home / Care
Hair Fall Reason in Hindi | बालों के झड़ने का मुख्य कारण क्या है?

10+ Hair Fall Reason in Hindi | बालों के झड़ने का मुख्य कारण क्या है?

यह सच है कि महिलाओं की तुलना में पुरुषों के बाल झड़ने की संभावना अधिक होती है, लेकिन बालों का पतला होना, बालों का झड़ना और बालों का टूटना वास्तव में दोनों को ही प्रभावित करता है। कोई नहीं चाहता कि उसके बाल झड़ें। बालों के झड़ने के पीछे अलग-अलग कारण (hair fall reason in hindi) हैं। ये कारण विटामिन की कमी से लेकर किसी पुरानी बीमारी तक हो सकते हैं। बालों का झड़ना – चाहे गंजापन हो या बालों का पतला होना – कई अलग-अलग कारणों से हो सकता है। कभी-कभी बालों का झड़ना स्वास्थ्य समस्या का एक साइड इफेक्ट होता है, जिसे पहचानने की आवश्यकता होती है और जब स्वास्थ्य समस्या का ठीक से इलाज किया जाता है तो हेयर फॉल प्रॉब्लम भी अपने आप ठीक हो जाती है। इस आर्टिकल में हम आपको बता रहे हैं कि  baal kyu jhadte hain और कौन से विटामिन की कमी से बाल झड़ते हैं। 

Hair Fall Reason in Hindi | बालों के झड़ने का मुख्य कारण क्या है?

बालों का झड़ना किसी बुरे सपने से कम नहीं होता। बालों की देखभाल के लिए हम क्या-क्या नहीं करते। बालों के लिए सबसे अच्छा तेल लगाते हैं, Simple Hair Care Tips अपनाते हैं और तो और नाईट हेयर केयर टिप्स भी आज़मा कर देख लेते हैं। उसके बाद भी मन में यही सवाल उठता रहता है कि Balo me Volume Kaise Laye, दरअसल, लंबे घने बाल हर किसी को पसंद होते हैं। मफर आजकल की लाइफस्टाइल में बालों का झड़ना (hair fall in hindi) एक आम समस्या बन चुकी है। इस समस्या से निपटने के लिए इसके कारण का पता होना बेहद ज़रूरी है। हम यहां आपको बता रहे हैं कि baal kyu jhadte hain और बालों के झड़ने का कारण क्या है। 

Hair Fall Reason in Hindi
बालों के झड़ने का मुख्य कारण क्या है?

शरीर में आयरन की कमी

आयरन आपके बालों को स्वस्थ रखने में मदद करता है। जब शरीर में आयरन का स्तर गिरने लगता है तो आपके बाल भी गिरना शुरू कर सकते हैं। हालांकि यह पता लगाना कि आपके बालों के झड़ने के लिए कम आयरन जिम्मेदार है, काफी मुश्किल है। मगर कुछ लक्षणों को पहचान कर आप इस बात का पता लगा सकते हैं। जैसे भंगुर नाखून, पीली त्वचा, सांस की तकलीफ, कमजोरी और तेज़ दिल की धड़कन।

थायराइड की समस्या से बालों का झड़ना

थायरॉयड, एक चिकित्सा स्थिति जिसे हाइपोथायरायडिज्म कहा जाता है, या एक अतिसक्रिय थायरॉयड, या हाइपरथायरायडिज्म, बालों के झड़ने का कारण बन सकता है क्योंकि प्रत्येक स्थिति एक हार्मोनल असंतुलन का कारण बनती है। हार्मोन बालों के विकास सहित शरीर में लगभग हर कार्य को विनियमित करने में मदद करते हैं। इन थायराइड स्थितियों में से किसी एक को नियंत्रित करने के लिए सही उपचार प्राप्त करने से हार्मोन नियंत्रण में आ जाएंगे, बालों का झड़ना बंद हो जाएगा और आपके बाल वापस उगने लगेंगे।

दवाओं के कारण बालों का झड़ना

बालों का झड़ना सामान्य स्वास्थ्य समस्याओं के लिए ली जाने वाली कई दवाओं का एक साइड इफेक्ट है। रक्त को पतला करने वाली दवाएं, मौखिक गर्भ निरोधकों, अवसाद के लिए दवाएं, एनएसएआईडी, और बीटा और कैल्शियम चैनल अवरोधक सभी बाल पतले या गंजापन का कारण बन सकते हैं। बहुत अधिक विटामिन ए और विटामिन ए-आधारित दवाएं जिन्हें रेटिनोइड्स कहा जाता है, बालों के झड़ने का कारण भी बन सकती हैं।

