कॉफी पीने के फायदे और नुकसान - Coffee Peene ke Fayde or Nuksan

कॉफी पीने के फायदे, Coffee Peene ke Fayde, Coffee benefits in hindi

कॉफी हम में से कई लोगों की करीबी दोस्त है। आपने अब तक कॉफी के बारे में कई अच्छी और बुरी बातें सुनी होंगी। दुनिया भर में कॉफी उत्पादकों को प्रोत्साहित करने के लिए हर साल 1 अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय कॉफी दिवस के रूप में मनाया जाता है। कुछ समय पहले तक, कॉफी को एक हाई क्लास ड्रिंक (coffee ke fayde in hindi) माना जाता था लेकिन अब इसकी बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए आप देख सकते हैं कि कॉफी हर घर में पहुंच चुकी है। अब लोगों के पसंद और मूड के अनुसार तरह-तरह के कॉफी के प्रकार बाजार में उपलब्ध हैं। द हेल्थ साइट के अनुसार, कॉफी की खपत के आंकड़े बताते हैं कि सबसे ज्यादा कॉफी पीने वालों की संख्या संयुक्त राज्य अमेरिका में है। कॉफी मूल रूप से अफ्रीका में इथियोपिया और सूडान में पाई जाती थी। लेकिन अब ये मेडागास्कर और मॉरीशस जैसे क्षेत्रों में भी उगाई जाने लगी है। भारत में केरल, कर्नाटक जैसे स्थानों में भी, आप कॉफी की फसल देख सकते हैं।

कॉफी स्वाद में जितनी टेस्टी होती है उतने ही इसके फायदे होते हैं। कॉफी पाउडर कॉफी के पेड़ के बीज को रोस्ट कर और इसके बाद पीस कर बनाया जाता है। कॉफी आपके शरीर और आपकी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। कॉफी में एंटीऑक्सीडेंट होने के कारण यह वजन घटाने के लिए भी फायदेमंद है। यहां तक की कुछ बीमारियों से उबरने में कॉफी पीने के फायदे नोटिस किये गये हैं। इसीलिए यहां हम आपको कॉफी के लाभ (coffee peene ke fayde) यानि कि कॉफी पीने के फायदे और नुकासन (coffee ke fayde aur nuksan) दोनों के बारे में विस्तार पूर्वक बतायेंगे।

Table of Contents

    कॉफी पीने के लाभ - Coffee Benefits in Hindi

    कॉफी के बारे में हुई एक रिसर्च में ये सामने आई है कि सुबह कॉफी पीने के फायदे ही फायदे हैं फिर चाहे कैफीन युक्त कॉफी हो या कैफीन रहित। इसके सेवन से बड़ी से बड़ी बीमारियों का खतरा कम होता है, लेकिन एक सीमित मात्रा में इसका उपयोग करना ही फायदेमंद (coffee ke fayde in hindi) रहता है। यह समय-समय पर कई शोधों से सिद्ध हो चुका है। इसके अलावा, कई स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, कॉफी का नियमित सेवन स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है। दरअसल, कॉफी में कैफीन पाया जाता है जोकि थकावट और आलस को दूर करने में एंटीऑक्सीडेंट (coffee peene se kya hota hai) की तरह काम करता है। जी हां, कॉफी का सेवन कई गंभीर बीमारियों से बचाता है। ये हैं कॉफी पीने के फायदे (coffee benefits in hindi) -

    एनर्जी ड्रिंक के तौर पर कॉफी पीने के फायदे

    कॉफी शरीर के लिए एनर्जी ड्रिंक का भी काम करती है। दरअसल, कॉफी में मौजूद कैफीन की वजह से ब्लड में फैटी एसिड बनता है। जो कि मेहनत वाले काम करने वाले इंसान के स्टैमिना को बढ़ाने में मदद करता है

    डायबिटीज़ में फायदेमंद है कॉफी का सेवन

    एक्सपर्ट बताते हैं कि अगर आप रोजाना 2 से 3 कप कॉफी बिना शुगर के पीते हैं तो डायबिटीज़ होने का खतरा 50 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है। यही नहीं कॉफी से टाइप- 2 डायबिटीज़ का खतरा भी कम होता है।

    लीवर संबंधित रोगों के लिए उपयोगी

    लीवर संबंधी बीमारियों में भी कॉफी का सेवन फायदेमंद (coffee peene ke fayde) होता है। शोध से पता चला है कि कॉफी के नियमित सेवन से लीवर की बीमारी का खतरा कम होता है। दिन में लगभग दो से तीन गिलास बिना चीनी की कॉफी पीने से लीवर संबंधी बीमारियों से बचाव होता है। सबसे जरूरी है कि कॉफी को ठंडा न पिएं। ब्लैक कॉफी को गर्मागर्म पीना ज्यादा फायदेमंद (kofi pine ke fayde) होता है।

