home / Care
अमोनिया फ्री हेयर कलर

अमोनिया फ्री हेयर कलर और शैम्पू बालों के लिए हैं बेस्ट – Ammonia Free Hair Color in Hindi

 

बाल चेहरे की खूबसूरती बढ़ाते हैं। लंबे-घने बाल आपकी पर्सनैलिटी में चार चांद लगा देते हैं लेकिन हर किसी के पास बचपन से लंबे, चमकदार, सिल्की और घुंघराले बाल नहीं होते हैं। केमिकल से भरे शैम्पू और कलर बालों का टेक्स्चर दिनों-दिन खराब कर देते हैं। बालों पर जितना हो सके, नैचुरल चीज़ों या अमोनिया फ्री शैम्पू का ही इस्तेमाल करें और स्टाइलिंग के लिए अमोनिया फ्री कलर्स ही लगाएं क्योंकि ड्राय, फ्रिज़ी और अनमैनेजेबल बाल हर मौके पर दिक्कत देते हैं। बाल अच्छे न हों तो हर इवेंट से पहले स्टाइलिंग के बारे में घंटों सोचना पड़ता है क्योंकि आप हर जगह बन (जूड़ा) बनाकर नहीं जा सकतीं। इसलिए अपने हेयर रूटीन में अमोनिया फ्री शैम्पू और कलर्स को जोड़ें क्योंकि यही प्रोडक्ट्स धीरे-धीरे बालों में जान वापस ला देते हैं। अमोनिया फ्री शैम्पू और कलर्स हर किसी को सूट करते हैं, बस ज़रूरत है अपने बालों से मुताबिक प्रोडक्ट्स चुनने की। घर पर बालों को स्ट्रेट करने का तरीका

क्या होते हैं अमोनिया फ्री शैम्पू और हेयर कलर्स – What is Ammonia Free Shampoo And Hair Colour in Hindi

 

अमोनिया का इस्तेमाल लिक्विड फर्टिलाइज़र बनाने के लिए किया जाता है। शैम्पू में मौजूद अमोनिया बालों को ही नहीं बल्कि स्किन को भी नुकसान पहुंचाता है। बहुत ज्यादा मात्रा में अमोनिया आंखों की रोशनी भी छीन सकता है। इससे नाक, आंख और गले में जलन हो सकती है, जिससे सर्दी, खांसी और गले में खुजली जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। आमतौर पर मिलने वाले शैम्पू में अच्छी मात्रा में अमोनिया होता है, जिनका इस्तेमाल करने से बाल रूखे और बेजान तो होते ही हैं, उनका टेक्स्चर भी खराब हो जाता है। बेस्ट हेयर कलर

 Ammonia Free Shampoo And Hair Colour

 

शैम्पू की ही तरह हेयर कलर्स में भी अमोनिया पाया जाता है और बालों को ये केमिकल भारी नुकसान पहुंचाता है। हेयर कलर करने के दौरान या कुछ दिनों के बाद इसके नुकसान के बारे में पता चलता है। अमोनिया वाले कलर्स हेयर क्यूटिकल्स को डैमेज कर बालों को खराब कर देते हैं। जिन हेयर कलर्स में अमोनिया होता है, उन्हें लगाने से बालों की नैचुरल शाइन उड़ जाती है। बाल रूखे और पहले से ज्यादा सफेद होने लग जाते हैं। इतना ही नहीं, बिना अमोनिया वाले कलर्स स्कैल्प में इन्फेक्शन का कारण भी बन जाते हैं। इसलिए हमेशा अमोनिया फ्री कलर्स का ही इस्तेमाल करना चाहिए।

 

अमोनिया फ्री शैम्पू के फायदे – Benefits of Ammonia Free Shampoo In Hindi

Benefits of Ammonia Free Shampoo

अमोनिया फ्री शैम्पू के फायदे ही फायदे हैं। ये शैम्पू थोड़े महंगे ज़रूर होते हैं लेकिन बालों को सुरक्षित भी रखते हैं। हालांकि कई अमोनिया फ्री शैम्पू बजट में भी हैं।
1. स्कैल्प हेल्दी रहेगी और कभी भी ड्राय नहीं होगी।
2. स्कैल्प हेल्दी होने पर बालों का टेक्स्चर बेहतर होगा और बाल अच्छी क्वॉलिटी के हो जाएंगे।
3. इसका इस्तेमाल करने से बालों का टेक्स्चर बेहतर होगा और उनके ड्राय, ऑयली, रूखे और बेजान होने की दिक्कतें खत्म हो जाएंगी।
4. बालों में शाइन आएगी और वो सिल्की एंड स्मूद हो जाएंगे। 
5. बालों का टूटना भी कम हो जाएगा क्योंकि स्कैल्प हेल्दी होगी तो बालों में मज़बूती अपने आप आ जाएगी।
6. बालों का उलझना कम हो जाएगा। जिन लोगों के बाल बहुत उलझते हैं, उनके लिए अमोनिया फ्री शैम्पू बेस्ट हैं।