एलोप्सिया हो सकता है बालों के झड़ने का कारण

एलोप्सिया बालों के झड़ने के लिए चिकित्सा शब्द है, और दो मुख्य प्रकार हैं: एलोप्सिया areata और एंड्रोजेनिक (एंड्रोजेनेटिक) एलोप्सिया। एलोप्सिया केवल स्कैल्प या पूरे शरीर पर बालों के झड़ने का कारण हो सकता है। इसके परिणामस्वरूप बालों का पतला होना, बालों के झड़ने के धब्बे, कुछ गंजापन या पूर्ण गंजापन हो सकता है और यह स्थायी या अस्थायी हो सकता है। आनुवंशिक सहित कई कारण हैं। एलोप्सिया के संभावित उपचारों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें।

प्रोटीन की कमी है बालों के झड़ने का कारण

अपने आहार में बहुत कम प्रोटीन होने से संभावित रूप से अनचाहे बाल झड़ सकते हैं। यह भी एक कारण हो सकता है कि, अनजाने में, जो लोग डाइटिंग कर रहे हैं वे कुछ बालों के झड़ने की रिपोर्ट कर सकते हैं। आप अपने दैनिक भोजन योजना में अधिक अंडे, चिकन, बीन्स और दही को शामिल करके आसानी से अपने आहार में अधिक प्रोटीन शामिल कर सकते हैं।

आनुवंशिकी है बालों के झड़ने का कारण

ऐसे कई मामले देखे गए हैं, जहां एक उम्र से पहले बाल झड़ना शुरू हो जाते हैं, खासतौर पर पुरुषों के। हालांकि महिलाएं भी जेनेटिक्स के चलते हेयर फॉल ( hair fall in hindi) की शिकार हो जाती हैं। यदि आप एक ऐसे परिवार से आते हैं जहाँ महिलाओं के बाल एक निश्चित उम्र में झड़ना शुरू हो जाते हैं, तो आपको इसका खतरा अधिक हो सकता है। यह संभवतः फीमेल-पैटर्न गंजापन के रूप में प्रकट होगा। 

तनाव है बालों के झड़ने का कारण

आजकल की लाइफस्टाइल में बाल झड़ना आम समस्या बन गई है। ऑफिस का तनाव, घर का तनाव आदि बहुत से कारण हैं तो बाल झड़ने का कारण बनते हैं। कभी-कभी, बहुत अधिक तनाव लेना आपके शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली पर अपने आप असर डाल सकता है और आपके बालों के रोम पर हमला कर सकता है। बहुत अधिक चिंता आपके बालों के विकास को भी रोक सकती है, जिससे ब्रश करने पर बालों के झड़ने की संभावना बढ़ जाती है।

बालों को अधिक स्टाइल करना है बालों के झड़ने का कारण 

एक स्टाइलिश हेयरडू बनाने के प्रयास में, आप वास्तव में स्ट्रैंड्स को काफी नुकसान पहुंचा सकते हैं और टूट सकते हैं, जिसके परिणामस्वरूप बालों का झड़ना और बालों का पतला होना हो सकता है। बार-बार शैंपू करना या ब्लो-ड्राई करना, बार-बार गर्म स्टाइलिंग टूल्स का इस्तेमाल करना, बालों को खींचना – चाहे ब्लो-ड्राई करने से या बहुत टाइट पोनीटेल में स्टाइल करने से – या बहुत जोर से स्कैल्प को रगड़ने से बाल झड़ सकते हैं।

Kis Vitamin ki Kami se Baal Jhadte Hain | कौन से विटामिन की कमी से बाल झड़ते हैं 

Kis Vitamin ki Kami se Baal Jhadte Hain
कौन से विटामिन की कमी से बाल झड़ते हैं

अब सवाल यह उठता है कि कौन से विटामिन की कमी से बाल झड़ते हैं (kis vitamin ki kami se baal jhadte hain)। दरअसल, प्रोटीन जैसे आवश्यक विटामिन और पोषक तत्व, जो आपको एक स्वस्थ, विविध और अच्छी तरह से संतुलित आहार से मिलते हैं, आपके पूरे शरीर में अच्छे स्वास्थ्य को सुनिश्चित करते हैं। साथ ही सुनिश्चित करते हैं कि आपके सभी अंग और आंतरिक तंत्र ठीक उसी तरह काम कर रहे हैं जैसे उन्हें करना चाहिए। ऐसे में विटामिन की कमी आपके बालों को क्षति पहुंचा सकती हैं। शरीर में विटामिन की कमी बालों के झड़ने का कारण (causes of hair fall in hindi) है। आपको बता दें कि विटामिन डी जिंक और सेलेनियम की कमी हेयर फॉल प्रॉब्लम का प्रमिख कारण है। 

