home / एंटरटेनमेंट
बाल दिवस पर गाने, Songs for Childrens in Hindi

बाल दिवस पर गाने – Songs for Childrens in Hindi

बाल दिवस यानि children’s day ‘लकड़ी की काठी’ से ‘छोटा बच्चा जान के ना कोई आंख देखना रे’ तक, अपने भीतर के बच्चे को गले लगाने का दिन है। बाल दिवस हर साल 14 नवंबर को मनाया जाता है। इस दिन देश के पहले प्रधानमंत्री चाचा नेहरू का जन्मदिवस भी होता है। कहते हैं चाचा नेहरू को बच्चे बहुत ज्यादा प्रिय थे। उन्हें प्यार से चाचा नेहरू के नाम से संबोधित किया जाता था क्योंकि उनका मानना ​​था कि बच्चों को हमेशा सावधानी और प्यार से पोषित किया जाना चाहिए, क्योंकि वे राष्ट्र का भविष्य और कल के नागरिक हैं। यही वजह है कि हर साल उनके जन्मदिवस के मौके पर children’s day मनाया जाता है। बॉलीवुड भी इस दिन को भुनाने में कभी पीछे नहीं रहा। अब तक बॉलीवुड में कई बाल दिवस पर गाने (children’s day song in hindi) बन चुके हैं। हम यहां आपके लिए ऐसी ही कुछ शानदार बाल गीत (Songs for Childrens in Hindi) लेकर आये हैं।  

बाल दिवस पर गाने  – Songs for Childrens in Hindi

बाल दिवस देश में मस्ती और उत्साह के साथ मनाया जाता है। स्कूल जाने वाले बच्चे दिलचस्प बॉलीवुड गीतों के साथ इस दिन का जश्न मनाते हैं और स्कूलों में भी बच्चों के लिए विशेष कार्यक्रम आयोजित किये जाते हैं। बच्चों के साथ बड़े भी इस दिन एक दूसरे को बाल दिवस कोट्स भेजकर बधाई देते हैं। बॉलीवुड में इस दिन को मनाने के लिए बच्चों के ऊपर कई गाने लिखे गए हैं। सिनेमा चाहे ब्लैक एंड व्हाइट एरा का हो या आज के समय का, बच्चों के गाने (bachon ke gane) हमेशा पसंद किये जाते रहे हैं। देखिये बॉलीवुड के कुछ चुनिंदा लेकिन शानदार बाल दिवस पर गाने (best hindi songs for children’s day)। इन्हें देखकर आपके अंदर का बच्चा भी एक बार फिर जी उठेगा। 

नन्हे मुन्ने बच्चे – बूट पॉलिश

आशा भोंसले और मोहम्मद रफ़ी की आवाज़ में गाया गया, नन्हे मुन्ने बच्चे 1954 की फ़िल्म बूट पोलिश का एक क्लासिक गीत है। फिल्म एक भाई और बहन की जोड़ी के बारे में है जो अपने दत्तक माता-पिता के साथ खुशी से रहने के लिए कठिनाइयों से जूझते हैं। इस गाने में अनुभवी अभिनेता डेविड अब्राहम चेउलकर झुग्गी-झोपड़ी के बच्चों को स्वाभिमान और उज्ज्वल भविष्य के बारे में सिखा रहे हैं। यह गीत व्यापक रूप से भारत के स्कूलों में बाल दिवस समारोह का एक हिस्सा है।

चुन-चुन करती आई चिड़िया- अब दिल्ली दूर नहीं

ब्लैक एंड व्हाइट एरा से एक और बेहतरीन बाल गीत है ‘चुन-चुन करती आई चिड़िया’। फिल्म ‘अब दिल्ली दूर नहीं’ के इस गाने में एक पिता उसके भूखे और रोते बच्चे का मन बहलाने की कोशिश कर रहा है। इस गाने पर भी कई कार्टून वीडियो बने हैं। इस गाने को मोहम्मद रफी ने अपनी आवाज़ से सजाया है। children’s day के मौके पर अपने बच्चे के चेहरे की खुशी देखने के लिए इस गाने को प्लेलिस्ट में जरूर शामिल करें।  

लकड़ी की काठी – मासूम

1983 की फिल्म मासूम का लकड़ी की काठी गाना आज भी बेहद लोकप्रिय ट्रैक है। इस गाने में बॉलीवुड की लोकप्रिय हस्तियां उर्मिला मातोंडकर और जुगल हंसराज को बाल कलाकार के रूप में आराधना श्रीवास्तव के साथ दिखाया गया है। गौरी बापट, गुरप्रीत कौर और वनिता मिश्रा की आवाज में यह गाना हर किंडरगार्डन प्रोग्राम या किसी और किसी बच्चों की पार्टी में आज भी जरूर बजता है। इतना ही नहीं छोटे बच्चों को रिझाने के लिए इस  गाने पर काफी सारे कार्टून वीडियो भी बने हैं। 

गाना यहां सुनें।

ईचक दाना बीचक दाना – श्री 420 

राज कपूर और नरगिस की फिल्म ‘श्री 420’ का यह गाना भी बड़ा ही दिलचस्प है। इस गाने में टीचर बनी नरगिस बच्चों को पहेलियों के माध्यम से पढ़ाने की कोशिश कर रही हैं। यह पहेलियां भी काफी दिलचस्प हैं, इन्हें अपने जरूर अपने बचपन में दादी और नानी को कहते सुना होगा। इस गाने को लता मंगेशकर ने गाया है। बाल दिवस के मौके पर यह गाना जरूर गाया जाना चाहिए।  

