home / पैरेंटिंग
शिशु के खिलौनों

शिशु को खेलने के लिए दें ऐसे खिलौने, जानें कैसे करें इनकी साफ-सफाई

शिशु का पूरे दिन ख्याल रखना मां के लिए किसी टास्क से कम नहीं होता है। ऐसे में माँ बच्चों को व्यस्त रखने के लिए उनके हाथ में खिलौने दे देती हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि शिशु के लिए हर तरह के खिलौने सेफ नहीं होते हैं। इसलिए पेरेंट्स के लिए यह जानना जरूरी है कि बच्चे को किस उम्र में कौन से खिलौने देना सुरक्षित होता है। शिशु के खिलौनों का चयन करते समय अभिभावकों को किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, लेख में इसके बारे में जानेंगे।

बढ़ते बच्चे हर चीज को मुँह में डालते हैं। बच्चों का ऐसा करना नॉर्मल है। क्योंकि यह बच्चों में विकास का महत्वपूर्ण फेज है। ऐसे में पेरेंट्स के लिए बच्चों के हाथ में वे क्या दे रहे हैं, इस बात पर ध्यान देना जरूरी हो जाता है। बच्चों के खिलौने अगर साफ नहीं होंगे, तो इससे उनमें इंफेक्शन व बीमार होने का खतरा बढ़ जाता है।

यही वजह है इस लेख में पेरेंट्स बच्चों को कैसे खिलौने दें, इसके बारे में विस्तार से जानेंगे। साथ ही, बच्चों के खिलौनो को साफ और कीटाणुमुक्त रखने से जुड़े टिप्स साझा करेंगे।

शिशु के लिए कैसे खिलौने सुरक्षित हैं? 

बेबी टॉयज की साफ-सफाई
बेबी टॉय

शिशु के लिए कैसे खिलौने सुरक्षित है व इन्हें खरीदते वक्त किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, नीचे इसके बारे में विस्तार से बता रहे हैं:

  1. सॉफ्ट टॉय- शिशु को खेलने के लिए कैसे खिलौने देने चाहिए, इसे लेकर एक्सपर्ट्स का मानना है कि छह महीने के शिशु को सॉफ्ट खिलौने खेलने के लिए देने चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि इस उम्र के शिशु हर चीज को मुंह में लेकर देखते हैं। ऐसे में यदि शिशु खिलौने को मुंह में डालता भी है, तो उसे किसी तरह का नुकसान नहीं होगा। 
  1. छोटे खिलौने न दें- शिशु को कभी बहुत छोटा टॉय खेलने के लिए न दें। यह बच्चे के गले में फंस सकता है और परेशानी का कारण बन सकता है।
  1. अच्छी क्वालिटी वाले खिलौने- शिशु के लिए हमेशा अच्छी क्वालिटी से बने खिलौने खरीदें। सस्ते खिलौनों को बनाने के लिए ऐसे हानिकारक पदार्थों का इस्तेमाल किया जाता है, जिससे बच्चे के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है। 
  1. उम्र का लेबल देखकर लें खिलौने- आज कल खिलौनों के ऊपर लिखा होता है कि वो किस उम्र के बच्चों के लिए हैं। तो इस बात को ध्यान में रखते हुए खिलौनों का चयन करें।
  1. चबाने वाले खिलौने न दें- छोटे बच्चों को कभी भी ऐसे खिलौने न दें, जिन्हें चबाया जा सकता है। जैसे क्ले, स्लाइम। इन्हें बच्चे आपके आस-पास न होने पर निगल सकते हैं। 
  1. तेज आवाज वाले खिलौने देने से बचें- छोटे बच्चों को तेज आवाज करने वाले खिलौनों से भी दूर रखना चाहिए। ये बच्चों के सुनने की क्षमता को प्रभावित कर सकते हैं।
  1. वॉशेबल टॉयज- शिशुओं के लिए हमेशा ऐसे खिलौनों का चयन करना चाहिए, जिन्हें हर दिन साफ कर जर्म्स फ्री रखना आसान हो।
  1. स्ट्रिंग या तार- पेरेंट्स ध्यान दें कि छोटे बच्चों के खिलौनों में किसी तरह की स्ट्रिंग या तार नहीं होनी चाहिए। साथ ही यह भी ध्यान दें कि खिलौने के किनारे बिल्कुल शार्प न हो। इस तरह के खिलौनों से बच्चे खुद को चोट पहुंचा सकते हैं।

शिशु के खिलौनों को कीटाणुमुक्त रखने के लिए जरूरी टिप्स 

शिशुओं में हर चीज को मुंह में लेने की आदत होती है। ये उन चीजों को एक्सपलोर करने का तरीका है। ऐसे में पेरेंट्स के लिए शिशुओं के खिलौनों की साफ-सफाई का ध्यान रखना जरूरी हो जाता है। क्योंकि दिनभर में न जाने कितनी दफा उनका खिलौना जमीन पर गिरता है। फिर उसी खिलौने को बच्चे मुंह में डालने लगते हैं। इससे शिशु के शरीर में आसानी से बैक्टीरिया प्रवेश कर सकते हैं। तो चलिए जानते हैं शिशुओं के टॉयज को कैसे रखें कीटाणुमुक्त:

शिशु के खिलौनों
टॉयज के साथ खेलते हुए शिशु
  • शिशु के खिलौनों को साफ करने के लिए बाजार में कई डिसइंफेक्टेंट यानी क्लींजर मौजूद हैं।
  • रोजाना क्लींजर को खिलौनों पर स्प्रे कर कपड़े से पोंछकर साफ करना बेहतर उपाय हो सकता है।
  • जो लोग नॉर्मल साबुन व सर्फ से खिलौनों को साफ करते हैं। कई बार यह थोड़ा बहुत टॉय में रह जाता है। ध्यान रखें इससे कई बार साबुन व सर्फ शिशु के शरीर में प्रवेश कर हानि पहुंचा सकता है।
  • इसी तरह बच्चों के खिलौनों की सफाई के लिए हमेशा नैचुरल प्रोडक्ट्स से बने क्लींजर का चुनाव करें।

‘द मॉम्स को’ कंपनी का दावा है कि उनके द्वारा बनाया गया नैचुरल सरफेस क्लींजर बच्चों के खिलौनों से 30 सेकेंड में 99.9% कीटाणुओं का सफाया करता है। इसे खास नीम एक्सट्रेक्ट और नेचुरल एमीनो एसिड से तैयार किया गया है। इसे बनाने के लिए किसी तरह के हानिकारक केमिकल का इस्तेमाल नहीं किया गया है। बच्चों के लिए इसका इस्तेमाल पूरी तरह सुरक्षित है। 

उम्मीद करते हैं इस लेख को पढ़ने के बाद आप शिशु के लिए कैसे खिलौने सुरक्षित हैं, इससे अच्छे से वाकिफ हो गए होंगे। साथ ही शिशुओं के खिलौनों को कैसे साफ और जर्म्स फ्री रखा जा सकता है, यह भी जान गए होंगे। तो फिर देर किस बात की आज से ही शुरू कर दें शिशुओं के टॉयज को सफाई।

चित्र स्रोत: Freepik

18 May 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text