Fitness

सेहत के लिए अदरक के फायदे ही नहीं जाने अदरक के नुकसान भी – Adrak ke Fayde

Neelam KothariNeelam Kothari  |  Sep 22, 2019
Adrak ke Fayde - अदरक के फायदे

दुनिया में सबसे ज्यादा उपजाए जाने वाले मसाले के रूप में अदरक बहुपयोगी औषधीय गुणों से भरपूर और पोषण की खान है। इसे विभिन्न तरीकों से उपयोग में लाया जा सकता है। (adrak ke fayde) अदरक में खून को पतला करने का नायाब गुण होता है। इसी वजह से यह ब्लड प्रेशर जैसी बीमारी तक में तुरंत लाभ पहुंचाने के लिए जाना जाता है।लगभग 100 से ज्यादा बीमारियों में इसका इस्तेमाल लाभकारी माना जाता है। कई लोकप्रिय व्‍यंजनों में स्‍वाद बढ़ाने के लिए प्रमुख सामग्री के रूप में अदरक का इस्‍तेमाल किया जाता है। अदरक से शरीर को एनर्जी और जोश मिलता है, इसीलिए अदरक का इस्‍तेमाल न सिर्फ खाने में, बल्कि और भी कई रूपों में किया जाता है।

                                                                                    उल्टी रोकने के उपाय

अदरक खाने के फायदे – Adrak Khane ke Fayde

इसमें कोई दो राय नहीं है कि अदरक खाने के फायदे (adrak khane ke fayde) अनेक हैं। एक ओर जहां अदरक स्वास्थ्य के लिए गुणकारी है, वहीं यह बालों और त्वचा पर भी चमत्कारी असर दिखाता है। हज़ारों सालों से आयुर्वेद, यूनानी और सिद्ध औषधि में चिकित्‍सकीय तत्‍व के रूप में अदरक का इस्‍तेमाल किया जा रहा है। जी मितलाना, गैस और पेट फूलने की समस्‍याओं से राहत दिलाने में अदरक का नाम प्रमुखता से आता है। भारत में अदरक की चाय (ginger chai) को सबसे ज्‍यादा पसंद किया जाता है, क्‍योंकि इससे शरीर को गर्मी और जोश मिलता है। अदरक-पाउडर का उपयोग बहुत से रोगों के उपचार के लिए करते हैं। यह खाने में स्‍वाद लाने के साथ स्‍वास्‍थ्य लाभ भी देता है। इसका उपयोग कर  बहुत से संक्रमणों को पहले से ही रोक सकते हैं। अदरक में बहुत से खनिज पदार्थ और यौगिक तत्व भी होते हैं, जो हमारे स्‍वास्‍थ्य की खास देखरेख और रोगों के उपचार में मदद करते हैं। अदरक सेहत के साथ बालों को भी फायदा पहुंचाता है। अगर बाल रूखे और बेजान रहते हैं तो अदरक आपके बालों में चमक ला सकता है। अदरक में कई विटामिन्स, जिंक और फास्फोरस होते हैं, जो बालों को गहराई तक पोषण प्रदान करके नेचुरल चमक प्रदान करते हैं।

Ginger Benefits for digestion in Hindi

पाचन के लिए अदरक के फायदे

पाचन तंत्र को मजबूत करने में अदरक महत्वपूर्ण योगदान देता है। अदरक में फेनोलिक  यौगिक होते हैं, जो जलन को दूर करने में मदद करते हैं। अदरक हमारे लिए लार और पित्‍त  के उत्पादन में वृद्धि करता है और पेट पर पड़ने वाले दवाब को भी कम करता है। अदरक पाचन शक्ति को मजबूत करने में मदद करता है। (ginger for digestion) यह गैस के कारण पेट में होने वाली ऐंठन व दस्त जैसी समस्याओं से राहत दिलाने में भी मदद करता है। एंजाइम ट्राप्सिन और अग्‍नाशयी लाईपेज पर अदरक का लाभकारी प्रभाव पड़ता है। अदरक का नियमित सेवन करने से कोलन कैंसर और कब्ज़ को दूर करने में मदद मिलती है।

