home / Diet
प्रेग्नेंसी के दौरान गलती से न पिएं ये ‘ड्रिंक्स’, बच्चे को हो सकता है नुकसान

प्रेग्नेंसी के दौरान गलती से न पिएं ये ‘ड्रिंक्स’, बच्चे को हो सकता है नुकसान

प्रेग्नेंसी के दौरान हर महिला को अपना ख्याल रखना बहुत जरूरी होता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इन नौं महीनों के दौरान गर्भवती महिला द्वारा खाई जानी वाली हर चीज गर्भ में बच्चे के विकास को प्रभावित करता है। इसलिए महिलाओं को इन दिनों ज्यादा से ज्यादा हेल्दी और पौष्टिक भोजन करने की सलाह दी जाती है। हालांकि, प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, इस बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं होती है। खासतौर पर ड्रिंक्स को लेकर। क्योंकि फूड आइटम तो पता भी चल जाते हैं लेकिन ये नहीं पता होता है कि कौन-सी ड्रिंक पीनी चाहिए और कौन सी नहीं। तो आइए जानते हैं प्रेग्नेंसी में किस तरह की ड्रिंक्स का सेवन नहीं करना चाहिए।

प्रेग्नेंसी के दौरान भूलकर भी न पिएं ये ड्रिंक्स Drinks to Avoid during Pregnancy in Hindi

डाइट सोडा 

डाइट सोडा में कैफीन और सोडा की मात्रा अधिक होती है। इसमें चीनी भी होती है। जिसका शिशु पर विपरीत प्रभाव पड़ सकता है। इसलिए बेहतर होगा कि आप डाइट सोडा से प्रेग्‍नेंसी में दूर ही रहें।

अल्कोहल

गर्भावस्था के दौरान शराब का सेवन बच्चे के दिमाग को नुकसान पहुंचा सकता है। यह कुछ जन्मजात विकृतियों का कारण भी बन सकता है। स्टडीज़ और रिसर्च के अनुसार, जो महिलाएं प्रेगनेंसी में शराब का सेवन करती हैं, उनके बच्चे का बर्थ वेट बहुत कम होता है।

कोल्ड ड्रिंक्स

इस समय सभी प्रकार के सोडा, कोल्ड ड्रिंक, कैफीन युक्त ड्रिंक और एनर्जी ड्रिंक से बचना चाहिए। यदि आप इसका सेवन सीमित मात्रा में करती हैं तो यह सुरक्षित हैं, लेकिन इसके बावजूद भी यह आपके लिए बहुत अच्छा ऑप्शन नहीं है। सॉफ्ट ड्रिंक में सैकरीन नामक पदार्थ होता है जो प्‍लेसेंटा के जरिए शिशु तक पहुंच सकता है और उसके स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है।

ग्रीन टी

ग्रीन टी में कैफीन होता है जिसके कारण प्रेग्नेंसी के दौरान कम ग्रीन-टी पीनी चाहिए। 100 ग्राम ग्रीन टी में लगभग 17 मिग्रा कैफीन होता है इसलिए अधिक मात्रा में ग्रीन टी का सेवन नहीं करना चाहिए। सिर्फ ग्रीन टी ही नहीं, किसी भी प्रकार की हर्बल टी ज़्यादा मात्रा में पीने से रक्त कोशिकाओं के लिए आयरन का अवशोषण मुश्किल हो जाता है। इसके चलते हिमोग्लोबीन का उत्पादन नहीं हो पाता है और गर्भवती महिला को एनिमिया होने का खतरा बढ़ जाता है।

कॉफी

कॉफी में बहुत अधिक मात्रा में कैफीन होता है। यह अधिक नींद और अक्सर तनाव का कारण बनता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को भी कॉफी के सेवन से बचना चाहिए।

दूर्वा का रस 

दूर्वा जूस के कई शारीरिक फायदे हैं। बहुत से लोग हेल्दी और फिट रहने के लिए दूर्वा जूस का सेवन करते हैं। हालांकि इस जूस का सेवन गर्भवती महिलाओं को गलती से नहीं करना चाहिए। इस जूस में बड़ी संख्या में रोगाणु होते हैं जो बच्चे के विकास में खलन डाल सकते हैं।

ये भी पढ़ें –
प्रेग्नेंसी के दौरान त्वचा पर भूलकर भी ना करें इन चीजों का इस्तेमाल
डिलीवरी के बाद इस तरह करें त्वचा की देखभाल, नहीं होगी स्किन डल
एक्सपर्ट से जानिए प्रेगनेंसी के दौरान योग करना महिला और शिशु के लिए क्यों है फायदेमंद
प्रेगनेंसी के दौरान रखना है खुद को फिट, तो करें ये योगासन

22 Aug 2021

Read More

read more articles like this

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text