मोहिना कुमारी की मेहंदी व संगीत की तस्वीरें आईं सामने, आज होगी शाही शादी

मोहिना कुमारी की मेहंदी व संगीत की तस्वीरें आईं सामने, आज होगी शाही शादी

सीरियल 'ये रिश्ता क्या कहलाता है' में कार्तिक गोयनका की बहन कीर्ति गोयनका का किरदार निभाने वाली एक्ट्रेस मोहिना कुमारी सिंह आज शादी के बंधन में बंधने वाली हैं। मोहिना सिर्फ एक टीवी एक्ट्रेस ही नहीं, बल्कि रीवा की राजकुमारी भी हैं। शादी की सभी रस्में उत्तराखंड के हरिद्वार में होंगी। शादी से पहले एक्ट्रेस व राजकुमारी मोहिना की मेहंदी की रस्म पूरी हो चुकी है। इतना ही नहीं, मोहिना और सुयश के प्री-वेडिंग सेलिब्रेशन की तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर तेज़ी से वायरल हो रही हैं।

सबसे पहले देखिए, मोहिना कुमारी सिंह के मेहंदी लुक की तस्वीरें। मेहंदी फंक्शन के लिए मोहिना ने पिंक व ग्रीन कलर का लहंगा-चोली पहना था। बात करें लुक की तो नथ, टीका और हैवी ईयरिंग्स मोहिना कुमारी सिंह के लुक को कम्पलीट कर रहे थे। अपने मेहंदी फंक्शन के दिन मोहिना की खूबसूरती बस देखते ही बन रही थी।
 

तस्वीरों में मोहिना की खुशी भी साफ झलक रही थी। इस दौरान उनके साथ सीरियल 'ये रिश्ता क्या कहलाता है' में नैतिक की बहन नंदिनी का किरदार निभा चुकीं एक्ट्रेस निधि उत्तम और एक्टर गौरव वाधवा भी नज़र आए। 
 

एक्ट्रेस निधि उत्तम ने मोहिना कुमारी सिंह के मेहंदी फंक्शन का वीडियो भी इंस्टाग्राम पर शेयर किया है।

 

मेहंदी फंक्शन के बाद मोहिना कुमारी सिंह और सुयश रावत के संगीत की रस्म भी संपन्न हुई। अपने संगीत में मोहिना ने पीच कलर का लहंगा-चोली पहना था। संगीत फंक्शन के दौरान मोहिना की खुशी उनके मुस्कुराते चेहरे से साफ जाहिर हो रही थी।  

 

बता दें कि मोहिना उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री और आध्यात्मिक गुरु सतपाल महाराज के घर की बहू बनेंगी। वे सतपाल महाराज के छोटे बेटे सुयश रावत संग शादी के बंधन में बंधेंगी। शादी की सभी रस्में हरिद्वार में पूरी होंगी। इस शादी को भव्य बनाने के लिए सतपाल महाराज और मोहिना के परिवार ने कोई कसर नहीं छोड़ी है। दोनों परिवारों के रिश्तेदार और करीबी दोस्त इस शादी में शामिल होंगे। यही नहीं, विदेशों से भी मेहमान पहुंच चुके हैं। दोनों की सगाई इस साल की शुरुआत में शाही अंदाज़ के साथ हुई थी। 

 .. अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि Popxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजीहिन्दीतमिलतेलुगूबांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।