कभी देव आनंद को देख छत से ही कूद जाया करती थीं लड़कियां, जानिए उनसे जुड़ी 10 रोचक बातें

कभी देव आनंद को देख छत से ही कूद जाया करती थीं लड़कियां, जानिए उनसे जुड़ी 10 रोचक बातें

भारतीय सिनेमा के अभिनेता देव आनंद साहब (Dev Anand) अपने ज़माने के उन मशहूर सितारों में से एक हैं, जिनका अंदाज़ तो निराला था ही, साथ ही उनकी जिंदगी से जुड़े कई किस्से भी। उनके जैसा अनोखा स्टाइल आज के समय शायद ही बॉलीवुड में कहीं दिखता हो। वे अपने ज़माने के लोगों के लिए फैशन आइकन हुआ करते थे। यही नहीं, देव आनंद की दीवानगी लोगों के सिर चढ़ कर बोलती थी। दर्शक उनकी एक झलक पाने के लिए बेरकरार रहते थे। 

देव आनंद की जिंदगी से जुड़ी 10 रोचक बातें Interesting facts about dev anand In Hindi

देव आनंद को हिन्दी सिनेमा का लीजेंड कहा जाता है। वे सिर्फ एक अच्छे अभिनेता ही नहीं, बल्कि एक अच्छे फिल्म निर्माता और निर्देशक भी साबित हुए। हिंदी सिनेमा में करीबन छह दशक तक अपनी अदाकारी का जादू बिखेरने वाले देव आनंद की जिंदगी से जुड़े कई मशहूर किस्से और रोचक बातें हैं, जो आज भी सुने-सुनाए जाते हैं। तो आइए, फिर जानते हैं देव साहब की जिंदगी और फिल्मी करियर से जुड़े कुछ रोचक किस्से -

1. देव साहब की दिवानगी उस समय इस कदर थी कि जब वो सफेद शर्ट के साथ काला कोट पहनते थे उन्हें लोग देखते ही रह जाते थे। वहीं लड़कियां तो उनकी एक झलक पाने के लिए अपनी जान भी दांव पर लगा देती थी। बताया जाता है कि उनकी एक झलक पाने के लिए लड़कियां अपनी छतों से तक कूद जाती थी। 
2. देव आनंद की फिल्म 'काला पानी' जैसे ही रिलीज हुई, तभी कोर्ट ने आदेश जारी कर दिया कि अब से देव आनंद काला कोट नहीं पहेंनेगे, क्योंकि काले कोट में उन्हें देखकर लड़कियां अपना आपा खो बैठती हैं और छत से छलांग लगाने लगती हैं।
3. देव आनंद का जीवन संघर्षों से भरा रहा। उनके माता-पिता के पास इतने पैसे नहीं थे कि वे उन्हें ज्यादा पढ़ा सकें, इसीलिए देव साहब को नौकरी ढूंढ़ने के लिए पंजाब से मुंबई आना पड़ा और इस शहर ने उन्हें बॉलीवुड का सुपरस्टार बना दिया।
 

4. देव आनंद जब पंजाब से मुंबई आए तो उनके पास सिर्फ 30 रुपये ही थे, जो कुछ ही दिनों में खर्च हो गए। उन्होंने सोचा कि अगर मुंबई में रहना है तो नौकरी करनी ही पड़ेगी। यह बात उन्होंने अपनी ऑटोबायोग्राफी ‘रोमांसिंग विद लाइफ’ में बताई है। काफी मशक्कत के बाद उन्हें मिलिट्री सेंसर ऑफिस में क्लर्क की नौकरी मिल गई। यहां उन्हें सैनिकों की चिट्ठियों को उनके परिवार के लोगों को पढ़कर सुनाना होता था।
5. देव आनंद को फिल्म 'विद्या' की शूटिंग के दौरान ही सुरैया से प्यार हो गया। उनकी ऑटोबायोग्राफी रोमांसिंग विद लाइफ में लिखा है कि वे एक्ट्रेस सुरैया से बहुत प्यार करते थे, लेकिन धर्म अलग होने की वजह से वह उनसे शादी नहीं कर पाए। इसी कारण सुरैया भी आजीवन कुवांरी ही रहीं।

6. देव आनंद की शादी से जुड़ा एक बहुत मशहूर किस्सा है। उन्होंने साल 1954 में एक फिल्म की शूटिंग के दौरान लंच ब्रेक में ही अपनी को-स्टार कल्पना कार्तिक से शादी कर ली थी। हालांकि उनका रिश्ता ज्यादा लंबे समय तक नहीं चल पाया।
7. देव आनंद का एक्टिंग करने अंदाज़ उन्हें बाकी सभी अभिनेताओं से अलग दिखाता था। एक सांस में लम्बी डायलॉग डिलीवरी और एक तरफ झुक कर चलने का उनका खास स्टाइल... लोगों पर सालों तक जादू चलाता रहा। रोल कोई भी हो, देव आनंद का अंदाज़ कभी भी नहीं बदलता था।

8. देव साहब के बारे में कहा जाता है कि उस ज़माने में हर एक्ट्रेस उनकी हीरोइन बनने का सपना देखती थी। ऐसे में उन्हें डर भी रहता था कि देव की बहन का किरदार निभाने के बाद उन्हें उनके अपोज़िट रोल नहीं मिलेगा, इसलिए उनकी बहन का किरदार निभाने के लिए कोई एक्ट्रेस तैयार ही नहीं होती थी।
9. देव आनंद साहब राजनीतिक मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखने वाले लोगों में से थे। साल 1977 में देव आनंद ने अपनी ही एक नेशनल पार्टी बना ली थी। बॉलीवुड की कई नामी हस्तियां, जैसे - धर्मेंद, हेमामालिनी, संजीव कुमार, शत्रुघ्न सिन्हा और रामानंद सागर भी उनकी पार्टी से जुड़ गए। हालांकि उनकी यह राजनीतिक पार्टी ज्यादा दिन नहीं चल पाई।
10. देव आनंद की मुख्य अभिनेता के रूप में आखिरी फिल्म 'चार्जशीट' थी। इस दौरान उनकी उम्र 88 साल हो चुकी थी। 4 दिसंबर, 2011 को लंदन में हिन्दी सिनेमा ने अपना सबसे कीमती तोहफा देव आनंद खो दिया।

.. अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि Popxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजीहिन्दीतमिलतेलुगूबांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।