home / Care
महिलाओं में बाल झड़ने के कारण | Baal Jhadne ke Karan

पढ़िए महिलाओं में बाल झड़ने के कारण | Baal Jhadne ke Karan Mahilaon mai

लड़कियों और महिलाओं के लिए उनके बाल सबसे ज्यादा कीमती चीज़ होते हैं। जैसे-जैसे बाल झड़ते हैं, उनकी चिंता भी बढ़ती चली जाती है। हो भी क्यों न, बालों की खूबसूरती महिलाओं के पूरे व्यक्तित्व पर चार-चांद जो लगा देती हैं। बालों का झड़ना किसी को पसंद नहीं होता, लेकिन अगर प्रतिदिन 125 से अधिक बाल झड़ रहे हैं, तो संभावना है कि आपको बालों के झड़ने की समस्या से दो-चार होना पड़ रहा है। ऐसे में आपको किसी अच्छे त्वचा विशेषज्ञ को देखने की आवश्यकता है। अब अगर आप ये सोच रही हैं कि बालो का झड़ना कैसे रोके How to Stop Hair Fall in Hindi तो हम आपको बता दें कि आप योग (Yoga for Hair Fall Control in Hindi) के ज़रिए भी बालों का झड़ना रोक सकती हैं। मगर इससे पहले आपको जानिए बालों के झड़ने और पतला होने के बीच का अंतर पता होना बेहद ज़रूरी है। आप चाहें तो बालों का झड़ना रोकने के लिए Best Anti Hair Fall Shampoo in Hindi का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। मगर इन सब से पहले जान लीजिए महिलाओं में बाल झड़ने के कारण (baal jhadne ke karan)। 

1- आनुवंशिकी है महिलाओं में बाल झड़ने का कारण 

जब हम वंशानुगत बालों के झड़ने के बारे में बात करते हैं तो अक्सर पुरुषों के गंजेपन पर हमारा ध्यान जाता है। जबकि सभी लिंगों के लोग वंशानुगत बालों के झड़ने के लिए अतिसंवेदनशील हो सकते हैं। महिलाओं में बालों का झड़ना आमतौर पर सिर के बीच पर केंद्रित होता है, जबकि यह हेयरलाइन के साथ पुरुषों को प्रभावित करने की अधिक संभावना है। इस प्रकार के बालों के झड़ने को पूरी तरह से नहीं रोक सकते हैं। इसके लिए आप ट्रीटमेंट करा सकते हैं। आप जितनी जल्दी इलाज शुरू करें, उतना अच्छा है। अपने डॉक्टर से इस बारे में सलाह अवश्य लें कि आपके लिए कौन से उपचार विकल्प सर्वोत्तम हो सकते हैं।

2- हार्मोनल परिवर्तन और मेडिकल कंडीशंस महिलाओं में बाल झड़ने के कारण हैं

गर्भावस्था, प्रसव, रजोनिवृत्ति और थायराइड की समस्याओं के कारण हार्मोनल परिवर्तन सहित कई प्रकार की स्थितियां स्थायी या अस्थायी रूप से बाल झड़ने का कारण बन सकती हैं। चिकित्सीय स्थितियों में एलोपेसिया एरीटा शामिल है, जो प्रतिरक्षा प्रणाली से संबंधित है और बालों के झड़ने का कारण बनता है, स्कैल्प में दाद जैसे संक्रमण, और हेयर पुलिंग डिसऑर्डर जिसे ट्राइकोटिलोमेनिया कहा जाता है, भी महिलाओं में बाल झड़ने के कारण (hair fall reasons in female in hindi) बन सकते हैं। 