    अस्थमा में भी है लाभदायक कॉफी

    अस्थमा जैसी बीमारी में कॉफी काफी फायदेमंद साबित होती है। क्योंकि कॉफी में पाई जाने वाली कैफीन और थियोफायलीन नाम की दवाइयां अस्थमा से ग्रस्त मरीजों को सांस ठीक से लेने में मदद करती है।

    दिल की बीमारी के लिए कॉफी के फायदे

    कॉफी दिल की बीमारी के लिए बहुत ही फायदेमंद होती है। नियमित रूप से कॉफी पीने वाले लोगों में स्ट्रोक होने का खतरा कम कर सकता है। कुछ शोधों में ये बात सामने आई है कि जो लोग दिन में 3 बार कॉफी का सेवन करते हैं उन्हें दिल से संबंधित बीमारी होने का खतरा 22 फीसदी तक कम हो जाता है।

    कॉफी के फायदे डिप्रेशन के लिए

    आज के समय में हर दूसरा इंसान तनाव और डिप्रेशन के चंगुल में है। कोई अपनी शादी को लेकर टेंशन में है तो कोई अपने करियर को लेकर। कोई ऑफिस में बॉस के बर्ताव से परेशान है तो कोई घर में हो रहे रोज- रोज के लड़ाई- झगड़ों से। ऐसे में इस तनाव से बचने के लिए लोग कॉफी का सहारा लेते हैं। ये शरीर सिर्फ तरोताजा ही नहीं रखता, बल्कि याददाश्त मजबूत करने के साथ- साथ स्ट्रेस लेवल को भी कम करता है। सिओल नेशनल यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने चूहे पर प्रयोग करके पाया कि चूहे को देर तक जागती हालत में रखने के बाद जब उसे कॉफी सुंघाई गई तो दिमाग में उन प्रोटीन पर असर पड़ा जो तनाव के लिए जिम्मेदार होते हैं। सिर्फ तनाव ही नहीं, नींद पूरी न होने पर होने वाली थकावट भी कॉफी से दूर होती है।

    वेट लॉस के लिए कॉफी के फायदे

    कॉफी के एक नहीं बल्कि कई फायदे हैं जिसमें से एक है वेट लॉस। जी हां, कॉफी का सेवन करने से शरीर में जमा एक्सट्रा चर्बी भी मक्खन की तरह पिघलती है। खास तौर पर ब्लैक और ग्रीन कॉफी वजन कम करने में काफी असरदार हैं। दरअसल, ग्रीन कॉफी फैट बर्न सप्लीमेंट के तौर पर जानी जाती है। इसे पीने से आप 1 महीने में 10 से 15 किलो तक वजन कम कर सकते हैं। दरअसल, ग्रीन कॉफी बीन्स कच्चे होते हैं क्योंकि इन्हें भूना नहीं जाता है। क्योंकि बींस भुनने से इसमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट और कई पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं। इसीलिए वेट लॉस में नॉर्मल कॉफी की तुलना में ग्रीन कॉफी ज्यादा असरदार (coffee benefits in hindi) होती है। इसके सेवन से शरीर का मेटाबॉलिज़्म अच्छा होता है और शरीर में जमा एक्स्ट्रा फैट बर्न होने लगता है।
    ऐसे बनाएं वेट लॉस कॉफी ड्रिंक
    इसके लिए चाहिए आपको ग्रीन या नॉर्मल कॉफी पाउडर, एक चम्मच कोकोआ पाउडर, आधा चम्मच शहद और एक चम्मच दालचीनी। अब जब भी आप कॉफी बनाएं तो इस सारी सामग्री के मिक्स वाला कॉफी पाउडर डालकर सामान्य तरह से ही कॉफी बनाएं। ये मोटापा दूर करने में बेहद असरदार है।

    नर्वस सिस्टम से जुड़ी बीमारियों में कारगर

    कॉफी पीने से नर्वस सिस्टम से जुड़ी बीमारियों का खतरा कम होता है। कॉफी में कैफीन की मात्रा अधिक होती है। जो नर्वस सिस्टम के लिए फायदेमंद होता है। तंत्रिका तंत्र जितना बेहतर होगा, मोटापे का खतरा उतना ही कम होगा।
    (नोट: ऊपर दिये गये सभी कॉफी के फायदे (coffee ke fayde in hindi) केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए हैं। हम इनके फायदों का कोई दावा नहीं करते हैं। क्योंकि सभी की अलग-अलग शारीरिक क्षमताएं होती हैं और सहन करने की ताकत भी।  साथ ही, किसी भी चीज की तरह कॉफी की भी ओवरडोज स्वास्थ्य के लिए खतरनाक हो सकती है। इसलिए, कोई भी कार्रवाई करने से पहले किसी विशेषज्ञ से परामर्श करना उचित होगा।)