कैंसर में लाभदायी अदरक

आजकल की जीवनशैली में ऐसी कई बीमारियां हो गई हैं, जो स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डालती हैं। इनमें से एक कैंसर है। अदरक में कई प्रकार के कैंसर को रोकने की क्षमता होती है। अदरक में पाए जाने वाले एंटीऑक्सिडेंट पेट में ही कैंसर कोशिकाओं को नष्‍ट कर देते हैं, जो कोलोरक्टल कैंसर को बढ़ावा दे सकते है। अदरक में एपोप्‍टोसिस भी होता है, जो ट्यूमर और कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकने मे मदद करता है। जिंजरोल त्‍वचा कैंसर को भी कम करने में मदद करता है।

जी मितलाना 

गर्भवती महिलाएं अदरक का उपयोग कर इस दैनिक समस्या से छुटकारा पा सकती हैं। अदरक उबकाई आने जैसी स्थिति में विटामिन बी की तरह काम करता है। गर्भावस्था से प्रेरित मितली से छुटकारा पाने में विटामिन बी 6 बहुत ही प्रभावी विटामिन होता है। प्रायः मितली से पीड़ित होने पर अदरक का उपयोग तत्काल राहत प्रदान कर सकता है। इसके अलावा उल्‍टी और मितली के सामान्य उपचार के लिए भी अदरक बहुत उपयोगी होता है।

अल्‍जाइमर के लिए 

तनाव और सूजन आप में शारीरिक कमजोरी ला सकते हैं, जो कि आपको समय से पहले बुढ़ापे की तरफ ले जाते हैं। अदरक का उपयोग अल्‍जाइमर और बढ़ती उम्र का उपचार करने में मदगार होता है। अदरक में उपस्थित एंटीऑक्सिडेंट और बायोएक्टिव तत्व मस्तिष्क में होने वाली सूजन को कम करने में मदद करते हैं। यह याददाश्त बढ़ाता है।

पेट के अल्‍सर के लिए 

अदरक पेट में होने वाले घाव, जिसे हम अल्‍सर के नाम से जानते हैं, उन्‍हें बढ़ने से रोकता है। अल्‍सर एच. पिलोरी बैक्‍टीरिया के अलावा रक्‍तस्राव चिड़चिड़ापन आदि के कारण होता है। अदरक का उपयोग कर एच. पिलोरी बैक्‍टीरिया को रोका जा सकता है। इस प्रकार अदरक का उपयोग कर आप अपने पेट को स्वस्थ रख सकते हैं।

गठिया के दर्द के लिए

अदरक में प्रभावशाली एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो वात-रोग (गाउट), संधिशोथ (रहेयूमेटॉइड आर्थराइटिस) और ऑस्टियोआर्थराइटिस से संबंधित दर्द का इलाज करने में मदद कर सकते हैं। घुटने के पुराने दर्द व ऑस्टियोआर्थराइटिस के लक्षणों को कम करने में अदरक का अर्क अति प्रभावी माना जाता रहा है। अदरक में मौजूद पोषक तत्‍व आपकी हड्डियों को मजबूत बनाते हैं। गठिया के दर्द से राहत पाने के लिए, गर्म अदरक के पेस्ट को हल्दी के साथ एक दिन में दो बार प्रभावित क्षेत्र पर लगाएं। इसके अलावा, अपने आहार में कच्चे या पके हुए अदरक को शामिल करें।

यौन शक्ति बढ़ाने में अदरक के फायदे

अदरक का उपयोग पुराने समय से सेक्स पावर को बढ़ाने के लिए भी किया जाता रहा है। इसकी खुशबू आपकी यौन इच्‍छा और क्षमता को बढ़ाने में मदद करती है। अदरक आपके शरीर में रक्‍त प्रवाह को भी बढ़ाता है। आपके शरीर के मध्‍य भाग में रक्‍त अधिक आसानी से फैलता है, जो कि यौन प्रदर्शन के लिए विशेष रूप से आवश्यक होता है।

