home / लाइफस्टाइल
आंखों पर पड़ने वाले तनाव (Eye Strain) को कम करने के लिए अपनाएं ये Tips

आंखों पर पड़ने वाले तनाव (Eye Strain) को कम करने के लिए अपनाएं ये Tips

हम सबसे ज्यादा काम आंखों से लेते हैं पर उनकी सेहत के प्रति हमारी जागरुकता अक्सर कम होती है। लगातार मोबाइल, लैपटॉप और टीवी देखने से आंखों में खिंचाव यानि कि तनाव आ जाता है। लैपटॉप और मोबाइल पर काम करते समय आंखों पर दबाव महसूस होना आई स्ट्रेन का लक्षण है। ऐसे में ब्रेक लेना बहुत जरूरी है। हम दिन में लगभग 10 से 11 घंटे मोबाइल और लैपटॉप पर काम करते हुए बिताते हैं। इससे आपकी आंखें थक जाती हैं और उन्हें जब रेस्ट नहीं मिलता है तो इससे कई समस्याएं हो सकती हैं।

आंखों के तनाव को कम करने के टिप्स how to reduce or prevent eye strain tips in hindi

एक अध्ययन में पता चला है कि किसी को तनाव होने से उसमें ग्लूकोमा, डायबिटिक विजन लॉस होने लगता है। इसके अलावा तनाव से आखों में कई और समस्याओं का खतरा बढ़ जाता है। आज यहां हम आपको इसी समस्या को लेकर कुछ एक्सपर्ट टिप्स बता रहे हैं, जिससे ध्यान में रखकर फॉलो करने से आपकी आंखों पर पड़ने वाला तनाव दूर हो जायेगा। तो आइए जानते हैं आई स्ट्रेन को कैसे कम करें।

नींद अच्छे से पूरी करें

डॉक्टरों के अनुसार रात को अच्छी नींद लेने से आपकी आंखों की सूजन कम हो सकती है। सभी को रात में 8 से 9 घंटे की नींद लेनी चाहिए।

छोटे-छोटे ब्रेक लें

कोरोना की वजह से आज भी ज्यादातर लोग ऑफिस का काम घर से ही करते हैं। इससे इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के सामने लंबे समय तक काम करने की आदत भी बढ़ गई है। आराम करना जरूरी है ताकि ऑफिस में लगातार काम के तनाव के कारण आंखों पर ज्यादा जोर न पड़े।

कॉफी का सेवन बंद करें

काम की थकान दूर करने के लिए हम कॉफी पीते हैं। हालांकि, लगातार कॉफी का सेवन आपकी सेहत के लिए हानिकारक भी है। कॉफी नींद की कमी और निर्जलीकरण का कारण बन सकती है। जो आंखों के आसपास की सूजन को बढ़ाने में मदद करता है। सोने से 6 घंटे पहले कैफीन का सेवन बंद कर देना चाहिए। अगर आप सोने से पहले भी कॉफी पीते हैं, तो आपको सोने में परेशानी हो सकती है।

आंखों की एक्सरसाइज करें

शरीर के दूसरे अंगों के व्यायाम की तरह आंखों का व्यायाम जरूरी है। आंखों को आराम देने के लिए आई रोल, स्लो ब्लिंक, फोकस चेंज और क्लोज-ओपन वाली आई एक्सरसाइज जरूर करें।

काम का ज्यादा स्ट्रेस न लें

कोरोना ने ऑफिस में काम करने के बजाय घर से काम करके आपका स्क्रीन टाइम बढ़ा दिया है। हम अलग-अलग स्क्रीन जैसे लैपटॉप, फोन, टैबलेट पर काफी समय बिताते हैं। इससे आंखों की समस्या काफी बढ़ गई है। घर पर बैठे-बैठ काम करने से वजन तो बढ़ता ही है साथ थकान भी रहती है। तनाव जितना दिमाग को नुकसान पहुंचाता है उतना ही नुकसान ये शरीर को भी पहुंचाता है। सबसे अहम ये है कि तनाव आंखों की रोशनी भी छीन सकता है। इसीलिए स्वस्थ रहने के लिए रोजना सुबह और रात में डिनर करने के बाद 30 मिनट वॉक पर जरूर जायें।

ये भी पढ़ें –
Tips : अपनी आंखों को स्क्रीन की रौशनी से होने वाले साइड इफेक्ट्स से कैसे बचाएं
आंखों के पास जमा हुए कोलेस्ट्रॉल के निशान को कैसे दूर करें? जानें क्या है इसका सही इलाज
परफेक्ट आई मेकअप के लिए ये प्रोडक्ट्स करें ट्राई, आंखों के लिए हैं बिल्कुल सेफ

01 Dec 2021

Read More

read more articles like this

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text