गाना यहां सुनें।

तारे ज़मीन पर- तारे ज़मीन पर

निस्संदेह, बच्चों की सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में से एक आमिर खान की तारे ज़मीर पर है, जो 2008 में रिलीज़ हुई थी। फिल्म की टैगलाइन: “एवरी चाइल्ड इज स्पेशल”, ने पेरेंटिंग और मेंटरशिप सहित कई महत्वपूर्ण संदेश दिए। शंकर महादेवन, डोमिनिक सेरेजो और विविएन पोचा की आवाज़ में शीर्षक ट्रैक बस जादू ही कर देता है। इस गाने में वह सब कुछ है, जो आपको बाल दिवस के मौके पर सुनने की आवश्यकता है।

नानी तेरी मोरनी- मासूम (1960)

‘नानी तेरी मोरनी को मोर ले गए, बाकी जो बचा था काले चोर ले गए’ ब्लैक एंड व्हाइट के एरा से निकला हुआ एक ऐसा बाल गीत है, जो आज भी बच्चों की ज़ुबान पर चढ़कर बोलता है। छोटे बच्चों के लिए इस गाने को कार्टून फॉर्म में भी खूब बनाया गया है। सिंगर रानू मुखर्जी की आवाज़ में गाया हुआ ये गीत आज भी बच्चों के बीच बहुत पॉपुलर है।  

चंदा चमके – फना

टंग ट्विस्टर्स हमारे बचपन के दिनों का यादगार हिस्सा रहा है। कच्चा पापड़, पक्का पापड़ से लेकर पके पेड पर पक्का पपीता पक्का पेड़ या पक्का पापिता, हमें हिंदी टंग ट्विस्टर्स से ज्यादा मजेदार नहीं मिला। 2006 की फिल्म ‘फना’ का यह गाना चंदा चमके हमारे बचपन के दिनों की एक मीठी याद दिलाता है। बाबुल सुप्रियो, महालक्ष्मी अय्यर और मास्टर अक्षय भागवत द्वारा गाया गया, यह गाना best hindi songs for children’s day की प्लेलिस्ट में जरूर होना चाहिए। 

हम भी अगर बच्चे होते – दूर की आवाज

‘हम भी अगर बच्चे होते’ गाना उस समय का एक बेहद पॉपुलर गाना है, जो आज भी पसंद किया जाता है। गाने के बोल ‘हम भी अगर बच्चे होते हैं, हम भी अगर बच्चे होते हैं, नाम हमारा होता गबलू बबलू, खाने को मिलते लड्डू, और दुनिया कहती हैप्पी बर्थडे टू यू’ अब तक का सबसे अच्छा बर्थडे सॉन्ग भी है। इसे 1964 की फिल्म ‘दूर की आवाज’ से मोहम्मद रफी, आशा भोसले और मन्ना डे ने गाया है। 

गाना यहां सुनें।

छोटा बच्चा जान के ना कोई आंख देखना रे – मासूम

हमारा सबसे पसंदीदा गाना आदित्य नारायण का गाया हुआ ‘छोटा बच्चा जान के ना कोई आंख देखना रे’ है। 1996 की फिल्म ‘मासूम’ का यह गीत मूल रूप से सभी बदमाश बच्चों के लिए है, जिनके साथ केवल इसलिए खिलवाड़ नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि वे बच्चे हैं। यह गीत सिंगर आदित्य नारायण के साथ-साथ बाल कलाकार, ओमकार कपूर द्वारा की शानदार एक्टिंग और उनके स्वैग को भी दिखाता है। इस बाल दिवस पर, बच्चों को छोटा बच्चा जान के ना कोई आंख देखना रे गाना चाहिए।

गाना यहां सुनें।

ओ पापड़ वाले पंगा ना ले – मकड़ी

अगर ‘छोटा बच्चा जान के ना कोई आंख देखना रे’ में एक स्वैगर बॉय है जो अपने नफरत करने वालों को सबक सिखाता है, तो 2002 की फिल्म ‘मकड़ी’ से ‘ओ पापड़ वाले पंगा ना ले’ गाने में एक शरारती लड़की है, जो किसी की कोई बकवास नहीं सुनती। उपगना पांड्या और अलाप मजगावकर द्वारा गाया गया, यह गीत बाल अभिनेत्री, श्वेता बसु प्रसाद पर फिल्माया गया था और उन्होंने इसके साथ पूरा न्याय किया है। यह गाना बाल दिवस पर अवश्य ही बजना चाहिए। 

अगर आपको हमारे चुने हुए ये बाल दिवस पर गाने (best hindi songs for children’s day) पसंद आए तो अपने दोस्तों और परिवार के बच्चों के साथ इसे जरूर शेयर करें। 

यह भी पढ़ें

बाल दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं और कोट्स के साथ करें विश

POPxo की सलाह : MYGLAMM के ये शानदार बेस्ट नैचुरल सैनिटाइजिंग प्रोडक्ट की मदद से घर के बाहर और अंदर दोनों ही जगह को रखें साफ और संक्रमण से सुरक्षित!

08 Sep 2021

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text