Tips for Hair in Hindi | बालों की देखभाल के लिए टिप्स 

Tips for Hair in Hindi
बालों की देखभाल के लिए टिप्स

1- सौम्य शैंपू व एक्स्ट्रा रिच कंडीशनर प्रयोग में लाएं । इन बात का ध्यान रहे कि आपके शैम्पू में सोडियम न हो। इससे बाल डल होते हैं।

2- बालों में कलर करने से पहले अच्छे से शैम्पू कर लें। और फिर बाल सुखा कर ही कलर करवाएं।

3- किसी भी हेयर प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने से पहले ध्यान रखें कि प्रोडक्ट नेचुरल हो और पानी में आसानी से घुलने वाला हो। इससे आपके सेंसिटिव बालों को नुकसान नहीं होगा।

4- बालों की देखभाल के साथ ही डाइट में एंटी ऑक्सिडेंट की मात्रा ज्यादा रखने से बाल हेल्दी रहते हैं। विटामिन B युक्त भोजन अपनी डाइट में शामिल करें।

5- हफ्ते में एक बार बालों को हॉट ऑयल थेरैपी दें । गर्म तेल की मालिश न सिर्फ़ आपके बालों को स्वस्थ बनाएगी बल्कि आपका स्ट्रेस भी कम करेगी और बाल होंगे जड़ से मज़बूत।

6- बालों को कंघी करते या सुलझाते समय बड़े दांतों वाले कंघे का ही इस्तेमाल करें। गीले बालों को ब्रश ना करें, इससे वो ज़्यादा डैमेज होंगे।

7- बालों को नियमित रूप से ट्रिम कराएं ताकि वो दोमुहें न हों और बाल हेल्दी बने रहें।

8- अपनी डाइट में मौसमी फल, हरी सब्ज़ियां, नट्स, फिश, अंकुरित अनाज और प्रोटीन से भरपूर चीज़ें शामिल करें।

9- बाल धोने के बाद कभी भी उसे तौलिये से रगड़ें नहीं। ऐसा करने पर बाल टूटने लगते हैं। इसके बजाय आप किसी कॉटन के कपडे से बालों को हल्के- हल्के सुखा सकती हैं, इससे बालों की सॉफ्टनेस बनी रहती है।

10- बालों को कभी भी गरम पानी से न धोएं। क्योंकि इससे आपके बाल जड़ों से ड्राई हो जाएंगे। जड़ों से सूखने पर बालों में डैंड्रफ और खुजली की शिकायत भी हो सकती है।

अगर आपको यहां दिए गए बालों के झड़ने का कारण (hair fall hone ka reason in hindi) पसंद आए तो इन्हें अपने दोस्तों व परिवारजनों के साथ शेयर करना न भूलें। 

बाल झड़ने से जुड़ें कुछ सवाल – FAQ’s

1- बालों के झड़ने का मुख्य कारण क्या है?

जवाब- बालों के झड़ने का मुख्य कारण अनुवांशिक या फिर अधिक तनाव लेना है।

2- बहुत ज्यादा बाल झड़ने पर क्या करें?

जवाब- बहुत ज्यादा बाल झड़ने पर डाॅक्टर से संपर्क करें।

3- क्या खाने से बाल नहीं झड़ते हैं?

जवाब- डाइट में एंटी ऑक्सिडेंट की मात्रा ज्यादा रखने से बाल हेल्दी रहते हैं। 

ये भी पढ़ें-

घर पर स्पा करने के तरीके 

पार्लर में समय और पैसा बर्बाद करने के बजाय घर पर ही उचित हेयर ट्रीटमेंट किया जाए। जानिए, घर पर हेयर स्पा करने का तरीका और फायदे।

24 Sep 2022

Read More

read more articles like this

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text