स्वर कोकिला लता मंगेशकर की हालत में सुधार, हेमा मालिनी व फैंस ने मांगी ठीक होने की दुआ

स्वर कोकिला लता मंगेशकर की हालत में सुधार, हेमा मालिनी व फैंस ने मांगी ठीक होने की दुआ

भारत रत्न और दादा साहब फाल्के जैसे अवॉर्ड्स से सम्मानित सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर की सेहत इन दिनों खराब चल रही है। बॉलीवुड जगत की हस्तियां व फैंस उनकी सलामती के लिए लगातार दुआएं कर रहे हैं। हालांकि, वेंटिलेटर पर रखे जाने के बाद अब उनकी हालत में कुछ सुधार होने की रिपोर्ट्स आ रही हैं।

सांस में दिक्कत के चलते भर्ती

90 वर्षीय प्रसिद्ध गायिका लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) को वायरल के चलते सांस लेने में दिक्कत महसूस हो रही थी। उनकी उम्र व हालत को देखते हुए उन्हें तुरंत ही मुंबई स्थित ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया था। उस समय उनकी स्थिति काफी गंभीर थी, जिसकी वजह से डॉक्टर्स ने उन्हें वेंटिलेटर पर रखना बेहतर समझा। उनकी टीम ने एक बयान जारी कर यह जानकारी दी थी कि रविवार को देर रात 2 बजे लता मंगेशकर को सांस लेने में तकलीफ महसूस हो रही थी।

हालत में सुधार

लता मंगेशकर की छोटी बहन ऊषा मंगेशकर ने एक वेबसाइट से हुई बातचीत में बताया, ‘लता दीदी अब 90 वर्ष की हो चुकी हैं। फिलहाल उनकी हालत में कुछ सुधार है और डाक्टर्स ने कहा है कि अब उन्हें घर ले जाया जा सकता है। हालांकि, उनकी उम्र का ख्याल करते हुए हमने उन्हें एक-दो दिन और अस्पताल में रखने का फैसला लिया है।’

Instagram

लता मंगेशकर को वायरल बुखार और पेट की समस्या के साथ ही सांस लेने में भी दिक्कत महसूस हो रही थी। ऐसे में घर पर उनका इलाज करवाना ठीक नहीं होता।

ठीक होने की दुआएं जारी

लता मंगेशकर के फैंस व बॉलीवुड हस्तियां उनके जल्द ठीक होने की दुआ मांग रहे हैं। ड्रीम गर्ल हेमा मालिनी (Hema Malini) ने लता जी के लिए ट्वीट कर लिखा, ‘लता मंगेशकर के लिए प्रार्थना, जो अस्पताल में भर्ती हैं और खबर है कि उनकी हालत गंभीर है। ईश्वर उन्हें इस संकट से बाहर निकलने की शक्ति दें, जिससे वे हमारे बीच बनी रहें। राष्ट्र की भारत रत्न, भारत की कोकिला के लिए दुआएं।

मुंबई से आ रही खबरों की मानें तो लता मंगेशकर की हालत में अब काफी सुधार है।

 

... अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि POPxo आ गया है 6 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजी, हिन्दी, तमिल, तेलुगू, बांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।