    कॉफी पीने के नुकसान - Coffee Peene ke Nuksan

    जैसा कि आपको पता है कि किसी भी चीज की अति नुकसानदेह साबित होती है, वैसा ही कॉफी के सेवन के साथ भी है। अगर इसका सेवन सीमित मात्रा से अधिक किया जा रहा है तो इसके फायदे, नुकसान (coffee ke fayde aur nuksan) में बदलते देर नहीं लगेगी। तो आइए जानते हैं कॉफी का सेवन करने से होने वाले नुकसान (coffee peene ke nuksan) के बारे में -

    • कॉफी में कैफीन की मात्रा ज्यादा (coffee me kya paya jata hai) होती है जिससे नींद छूमंतर हो जाती है।
    • ज्यादा कॉफी पीने से यह एक लत की तरह लग जाती है, जिसे छोड़ पाना काफी मुश्किल हो जाता है।
    • कहते हैं कि जरूरत से ज्यादा कॉफी पीने से व्यक्ति को कैंसर जैसी घातक बीमारी का सामना कर पाना मुश्किल हो जाता है।
    • अगर कोई व्यक्ति कॉफी पीने के साथ ही शराब व धूम्रपान भी करता है तो ये उन्हें शारीरिक समस्याएं भी हो सकती हैं।
    • अगर आपको कॉफी पीना पसंद है तो दिन में चार कप से ज्यादा कॉफी न पिएं, ये आपकी सेहत पर बुरा असर डाल सकती है।
    • कॉफी का ज्यादा सेवन शरीर की नसों को कमजोर करता है, जिससे घबराहट, शरीर में कंपकंपी और निराशा जैसी समस्याएं उत्पन्न हो जाती है।
    • प्रेगनेंट महिलाओं को दो कप से ज्यादा चाय-कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे गर्भपात होने का खतरा बढ़ जाता है।
    • ज्यादा कॉफी पीने आपकी हड्डियों को कमजोर कर देता है। अधिक मात्रा में कैफीन लेने से हड्डियां पतली होने लगती हैं। साथ ही ऑस्टियोपेरोसिस होने का खतरा भी बढ़ जाता है। 

    कॉफी के फायदे और नुकसान से जुड़े सवाल-जवाब FAQs

    कॉफी किस चीज से बनती है?

    बाजार में कई तरह की कॉफी मिलती है और सभी अलग-अलग तरह से बनती हैं। आमतौर पर कॉफ़ी के पेड़ के भुने हुए बीजों से ये बनाई जाती है। इसके अलावा इन बीजों को हाथी और सिवेट बिल्ली को खिलाकर उनके मल से अलग कर लिया जाता है और फिर इसे धोकर भून कर बाजार में बेचने के लिए भेज दिया जाता है।

    सबसे महंगी कॉफी कौन सी है?

    दुनिया की 5 सबसे महंगी कॉफी में है 'सिवेट'। अब भारत के कर्नाटक के कुर्ग जिले में इसका उत्पादन हो रहा है। खास बात यह है कि सिवेट बिल्ली के मल (पूप) से बनती है। जी हां, बाज़ार में सिवेट काफी की कीमत 20-25 हजार रुपये किलो है। वहीं एक कप की कीमत- 2500-4500 रुपए के बीच है।

    क्या कॉफी पीने से गैस बनती है?

    दरअसल, कॉफी में कैफीन और एसिड पाया जाता है। अगर खाली पेट या फिर फॉफी का ज्यादा मात्रा में सेवन (coffee peene se kya hota hai) करने से बदहजमी या गैस की समस्या हो सकती है। वहीं अगर आप कॉफी पीने से पहले आगर आप एक गिलास पानी पीते है तो यह हमारे पेट में एसिड की मात्रा को कम कर देता है।

    ज्यादा कॉफी पीने से कौन सी बीमारी होती है?

    कॉफी का बहुत अधिक सेवन दिल संबंधी बीमारियों को भी बढ़ा सकता है। इसके अलावा इसके ज्यादा सेवन से हड्डियां भी कमजोर होने लगती हैं। साथ ही ऑस्टियोपेरोसिस होने का खतरा (coffee ke fayde aur nuksan) भी बढ़ जाता है।

    क्या प्रेगनेंसी में कॉफी पीना चाहिए?

    ज्यादातर डॉक्टर प्रेगनेंसी के दौरान चाय और कॉफी पीने की लिए मना करता हैं। क्योंकि इसमें बहुत ज्यादा कैफीन होता है जोकि गर्भपात के खतरे को बढ़ा सकता है।

    Beauty

    WIPEOUT HEAD TO TOE KIT

    INR 701 AT MyGlamm