रामायण-महाभारत ने तोड़े टीआरपी के सभी रिकाॅर्ड तो अब एक्टर्स ने मांगा प्राॅफिट में हिस्सा

रामायण-महाभारत ने तोड़े टीआरपी के सभी रिकाॅर्ड तो अब एक्टर्स ने मांगा प्राॅफिट में हिस्सा

लॉकडाउन के दौरान टीवी पर दूरदर्शन चैनल एक के बाद एक टीआरपी के सभी रिकॉर्ड तोड़ने में लगा है। ‘रामायण’ और ‘महाभारत’ की अपार सफलता के बाद ‘शक्तिमान’ के अलावा सभी पुराने सीरियल्स दर्शकों को बेहद पसंद आ रहे हैं। इनमें ‘चाणक्य’, ‘बुनियाद’, ‘देख भाई देख’ जैसे नाम सबसे ऊपर हैं। ऐसे में सालों बाद एक बाद एक बार फिर शो के प्रोड्यूसर्स की चांदी हो गई है। इसी के चलते कई एक्टर्स भी अब प्रॉफिट में अपना हिस्सा मांगने सामने आने लगे हैं।  

दूरदर्शन पर दोबारा टेलीकास्ट हो रहा रामानंद सागर का 'रामायण' टीआरपी लिस्ट में 15 पॉइंट्स के साथ लगातार 15वें हफ्ते भी टॉप पर बना हुआ है। दर्शक 'रामायण' के बाद 'उत्तर रामायण' को भी उतने ही चाव से देख रहे हैं। वहीं दूसरे नंबर पर ‘महाभारत’ का दबदबा भी कायम है। इसके अलावा ‘शक्तिमान’ और दूरदर्शन के बाकि पुराने सीरियल्स भी टॉप 10 पर बने हुए हैं। वहीं अब दूरदर्शन पर आ रहे इन शोज के कुछ एक्टर्स रॉयल्टी की डिमांड कर रहे हैं। इस डिमांड को लेकर एक्टर्स और प्रोड्यूसर्स के बीच जबरदस्त मतभेद देखने को मिल रहा है।

जानी-मानी एक्ट्रेस पल्लवी जोशी ने हाल ही में दिए एक इंटरव्यू के दौरान कहा, "प्रोड्यूसर्स को इन शोज के दोबारा प्रसारित होने से जो प्रॉफिट मिल रहा है उसे एक्टर्स के साथ शेयर करना चाहिए क्योंकि वो इन शोज को री-रन करने के लिए कोई एक्स्ट्रा काम नहीं कर रहे हैं। चैनल ने कोई शो प्रोड्यूस नहीं किया है और इन्हें री-रन करने के लिए प्रोड्यूसर्स को भी जीरो मेहनत करनी पड़ रही है। ऐसे में जब प्रोड्यूसर्स को एक्स्ट्रा पैसा मिल रहा है तो उन्हें उसका कुछ हिस्सा एक्टर्स और टेक्नीशियंस के साथ भी शेयर करना चाहिए। खासकर ऐसे वक्त में जब कुछ लोग अपने बच्चों को खाना खिलाने तक के लिए संघर्ष कर रहे हैं।”

वहीं एक रिपोर्ट की मानें तो रामानंद सागर के 'रामायण' में सीता का किरदार निभाकर फेमस हो चुकीं एक्ट्रेस दीपिका चिखलिया भी इस बात से इत्तेफाक रखती हैं। 

बात करें प्रोड्यूसर्स की तो इस मामले में 'चाणक्य' को निर्देशित करने वाले निर्देशक व एक्टर डॉ. चंद्रप्रकाश द्विवेदी ने भी इस बारे में अपनी राय रखी है। उनका कहना है कि रायल्टी का मुद्दा उठाने के लिए वक्त सही नहीं है। हालातों को देखते हुए प्रोड्यूसर्स ने पैसे की कोई डिमांड नहीं की है। सभी इसे बिल्कुल मुफ्त में करने के लिए तैयार हुए हैं। उन्होंने आगे कहा, "मैं रॉयल्टी देने के कॉन्सेप्ट के खिलाफ नहीं हूं। इस तरह की मांगे उठाने का समय ठीक नहीं है।"

वहीं 'महाभारत' के भीष्म पितामह और सुपरहीरो शो 'शक्तिमान' के एक्टर मुकेश खन्ना ने भी इस बारे में चुप्पी तोड़ते हुए कहा, "ये गलत है। कुछ चीजें कॉन्ट्रैक्ट बेस्ड होती हैं। प्रोड्यूसर हर तरीके से पैसे रिकवर कर सकता है। एक एक्टर के तौर पर मैं कहूंगा कि ये अच्छा लगता है लेकिन प्रोड्यूसर के तौर पर मैं हर तरह से पैसा कमाऊंगा।" बता दें कि मुकेश खन्ना 'शक्तिमान' के प्रोड्यूसर भी हैं। 

अब देखना होगा कि प्रॉफिट में हिस्सा मांगने को लेकर एक्टर्स और प्रड्यूसर्स के बीच छिड़ी ये जंग कितनी आगे जाती है। फिलहाल तो इसके टलने के आसार दूर तक नज़र नहीं आ रहे हैं।