रानू मंडल की बेटी ने किए कई खुलासे, कहा - लोगों को नहीं पता है हमारी सच्चाई

रानू मंडल की बेटी ने किए कई खुलासे, कहा - लोगों को नहीं पता है हमारी सच्चाई

इन दिनों सोशल मीडिया की सेंसेशन बनीं रानू मंडल आज किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं, लेकिन बीते 28 जुलाई, यानी उनका वीडियो वायरल होने वाले दिन से पहले तक शायद ही कोई उन्हें जानता था। रानू पश्चिम बंगाल के रानाघाट रेलवे स्टेशन पर गाना गाकर अपना गुजारा कर रही थीं। यहीं पर उन्हें यतींद्र मिले, जिन्होंने उनके गाने को रिकॉर्ड कर सोशल मीडिया पर पोस्ट किया और फिर रातोरात रानू इतनी फेमस हो गईं कि अब तक वह बॉलीवुड के लिए कई गाने रिकॉर्ड भी कर चुकी हैं। 
इसी दौरान अचानक रानू की बेटी एलिजाबेथ साती रॉय अचानक सामने आ जाती हैं, जिन्होंने अपनी मां की 10 सालों से सुध तक नहीं ली थी। सोशल मीडिया पर लोग रानू की बेटी पर जमकर नेगेटिव कमेंट्स कर रहे हैं, जिससे परेशान होकर एलिजाबेथ ने ठान लिया कि वे लोगों तक सच्चाई पहुंचा कर रहेंगी कि आखिरकार उनकी मां उनके साथ क्यों नहीं रह रही थीं। यही नहीं, एलिजाबेथ ने उनकी मां का वीडियो वायरल करने वाले यतींद्र पर आरोप लगाया है कि वे लोग उसे मां से मिलने नहीं दे रहे हैं, बल्कि कोशिश करने पर उसके पैर तोड़ने की धमकी भी दी है। 
 

एक न्यूज एजेंसी को दिए गए इंटरव्यू के दौरान एलिजाबेथ ने अपनी मां रानू मंडल की जिंदगी से जुड़े कई खुलासे किए। उन्होंने बताया कि वे मां से अक्सर नहीं मिल पाती थीं, इसलिए उन्हें पता ही नहीं था कि वे रेलवे स्टेशन पर गाना गाकर गुजारा करती थीं। करीब दो महीने पहले उन्होंने मां को कोलकाता के धर्मतला बस स्टैंड पर बिना किसी काम के बैठे हुए देखा तो उन्होंने उनसे तुरंत घर जाने कहा। साथ ही उन्हें 200 रुपये भी दिए थे।
 

एलिजाबेथ ने ये भी बताया कि लोग उन पर मां को मुश्किलों में अकेला छोड़ने का ताना कस रहे हैं। इन आरोपों पर एलिजाबेथ का कहना है कि 'मां के चारों बच्चों में से मैं ही थी, जो लगातार उनका ख्याल रख रही थी। मेरे खुद के भी संघर्ष कुछ कम नहीं हैं। तलाक होने के बाद मैं सूरी में एक छोटी सी किराने की दुकान चलाती हूं और अपने चार साल के बच्चे को भी पाल रही हूं। उसी कमाई में से मैं अपने मां को भी कभी-कभी 500 रुपये एक अंकल के अकाउंट से भेज दिया करती थी। कई बार मैंने कोशिश भी की कि मां मेरे साथ रहने लगें, लेकिन उन्होंने हमारे साथ रहने से इनकार कर दिया था। इसके बावजूद भी लोग मुझ पर इल्जाम लगा रहे हैं। जब लोग ही मेरे खिलाफ हैं तो मैं अब कहां जाऊं।’
 

रानू की बेटी एलिजाबेथ अब अपनी मां के मुंबई से लौटने का इंतजार कर रही हैं। अब वह उन्हें अपने साथ ही रखना चाहती हैं। उनका कहना है कि मुंबई में भले ही उन्हें काम मिल रहा है, लेकिन कई लोग हैं, जो उनकी सादगी का फायदा उठा रहे हैं। वे अपनी ही मां से उन्हें नहीं मिलने देते हैं और उनकी मां का अपने परिवार वालों के खिलाफ ब्रेनवॉश कर रहे हैं। एलिजाबेथ बताती हैं कि वे अपनी मां से बहुत प्यार करती हैं। उन्होंने बहुत-कुछ सहा है और अब जाकर उनकी आवाज को पहचान मिली है। एलिजाबेथ को रानू की बेटी होने पर बहुत गर्व है। 

(आपके लिए खुशखबरी! POPxo शॉप आपके लिए लेकर आए हैं आकर्षक लैपटॉप कवर, कॉफी मग, बैग्स और होम डेकोर प्रोडक्ट्स और वो भी आपके बजट में! तो फिर देर किस बात की, शुरू कीजिए शॉपिंग हमारे साथ।) .. अब आयेगा अपना वाला खास फील क्योंकि Popxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजीहिन्दीतमिलतेलुगूबांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।