बालों के लिए बेस्ट अमोनिया फ्री शैम्पू कौन से हैं? – List of Best Ammonia Free Shampoos

अमोनिया फ्री शैम्पू का लंबा इस्तेमाल बालों को हेल्दी बनाए रखता है। फायदे के लिए अपने पसंदीदा शैम्पू को लंबे समय तक इस्तेमाल करें।

1. खादी मौरी हर्बल ऐलोवेरा शैम्पू

यह शैम्पू एंटी बैक्टीरियल और एंटीफंगल है, जिससे स्कैल्प हेल्दी बनती है। यह खुजली और डैंड्रफ जैसी स्कैल्प से जुड़ी परेशानियों से आराम दिलाता है। 

2. बॉडी शॉप रेनफॉरेस्ट शाइन शैम्पू

ड्राय बालों के लिए यह शैम्पू बेस्ट है। ये आपको बालों को सॉफ्ट बनाता है। 

3. वेला एलिमेंट्स रिन्यूइंग शैम्पू

यह सल्फेट फ्री शैम्पू बालों को नरिश करता है और एंड्स का रूखापन दूर करता है। यह बालों की उलझन को भी दूर करता है।

4. बायोटेक बायो ग्रीन एप्पल फ्रेश डेली प्यूरिफाइंग शैम्पू

ऑयली बालों के लिए यह शैम्पू बेस्ट है। (balo ke liye best shampoo) सल्फेट-फ्री शैम्पू स्कैल्प से ऑयल हटाकर बालों में वॉल्यूम लाता है।

5. ममाअर्थ हैप्पी हेड्स शैम्पू

यह शैम्पू हेयरफॉल को रोक स्कैल्प के खुरदुरेपन को दूर करता है। इसमें मौजूद नैचुरल ऑयल्स बालों को जड़ से नरिश कर उन्हें मुलायम बनाए रखते हैं।

अमोनिया फ्री कलर के फायदे – Benefits of Ammonia Free Colour in Hindi

Benefits of Ammonia Free Colour

हेयर कलर लगाने के बाद कई लोगों को बालों से जुड़ी बहुत सी परेशानियां होने लगती हैं। अमोनिया फ्री कलर इन सब दिक्कतों से छुटकारा दिला देते हैं।
1. कई लोगों को कलर लगाने के बाद बालों की जड़ों में खुजली होती है, अमोनिया फ्री शैम्पू से ऐसा नहीं होता।
2. अमोनिया फ्री कलर से बालों का टेक्स्चर खराब नहीं होता।
3. अमोनिया फ्री कलर से बाल कमज़ोर नहीं होते, बल्कि उनमें मज़बूती आती है।
4. कलर से कई लोगों के बाल गिरने लग जाते हैं, जबकि अमोनिया फ्री कलर से बाल कम झड़ते हैं।
5. अमोनिया फ्री कलर का रंग जाने के बाद भी बाल ड्राय नहीं रहते।
6. बालों को अमोनिया फ्री कलर्स से कलर करने से स्पिल्ट एंड्स धीरे-धीरे खत्म हो जाते हैं। 

बालों के लिए बेस्ट अमोनिया फ्री कलर कौन से हैं? – List of Best Ammonia Free Hair Colours

अगर आपका सवाल है कि सबसे अच्छा हेयर कलर कौन सा है (sabse accha hair colour konsa hai) तो हम आपको बतादें कि मार्केट में बहुत से अमोनिया फ्री कलर्स मौजूद हैं। उनमें से 10 बेस्ट हेयर कलर्स को यहां दिखाया जा रहा है। लेकिन अपना पसंदीदा कलर लगाने से पहले टेस्ट सैम्पल को ट्राय ज़रूर कर लें।

1. लॉरिएल इनोआ अमोनिया फ्री परमानेंट कलर

यह कलर सफेद हुए बालों को काला कर उन्हें सॉफ्ट बनाता है। इस कलर से बालों में शाइन आ जाती है।

2. गार्नियर ओलिइया ब्रिलिएंट कलर

इस कलर में मौजूद 60% तेल बालों को नरिश करने का काम करता है। इस वजह से यह बालों को कलर देने के साथ-साथ उन्हें रूखा नहीं करता। गार्नियर के पास ओलिइया ब्रिलिएंट हेयर कलर के 34 शेड्स मौजूद हैं।