अदरक के फायदे बालों के लिए – Benefits of Ginger for Hair in Hindi

घने और खूबसूरत बाल हर व्यक्ति की चाहत होते हैं, लेकिन कुछ कारणों से बालों का झड़ना व रूसी आदि समस्याएं हो जाती हैं। ऐसे में अगर आप अदरक का इस्तेमाल करते हैं तो यकीनन फायदा होगा। अदरक सिर में ब्लडसर्कुलेशन बढ़ाने का भी काम करता है, जिससे रक्त का संचार तेजी से होता है। इस वजह से यह बालों के रोमछिद्रों को उत्तेजित करता है, जिससे बाल बढ़ते हैं। इसके अलावा, अदरक में मौजूद फैटी एसिड पतले बालों के लिए फायदेमंद होता है।

Ginger Benefits for hair

ऐसे करें इस्तेमाल

आप एक छोटी कटोरी में एक बड़े चम्मच पिसे हुई अदरक और एक चम्मच जोजोबा तेल को डालकर मिक्स कर लें। फिर इस मिश्रण से सिर की मालिश करें और 30 मिनट के लिए बालों में लगा रहने दें। इसके बाद सामान्य तरीके से शैंपू कर लें।

अदरक से दूर करें डैंड्रफ

डैंड्रफ, यानी रूसी की समस्या होने पर अदरक काम आ सकता है। इसमें एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो रूसी दूर करने में मदद करते हैं। ऐसे में रूसी से राहत पाने के लिए आप अदरक वाले तेल (ginger oil) का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप तीन चम्मच ऑलिव ऑयल या तिल के तेल में अदरक और नींबू का रस मिलाएं। फिर इस तेल से सिर की मालिश करें और 15 से 30 मिनट बाद सिर धो लें। आप ऐसा सप्ताह में तीन बार करें।

दूर करेगा दोमुंहे बालों की समस्या

प्रदूषण के संपर्क में आने और अत्यधिक गर्मी के कारण बालों के रोम क्षतिग्रस्त हो जाने पर बाल दोमुंहे हो जाते हैं। अदरक में मौजूद फास्फोरस, जिंक और विटामिन्स बालों को फायदा पहुंचाते हैं। इनका इस्तेमाल भी ऑलिव ऑयल में मिलाकर किया जा सकता है। आप ऑलिव ऑयल में अदरक का रस मिलाएं और इससे बालों की मालिश करें। बेहतर परिणाम के लिए इस प्रक्रिया को आप सप्ताह में तीन बार दोहरा सकते हैं।

त्वचा के लिए अदरक के फायदे – Benefits of Ginger for Skin in Hindi

आप अदरक को घिस लें। फिर इसमें एक चम्मच नींबू का रस और दो चम्मच शहद मिलाएं। कुछ देर के लिए इस मिश्रण को फ्रिज में रखकर ठंडा करें। ठंडा होने के बाद इसे चेहरे पर लगाएं और सूखने के बाद धो लें।

Ginger Benefits for Skin

स्किन टोनर का काम करता है अदरक

अदरक को अपने एंटीऑक्सीडेंट और टोनिंग गुणों के लिए जाना जाता है, जो त्वचा को चमकदार बनाने में मदद करते हैं। (ginger benefits for skin) इसे आप फेस मास्क के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं। अदरक से स्किन टोन करने के लिए आप दो अदरक को घिसें और इसमें दो चम्मच शहद व एक चम्मच नींबू का रस मिलाएं। फिर इसे अपने चेहरे पर लगाएं और 30 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।