3- डिलीवरी भी है महिलाओं में बाल झड़ने का कारण 

गर्भावस्था के दौरान ज्यादातर लोग अपने बालों को तेजी से बढ़ने की स्थिति में देखते हैं। वह तब होता है जब सब कुछ बढ़ने के चरण में होता है, क्योंकि हार्मोन की वृद्धि होती है, जो बालों को विकसित करती है। इस दौरान आप अच्छा आहार भी ले रहे होते हैं, जिस वजह से बाल लंबे और घने होते हैं। मगर एक बार जब एस्ट्रोजन का स्तर डिलीवरी के बाद सामान्य हो जाता है, तो बाल अपने सामान्य विकास चक्र को फिर से शुरू कर देते हैं और पिछले 10 महीनों में जमा हुए लंबे और घने बालों को छोड़ना शुरू कर देते हैं। कुछ महिलाओं को बहुत हल्के हेयर फॉल का अनुभव होता है, लेकिन अन्य को कुछ महीनों के लिए तेज़ हेयर फॉल का अनुभव होता है।

4- न्यूट्रीशन की कमी है महिलाओं में बाल झड़ने के कारण 

स्वस्थ बाल बनाना और बनाए रखना ठोस पोषण प्राप्त करने पर निर्भर करता है।  कुछ विटामिन और खनिजों की कमी से भी महिलाओं में बाल पतले हो सकते हैं या बाल झड़ सकते हैं। कुछ त्वचा विशेषज्ञों का मानना है कि पर्याप्त रेड मीट नहीं खाने या शाकाहारी आहार का पालन करने से बालों का झड़ना प्रभावित हो सकता है। मासिक धर्म के दौरान खून की कमी के कारण महिलाओं में पहले से ही आयरन की कमी होने का खतरा होता है, इसलिए आहार में पर्याप्त आयरन न लेने से कमी हो सकती है। एनोरेक्सिया नर्वोसा जैसे खाने के विकार से भी विटामिन की कमी हो सकती है और बाल पतले हो सकते हैं। विशेष रूप से, बालों को प्रभावित करने वाली कमियों में जिंक, अमीनो एसिड एल-लाइसिन, बी -6 और बी -12 शामिल हैं।

5- चिंता भी है महिलाओं में बाल झड़ने का कारण 

जब आप किसी बड़ी स्ट्रेस में हों, जैसे जीवन-परिवर्तन, तलाक, परिवार में मृत्यु, एक महत्वपूर्ण नौकरी परिवर्तन, या एक बड़ा कदम, ऐसे में आप बाल झड़ने का अनुभव कर सकते हैं। स्ट्रेस महिलाओं में बाल झड़ने के कारण (baal jhadne ke karan) है। जब आपके पास ये स्थितियां होती हैं, तो आपका शरीर बालों के विकास को रोकता है, और फिर चीजें फिर से शुरू हो जाती हैं और रुके हुए सभी बाल एक ही समय में झड़ने लगते लगते हैं। यही बात शारीरिक तनाव और आघात के साथ भी हो सकती है, जैसे कि एक बड़ा ऑपरेशन करना, अस्पताल में भर्ती होना, या बहुत जल्दी वजन कम करना। आमतौर पर इस प्रकार के बालों का झड़ना अस्थायी होता है। लेकिन अगर यह आपको परेशान करता है, तो लाइफस्टाइल में बदलाव करके इसे कम किया जा सकता है। 

Mahilo mei Baal Jhadne ke Anuvansik Karan
महिलाओं में बाल झड़ने का कारण

6- दवाईंयां हैं महिलाओं में बाल झड़ने का कारण 

कुछ दवाएं बाल झड़ने का कारण भी बनती हैं। विशेष रूप से, जो उच्च रक्तचाप, कैंसर, गठिया और अवसाद जैसी बीमारियों के लिए डॉक्टर द्वारा सुझाई गई हों। अगर आपको लगता है कि आपकी दवा के कारण बाल झड़ रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें। कई मामलों में, इस प्रकार के बालों का झड़ना अस्थायी होता है। लेकिन अगर आपके बालों का झड़ना पुराना हो जाता है, तो आपका डॉक्टर एक अलग दवा लिख ​​सकता है जो इस दुष्प्रभाव का कारण नहीं बनती है और बालों का झड़ना कम कर सकती है। 