3. बीब्लंट सैलॉन सीक्रेट हाई शाइन हेयर कलर

यह अमोनिया फ्री है लेकिन इसमें केमिकल्स भी हैं। हालांकि बीब्लंट हाई शाइन कलर लॉन्ग लास्टिंग है और यह आपके सारे सफेद बाल छुपा देता है।

4. रेवलॉन टॉप स्पीड हेयर कलर

बालों के लिए रेवलॉन अमोनिया फ्री हेयर कलर भी बेस्ट है। इस हेयर कलर का कोई साइड इफेक्ट नहीं है। यह आपके बालों को सॉफ्ट बनाता है।

5. वेजेटल बायो हेयर कलर

वेजेटल बायो कलर 100 प्रतिशत नैचुरल है। यह बालों को टूटने से रोकता है और इस कलर का कोई भी साइड इफेक्ट नहीं है। 

अमोनिया फ्री शैम्पू और कलर से जुड़े सवाल और उनके जवाब – FAQ’S

Best Ammonia Free Hair Colours

आज भी मार्केट में अमोनिया फ्री हेयर कलर शैम्पू (shampoo hair colour) इतने पॉपुलर नहीं हैं और महंगे भी हैं। हालांकि जानकार लोग अमोनिया फ्री प्रोडक्ट्स का ही इस्तेमाल करते हैं।
हेयर कलर सैम्पल ट्राय करना चाहिए या नहीं?

पहली बार कोई भी हेयर कलर ट्राय करें तो उसे टेस्ट ज़रूर कर लें क्योंकि सभी हेयर कलर्स हर किसी को सूट नहीं करते।

बालों को कितना नुकसान पहुंचाता है अमोनिया?

अमोनिया शैम्पू में हो या कलर्स में, यह बालों के क्यूटिकल्स को डैमेज कर उन्हें ड्राय, डल और रूखा बनाता है।

क्या अमोनिया स्किन को नुकसान पहुंचाता है?

सिर पर शैम्पू और कलर लगाते वक्त अमोनिया आंखों और चेहरे के कॉन्टैक्ट में आता है, जो अंधेपन और स्किन पर रैशेज़ का भी कारण बन सकता है।

क्या अमोनिया से कोई मर सकता है?

रिसर्च के मुताबिक, अगर अमोनिया स्किन पर लग जाये तो जलन होगी और अगर शरीर के अंदर चला जाए तो यह लंग्स को डैमेज कर मौत का कारण भी बन सकता है। अमोनिया की ज्यादा मात्रा में ही ऐसा हो सकता है।

क्या सल्फेट और अमोनिया में कोई फर्क है?

अमोनिया और सल्फेट दोनों का इस्तेमाल लिक्विड फर्टिलाइज़र बनाने के लिए किया जाता है। इसलिए हमेशा अमोनिया और सल्फेट फ्री शैम्पू और कलर का इस्तेमाल करें।

क्या आंखों का मरीज़ हेयर कलर का इस्तेमाल कर सकता है?

जो अमोनिया फ्री हेयर कलर शख्स को सूट करता है, उसे बेहद सावधानी से आंखों से बचाकर लगाएं। जलन या दिक्कत होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

अमोनिया सिर्फ शैम्पू या हेयर कलर्स में ही होता है?

अमोनिया ब्यूटी एंड मेकअप प्रोडक्ट्स में भी होता है। इसलिए कुछ भी खरीदने से पहले सामान में मौजूद इंग्रीडिएंट्स को पढ़ लें।

MEA, DEA और TEA क्या हैं?

मेकअप प्रोडक्ट्स में अगर (Monoethanolamine (मोनोएथानोलमाइन यानी MEA), Diethanolamine (डिएथानोलमाइन यानी DEA) & Triethanolamine (ट्रिएथानोलमाइन))। इनमें से किसी का भी जिक्र हो तो मतलब उस प्रोडक्ट में अमोनिया है।

अमोनिया फ्री प्रोडक्ट्स का लगातार इस्तेमाल करने पर कोई नुकसान?

अमोनिया फ्री शैम्पू और हेयर कलर्स का कोई नुकसान नहीं होता, बल्कि बाल दिन-ब-दिन हेल्दी होते जाते हैं। लेकिन अमोनिया फ्री शैम्पू या हेयर कलर का इस्तेमाल करने से पहले उसे स्किन पर लगाकर ट्राय कर लें। कई बार कुछ प्रोडक्ट्स सूट नहीं करते और उनके नुकसान बाद में नज़र आते हैं।

अधिक पढ़ें –

Safed Balo ko Kala Karne ke Upay

.. अब आयेगा अपना वाला खास फील क्योंकि Popxo आ गया है 6 भाषाओं में … तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा – अंग्रेजीहिन्दीतमिलतेलुगूबांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।

26 Aug 2019

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text