home / xSEO
लक्ष्मी पूजा कब है

Lakshmi Puja kab hai 2022 | लक्ष्मी पूजा कब है, शुभ मुहूर्त, अल्पना डिज़ाइन और लक्ष्मी पूजा आरती

दिवाली का पर्व हर साल हिन्दू धर्म में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। दिवाली का पर्व भगवान्न राम के चौदह वर्ष वनवास से घर लौटने की खुशी में मनाया जाता है। दिवाली (2022) के दिन लक्ष्मी पूजा का विशेष महत्व होता है। कुछ किवदंतियों के अनुसार ऐसा माना जाता है, जो व्यक्ति दिवाली के दिन विधि विधान से माँ लक्ष्मी की पूजा अर्चना करता है उसके पास हमेश माँ लक्ष्मी वास करती है और उसे धन धान्य की कमी नहीं होती है। अगर आप दिवाली इस दिवाली पहली बार माँ लक्ष्मी की पूजा करने जा रहे हैं तो आप आगे जानिए लक्ष्मी पूजा कब है, शुभ मुहूर्त, लक्ष्मी पूजा में अल्पना का महत्व और कैसे करें माँ लक्ष्मी की आरती। लक्ष्मी पूजा के खास मौके पर आप भी अपने सभी जानने वालो के साथ लक्ष्मी पूजा और दिवाली की हार्दिक शुभकामनाएं शेयर करें। 

Lakshmi puja kab hai | लक्ष्मी पूजा कब है 

दिवाली का नाम सुनते ही सबसे पहले हर किसी के मन में यह सवाल आता है की Lakshmi puja kab hai 2022  तो आपकी जानकारी के लिए बता दें हिन्दू पंचाग के अनुसार साल 2022 में लक्ष्मी पूजा 24 अक्टूबर को मनाई जायगी। कई लोग लक्ष्मी पूजा को कोजागर पूजा मानते हैं मगर यह दोनों पूजाएं अलग-अलग है। कोजागर पूजा में भी माता लक्ष्मी का व्रत करने का विधान होता है। लक्ष्मी पूजा दीवाली के दिन की जाती है। यह खास पूजा घर में सदा लक्ष्मी के निवास के लिए किया जाता है। अगर आप भी  चाहते हैं की साल भर माता लक्ष्मी आपके घर निवास करें तो आप भी जानिए Lakshmi puja ka shubh muhurta, Lakshmi puja mantra और लक्ष्मी पूजा विधि के बारे में।  

lakshmi puja ka shubh muhurt Kya hai | लक्ष्मी पूजा का शुभ मुहूर्त 

लक्ष्मी पूजा का पूरा फल पाने के लिए यह बहुत जरुरी होता है की आप पूजा से पहले पूजा का शुभ मुहूर्त जान लें। यहाँ हम आपको द्रिक पंचांग के अनुसार दिए गए शुभ मुहूर्त के बारे में बता रहे है। आप भी लक्ष्मी पूजा में दोगुना फल पाने लिए शुभ मुहूर्त में माँ लक्ष्मी की पूजा करें। 

लक्ष्मी पूजा – सोमवार अक्टूबर, 24, 2022
लक्ष्मी पूजा मुहूर्त – 06:53 PM to 08:15 PM (01 घंटा 23 मिनट)

Lakshmi puja Mai lagne vali Samagri | लक्ष्मी पूजा के लिए सामग्री 

लक्ष्मी पूजा मुहूर्त जानने के बाद इस बात का ध्यान रखना भी जरुरी है की लक्ष्मी पूजा करते वक़्त माँ लक्ष्मी की थाली कैसे सजाएं। अगर आप भी साल 2022 में दिवाली पर माँ लक्ष्मी को खुश करना चाहते हैं तो यहाँ दी गयी शायरी अपनी थाली में जरूर रखें। 

  1. सबसे पहले भगवान गणेश, सरस्वती  और माँ लक्ष्मी जी की मूर्ति रख लें 
  2. एक चांदी का का सिक्का
  3. तिलक के लिए फूल, फल और फूलों की माला
  4. कुमकुम, चंदन, हल्दी और सिंदूर, 
  5. मुट्ठी भर चावल
  6. सोलह श्रृंगार का सामान
  7. सुपारी और पान के पत्ते
  8. माँ लक्ष्मी को अर्पण करने के लिए इलायची, लौंग कलावा
  9. कमल का फूल (माँ लक्ष्मी की पूजा में विशेष कमल फूल चढ़ाने की सलाह देते है)
  10. तुलसी के पांच पत्तें और कुशा (दूर्वा)
  11. लाल कपड़ा
  12. दीपक
  13. नारियल
  14. पंच मेवा 
  15. गंगाजल
  16. पंचामृत (शहद, दूध, शक्कर, दही, गंगाजल, दूध)
  17. शुद्ध घी ( दीपक जलाने के लिए)
  18. मिठाई भोग लगाने के लिए 
  19. लकड़ी की चौकी
  20. आम के पत्ते (आम पल्लव)
  21. लक्ष्मीजी और गणेश जी को अर्पित करने के लिए वस्त्र
  22. जल कलश (तांबे , मिट्टी या पीतल का अपने अनुसार चुन लें)
  23. बैठने के लिए आसन

