मोहिना कुमारी सिंह के राॅयल रिसेप्शन की तस्वीरें हुईं वायरल

मोहिना कुमारी सिंह के राॅयल रिसेप्शन की तस्वीरें हुईं वायरल

स्टार प्लस के सीरियल 'ये रिश्ता क्या कहलाता है' की 'कीर्ति' और रीवा की राजकुमारी मोहिना कुमारी सिंह 14 अक्टूबर को उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री व आध्यात्मिक गुरु सतपाल महाराज के छोटे बेटे सुयश रावत के साथ शादी के बंधन में बंध गई थीं। इस शादी को भव्य बनाने के लिए सतपाल महाराज और मोहिना के परिवार ने कोई कसर नहीं छोड़ी थी। अब लगभग 1 महीने बाद इनके राॅयल रिसेप्शन की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं।
Instagram

हाल ही में मोहिना कुमारी सिंह का रिसेप्शन हुआ था, जो कि बेहद आलीशान था। ये भव्य रिसेप्शन 9 नवंबर को रीवा के राज विलास में संपन्न हुआ। इस दौरान मोहिना काफी खूबसूरत नज़र आ रही थीं। उन्होंने पिंक कलर का एम्ब्रॉयडरी वाला लहंगा-चोली पहना था। साथ ही राजसी बहू के अंदाज़ में सिर पर आंचल भी कैरी किया था। बात करें जूलरी व मेकअप की तो इस खास मौके के लिए मोहिना कुमारी सिंह ने हल्के मेकअप के साथ भारी जड़ाऊ गहने पहने थे, जो उनके लुक में चार चांद लगा रहे थे। 
 

हालांकि, खुद मोहिना ने अभी तक अपने रिसेप्शन की तस्वीरें सोशल मीडिया पर शेयर नहीं की हैं, लेकिन उनके फैन पेज पर शेयर हुईं रिसेप्शन की तस्वीरें काफी ज्यादा वायरल हो रही हैं। आप भी देखिए, मोहिना कुमारी सिंह के रिसेप्शन की ये खूबसूरत तस्वीरें... 
 

बता दें कि मोहिना और सुयश ने पारंपरिक रीति-रिवाजों के साथ हरिद्वार में सात फेरे लिए थे। इस शाही शादी में परिवार व दोस्तों के अलावा कई जाने-माने लोग भी मेहमान के तौर पर शामिल हुए थे। मोहिना कुमारी सिंह अपनी शादी में बेहद खूबसूरत लग रही थीं। लाल रंग के ट्रेडिशनल लहंगे में उनका ब्राइडल लुक उनकी शाही आन-बान के मुताबिक नज़र आ रहा था। मोहिना और सुयश को शादी की बधाई देने टीवी इंडस्ट्री के उनके खास दोस्त भी शामिल हुए थे। शादी की तैयारियों के चलते ही मोहिना ने सीरियल 'ये रिश्ता क्या कहलाता है' को अलविदा कह दिया था।
 

(आपके लिए खुशखबरी! POPxo आपके लिए लेकर आए हैं आकर्षक लैपटॉप कवर, कॉफी मग, बैग्स और होम डेकोर प्रोडक्ट्स और वह भी आपके बजट में! तो फिर देर किस बात की, शुरू कीजिए शॉपिंग हमारे साथ।) 
.. अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि Popxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजीहिन्दीतमिलतेलुगूबांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।