home / लाइफस्टाइल
जानिए 26 या फिर 27 किस दिन मनाया जा रहा है भाई दूज, सूर्य ग्रहण को लेकर है कंफ्यूजन

जानिए 26 या फिर 27 किस दिन मनाया जा रहा है भाई दूज, सूर्य ग्रहण को लेकर है कंफ्यूजन

दीपोत्सव का अंतिम लेकिन बेहद महत्वपूर्ण त्योहार है भाई दूज। इस दिन बहन अपने भाई की लंबी उम्र की कामना करती है। भाई दूज का त्योहार हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाता है। लेकिन इस साल तिथि को लेकर उलझन की स्थिति बनी हुई है। वैसे भी आजकल ज्यादातर कोई तीज-त्योहार दो तिथियों में पड़ जाते हैं, ऐसे में लोगों का कंफ्यूज होना जायज है। इसीलिए यहां हम आप की इस दुविधा को दूर करते हुए भाई दूज 2022 (Bhai dooj wishes in hindi) किस दिन है ? इस बारे में विस्तारपूर्वक बता रहे हैं। 

आखिर किस दिन है भाई दूज 2022 ?

हर किसी को इस बात की दुविधा है कि आखिर भाई दूज किस दिन पड़ रहा है? 26 या फिर 27 अक्टूबर? दरअसल अगर आप गूगल में सर्च करेंगे तो 26 अक्टूबर की तारीख दिखा रहा है लेकिन उस दिन सूर्य ग्रहण लगने के कारण 27 अक्टूबर की भी तारीख सामने आ रही है। लेकिन आइए जानते हैं इस विषय में पंचाग और एक्सपर्ट्स का क्या कहना है। आचार्य विनोद मिश्र का कहना है कि इस साल यानि कि 2022 भाई दूज कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि 26 अक्टूबर को दोपहर से शुरू हो रही है जो 27 अक्टूबर की दोपहर को समाप्त हो रही है। ऐसे में इस बार 26 और 27 दोनों ही दिन भाई दूज का पर्व मनाया जा रहा है। लेकिन भाई के तिलक के लिए 26 अक्टूबर का दिन अधिक श्रेष्ठ माना जा रहा है। शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि 26 अक्टूबर की दोपहर 2 बजकर 42 मिनट से 27 अक्टूबर की दोपहर 12 बजकर 45 मिनट तक रहेगी। 

सूर्य ग्रहण और सूतक कब तक रहेगा

कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की अमावस्या तिथि यानी 25 अक्टूबर को सूर्य ग्रहण लगने जा रहा है। इस कारण दीपावली एक दिन पहले 24 अक्टूबर को मनाई जाएगी। सूर्य ग्रहण 25 अक्टूबर सुबह 11 बजकर 28 मिनट से शुरू होगा और शाम 6 बजकर 33 मिनट तक रहेगा, लेकिन देश में यह शाम 4 बजकर 42 मिनट से शाम 5 बजकर 22 मिनट तक ही रहेगा। इसका सूतक काल 12 घंटे पहले शुरू हो जाएगा। यह ग्रहण भारत में दिखाई दे रहा है, इसलिए इस ग्रहण का सूतक काल भी मान्य होगा। इसलिए दिवाली के रात से ग्रहण के सूतक लग जाएंगे। 

भाई दूज तिथि और समय Bhai dooj 2022 Date and Time in Hindi

पंचांग के अनुसार कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की द्वितीया तिथि इस बार 26 अक्टूबर 2022 की दोपहर 02: 42 से प्रारंभ होकर अगले दिन यानी 27 अक्टूबर 2022 को दोपहर 12: 42 बजे समाप्त होगी। ऐसे में जो लोग उजिया तिथि के अनुसार भाईदूज का महापर्व मनाते हैं, उन्हें 27 अक्टूबर 2022 को दोपहर 12: 42 बजे से पहले अपने भाईयों का टीका कर देना चाहिए। बता दें, इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग भी मिलेगा। भाई दूज (bhai dooj me kya hota hai) पर आप भी सुनिए Bhaiya Dooj ke Geet aur Gane 2022

ये भी पढ़ें –
बेटियों को दीजिए दिल से दुआ और जताइए प्यार, डॉटर्स डे के इन कोट्स/मैसेज के जरिए । daughters day quotes in hindi
भाई-बहनों के साथ शेयर करें रक्षा बंधन की हार्दिक शुभकामनाए… पढ़ें- रक्षा बंधन की हार्दिक शुभकामनाएं एक से बढ़कर एक
आप भी दशहरा के शुभ अवसर पर अपने सभी दोस्तों, रिश्तेदारों और परिजनों को दशहरे की हार्दिक शुभकामनाएं (dussehra wishes hindi), दशहरा की हार्दिक शुभकामनाएं
भाई दूज और रक्षाबंधन के बीच अंतर

21 Oct 2022

Read More

read more articles like this

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text