखने के मामले में पॉडकास्ट (podcast) भी आपकी काफी मदद कर सकते हैं। पॉडकास्ट (Podcast) को डाउनलोड (download) कर बार- बार सुनने से किसी भाषा को सीखना आसान हो जाता है। पॉडकास्ट को कभी भी सुना जा सकता है, ड्राइव (drive) करते वक्त, कुकिंग (cooking) के दौरान या मॉर्निंग/ ईवनिंग वॉक (morning/ evening walk) करते समय। आप जितना ज्यादा और ध्यान से उसे सुनेंगे, भाषा को समझना आपके लिए उतना ही आसान हो जाएगा।


हैबिट में शामिल करें इंग्लिश - Bring English In Your Habits


आप रोज़मर्रा के जो भी काम हिन्दी या अपनी मातृभाषा में करते हैं, उन्हें धीरे- धीरे इंग्लिश में करने की आदत डालें। अगर आप हर सुबह अखबार अपनी मातृ भाषा में पढ़ते हैं तो अब अंग्रेजी अखबार पढ़ना शुरू कर दें। ट्विटर, फेसबुक व इंस्टाग्राम जैसी सोशल मीडिया साइट्स पर इंग्लिश पेज/ अकाउंट्स फॉलो करें। ज्यादा से ज्यादा इंग्लिश मूवीज़ और टीवी शोज़ देखने से भी आपकी इंग्लिश में सुधार आ सकता है।


ऐप्स से सुधारें इंग्लिश - Download Apps To Improve English


कैंडी क्रश (Candy Crush) और पबजी (PubG) जैसे गेम्स (games) खेलने में मज़ा तो बहुत आता है पर ये आपके लिए ज्यादा काम के नहीं हैं। इसलिए बेहतर रहेगा कि इन्हें हटाकर आप इंग्लिश लर्निंग ऐप्स (English Learning Apps) डाउनलोड कर लें। मोबाइल (Mobile) पर खेलने के शौकीन हैं तो नोट कर लें कि इन ऐप्स पर भी आप पज़ल (puzzle) और क्विज़ (quiz) जैसे गेम्स खेल सकते हैं।


अंग्रेजी सुनने की डालें आदत - Listen To English


किसी चीज़ को पढ़ने या देखने के साथ ही उसे सुनने से भी आपकी स्मरण शक्ति (memory power) मज़बूत हो सकती है। अगर आपकी डेस्क जॉब (desk job) है या घर से ऑफिस की दूरी अच्छी खासी है तो आप ईयरफोन (earphone) लगाकर इंग्लिश गाने (English songs) सुनने की आदत बना लें। आप चाहें तो इ्ंग्लिश नॉवेल्स (English novels) भी डाउनलोड कर सकते हैं।


इंग्लिश बोलें - Speak In English


किसी भाषा को सीखने के लिए उसे पढ़ने, सुनने और देखने के साथ ही बोलना भी ज़रूरी है। अगर आप इंग्लिश में मास्टर बनना चाहते हैं तो उसे बोलना शुरू कर दें। कई बार हमारे आसपास ऐसे लोग नहीं होते हैं, जिनसे हम इंग्लिश में बात कर सकें, ऐसे केस में शीशे के सामने इंग्लिश स्पीकिंग (English speaking) की प्रैक्टिस (practice) करें। विभिन्न वेबसाइट्स (websites) पर लोगों से इंग्लिश में इंटरैक्ट (interact) कर भी प्रैक्टिस की जा सकती है।


शब्द कोष बढ़ाएं - Improve Vocabulary


अब जब आप इंग्लिश पढ़ना, बोलना और समझना सीख चुके हैं तो अपने शब्द कोष (vocabulary) को बढ़ाने की तरफ फोकस करें। रोज़मर्रा में जिन सब्ज़ियों, फलों या मसालों का इस्तेमाल करते हैं, उनके इंग्लिश (English) नाम सीख लें। शॉपिंग (Shopping) करने के बाद उन सभी मसालों के डिब्बों पर उनके इंग्लिश नाम का लेबल (label) लगा दें।


इन टिप्स से सीखें इंग्लिश बोलना - Tips To Speak Fluent English


अब जब आप बेसिक इंग्लिश सीखने का फर्स्ट लेवल पार कर चुके हैं तो उसे बोलने में भी झिझकना छोड़ दें।


english-learning-stages


इन टिप्स की मदद से आप आसानी से इंग्लिश बोलना भी सीख सकते हैं।


1. इंग्लिश के उन शब्दों को सीखें, जिनका आप रोज़ाना प्रयोग करते हैं या जो बहुत प्रचलित हैं।
2. इंग्लिश में सोचना शुरू कर दें, तभी लिख और बोल भी सकेंगे।
3. खुद से इंग्लिश में बात करें।
4. शीशे में देखते हुए बात करने की प्रैक्टिस (practice) डालें।
5. टंग ट्विस्टर्स (tongue twisters) ट्राई करें।
6. सुनें और फिर उसे दोहराएं।
7. इंग्लिश रेडियो चैनल्स (radio channels) व गाने सुनें।
8. इंग्लिश वीडियो (video) या फिल्म्स (films) देखने की आदत डालें।
9. इंग्लिश किताबें पढ़ें व उनके रिव्यू (review) इंग्लिश में लिखें।
10. लोगों से इंग्लिश में बात करने की हैबिट (habit) डालें।


