सुशांत सिंह राजपूत डेथ केस में आया बड़ा मोड़, अब CBI करेगी इस मामले की जांच

सुशांत सिंह राजपूत डेथ केस में आया बड़ा मोड़, अब CBI करेगी इस मामले की जांच

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) डेथ केस का रहस्य दिन पर दिन गहराता जा रहा है। हर दिन कोई न कोई नये खुलासे सामने आते रहते हैं। लेकिन इस मामले में एक बड़ा मोड़ आया है। केंद्र सरकार ने इस केस को सीबीआई (CBI) को सौंप दिया है। इस केस को लेकर मुंबई पुलिस और बिहार पुलिस के बीच चल रही तनातनी को खत्म कर अब CBI इस मामले की जांच करेगी। इसके बाद सुशांत सिंह राजपूत के फैंस और उनके करीबी लोग केंद्र सरकार के इस फैसले की तारीफ कर रहे हैं।
दरअसल, सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट को बुधवार को बताया कि भारतीय संघ ने बिहार सरकार द्वारा मामले की सीबीआई जांच का आदेश देने की सिफारिश स्वीकार कर ली है। इस मामले में केंद्र की ओर से पेश हुए तुषार मेहता ने न्यायमूर्ति हृषिकेश रॉय के सामने कहा कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की जांच के लिए अधिसूचना जल्द ही जारी की जाएगी। न्यायमूर्ति ने मुंबई पुलिस से अब तक की जांच के रिकॉर्ड्स मांगे हैं। वहीं महाराष्ट्र सरकार के वकील ने सीबीआई जांच का विरोध किया है और ये तर्क दिया कि सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के डेथ केस मामले की जांच का अधिकार सिर्फ मुंबई पुलिस के पास है।
सीबीआई को जांच सौंपी जाने पर सुशांत सिंह राजपूत की एक्स गर्लफ्रेंड एक्ट्रेस अंकिता लोखंडे ने भी केंद्र से मिली सहमति पर खुशी जताई हैं। अंकिता ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर पोस्ट करते हुए लिखा, ''जिस पल का हम सभी को इंतजार था, आखिरकार वह आ ही गया।”

बता दें कि हाल ही दिए इंटरव्यू में अंकिता लोखंडे ने भी सुशांत को लेकर कहा था कि वह कभी सूइसाइड नहीं कर सकते। अंकिता ने यह भी कहा था कि सुशांत के बाइपोलर होने या डिप्रेशन को लेकर जो भी बातें की जा रही हैं, वह सब झूठ हैं। इस मामले की सीबीआई जांच होनी ही चाहिए थी।

बता दें, 4 जून 2020 को सुशांत सिंह राजपूत अपने बांद्रा स्थित घर पर मृत पाए गए थे। उन्होंने अपने घर में पंखे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। हालांकि, पुल‍िस को उनके पास कोई सुसाइड नोट नहीं मिला था। ऐसे में कई तथ्य भी सामने आये जो इस केस को सुसाइड नहीं बल्कि मर्डर करार दे रहे थे। इसी के चलते सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले में सीबीआई जांच कराने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में पीआईएल दाखिल किया गया था। 

POPxo के साथ घर बैठे सीखें नई स्किल्स। तो तैयार हो जाइए ऐप के #POPxoLive पर हमारे टैलेंटेड होस्ट को जॉइन करने के लिए। डाउनलोड करें POPxo ऐप और पढ़िए स्टोरी, देखिए वीडियो और सीखिए कुछ नया...
यहां से डाउनलोड करें POPxo ऐप