इरफान खान ने कहा है कि कभी मौत तो कभी जिंदगी दिखती है सामने...

इरफान खान ने कहा है कि कभी मौत तो कभी जिंदगी दिखती है सामने...

लंदन में न्यूरोएंडोक्राइन कैंसर का इलाज करा रहे इरफान खान ने एक एजेंसी को दिये अपने इंटरव्यू में कहा है कि इस बीमारी ने जिंदगी को देखने का उनका नजरिया एकदम बदल दिया है। अब वो एक नई यात्रा पर हैं जिसमें उन्हें लगता है कि इंसान के जीवन का कुछ पता नहीं है। एक ओर उनका दिमाग कहता है कि वो कुछ महीनों या एक- दो साल में मर सकते हैं और दूसरी ओर वो इन बातों को न सोचकर उस रास्ते पर जीना चाहते हैं, जहां उनकी जिंदगी उन्हें ले जा रही है। उन्होंने कहा कि जिंदगी उन्हें काफी मौका दे रही है। उन्होंने कहा कि यह एक अंधेरा रास्ता है क्योंकि उन्हें नहीं पता कि जिंदगी उन्हें कहां ले जाएगी।


Irrfan 2


आने वाली है हॉलीवुड फिल्म पज़ल


हालांकि कहा जा रहा है कि न्यूराेएंडोक्राइन कैंसर से जूझ रहे इरफान खान की हालत में सुधार है। इरफान ने इस इंटरव्यू में अपनी हालत के अलावा अपनी आने वाली हॉलीवुड फिल्म 'पज़ल' के बारे में भी बताया जो आनेवाले समय में लॉस एंजिल्स के अलावा 10 और शहरों में एकसाथ रिलीज होने वाली है।


इम्तेहान ले रही है जिंदगी


Irrfan1


उन्होंने कहा, “जिंदगी मेरा हर तरह से इम्तेहान ले रही है- शारीरिक, इमोशनली और स्पिरिचुअली। शुरूआत में मुझे कुछ पता नहीं था और पता लगने पर मैं बिलकुल हिल गया था। धीरे- धीरे इन सब बातों को देखने का नजरिया बदला। अब मेरा नजरिया ज्यादा पावरफुल, प्रोडक्टिव और ज्यादा हेल्दी हो गया है। मैं चाहता हूं कि सभी लोग प्रकृति में विश्वास करें जो काफी विश्वसनीय है। वह जो करती है, सही करती है, और इसने मुझे जो भी दिया है, उसके लिए मैं थैंकफुल हूं। इसने मुझे जिंदगी को देखने का नया नजरिया दिया है, जिसे मैं 30 साल मेडिटेशन करके भी नहीं पा सकता था।”


कीमोथैरेपी के चार सेशन पूरे हुए


बॉलीवुड एक्टर इरफान ने बताया कि कैंसर के उनके इलाज के तहत कीमोथैरेपी के छह सेशन होने हैं जिनमें से चौथा सेशन पूरा हो चुका है। जब यह छह सेशन पूरे हो जाएंगे तब कैंसर स्कैन कराने के बाद ही असली हालत के बारे में पता लगेगा। तीसरे सेशन के बाद स्कैन का रिजल्ट पॉजिटिव आया था।


कोई प्लान या प्रिडिक्शन नहीं है


Irrfan 3


इरफान ने कहा, “अब मेरे पास कोई प्लान नहीं है। मैं कोई स्क्रिप्ट नहीं पढ़ रहा हूं। कोई प्रिडिक्शन नहीं है। मैं सुबह ब्रेकफास्ट के लिए जाता हूं, उसके बाद कोई प्लान नहीं होता। चीजें जिस तरह मेरे पास आ रही हैं, मैं उन्हें वैसे ही ले रहा हूं। यह जिंदगी बहुत रहस्यमयी है। यह बहुत कुछ देती है लेकिन हम उसे लेने की कोशिश नहीं करते। मैं कोशिश कर रहा हूं कि जिंदगी को प्यार करूं।”


इन्हें भी देखें -


1. जानलेवा बीमारी कैंसर से संघर्ष करने वाले टॉप 10 बॉलीवुड सेलिब्रिटीज़


2. बॉलीवुड फिल्में जिनमें लीड कैरेक्टर को है जानलेवा बीमारी कैंसर


3. जानें कि जिंदगी को लेकर आलिया भट्ट और अर्जुन कपूर ने किया है कैसा अनोखा फैसला?


4. बॉलीवुड के किंग खान - शाहरुख खान ने इसलिए कर ली थी इतनी कम उम्र में शादी


5. एच.आई.वी/एड्स के अहम लक्षण