कैंसर से जंग लड़ रहे इरफान खान ने बताया - अगर बीमारी ने मुझे जीने का मौका दिया तो मैं ...

कैंसर से जंग लड़ रहे इरफान खान ने बताया - अगर बीमारी ने मुझे जीने का मौका दिया तो मैं ...

बॉलीवुड के मंझे हुए कलाकारों में से एक एक्टर इरफान खान (Irrfan Khan) लंबे समय के बाद बड़े पर्दे पर वापसी कर रहे हैं। जी हां, जल्द ही उनकी फिल्म अंग्रेजी मीडियम बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचाने के लिए तैयार है। फिल्म इसी साल 20 मार्च को रिलीज होने जा रही है। इस फिल्म में राधिका मदान, करीना कपूर और दीपक डोबरियाल भी उनके साथ मुख्य भूमिका में नजर आयेंगे। फिल्म की रिलीज से पहले इरफान खान ने एक मीडिया इंटरव्यू के जरिए अपनी निजी जिंदगी को लेकर अपने मन की बात शेयर की है।
बता दें कि इरफान खान पिछले 2 साल से लंदन में रहकर अपना कैंसर का इलाज करवा रहे थे। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अब उनकी हालत में पहले से ज्यादा सुधार है। हाल ही में उन्होंने अपनी बीमारी के बारे में एक मीडिया संस्थान के साथ हुए इंटरव्यू में कुछ बातें बताई। इरफान ने बताया कि उनके लिए ये दौर रोलर-कोस्टर राइड जैसा रहा है, जिसमें वो थोड़ा रोए और ज्यादा हंसे। उन्होंने कहा कि इस दौरान वो बहुत ही भयंकर बेचैनी से गुजर रहे थे, लेकिन कहीं न कहीं उन्होंने उस बैचेनी को कंट्रोल किया। उन्हें लग रहा था मानो कि वो लगातार अपने साथ हॉपस्‍कॉच खेल रहे हों।

इरफान ने ये भी बताया कि उन्होंने इस समय को अपनों के लिए जिया। इसमें सबसे अच्छी बात ये है कि उन्हें अपने बच्चों के साथ बहुत वक्त बिताया। उनको बड़ा होते देखा। अपनी पत्नी सुतापा सिकदर (Sutapa Sikdar) के बारे में बात करते हुए उन्होंने बताया कि उनकी पत्नी ने इस बीमारी में उनके लिए सातों दिन 24 घंटे खड़ी रही। इरफान ने कहा कि वो अभी तक जिंदा हैं, इसकी वो एक बड़ी वजह है और अगर उन्हें इस बीमारी ने जीने का मौका दिया तो वो अपनी पत्नी के लिए ही जीना चाहेंगे, बस यही उनकी ख्वाहिश है।

इरफान सिर्फ फिल्मों में ही नहीं, बल्कि असल ज़िंदगी में भी लोगों के लिए प्रेरणा बन चुके हैं। एक्टर इरफान खान की एक्टिंग ही नहीं उनके व्यक्तित्व में भी एक अलग सा जादू है। यही वजह है कि फैंस उनकी हर फिल्म से अपने आपको जुड़ा हुआ महसूस करते हैं।

लोगों को जब खबर मिली थी कि इरफान खान को हाई ग्रेड न्यूरोएंडोक्राइन कैंसर है और वो न्यूयॉर्क में इसका इलाज करा रहे हैं, तो सिने प्रेमियों के दिल बैठ गए थे। हर कोई बस इरफान खान की सलामती की दुआ मांगने लगा। शायद इन्हीं दुआओं का असर है कि कैंसर जैसी घातक बीमारी को मात देकर इरफान खान वापिस देश लौट आए। इसके बाद फिल्म ‘अंग्रेजी मीडियम’ के साथ उन्होंने अपनी वापसी का बिगुल भी बजा दिया। जानकारी के मुताबिक इरफान खान अभी भी बीमारी से पूरी तरह रिकवर नहीं हो पाएं हैं और उनका इलाज चल रहा है।
POPxo की टीम इरफान खान के अच्छे स्वास्थ्य की दुआ करती है और उनकी फिल्म 'अंग्रेजी मीडियम' के लिए ढेर सारी शुभकामनाएं देती है।