तिहाड़ जेल की कैदी बनीं डिजाइनर, फिल्म "मार्कशीट" के कॉस्ट्यूम डिजाइन करेंगी

तिहाड़ जेल की कैदी बनीं डिजाइनर, फिल्म "मार्कशीट" के कॉस्ट्यूम डिजाइन करेंगी

दिल्ली की तिहाड़ जेल जहां पहले दुर्दांत कैदियों के नाम पर पहचानी जाती थी, वहीं अब अनेक तरह के पुनर्वास कार्यक्रमों के जरिये हो रहे नित नये क्रिएटिव कामों के लिए जानी जाने लगी है। पिछले काफी समय से तिहाड़ जेल के कैदी पब्लिक के लिए तरह- तरह के उत्पाद तैयार करने लगे थे। एक कैदी ने सचिन तेंदुलकर के जीवन को अपने कैनवास पर उतारा था। पिछले सितम्बर महीने में कैदियों को लेकर एक फैशन शो का भी आयोजन किया गया। इसी कड़ी में तिहाड़ जेल एक और नया इतिहास रचने जा रही है और वो है फिल्मों में कॉस्ट्यूम डिजाइनिंग करने का। गौरतलब है कि बॉलीवुड फिल्म ‘मार्कशीट' की कॉस्ट्यूम डिजाइनिंग के लिए तिहाड़ जेल की कुछ महिला कैदियों को चुना गया है। बताया जा रहा है कि ऐसा पहली ही बार हो रहा है जब किसी फिल्म के लिए कॉस्ट्यूम डिजाइनिंग का काम जेल की महिला कैदी करेंगी।


Winky Singh


ये महिला कैदी बॉलीवुड कलाकारों प्रियंका चोपड़ा, नेहा धूपिया और अली फजल के कपड़े डिजाइन करने वाली मशहूर फैशन डिजाइनर विंकी सिंह की देखरेख में काम करेंगी। मार्कशीट फिल्म के सभी कलाकार इन कैदियों के डिजाइन किए हुए कॉस्ट्यूम्स ही पहनेंगे। विंकी सिंह का कहना है कि जब उन्होंने नई दिल्ली के जनकपुरी की दिल्ली हाट में आयोजित जेल की कैदियों का फैशन शो देखा तो उन्हें यकीन नहीं आया कि यह जेल के अंदर का काम है या किसी फैशन डिजाइनर की वर्कशॉप का। जेल की महिला कैदी स्टाइलिश कट्स वाले इतने गॉर्जियस कॉस्ट्यूम्स पहने थीं कि वाकई वह फैशन शो गजब का बन पड़ा था। विंकी सिंह ने तभी सोच लिया था कि इनकी कला को कुछ और निखारने की जरूरत है।




 

A post shared by Winky Singh (@winkysingh03) on




विंकी सिंह इसे सलाखों के पीछे का फैशन रिवॉल्यूशन बताते हुए कहती हैं, “जेल की कैदियों को ट्रेनिंग देने और इस फिल्म के लिए कैदियों से कॉस्ट्यूम डिजाइनिंग करवाने का काम मुझे एक प्रिविलेज की तरह लग रहा है। यह मेरे लिए मेरा मनपसंद दाम करने की न सिर्फ एक फ्रीडम है, बल्कि यह ऐसा काम है जिसे मैं हमेशा से करना चाहती थी। मैं अपनी टीचिंग से कुछ ऐसी महिलाओं की जिंदगी में बदलाव लाने का काम कर रही हूं, जो शायद कभी इस बारे में सोच भी नहीं सकती थीं। तिहाड़ जेल की उन महिला कैदियों में जो क्रिएटिविटी है, उसे बाहर लाना है और मार्कशीट फिल्म के लिए कॉस्ट्यूम तैयार करवाने हैं। मार्कशीट एक ऐसी जर्नी है जो हमेशा से मेरे दिल के बहुत करीब रही है।”


