आखिर क्यों दूध खड़े होकर और पानी बैठकर ही पीना चाहिए? जानिए आयुर्वेद के अनुसार सही तरीका

पानी और दूध पीने का सही तरीका, What is the right way to drink milk and water according to Ayurveda in Hindi

अगर आपको दूध पीने के बाद हजम नहीं हो पाता है या फिर पेट फूलने लगता है तो आपकी इसे पीने का सही तरीका नहीं पता है। क्योंकि आयुर्वेद के अनुसार दूध पीने के कुछ नियम होते हैं, जिनका पालन करने से आपको दूध हजम हो जाएगा। इसी के साथ ही पानी पीने का भी एक तरीका होता है। 

आयुर्वेद के अनुसार जानिए पानी और दूध पीने का सही तरीका What is the right way to drink milk and water according to Ayurveda in Hindi

हमारे बड़े-बुजुर्ग हमेशा कहते आये हैं कि पानी बैठकर पियो नहीं तो घुटने खराब हो जायेंगे। लेकिन हम में से कई लोग इस बात को इग्नोर कर देते हैं और नतीजा बाद में कई समस्याएं लेकर आता है। पानी के तरह दूध पीने का भी एक नियम है। कहा जाता है कि पानी बैठकर और दूध हमेशा खड़े होकर पानी चाहिए तभी ये स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित होता है, सही तरीके से नहीं पीने पर तमाम तरह की दिक्कतें पैदा करने लगता है। तो आइए जानते हैं कि आयुर्वेद में दूध और पानी को पीने का क्या सही तरीका बताया गया है और इससे क्या फायदा होता है।

दूध खड़े होकर क्यों पीना चाहिए? Why Drink Milk in Standing Position

दूध हम रोज पीते हैं लेकिन हमेशा बैठकर, जबकि इसका सही तरीका है खड़े होकर पीना। आयुर्वेद में बताया गया है कि दूध ठंडा, वात और पित्‍त दोष को बैलेंस करने का काम करता है। जो लोग बैठकर दूध पीते हैं उन्हें हाजमे की दिक्कत रहती है। इसीलिए आयुर्वेद के अनुसार रात को सोने से पहले दूध पीने के लिए जरूरी है कि आप शाम के भोजन के दो घंटे बाद ही इसे हल्का गर्म करके पि‍एं और खड़े होकर ताकि आपको रात को दूध पीने का लाभ मिल सके। खड़े होकर दूध पीने से घुटने खराब नहीं होते हैं, मांसपेशियों के लिए फायदेमंद, कैंसर के खतरे को कम करता है, ह्वदय रोग व हाई ब्लड प्रेशर से सुरक्षा करता है साथ ही ये आपकी आंखों व स्किन के लिए भी गुणकारी होता है।

पानी बैठकर क्यों पीना चाहिए? Why Drink water in Sitting Position

आयुर्वेद के मुताबिक, जब हम खड़े होकर पानी पीते हैं तो, इससे हमारे पेट पर अधिक प्रेशर पड़ता है, क्योंकि खड़े होकर पानी पीने पर पानी सीधा इसोफेगस के जरिए जरिए प्रेशर के साथ पेट में तेजी से पहुंचता है. इससे पेट और पेट के आसपास की जगह और पाचन तंत्र को नुकसान पहुंचता है। इसके अलावा खड़े होकर पानी पीने से पड़ने वाले प्रेशर से शरीर के पूरे बायोलॉजिकल सिस्टम पर प्रभाव पड़ता है। इससे जोड़ों के दर्द की समस्या हो जाती है। अगर आप किसी को गट-गट करके पानी पीते हुए देखें तो उसे तुरंत टोक दें। क्योंकि इस तरह पानी पीने से शरीर को बहुत नुकसान होता है। इससे पेट में कई तरह की बीमारियां पैदा हो सकती हैं। बिना रुके पानी पीने से एसिडिटी, गैस, डकारें आने जैसी समस्या होने लगती है। पानी कभी भी खड़े होकर मत पिएं। हमेशा बैठकर ही पानी पीना चाहिए।

MYGLAMM के ये शनदार बेस्ट नैचुरल सैनिटाइजिंग प्रोडक्ट की मदद से घर के बाहर और अंदर दोनों ही जगह को रखें साफ और संक्रमण से सुरक्षित!

Beauty

Ultimate Germ Defence 35 Sanitizing Wipes + 30 Sanitizing Towels + 4 Moisturizing Hand Sanitizers

INR 999 AT MyGlamm