home / ब्यूटी
आंखों के पास जमा हुए कोलेस्ट्रॉल के निशान को कैसे दूर करें? जानें क्या है इसका सही इलाज

आंखों के पास जमा हुए कोलेस्ट्रॉल के निशान को कैसे दूर करें? जानें क्या है इसका सही इलाज

जब शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने लगती है तो इसका असर सीधे आपके चेहरे पर साफ दिखाई देने लगते हैं। कोलेस्ट्रॉल जमा होने के कराण आंखों के ऊपर और नीचे सफेद उभरे हुए निशान पड़ जाते हैं। बहुत से लोग इन धब्बों को यह सोचकर अनदेखा कर देते हैं कि यह एक साधारण त्वचा रोग है। लेकिन आपको बता दें कि ये कोई चर्म रोग नहीं है। आंखों के आसपास छोटे-छोटे धब्बे बन जाना और सफेद बड़े पिंपल्स का दिखना शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ा होने का एक संकेत हैं। जैसे ही कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है, आंखों के आसपास की त्वचा पर फफोले जैसी पीली त्वचा बन जाती है। इसे जैंथेलाजमा (xanthelasma) भी कहा जाता है।

आंखों के आस-पास जमा कोलेस्ट्रॉल के निशान को कैसे दूर करें cholesterol deposits around eyes spot removing treatment in Hindi

आंखों के आस-पास इस तरह के निशान दिखना यानि कि कोलेस्ट्रॉल का जमा होना इस बात का संकेत हो सकता है कि किसी व्यक्ति को दिल का दौरा पड़ने का खतरा है। हालांकि यह पपड़ीदार त्वचा आपको नुकसान नहीं पहुंचाती है, लेकिन कई बार लोग चेहरे पर दाग-धब्बों की वजह से इसे हटाना चाहते हैं। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि ऐसे दागों को हटाने के लिए बहुत से लोग घरेलू नुस्खे ट्राई करते हैं, लेकिन स्किन स्पेशलिस्ट ऐसा करने की बिल्कुल भी सलाह नहीं देते हैं। तो आइए जानते हैं कि आंखों के पास जमा हुए कोलेस्ट्रॉल के निशान को हटाने के सही उपचार की विधियां क्या हैं –

Stock Image

फ्रिज थेरेपी

आजकल डॉक्टर क्रायोथेरेपी के जरिए जमा हुए कोलेस्ट्रॉल को हटा रहे हैं। यह त्वचा से दाग-धब्बों को दूर करने का एक आधुनिक तरीका है, जो बहुत ही सुरक्षित और दर्द रहित है। लेकिन ऐसा करने में विशेषज्ञों की राय को ध्यान में रखा जाना चाहिए। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि कई बार उपचार के बाद हाइपोपिगमेंटेशन के कारण त्वचा का रंग उस स्थान पर हल्का हो जाता है जहां कोलेस्ट्रॉल जमा हो जाता है, जिससे वह अलग दिखने लगता है।

इलेक्ट्रिक नीडल

आंखों के पास जमा हुए कोलेस्ट्रॉल को हटाने के लिए इलेक्ट्रिक नीडल एक नया तरीका है। इस उपचार को इलेक्ट्रोडेसीकरण कहा जाता है। इस उपचार में डॉक्टर गर्म सुई की मदद से त्वचा को जला देता है और अतिरिक्त हिस्सों को हटा देता है। हमारे शरीर की विशेषताओं में से एक यह है कि यह स्वयं की मरम्मत करता है। इसलिए इलेक्ट्रिक नीडल ट्रीटमेंट के बाद त्वचा जल्दी ठीक हो जाती है और पहले की तरह ही हो जाती है। लेकिन यह उपचार गहरे जमा कोलेस्ट्रॉल को नहीं हटाता है।

Stock Image

लेजर टेक्नीक

लेजर तकनीक की मदद से आंखों पर जमा कोलेस्ट्रॉल की इस परत को बहुत ही आसानी और बिना किसी पेन के हटाया जा सकता है। लेज़र द्वारा त्वचा की परत को हटाने के कुछ दिनों बाद नई त्वचा दिखाई देती है, जो पहले की तरह स्वस्थ होती है। त्वचा को ठीक होने में 1-2 सप्ताह लग सकते हैं। इसके लिए आपको किसी अच्छे त्वचा विशेषज्ञ से सलाह लेनी होगी। लेजर हटाना आजकल आम बात है और ये उपचार ज्यादातर जगहों पर उपलब्ध भी है और पूरी तरह से सुरक्षित भी।

सर्जरी

अगर कोलेस्ट्रॉल बहुत बढ़ा हुआ है और आंखों के पास मोटी सफेद परतें हैं तो ऐसे में लेजर तकनीक भी काम नहीं कर सकती है। ऐसे में आप सर्जरी करवा सकते हैं। लेकिन समस्या यह है कि कई बार सर्जरी के बाद कोलेस्ट्रॉल का स्टॉक निकल जाता है, लेकिन सर्जरी के निशान रह जाते हैं। कभी-कभी उपचार के दौरान स्किन टिशूज को गलत तरीके से जोड़ा जाता है। जिससे पलकें टेढ़ी हो सकती हैं और उनका आकार बिगड़ सकता है। लेकिन अगर आप किसी प्रोफेशनल सर्जन से सर्जरी करा रहे हैं तो ये रिस्क थोड़ा कम हो जाता है।

केमिकल पील्स

अगर आप लेजर ट्रीटमेंट या सर्जरी नहीं कराना चाहते हैं तो आप ऐसे कोलेस्ट्रॉल जमा को केमिकल पील्स की मदद से भी हटा सकते हैं। इस उपचार में इसे ट्राइक्लोरोएसेटिक एसिड की मदद से निकाला जाता है। लेकिन इस उपचार के साथ एक समस्या यह भी है कि जिस रोगी की त्वचा संवेदनशील होती है उस पर इन केमिकल्स का शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए इस उपचार पद्धति से जितना हो सके परहेज किया जाता है।

ये भी पढ़ें –

जानिए ड्राई स्किन की देखभाल के लिए घरेलू उपाय 

स्किन केयर प्रोडक्ट को सही क्रम में इस्तेमाल करने का तरीका 

जानिए ग्लोइंग स्किन कैसे पाएं

इन कोरियाई हेयर केयर टिप्स से रखें बालों का ध्यान 

POPxo की सलाह: MyGlamm की ग्लो स्किनकेयर रेंज के साथ रखें अपनी त्वचा का ख्याल।

13 Aug 2021

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text