फिल्म मार्कशीट सच्ची घटना पर आधारित फिल्म है जिसका निर्देशन हरीश व्यास कर रहे हैं। इस फिल्म के लिए तिहाड़ जेल की महिला कैदियों से कॉस्ट्यूम डिजाइन करवाने का ख्याल फिल्म के कलाकार इमरान जाहिद के दिमाग की उपज है। उनका कहना है  कि जब पिछले साल तिहाड़ जेल की कैदियों का एक फैशन शो आयोजित किया गया था, तभी उन्होंने इस बारे में सोच लिया था। उस फैशन शो में महिला कैदियों ने अपने डिजाइन किए गए कॉस्ट्यूम्स पहने थे।


Fashion Show in Tihar


गौरतलब है कि तिहाड़ जेल में दिल्ली के एक नामी फैशन इंस्टीट्यूट के छात्रों ने एक फैशन शो का आयोजन करके अपने बनाए डिजाइनर कपड़ों को शोकेस किया था। यह आयोजन इस सेंट्रल जेल में एक नये 'फैशन लैब' की शुरुआत के उपलक्ष्य में किया गया था। उस वक्त बताया गया था कि कैदियों को फैशन की कला सिखाने के लिए देश के बड़े और नामी फैशन संस्थानों से एक्सपर्ट्स को बुलाया जाएगा। इस 'फैशन लैब' की शुरुआत कैदियों की पुनर्वास परियोजना के तहत की गई थी, ताकि महिला कैदियों के हुनर को एक नया आयाम दिया जा सके। ताकि जेल से बाहर निकलने के बाद वो खुद को बाहर के जीवन के लिए तैयार कर सकें। इस पहल के माध्यम से कैदियों को फैशन डिजाइनिंग की बेसिक स्क‍िल सीखने का मौका मिल रहा है। इस कार्यक्रम के तहत तीन महीने का फैशन प्रोग्राम पूरा होते ही कैदियों को फैशन इंस्टीट्यूट पर्ल एकेडमी के सहयोग से इसी तरह का फैशन शो करने का मौका मिलना था। जेल के एक अधिकारी का कहना है कि इससे न सिर्फ महिला कैदियों के सशक्त‍िकरण में मदद मिल रही है, बल्कि उनका आत्मविश्वास भी बढ़ रहा है।


तिहाड़ जेल में तिहाड़ फैशन लैब की स्थापना फरवरी 2017 में की गई थी, जहां महिला कैदियों को डिजाइनिंग की ट्रेनिंग दी गई। ट्रेनिंग पूरी होने पर ही महिला कैदियों के फैशन शो का आयोजन किया था। फैशन डिजाइनिंग में सर्टिफिकेट कोर्स पूरा करने के बाद महिला कैदियों ने कुछ मॉडल्स के साथ अपने डिजाइन किए कपड़े खुद पहन कर फैशन शो किया था। तिहाड़ जेल के महानिदेशक अजय कश्यप का कहना है कि जब फिल्म में कॉस्ट्यूम डिजाइन करने का ऑफर उनके पास आया तो उन्हें यह आइडिया काफी पसंद आया क्योंकि इससे महिला कैदियों का हुनर निखरेगा, उन्हें पहचान और प्रोत्साहन मिलेगा। इसके बाद अभी पिछले दिनों फिल्म मार्कशीट के लिए कॉस्ट्यूम डिजाइन करने के मद्देनजर तिहाड़ जेल में स्थित फैशन लैब में प्रशिक्षित इन कैदी डिजाइनर्स को फिल्म कलाकारों समेत मार्कशीट की टीम से भी मिलाया गया। फिल्म मार्कशीट की शूटिंग इसी साल जुलाई में शुरू होगी।


इन्हें भी देखें -


इस वेडिंग सीज़न इन सेलेब्स की डिजाइनर ड्रेसेज़ को करें फॉलो


सोनम कपूर की बहन रिया की स्टाइलिंग को देखकर ही आप समझ सकेंगे उनका हुनर


डिजाइनर ब्लाउज की तलाश है तो देखें टॉप डिज़ाइनर्स के ये खूबसूरत ब्लाउज


अब बॉलीवुड दीवा सोनम ने शुरू किया पिंक ईवनिंग गाउन का खूबसूरत ट्रेंड