कोरोना से जंग जीत घर वापस लौटीं ऐश्वर्या और आराध्या, अमिताभ बच्चन नहीं रोक पाए अपने आंसू

कोरोना से जंग जीत घर वापस लौटीं ऐश्वर्या और आराध्या, अमिताभ बच्चन नहीं रोक पाए अपने आंसू

भारत सहित लगभग पूरी दुनिया में फैली कोरोना वायरस (Covid19) की महामारी ने लोगों का जीवन अस्त-व्यस्त कर रखा है। क्या आम आदमी और क्या सेलिब्रिटी सभी इसके चपेट में आ रहे हैं। इसी बीच बच्चन परिवार के चार सदस्यों के कोविड पॉजिटिव पाए जाने की भी खबर आई थी। अमिताभ बच्चन, अभिषेक बच्चन, ऐश्वर्या राय बच्चन और आराध्या भी कोरोना पॉजिटिव पाये गये थे। लेकिन अब बच्चन परिवार के सर से सकंट के बादल धीरे-धीरे छटने शुरू हो गये हैं।
कोरोना से जंग लड़ रहा बच्चन परिवार अब धीरे-धीरे इस महामारी के चंगुल से बाहर निकल रहा है। जी हां, हाल ही में अभिषेक बच्चन ने सोशल मीडिया के जरिए एक खुशखबरी अपने फैंस के साथ शेयर की है। उन्होंने बताया है कि उनकी पत्नी ऐश्वर्या राय बच्चन (Aishwarya Rai Bachchan) और उनकी बेटी आराध्या बच्चन (Aaradhya bachchan) कोरोना को मात देकर अपने घर जलसा वापस आ गई हैं।

वहीं, बहू और पोती अस्पताल से डिस्चार्ज होने से बिग बी काफी खुश और साथ ही इमोशनल भी। उन्होंने अपने जज्जबात सोशल मीडिया पर भी सभी के साथ शेयर की हैं। अमिताभ बच्चन ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'अपनी छोटी बिटिया और बहुरानी को अस्पताल से मुक्ति मिलने पर मैं रोक ना पाया अपने आंसू, प्रभु तेरी कृपा अपार, अपरम्पार'।

Lifestyle

WIPEOUT Sanitizing Wipes

INR 69 AT MyGlamm

वहीं, फिलहाल अमिताभ बच्चन और उनके बेटे अभिषेक बच्चन अभी भी नानावती अस्पताल में अपना इलाज कर रहा हैं। दोनों की हालत अभी स्थिर बताई जा रही है। पूरी देश-दुनिया बच्चन परिवार के लिए दुआएं मांग रही है। देश भर में कई जगहों पर उनकी सेहत में जल्द सुधार होने की कामना के साथ लोग पूजा-पाठ करवा रहे हैं। इन दिनों अमित जी भी सोशल मीडिया के जरिए अपने फैंस के साथ अपने एहसास और जज्जबातों को खुलकर शेयर कर रहे हैं।

बता दें, अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद ऐश्वर्या राय बच्चन और उनकी आठ साल की बेटी आराध्या बच्चन भी कोरोना टेस्ट करवाया गया तब उनमें कोरोना के कोई भी लक्षण नहीं थे। इसके बाद 12 जुलाई को फिर उनका कोरोना टेस्ट हुआ और जया बच्चन को छोड़कर सभी कोरोना पॉजिटव आए। इसके बाद ऐश्वर्या और आराध्या घर पर ही होम क्वारंटीन में थे। लेकिन उसके बाद उन दोनों को भी सांस लेने में तकलीफ हो रही थी तो उन्हें भी नानावती अस्पताल में भर्ती किया गया। 27 जुलाई को उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आईं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे गई।