7- रूसी भी हो सकती है महिलाओं में बाल झड़ने का कारण 

डैंड्रफ की वजह से बाल झड़ते हैं। यह बालों के झड़ने का सबसे आसानी से इलाज किया जाने वाला कारण है। इसके लिए आप एक अच्छा एक शैम्पू और कंडीशनर ढूंढकर इस्तेमाल कर सकते हैं और डैंड्रफ को भगा सकते हैं। लेकिन अन्य स्थितियां भी खुजली और स्कैल्प के फड़कने का कारण बन सकती हैं, जिसमें सेबोरहाइक डर्मेटाइटिस (खमीर और तेल के निर्माण के कारण रूसी का अधिक गंभीर संस्करण) और सोरायसिस (एक ऑटोइम्यून स्थिति जो त्वचा के मोटे पैच का कारण बनती है) शामिल है। इन बीमारियों का इलाज करने में रूसी की तुलना में अधिक समय और प्रयास लग सकता है, इसलिए यदि आपको लगता है कि आप इनमें से किसी एक स्थिति से निपट रहे हैं तो त्वचा विशेषज्ञ से जांच करना महत्वपूर्ण है।

8- बालों को कसकर बांधे रखना महिलाओं में बाल झड़ने का कारण है

अगर आप हर समय बालों को कसकर बांधकर रखते हैं या फिर पोनीटेल बनाये रखती हैं तो अभी से सावधान हो जाएं और ऐसा करना बंद कर दें। इस तरह की हेयर स्टाइल भले ही दिखने में आकर्षक लगे लेकिन बालों के लिए ये बेहद नुकसानदायक होती है। यह हेयरलाइन के प्रगतिशील पतलेपन का कारण बन सकता है, और यदि आप इसे लंबे समय तक करते हैं, तो बालों का झड़ना वास्तव में स्थायी हो सकता है। इसे एक स्कारिंग प्रक्रिया माना जाता है, जो मरम्मत से परे बालों के रोम को नुकसान पहुंचा सकती है।

9- हीट स्टाइलिंग टूल भी है महिलाओं में बाल झड़ने का कारण

हेयर स्टाइलिंग टूल्स ज्यादातर हीट वाले ही होते हैं। स्कैल्प पर गर्म पानी हो या फिर हीटिंग टूल सभी कुछ नुकसानदायक होता है। आजकल की लाइफस्टाइल में अच्छा दिखने के लिए हम अक्सर हेयर स्टाइलिंग टूल्स का इस्तेमाल करते रहते है। खासतौर पर हेयर ड्रायर तो हमारी ज़िंदगी का खास हिस्सा बन चुका है। हीटिंग टूल्स का उपयोग करने और अत्यधिक ब्लीचिंग जैसी चीजों से बालों को थर्मल क्षति पहुंचती है और ये कमजोर होकर टूटने लगते हैं। इस मामले में जरूरी नहीं बाल जड़ से ही झड़ें ये बीच में से टूटकर भी गिर सकते हैं। 

10- जगह बदलना है महिलाओं में बाल झड़ने का कारण

आपने अक्सर लोगों को यह कहते सुना होगा कि पानी बदलने के कारण बाल झड़ने लगे हैं। यह वास्तव में सच होता है। महिलाओं में ज्यादातर ऐसा देखा गया है कि जगह बदलने के कारण या पानी बदलने के कारण उनके बाल झड़ते हैं। यहां तक कि मौसम बदलने के कारण भी बाल झड़ने लगते हैं। बाद में धीरे-धीरे जब बालों को उस जगह और पानी की आदत हो जाती है तो बाल झड़ना भी काम हो जाता है।  

महिलाओं के सिर के बाल क्यों झड़ते हैं? | Hair Fall Reasons in Female in Hindi 

 Hair Fall Reasons in Female in Hindi
महिलाओं के सिर के बाल क्यों झड़ते हैं?

