बालों की अच्छी हेल्थ के लिए मसाज करते वक्त न करें यह 7 काम

बालों की अच्छी हेल्थ के लिए मसाज करते वक्त न करें यह 7 काम

सलोन हो या घर कोई आपकी मस्त तेल मालिश कर दे तो मजा ही आ जाता है। गुनगुना तेल जब बालों में पड़ता है, तो गजब रिलैक्सेशन फील होता है। यह बालों को स्ट्रेंथ देने के अलावा नरिश और हाइड्रेट भी करता है। हालांकि, पाॅल्यूशन की वजह से हेयर फाॅल की प्राॅब्लम पहले से काफी बढ़ गई है। इसे रोकने के लिए हम महंगे-महंगे शैम्पू, कंडीशनर और आॅयल पर पैसा खर्च करते हैं। आॅयल कोई भी हो, लेकिन उसे लगाने का तरीका आपको पता होना चाहिए। तभी आपको फायदा होगा। सिर की चंपी के वक्त इन 7 जरूरी बातों का ध्यान रखें। यकीन मानिए आपके बाल पहले से ज्यादा खूबसूरत और मजबूत हो जाएंगे।   


 


1. आॅयल मिक्स करके लगाए


कहावत है न एक से भले दो। यह बात आपकी हेयर मसाज पर भी लागू होती है। कैसे हम बताते हैं। मसाज के लिए अक्सर हम एक ही आॅयल का इस्तेमाल करते हैं। नारियल, आंवला, सरसों, आॅलिव या बादाम में से कोई भी तेल आप लगाएं तो उसे मिक्स करके लगाएं। जैसे सरसों को आंवला के साथ मिक्स करें। नारियल को आॅलिव के साथ। बादाम को भृंगराज के साथ। मार्केट में ऐसे कई हेयर आॅयल उपलब्ध हैं। चाहें तो एसेंशियल आॅयल को करियर आॅयल के साथ मिक्स करके भी लगा सकते हैं। एसेंशियल आॅयल की दो-चार बूंद करियर आॅयल के साथ मिलाएं और उससे चंपी करें। 


2. बालों को टाइट न बांधें



आमतौर पर हम आॅयलिंग के बाद बालों को टाइट बांध लेते हैं। इससे हेयर फाॅल होता है। मसाज इतने प्यार करें कि आपके बाल उलझे ही न। ढीली चोटी बना लें। छोटे बाल हैं तो उनमें क्लचर लगाकर भी छोड़ सकते हैं। होना तो यह चाहिए कि मसाज के 15-20 मिनट बाद हेयर वाॅष कर लिया जाए। ज्यादा देर बालों को ऐसे रखने से उनमें डस्ट चिपकता है। इससे बालों की क्वालिटी और खराब होती है। इस वक्त आपका स्कैल्प रिलैक्सिंग मोड में रहता है। मसाज के बाद हेयर स्टाइलिंग करने जड़ें कमजोर होती हैं।  


3. काॅटन बाॅल इस्तेमाल करें


क्या आपने कभी सैलून में हेड मसाज लिया है। हेयर एक्सपर्ट काॅटन बाॅल से मसाज करते हैं, क्योंकि इस तरह तेल आपके जड़ों तक पहुंचता है। उंगलियों की जगह इसका इस्तेमाल करें। इससे बाल नहीं उलझेंगे। काॅटन को आॅयल में डिप करें और हल्का-सा निचोड़कर उससे मसाज कीजिए। 


4. हफ्ते में एक वॉश बार मसाज



बालों को पैम्पर करना अच्छी बात है। मसाज से बाल हेल्दी रहते हैं। माना कि इससे डेंडरफ नहीं होता। मगर हफ्ते में एक ही बार मसाज करें। जितनी बार आॅयल लगाएंगे उतनी ही बार शैम्पू करना पड़ेगा। ज्यादा शैम्पू यानी एक्सेस कैमिकल। यूं भी पॉल्यूशन इतना बढ़ गया है कि हम चाहे जो मर्जी कर लें हेयर फाॅल से नहीं बच सकते। हां इसे कम जरूर कर सकते हैं।   


5. बालों का टेक्सचर ध्यान में रखें


पैकेजिंग देखकर हेयर आॅयल न खरीदें। अपने बालों का टेक्सचर ध्यान में रखकर ही आॅयल यूज करें। ड्राई बालों के लिए नारियल तेल लगाएं। कोकोनट आॅयल हर तरह के हेयर टाइप पर सूट करता है। डैंडरफ वाले स्कैल्प के लिए बादाम तेल अच्छा रहता है। बालों की थिकनेस बढ़ानी हो तो आंवला से बेहतर कोई विकल्प नहीं है। 


6. स्कैल्प पर ही ध्यान न दें



चंपी के वक्त सिर्फ स्कैल्प पर ही ध्यान न दें। हेल्दी और स्ट्राॅन्ग बालों के लिए जरूरी है कि सही तरह से मसाज की जाए। सबसे पहले बालों के सैंक्शन  बना लें। इससे एक तो यह होगा कि बाल उलझेंगे भी नहीं और तेल भी जड़ों तक पहुंच जाएगा। अब काॅटन को आॅयल में डिप करके उसे बालों की टिप से लेकर टो तक लगाएं। इससे बालों में स्पिलिटेंट्स नहीं होंगे।  


 


7. हेयर ड्रायर यूज करने से बचें



हेयर वॉश के बाद ब्लो ड्रायर यूज न करें। इससे बाल रफ हो जाते हैं। बालों को नेचुरली ड्राई होने दें। सूखने के बाद उन्हें धीरे-धीरे काॅम्ब करें और क्लचर लगा लें।


इन्हें भी देखें -