जानिए कैसे शूट किया गया था ‘महाभारत’ में द्रौपदी चीरहरण का सीन, खूब रोई थीं रूपा गांगुली

जानिए कैसे शूट किया गया था ‘महाभारत’ में द्रौपदी चीरहरण का सीन, खूब रोई थीं रूपा गांगुली

80 के दशक के कुछ ऐसे टीवी सीरियल है, जिन्होंने दर्शकों के दिल में अमिट छाप छोड़ी है। साल 1988 में बीआर चोपड़ा की ‘महाभारत’ (Mahabharat) आई थी, इस शो में नितीश भारद्वाज, मुकेश खन्ना, रूपा गांगुली, गूफी पेंटल, पुनीत इस्सर, पंकज धीर जैसे सितारों ने काम किया था। देशभर में लॉकडाउन के कारण दूरदर्शन पर एक बार फिर से ‘महाभारत’ के प्रसारण के चलते इस शो से जुड़ी कई अनसुनी बातें और रोचक किस्से आए दिन सामने आ रहे हैं। इस शो के किरदार भी एक बार फिर से लाइमलाइट में आ गये हैं। हाल ही में द्रौपद्री चीरहरण का दृश्य प्रसारित हुआ है, जिसके बाद से इस सीन से जुड़ी कई अनसुनी बातें सामने आ रही हैं। 
जी हां,  ‘महाभारत’ में द्रौपदी चीरहरण का सीन इन दिनों सोशल मीडिया पर भी कुछ ट्रैंड कर रहा है। लोग इस वाक्ये के बारे में अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। हर कोई द्रौपदी का किरदार निभाने वाली एक्ट्रेस रूपा गांगुली (Roopa Ganguly) की एक्टिंग की तारीफ कर रहा है। यही नहीं कई यूजर्स ने शेयर किया कि उनके अभिनय ने उन्हें कैसे दिल को छू लिया और झकझोर कर रख दिया।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि बीआर चोपड़ा इस चीरहरण सीन को लेकर काफी सीरियस थे। दरअसल, ‘महाभारत’ में द्रौपदी का चीरहरण ही कौरव और पांडव के बीच युद्ध का कारण बना था। इसलिए बीआर चोपड़ा इस सीन का बेहद प्रभावी बनाना चाहते थे। इसीलिए उन्होंने ‘महाभारत’के इस सीन को जीवंत बनाने के लिए उन्होंने सभी कलाकारों को इमोशनली ट्रेन किया और उन्हें अपने-अपने किरदारों को जीने के लिए प्रेरित किया। 

माँ पर सुविचार - Mothers Day Quotes in Hindi

बीआर चोपड़ा ने खासतौर पर रूपा गांगुली को प्रेरित किया इस दृश्य के लिए। क्योंकि ये सीन उन्हीं पर फोकस था। बी आर चोपड़ा ने उनसे कहा कि अगर किसी महिला को बालों से पकड़ कर भरी सभा में लाया जाए और वहां उसके सारे कपड़े उतारने की कोशिश की जा रही हो तो उसपर क्या बीतेगी इसे ही उन्हें इस शो में जीना है। 

ऐसे में रूपा गांगुली ने चीरहरण का सीन फिल्माने के दौरान इतना खो गई थी कि उन्होंने इसे परफेक्शन के साथ महज बिना रीटेक लिए एक बार में ही पूरा कर लिया था। यही नहीं वो अपने सारे डायलॉग असल में रोते-रोते बोल रही थीं। मेकर्स ने बताया कि रूपा गांगुली  इस सीन के शूटिंग के बाद भी खूब रो रही थीं। इस दर्दनाक सीन को फिल्माने के करीब आधे घंटे तक वो सेट पर फूट-फूटकर रोईं। फिर उन्हें मेकर्स और बाकि स्टार कास्ट ने आकर चुप कराया। 

वहीं अगर चीरहरण के दौरान इस्तेमाल होने वाली द्रौपदी की साड़ी की बात करें तो ये 250 मीटर  लंबी थी। जी हां, मेकर्स बताते हैं कि चीरहरण के सीन के लिए गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड वालों से बात करके 250 मीटर की साड़ी की व्यवस्था करवाई थी जो पूरी एक ही ट्रेल में थी। बीआर चोपड़ा ये बिल्कुल भी नहीं चाहते थे कि ये सीन कहीं से भी अभद्र और अशलील लगे। इसीलिए उन्होंने इन सब बातों का ध्यान रखकर इस सीन को फिल्माया था। 
वैसे आपको बता दें कि ‘महाभारत’दोबारा से टीवी पर आने के कारण दर्शकों का बेहद प्यार मिल रहा है। यही वजह है कि टीआरपी की लिस्ट में वो दूसरे नंबर पर है। वहीं 'रामायण' पहले नंबर पर है।
 

POPxo  की टीम आप सभी से अनुरोध करती है कि भारत सरकार द्वारा दिये गये सभी निर्देशों का पालन करें। जरूरत न हो तो घर से बाहर बिल्कुल भी न निकलें। बाहर निकलने की स्थिति में संक्रमण का खतरा बढ़ जाएगा।