यहाँ दी गयी सामग्री लिस्ट आपकी पूजा में मदद करेगी। इससे आप कुछ भी भूलेंगे नहीं। यहाँ आपको लक्ष्मी पूजा की सभी जरुरी सामग्री की सूची मिल जाएगी। 

Lakshmi Puja Rangoli | लक्ष्मी पूजा रंगोली डिज़ाइन  

किवदंतियों के अनुसार माँ लक्ष्मी अनेक प्रकार के रंगो से खुश होती है। ऐसे में जब भी आप लक्ष्मी पूजा करें घर की चौखट पर रंगोली जरूर बनाएं। अगर आप भी माँ लक्ष्मी की पूजा कर रहे हैं तो यहाँ दी गयी रंगोली डिज़ायन से आप अपनी लक्ष्मी पूजा के लिए रंगोली डिज़ाइन (Rangoli Design for  Lakshmi Puja) चुन सकते है। 

गणपति रंगोली डिजाइंस (Ganpati Rangoli Design)

हिन्दू पौराणिक कथाओं और किवदंतियों के अनुसार किसी भी प्रकार के शुभ काम से पहले गणपति जी को याद किया जाता है। ऐसे में आप यहाँ दिए गए गणपति रंगोली डिजाइंस (Ganpati Rangoli Design) लक्ष्मी पूजा में जरूर बनाएं। 

Ganpati rangoli in hindi

सिंपल लक्ष्मी पूजा रंगोली (Simple Lakshmi Puja Rangoli)

लक्ष्मी पूजा में सिंपल रंगोली डिज़ायन भी कई लोग पसंद करते है। आप भी यहाँ दी गयी रंगोली डिज़ायन लक्ष्मी पूजा में बना सकते है। 

Simple Rangoli Design in Hindi

Lakshmi puja mantra In Hindi | लक्ष्मी पूजा मंत्र 

यहाँ दिए लक्ष्मी के मंत्र से माँ लक्ष्मी प्रसन्न होती है।  लक्ष्मी पूजा करें इन मंत्रो का जाप जरूर करें। विधि विधान से मंत्रो द्वारा  लक्ष्मी की पूजा से माँ लक्ष्मी दोगुना फल देती है, और मनचाहा फल मिलता है। आप भी यहाँ दिए गए मंत्रो से दिवाली पर माँ लक्ष्मी की पूजा करें। 

मंत्र 1. या देवी सर्वभूतेषु लक्ष्मी रूपेण संस्थिता, नमस्त्यै नमस्त्यै नमस्त्यै नमस्त्यै नमों नम:।
अर्थ-  हे मां आदि शक्ति आप सदैव हमारे पास लक्ष्मी (धन) के रूप में निवास करें। हम आपको हृदय से आपको बारंबार नमस्कार करते हैं।

मंत्र 2. जय देवी जय देवी जय महालक्ष्मी। वससी व्यापकरुपे तू स्थूलसूक्ष्मी।।
अर्थ-  हे मां चारों दिशा में आपकी जय जयकार होती रहती है, आप ही जगत की पालनहार है और स्थूल रूप में इस जगत में समाई हुई है। हे मां लक्ष्मी आप हमें आशीर्वाद प्रदान करें।

Lakshmi Puja Vidhi at Home in Hindi  | घर पर लक्ष्मी पूजा कैसे करें 

लक्ष्मी पूजा करते वक़्त विशेष कर इन बातों का ध्यान रखें। सबसे पहले पूजा वाले स्थान पर गंगाजल छिड़क कर साफ़ कर लें। आप भी यहाँ दिए गए स्टेप्स को फॉलो कर के लक्ष्मी पूजा करें। साथ ही लिंक पर क्लिक कर यह भी जाने Importance Of Diwali in Hindi