ज्यादातर लोगों के हर दिन 50 से 100 बाल झड़ते हैं। खासकर जिस दिन बाल धोए जाते हैं, उस दिन लोग 250 स्ट्रैंड तक खो सकते हैं। लेकिन बालों को बनाए रखने के प्रयास में ऐसा न करें कि बाल धोना ही कम कर दें। इससे बालों में गंदगी जमा होना शुरू हो जाएगी। यह जानने के कई तरीके हैं कि बाल कब पतले हो रहे हैं या अधिक दर से झड़ रहे हैं। सुबह उठते समय आपके तकिये पर आमतौर पर बड़ी मात्रा में बाल हो सकते है। या फिर जब आप अपने बालों में कंघी करते हैं तो कंघी में सामान्य से अधिक बाल रह जाते हैं। मगर ऐसे में सवाल यह उठता है कि महिलाओं के बाल क्यों झड़ते हैं या फिर स हार्मोन की कमी से बाल झड़ते है तो हम आपको बता दें कि ऐसे बहुत सी वजह हैं, जो महिलाओं में बाल झड़ने के कारण बनती हैं। जैसे अनुवांशिकी, हार्मोनल बदलाव, न्यूट्रिशन में कमी आदि बाल झड़ने का कारण बनते हैं। 

कम उम्र में महिलाओं के सिर के बाल झड़ने के कारण | kam Umar mei Baal Jhadne ke Karan

कम उम्र में बाल झड़ने के कारण में से सबसे प्रमुख कारण है अनुवांशिकी। इस स्थिति को एंड्रोजेनिक खालित्य, पुरुष-पैटर्न गंजापन और महिला-पैटर्न गंजापन कहा जाता है। यह आमतौर पर धीरे-धीरे और अनुमानित पैटर्न में होता है – पुरुषों में एक घटती हुई हेयरलाइन और गंजे धब्बे और महिलाओं में स्कैल्प के बीचों-बीच बालों का पतला होना इसका सामान्य लक्षण है।

बालो का झड़ना कैसे रोके | How to Stop Hair Fall in Hindi 

अगर आप नोटिस कर रहे हैं कि आपके बाल पतले हो रहे हैं और झड़ने लगे हैं तो इसे बढ़ने से पहले ही इसका इलाज करना शुरू कर दीजिये। हम आपको ये तो बता दिया कि महिलाओं के सिर के बाल क्यों झड़ते हैं मगर अब ये जानना भी बेहद ज़रूरी है कि बालो का झड़ना कैसे रोके (how to stop hair fall in hindi) कुछ आसान तरीको के द्वारा आप बालों का झड़ना रोक सकते हैं। 

How to Stop Hair Fall in Hindi
बालो का झड़ना कैसे रोके

 1- बालों को कम या जरूरत से ज्यादा धोना दोनों ही आपके बालों के वॉल्यूम और फील को प्रभावित कर सकते हैं। पर्याप्त मात्रा में न धोने से उत्पाद और तेल का निर्माण होता है जो आपके बालों का वजन कम कर सकता है। लेकिन बार-बार धोने से बालों का प्राकृतिक तेल खत्म हो जाता है, जिससे बाल अधिक रूखे हो जाते हैं और टूटने का खतरा होता है। प्रति सप्ताह लगभग दो या तीन बार ही बाल धोएं। 

2- शैम्पू के बाद कंडीशनर लगाना न भूलें। यह आपके बालों को झड़ने से रोकने में काफी हद तक मददगार होता है। 

3- नारियल तेल की मालिश करें। नारियल का तेल बालों को संवारने और पराबैंगनी (यूवी) प्रकाश के संपर्क में आने से होने वाले नुकसान को रोकने में मदद कर सकता है। नारियल के तेल में पाया जाने वाला लॉरिक एसिड बालों में प्रोटीन को बांधने में मदद करता है, इसे जड़ और स्ट्रैंड में टूटने से बचाता है।