अदरक के नुकसान – Adrak ke Nuksan

अदरक आपके इंसुलिन के स्‍तर को बढ़ा कर आपके शरीर में चीनी की मात्रा को घटा सकता है, जो कि आपके स्‍वास्‍थ्य के लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है। (side effects of ginger in hindi) मधुमेह रोगी को अदरक का सेवन करने से पहले अपने डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहिए। इसके अलावा कुछ लोगों को अदरक से एलर्जी भी हो जाती है। अदरक को त्‍वचा में लगाने से कई बार जलन पैदा हो सकती है, जो कुछ समय के लिए होती है, इसलिए त्वचा पर पहली बार अदरक लगाने से पहले जांच कर लें। यही नहीं, अदरक का नियमित सेवन करने से मासिक धर्म के समय कुछ महिलाओं को अतिरिक्‍त रक्‍तस्राव हो सकता है, क्योंकि यह शरीर में गर्मी पैदा करता है और उससे कई महिलाओं को दिक्कत होती है। ऐसा होने पर डॉक्‍टर से सलाह लेना उचित होता है। यह ब्लड-क्लॉटिंग को धीमा कर सकता है और खून के पतलेपन को प्रेरित कर सकता है। अदरक का यह दुष्प्रभाव उन रोगियों के लिए खतरनाक हो सकता है, जो ब्लड क्लॉटिंग के लिए दवाई पर निर्भर रहते हैं।

अदरक के अन्य फायदे – Ginger Benefits in Hindi

Ginger Benefits

1. पाचन सुधारने के लिए, भोजन करने के बाद अदरक का इस्तेमाल करें।
2. अदरक में उपस्थित कैडमियम लिवर में होने वाली विषाक्‍तता को कम करने में मदद करते हैं। अदरक का तेल (ginger oil) मोटापे के कारण लिवर की परेशानियों को कम करता है।
3. अदरक का नियमित सेवन करने से यह आपकी सहनशक्ति को बढ़ाता है। इसका सेवन करने से आपके शरीर में जमा अतिरिक्त वसा कम होती है, जो कि मोटापे का विशेष कारण होता है। अदरक रोज़ खाने से वज़न कम हो सकता है।
4. अदरक पसीना निकलने की प्रक्रिया को बढ़ाता है। पसीना निकलने से रोम छिद्रों साफ होते हैं और विषाक्त पदार्थ नष्ट होकर पसीने के साथ बाहर निकल जाते हैं।
5.जैतून के तेल में थोड़ा-सा अदरक का रस मिलाकर लगाने से बाल झड़ने बंद हो जाते हैं।

अदरक के बारे में पूछे जाने वाले सवाल-जवाब – FAQ’s

माइग्रेन के कारण होने वाले सिरदर्द से अदरक किस तरह निजात दिला सकता है?

अदरक प्रोस्टाग्लैंडिन को रक्त वाहिकाओं में सूजन पैदा करने से रोकता है। इस वजह से माइग्रेन की समस्या से राहत मिलती है। अगर आपको माइग्रेन का दर्द होता है तो अदरक वाली चाय (ginger tea) पी सकते हैं।

ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए कहा जाता है कि अदरक हितकारी होता है। ​रोज़ कितना अदरक खाने से शुगर कंट्रोल में रहता है?

अदरक रक्त शर्करा को भी कम करने का काम करता है, इसलिए ब्लड शुगर को नियंत्रित करने के लिए सुबह-सुबह खाली पेट एक गिलास पानी में एक चम्मच अदरक का रस मिलाकर पीने से आपको फायदा हो सकता है।

अदरक किस तरह से वज़न कम करता है?

अदरक को फैट बर्नर माना जाता है, जो न सिर्फ आपका वज़न कम करता है, बल्कि अतिरिक्त फैट को भी कम करता है। अदरक के पानी को उबालकर खाली पेट पीने से यह शरीर का फैट बर्न करता है।

इम्यूनिटी पावर बढ़ाने में क्या अदरक कारगर है?

कमजोर इम्यूनिटी के कारण व्यक्ति को बीमारियां जल्दी घेर लेती हैं। जैसे ही इम्यूनिटी कमजोर पड़ने लगती है, सर्दी-जुकाम सबसे पहले जकड़ लेते हैं। अदरक में एंटीवायरल गुण होते हैं तो यह ऐसी बीमारियों से बचाने में मदद करता है।

.. अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि Popxo आ गया है 6 भाषाओं में … तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा – अंग्रेजीहिन्दीतमिलतेलुगूबांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।