home / Vastu
जानिए वास्तु के अनुसार घर के बेडरूम से लेकर बाथरूम तक कहां और कैसे लगा होना चाहिए आईना

जानिए वास्तु के अनुसार घर के बेडरूम से लेकर बाथरूम तक कहां और कैसे लगा होना चाहिए आईना

आईने के बिना अच्छे से सजने-संवारने की कल्पना भी नहीं की जा सकती। दिनभर में कितनी ही बार आप खुद को देखने के लिए दर्पण का उपयोग करते हैं। बिना शीशे के घर मिलना मुश्किल है। कुछ लोगों को खुद को बार-बार आईने में देखने की आदत होती है। इसलिए वे घर के हर कमरे में शीशा लगा लेते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं वास्तु की दृष्टि से भी घर में आईने का अहम रोल होता है।

वास्तु के अनुसार घर में शीशा कहां लगाना चाहिए? vastu shastra tips for placing mirrors in your house in hindi

घर की किस दिशा में, किस आकृति का दर्पण लगा है इसका आपके घर और वहां की आस-पास की एनर्जी पर अच्छा ख़ासा प्रभाव पड़ता है। घर में शीशा सही जगह लगाना बहुत जरूरी है। कुछ लोग शायद इस पर विश्वास न करें। लेकिन वास्तु के अनुसार ये चीजें हमारे जीवन को बहुत प्रभावित करती हैं। दर्पण के बारे में बहुत सी बातें वैज्ञानिक रूप से सिद्ध हो चुकी हैं। अगर आप इसे घर में सही जगह और सही दिशा में लगाते हैं, तो आपको निश्चित रूप से लाभ मिलेगा। लेकिन अगर शीशे को सही जगह पर न रखा जाए तो आपको नुकसान हो सकता है। तो आइए जानते हैं वास्तु के अनुसार घर में शीशा कहां और कैसा लगाएं ताकि गुडलक बरसे।

1. कमरे के दरवाजे के पीछे कभी भी शीशा नहीं लगाना चाहिए, लेकिन अगर दरवाजा उत्तर-पूर्व की ओर हो तो शीशा लगाया जा सकता है।

2. ऑफिस या घर में शीशा उत्तर-पूर्व दिशा में लगाना चाहिए। ऐसा करने से घर की आय में वृद्धि होती है।

3. घर में छोटी और संकरी जगह पर शीशा लगाना चाहिए। आपको फर्क जरूर महसूस होगा।

4. किसी शुभ वस्तु को शीशे के सामने रखें। जिसे आईने से देखा जाएगा। ऐसा करने से घर में सुख-शांति बनी रहती है।

5. शीशे को कभी भी खिड़की या दरवाजे के सामने नहीं रखना चाहिए।

6. शीशे को कभी भी एक-दूसरे के सामने एक कमरे में नहीं रखना चाहिए, क्योंकि इससे घर के सदस्यों के बीच कलह होने की संभावना रहती है।

7. दर्पण को घर की दीवार पर बहुत ऊंचा या बहुत नीचा नहीं रखना चाहिए। नहीं तो परिवार के सदस्यों को शारीरिक कष्ट का सामना करना पड़ता है।

8. आईने को हमेशा साफ रखें और घर में कभी भी टूटा हुआ आईना न रखें। क्योंकि टूटा हुआ दर्पण घर में नकारात्मक ऊर्जा पैदा करता है।

सुबह उठते ही कभी भी शीशा न देखें

घर में दर्पण की स्थिति के साथ-साथ यह भी कहा जाता है कि सुबह उठने के बाद कभी भी शीशा नहीं देखना चाहिए। लेकिन हम में से कई लोगों को सुबह सबसे पहले शीशा देखने की आदत होती है। क्योंकि वास्तु शास्त्र के अनुसार यह आपको नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है। 

चेहरा धोने के बाद देखें आईना

वास्तु शास्त्र के अनुसार जब व्यक्ति जागता है तो उसके शरीर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रभाव होता है और इस नकारात्मक ऊर्जा का सबसे अधिक प्रभाव चेहरे पर पड़ता है। ऐसे में अगर आप सुबह उठकर आईने को देखेंगे तो वह नकारात्मक ऊर्जा फिर से आप में प्रवेश करेगी। इसलिए हमेशा अपना चेहरा धोने के बाद आईने को देखें।

वास्तु के अनुसार अगर लगवायेंगे घर की नेम प्लेट तो जरूर मिलेगा Name & Fame
वास्तु के अनुसार घर में ये 5 बदलाव करने से चमक जायेगी आपकी किस्मत
Vastu Tips : घर में मनी प्लांट का पौधा लगाया है तो भूलकर भी न करें ये गलतियां, हो सकती है धन की हानि

04 Nov 2022

Read More

read more articles like this

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text