4- जैतून के तेल का उपयोग बालों को डीप कंडीशन करने, रूखेपन और संबंधित टूटने से बचाने के लिए किया जा सकता है। जैतून के तेल के दो बड़े चम्मच सीधे बालों में लगाएं और इसे धोने से पहले 30 मिनट तक लगा रहने दें।

5- तंग चोटी या पोनीटेल बनाने से बचें, जो बालों को जड़ से खींच सकती हैं और संभावित रूप से अत्यधिक झड़ने की ओर ले जाती हैं।

6- यदि आपके बाल रूखे और बेजान हो जाते हैं, तो कभी-कभार डीप-कंडीशनिंग मास्क का इस्तेमाल कर लेना चाहिए। ये आपके बालों को झड़ने से रोकता है। 

7- अंडे सल्फर, फॉस्फोरस, सेलेनियम, आयोडीन, जिंक और प्रोटीन से भरपूर होते हैं, जो एक साथ बालों के विकास को बढ़ावा देने में मदद करते हैं। इसका हेयर मास्क बनाने के लिए एक कटोरे में एक अंडे का सफेद भाग अलग करें और उसमें एक चम्मच जैतून का तेल और शहद मिलाएं। पेस्ट बनाने के लिए इसके अच्छे से मिक्स करें और इसे जड़ से सिरे तक सभी जगह लगाएं। 20 मिनट बाद माइल्ड शैंपू से धो लें।

8- बालों का झड़ना रोकने के लिए आपको अपने सही पोषक तत्व विशेष रूप से भरपूर मात्रा में प्रोटीन और आयरन लेने की आवश्यकता है।

9- संतुलित आहार खाने के साथ-साथ यह सुनिश्चित करें कि आप व्यायाम कर रहे हैं। बालों का झड़ना कम करने में योग और मेडिटेशन भी कारगर है।

10- तेल लगाने से रक्त संचार बेहतर होता है और जड़ों को पोषण मिलता है। सप्ताह में एक बार अपने सिर की त्वचा के अनुकूल तेल से बालों की मालिश अवश्य करें।

महिलाओं में बाल झड़ने के कारण से जुड़ें कुछ सवाल –  FAQ’s 

1- बहुत ज्यादा बाल झड़ने पर क्या करें?

जवाब- बहुत ज्यादा बाल झड़ने पर डाॅक्टर से परामर्श करें।

2- झड़ते बालों के लिए क्या खाना चाहिए?

जवाब- झड़ते बालों के लिए आयरन और जिंक से भरपूर आहार लें।

3- कौन से विटामिन की कमी से बाल झड़ते हैं?

जवाब- ज्यादातर मामलों में विटामिन बी की कमी से बाल झड़ते हैं।

4- किस उम्र में महिलाओं के बाल सबसे ज्यादा झड़ते है?

जवाब- 30 की उम्र के बाद सबसे ज्यादा बाल झड़ते हैं।

5- छोटी बच्चियों में हेरफॉल की समस्यां होती है क्या?

जवाब- नहीं, छोटी बच्चियों में हेरफॉल की समस्या नहीं होती है।

6- बालों झड़ने से रोकने के लिए एलोवेरा कैसे लगाएं?

जवाब- एलोवेरा का डंठल लें और उसका गूदा निकाल लें। इसे अपने बालों और स्कैल्प पर लगाएं और लगभग 45 मिनट के लिए छोड़ दें। बाद में सामान्य पानी से धो लें। 

अगर आपको यहां दिए गए महिलाओं में बाल झड़ने के कारण (hair fall reasons in female in hindi) और बालो का झड़ना कैसे रोके (how to stop hair fall in hindi) के उपाय पसंद आए तो इन्हें अपने दोस्तों व परिवारजनों के साथ शेयर करना न भूलें।

21 Sep 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text