home / रिलेशनशिप
क्या आप सही में प्यार करते हैं या फिर सिर्फ हैं Attracted? इन तरीकों से करें पता

क्या आप सही में प्यार करते हैं या फिर सिर्फ हैं Attracted? इन तरीकों से करें पता

अगर आप भी अपने कॉलेज के दिनों को याद करते हैं और आपको उस एक इंसान का ख्याल आता है, जिसको देखकर आपको लगता था कि आप सही में उनसे प्यार करते हैं लेकिन बाद में आपको पता चला हो कि वो केवल अट्रेक्शन ही था। यह ऐसा कुछ है जो हममें से अधिकतर लोगों के साथ होता है लेकिन दोनों के बीच के अंतर को समझ पाना हमारे लिए मुश्किल हो जाता है। इस वजह से अगर आप अगली बार किसी इंसान की ओर आकर्षित हों और आपको लगे कि वो प्यार है तो इन आसान तरीकों की मदद से आप भी ये पता लगा सकते हैं कि वो सही में प्यार है भी कि नहीं या फिर केवल आकर्षण है और खुद को परेशानी होने से रोक सकते हैं।

पहली नज़र में प्यार होना, मिथक है

हो सकता है कि आप में से कुछ लोग इस बात को ना मानें लेकिन सच यही है कि पहली नज़र में प्यार हो जाना जैसा कुछ नहीं होता है और ये केवल एट्रेक्शन ही होता है। अब इसे समझने के लिए इस तरह से सोचें- आप किसी इंसान में सबसे पहले क्या देखते हैं वो उनके लुक्स होगें और लुक्स के आधार पर आप किसी से प्यार नहीं कर सकते हैं। तो अधिकतर समय जब आप किसी इंसान को देखते हैं और आपका दिल तेजी से धड़कने लगता है तो इसका मतलब एट्रेक्शन होता है। प्यार होने में समय लगता है और किसी इंसान को देखकर आने वाली भावनाओं पर आप भरोसा नहीं कर सकते हैं।

ADVERTISEMENT

प्यार देखभाल का पर्यायवाची है

यदि सामने वाले इंसान की परेशानी आपको दुख नहीं देती है लेकिन आप उनके आसपास रहना पसंद करते हैं तो ये स्पष्ट है कि ये केवल आर्कषण है और इसके अलावा कुछ नहीं है। प्यार का मतलब है एक दूसरे की केयर करना और अगर आपको ऐसा नहीं लगता है तो इसका मतलब है कि आपको उनसे प्यार नहीं है और फिर चाहे आप इसके लिए कितने मर्जी एक्सप्लेनेशन क्यों ना दें। कई बार लोग आपके लिए फेक केयर डेवलप कर लेते हैं और ऐसा दिखाते हैं कि वो आपसे प्यार करते हैं पर ये रेड फ्लैग है। केयर अंदर से आती है और अगर आपको अपनी फीलिंग्स का दिखावा करना हो तो यह और कुछ नहीं बल्कि आकर्षण है।

आप अकेले होते हैं तो आपको उनकी याद आती है

अगर आप अपने दोस्तों के साथ हैं और आपके दिमाग में एक बार भी अपने स्पेशल समवन का ख्याल नहीं आता है और जब आप गर पर अकेले होते हैं केवल तब ही उन्हें याद करते हैं तो इसका साफ मतलब यही है कि आपको उनके प्रति केवल आकर्षण ही है। अगर आप किसी से प्यार करते हैं तो वह पूरा समय आपके दिमाग में घूमता रहता है। और अगर आप किसी को केवल तब ही याद करते हैं जब आप अकेले होते हैं या फिर बोर महसूस कर रहे होते हैं तो आपको अपनी भावनाओं के बारे में सोचना चाहिए क्योंकि यह केवल आकर्षण ही है।

ADVERTISEMENT

यह भी पढ़ें:
इन 3 कारणों की वजह से रिलेशनशिप में आने के 3 साल बाद अधिकतर कपल्स का हो जाता है ब्रेकअप
रिटायरमेंट के बाद इन 3 वजहों से आपके रिश्ते पर हो सकते हैं नकारात्मक प्रभाव
अगर आपका पार्टनर करता है ये चीजे तो नहीं है वो आपके लिए The Perfect One

14 Jan 2022

Read More

read more articles like this
good points

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text