करण जौहर से भी पहले संजय लीला भंसाली ने किया था रणबीर-आलिया को इस फिल्म के लिए कास्ट

करण जौहर से भी पहले संजय लीला भंसाली ने किया था रणबीर-आलिया को इस फिल्म के लिए कास्ट

रणबीर कपूर और आलिया भट्ट की जोड़ी इन दिनों बॉलीवुड के सबसे हॉट कपल्स में गिनी जाती है। दोनों साथ में काफी क्यूट भी लगते हैं। बॉलीवुड के ये लव बर्ड्स पहली बार करण जौहर की फिल्म 'ब्रह्मास्त्र' में साथ नज़र आने वाले हैं। फैंस बेसब्री से इनकी फिल्म का इंतज़ार कर रहे हैं। कुछ महीनों पहले कुम्भ के दौरान रणबीर-आलिया ने शानदार तरीके से इस फिल्म के नाम की घोषणा की थी। लेकिन क्या आप जानते हैं, 'ब्रह्मास्त्र' से पहले भी इन दोनों को एक फिल्म के लिए साथ में कास्ट किया जा चुका है।

जी हां, बिलकुल सही पढ़ा आपने। 'ब्रह्मास्त्र' से पहले भी रणबीर-आलिया सालों पहले साथ में काम करने वाले थे। इस फिल्म का डायरेक्शन कोई और नहीं, बल्कि खुद संजय लीला भंसाली करने वाले थे। उन्होंने तो रणबीर-आलिया का फोटोशूट तक करवा लिया था, लेकिन कुछ कारणों के चलते ये फिल्म नहीं बन पाई। 

इस बात का खुलासा खुद रणबीर कपूर ने एक इंटरव्यू के दौरान किया है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, रणबीर कपूर ने बताया, "आलिया के साथ मेरी फिल्म कई साल पहले ही आने वाली थी। फिल्म का नाम था 'बालिका वधू'। इस फिल्म को संजय लीला भंसाली डायरेक्ट करने वाले थे। उस समय मेरी उम्र 20 साल और आलिया की उम्र सिर्फ 12 साल थी। संजय लीला भंसाली ने हमें 'बालिका वधू' के नए वर्ज़न के लिए कास्ट किया था। हमने तो फिल्म के लिए साथ में फोटोशूट तक किया था।"

अगर ऐसा होता तो रणबीर कपूर की पहली फिल्म 'सांवरियां' न होकर 'बालिका वधू' होती। आलिया भी करण जौहर के बजाय संजय लीला भंसाली के साथ सिर्फ 12 साल की उम्र में ही अपना बॉलीवुड डेब्यू कर चुकी होतीं। आपको बता दें कि जब रणबीर-आलिया एक-दूसरे के साथ नहीं थे, तब उस समय भी एक इंटरव्यू के दौरान आलिया ने कहा था कि उन्हें रणबीर कपूर पर काफी बड़ा क्रश है। ऐसे में अगर 'बालिका वधू' के ज़रिए दोनों साथ में काम कर चुके होते तो इनकी जोड़ी भी शायद सालों पहले ही बन चुकी होती।

खैर, फैंस के साथ हमें भी अब सिर्फ 'ब्रह्मास्त्र' का इंतज़ार है। देखना दिलचस्प रहेगा कि असल ज़िंदगी की ये जोड़ी बड़े पर्दे पर साथ कितना कमाल दिखा पाती है। 

.. अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि Popxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजीहिन्दीतमिलतेलुगूबांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।