इन तरीकों से होगी ग्रामर मज़बूत - Tips To Improve English Grammar


किसी भी भाषा को सीखने का कोई शॉर्टकट (shortcut) नहीं है। इंग्लिश (English) को सीखने और बोलने के लिए सही ग्रामर (grammar) का पता होना भी बहुत ज़रूर है। इन टिप्स से आप इंग्लिश ग्रामर को ठीक कर सकते हैं।


1. इंग्लिश बुक्स, न्यूज़पेपर्स और मैगज़ींस (magazines) पढ़ें।
2. ग्रामर रूल्स (grammar rules) को याद कर लें।
3. ऑनलाइन ग्रामर टेस्ट (Online Grammar Test) में भाग लें।
4. इंग्लिश में लिखना शुरू कर दें।
5. लोगों से इंग्लिश में बातें करें।
6. उन लोगों की बातें सुनें, जो ज्यादातर इंग्लिश में बात करते हैं।
7. स्कूल व कॉलेज लेवल की इंग्लिश ग्रामर बुक्स खरीदें और उनकी वर्कबुक (workbook) में प्रैक्टिस करें।


इंग्लिश लिखना भी है आसान - How To Write In English?


कुछ लोगों के लिए इंग्लिश पढ़ना, बोलना और समझना आसान है पर वे इस भाषा में कुछ लिखने में असुविधा महसूस करते हैं। कभी उन्हें सेंटेंस फ्रेम (sentence frame) करने में समय लगता है तो कभी ग्रामर की गलतियां कर बैठते हैं। अगर आप इंग्लिश में लिखना चाहते हैं पर कॉन्फिडेंट (confident) नहीं हैं तो इन टिप्स की मदद से अपनी इंग्लिश राइटिंग स्किल्स (English writing skills) को सुधार सकते हैं।


1. ज्ञान कोष (Vocabulary) बढ़ाने पर ध्यान दें।
2. वर्तनी संबंधी गलतियां (Spelling mistakes) सुधारें।
3. ग्रामर स्किल्स (Grammar skills) को सुधारें।
4. राइटिंग स्किल्स (Writing skills) के साथ एक्सपेरिमेंट (experiment) करें।


बढ़ाएं अंग्रेजी का ज्ञान कोष - How To Improve English Vocabulary?


सब कहते हैं कि किसी भी भाषा को दिमाग से लेकर दिल तक उतारने के लिए अपना ज्ञान कोष (vocabulary) बढ़ाने की ज़रूरत होती है। अब सवाल यह है कि ज्ञान कोष को बढ़ाया कैसे जाए? अगर आप भी इस बात को लेकर परेशान  हैं तो जानिए कुछ आसान टिप्स, जिनकी मदद से अपना ज्ञान कोष बढ़ा सकते हैं।


1. हर दिन कुछ नए शब्द याद कर उन्हें लिखें।
2. डिक्शनरी (Dictionary) की मदद से नए शब्द (words), उनके अर्थ (meaning) और उनसे वाक्य (sentence) बनाना सीखें।
3. बोलते व लिखते समय नए शब्दों का प्रयोग करें।
4. वर्ड पज़ल्स (word puzzles) सॉल्व करने की आदत डालें।
5. खाली समय मेें स्क्रैबल (Scrabble) जैसे वर्ड गेम्स (word games) खेलें।
6. समानार्थक (synonym) और विलोम (antonym) शब्दों की लिस्ट बनाएं।
किसी नई भाषा को सीखते वक्त डर और संकोच जैसी भावनाओं को दिमाग से निकाल दें। कभी यह न सोचें कि कुछ गलत बोल या लिख दिया तो सामने वाला क्या सोचेगा! शुरुआत में सभी से गलतियां होती हैं, बस उन गलतियों से सबक लेकर आगे बढ़ते जाएं और पूरे आत्मविश्वास के साथ अपनी बात को दूसरों के सामने रखना शुरू कर दें।


ये भी पढ़ें :


युवाओं को खूब लुभा रही है यह नई भाषा


जानें उर्दू के 45 ऐसे शब्द, जो आपकी भाषा को बना देंगे मज़ेदार


क्या आपने समझी गुलाबों की यह खूबसूरत भाषा?