  • सबसे पहले पूजा स्थान के लिए गंगाजल से साफ़ करें और सफ़ेद चावल को पीस कर अल्पना बनाएं। 
  • पूजा स्थल पर एक चौकी रखें और लाल कपड़ा बिछाकर उस पर लक्ष्मी जी और गणेश जी की मूर्ति रखें और चौकी के पास जल से भरा एक कलश रखें।
  • उसके बाद माता लक्ष्मी और गणेश जी की मूर्ति पर तिलक लगाएं, हल्दी लगाएं और दीपक जलाकर फल फूल आदि अर्पित करें और माता महालक्ष्मी की आरती और मन्त्रों से जाप करें।
  • उसके बाद महालक्ष्मी पूजन के बाद तिजोरी, बहीखाते और व्यापारिक उपकरण की पूजा करें। ऐसा करने से जीवन में धन धान्य की कमी नहीं होती। 
  • पूजन के बाद श्रद्धा अनुसार ज़रुरतमंद लोगों को मिठाई और दक्षिणा दें। 

Lakshmi puja Alpana Design | लक्ष्मी पूजा के लिए अल्पना डिज़ाइन  

कई लोग रंगोली और अल्पना में अंतर नहीं कर पाते। आपको बता दें की रंगोली अलग अलग तरह के रंगों से बनायीं जाती है। मगर अल्पना / अरावट सफ़ेद चावल को पीस कर पेस्ट से रंगोली बनायीं जाती है। यह रंगोली आप  पूजा स्थल के आस-पास बनाते है। अल्पना से ही माँ लक्ष्मी के क़दमों के पदचिन्ह बनाएं बनाएं जाते है। 

Alpana Design in Hindi

Lakshmi puja aarti  | लक्ष्मी पूजा आरती 

कोई भी पूजा आरती के बिना अधूरी मानी जाती है। आप भी अपनी पूजा को पूरा करने के लिए यहाँ दी गयी लक्ष्मी जी की आरती पढ़ें और पूजा संपन्न सम्पन्न करें। आप भी पढ़ें 2022 लक्ष्मी पूजा आरती। 

ऊं जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता।
तुम को निस दिन सेवत, मैयाजी को निस दिन सेवत हरि विष्णु विधाता।।
ऊं जय लक्ष्मी माता …उमा रमा ब्रह्माणी, तुम ही जग माता
ऊं मैया तुम ही जग माता।
सूर्य चन्द्र मां ध्यावत, नारद ऋषि गाता।।
ऊं जय लक्ष्मी माता ..
दुर्गा रूप निरंजनी, सुख सम्पति दाता
ऊं मैया सुख सम्पति दाता।
जो कोई तुम को ध्यावत, ऋद्धि सिद्धि धन पाता।।
ऊं जय लक्ष्मी माता ..तुम पाताल निवासिनि, तुम ही शुभ दाता
ओ मैया तुम ही शुभ दाता।
कर्म प्रभाव प्रकाशिनि, भव निधि की दाता
ऊं जय लक्ष्मी माता ..जिस घर तुम रहती तह सब सद्गुण आता
ऊं मैया सब सद्गुण आता। सब संभव हो जाता, मन नहीं घबराता।।
ऊं जय लक्ष्मी माता ….तुम बिन यज्ञ न होते, वस्त्र न कोई पाता
ऊं मैया वस्त्र न कोई पाता।
ख़ान पान का वैभव, सब तुम से आता
ऊं जय लक्ष्मी माता।।
शुभ गुण मंदिर सुंदर, क्षीरोदधि जाता
ऊं मैया क्षीरोदधि जाता।
रत्न चतुर्दश तुम बिन, कोई नहीं पाता
ऊं जय लक्ष्मी माता।।
महा लक्ष्मीजी की आरती, जो कोई जन गाता।
ऊं मैया जो कोई जन गाता।
उर आनंद समाता, पाप उतर जाता
ऊं जय लक्ष्मी माता।।

उम्मीद है आप यहाँ बताई गयी लक्ष्मी पूजा विधि, और शुभ मुहूर्त के अनुसार ही साल 2022 दिवाली में लक्ष्मी पूजा (Lakshmi Puja 2022 Information in Hindi) करेंगे। जीवन में धन धान्य से परिपूर्ण रहना चाहते हैं तो पूरे मन से माँ लक्ष्मी के लिए अल्पना और रंगोली सजा कर खुश करें। 

ये भी पढ़ें 

10+ Diwali Ke Gane – दिवाली पार्टी के लिए हिट प्लेलिस्ट बनाना चाहतें हैं तो इस लिंक पर क्लिक करें और एक से बढ़ कर एक पार्टी के गानों का यूट्यूब लिंक पाएं। 

2022 Diwali Special Food Recipes in Hindi – दिवाली पर कुछ नया बनाना चाहते हैं तो लिंक पर क्लिक कर के देखें दिवाली के लिए रेसिपी। 

Diwali par Kaha Diya Jalaye – लिंक पर क्लिक कर के जानिए दीपावली वाली रात किस जगह जलाएं दीपक, जिससे खुल जायेंगे तरक्की के हर रास्ते। 

22 Oct 2022

Read More

read more articles like this

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text