कोरोना पर पीएम मोदी का जनसंदेश, 22 मार्च को 'जनता कर्फ्यू' की घोषणा

कोरोना पर पीएम मोदी का जनसंदेश, 22 मार्च को 'जनता कर्फ्यू' की घोषणा

देश में धीरे-धीरे पैर पसार रहे कोरोना वायरस के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित किया। देश में आए इस सकंट को लेकर उन्हें चिंता जताई और सभी देशवासियों से दृढ़ सकंल्प लेने और सयंम बरतने का आग्रह किया है।
मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए कहा, ‘‘मेरे प्यारे देशवासियो! पूरा विश्व इस समय संकट के बहुत बड़े गंभीर दौर से गुजर रहा है। वैश्विक महामारी कोराना से निश्चिंत हो जाने की यह सोच सही नहीं है। इसलिए प्रत्येक भारतवासी का सजग रहा, सतर्क रहना बहुत आवश्यक है। साथियो! आपसे मैंने जब भी जो भी मांगा है, मुझे कभी भी देशवासियों ने निराश नहीं किया है। आज मैं आप सभी देशवासियों, 130 करोड़ देशवासियों से, आप सभी से कुछ मांगने आया हूं। मुझे आपके आने वाले कुछ सप्ताह चाहिए। आपका आने वाला कुछ समय चाहिए।' देशभर में फैल रही तमाम अफवाहों के बीच पीएम मोदी ने जनता को सच्चाई से रूबरू करवाया और साथ ही कुछ नियमों का पालन करने की अपील की। आइए जानते हैं कोरोना वायरस को लेकर पीएम मोदी द्वारा की गई 10 बड़ी और अहम बातों के बारे में -

  1. रविवार 22 मार्च को सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक सभी देशवासियों को जनता कर्फ्यू का पालन करने की बात कही। जनता कर्फ्यू के दौरान नागरिक घर से बाहर नहीं निकलें। लोग अपने घरों में ही रहें।
  2. कोरोना वायरस के खिलाफ जुटे लोगों के प्रति धन्यवाद प्रकट करने के लिए 22 मार्च को शाम 5 बजे 5 मिनट के लिए घर के दरवाजे या बालकनी में आकर ताली, घंटी और थाली बजाकर उनका उत्साहवर्धन करने की सभी से अपील की। पीएम ने देश के स्थानीय प्रशासन से आग्रह है कि सायरन की सूचना से हर लोगों तक इसके बारे में बताए। साथ ही सामाजिक दूरी बनाकर रखें।
  3. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के बारे कम से कम 10 लोगों के बारे में बतायें।
  4. हमारा संकल्‍प और संयम इस वैश्विक महामारी से बचने में कारगर हो सकता है. आप ऐसे ही सड़कों पर घुमते रहें और सोचेंगे कि हम इससे बचे रहेंगे, तो यह गलत है।
  5. संकट के समय हमें यह भी ध्यान रखना है कि हमारे अस्पतालों पर दबाव नहीं बढ़ना चाहिए। हमारे डॉक्टरों को प्रथमिकता दें।
  6. अगर आपने अस्‍पताल में पहले से कोई रुटीन जांच के लिए समय ले रखा है तो उसे कुछ दिनों के लिए स्‍थगित कर दें।
  7. देशवासियों से आग्रह है कि आने वाले कुछ सप्ताह तक ज्यादा जरूरी हो तभी घर से बाहर निकलें। हो सके तो ऑफिस का काम भी घर से ही करें।
  8. 60 साल की उम्र से ज्यादा के लोग घर से बिल्कुल भी बाहर न निकलें। खुद को घर पर ही आइसोलेट करें।
  9. जरूरी सामान संग्रह करने की होड़ न लगाएं। सरकार इन सामानों की कमी बिल्कुल भी नहीं होने देगी। पैनिक में खरीददारी करने से बचें।
  10. वैश्विक महामारी का अर्थव्यवस्था पर भी असर पड़ रहा है। इसके चलते सरकार ने COVID-19 इकोनॉमिक टास्क फोर्स का गठन किया गया है।

आपके लिए खुशखबरी! POPxo आपके लिए लेकर आए हैं आकर्षक लैपटॉप कवर, कॉफी मग, बैग्स, होम डेकोर और राशि अनुसार प्रोडक्ट्स और साथ ही ब्यूटी प्रोडक्ट्स भी... और वह भी आपके बजट में! तो फिर देर किस बात की, शुरू कीजिए शॉपिंग हमारे साथ।)