आटे के पैकेट में 15 हजार रुपए छुपाकर बांटने की बात पर आमिर खान ने किया खुलासा

आटे के पैकेट में 15 हजार रुपए छुपाकर बांटने की बात पर आमिर खान ने किया खुलासा

लगभग पूरा विश्व इस समय कोरोना संकट से जूझ रहा है। भारत में भी हालात नाजुक हैं। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पूरा देश में 17 मई तक लॉकडाउन है। इस लॉकडाउन का सीधा असर दिहाड़ी मजदूरों पर पड़ा है। रोज कमाने खाने वाले इन मजदूरों के सामने खाने-पीने की समस्या खड़ी हो गई है। हालांकि सरकार इनकी मदद तो कर रही है लेकिन इसके बावजूद भी कई क्षेत्रों में मजदूरों इन सुविधाओं से वंचित हैं। इस संकट की घड़ी में आम आदमी से लेकर सेलिब्रिटीज तक मदद के लिए आगे आ रहे हैं।
हालही में सोशल मीडिया पर आमिर खान (Aamir Khan) को लेकर कई तरह के वीडियो, सोशल पोस्ट और तस्वीरें वायरल हो रही थीं कि उन्होंने गुपचुप तरीके से गरीबों की मदद की है। खबर थी कि आमिर खान ने गरीबों को ट्रक भरकर आटे के एक-एक किलो के पैकेट भेजे, जिसके अंदर 15,000 रुपये भी छुपे हुए थे। हालांकि इस बात को लेकर उस समय कोई भी पुष्टि नहीं की गई थी। लेकिन इन खबरों के चलते आमिर खान ने खुद ट्वीट करके सबको सच्चाई बताई है।

आटे के पैकेट में पैसे वाला वीडियो इंटरनेट पर खूब देखा गया था। अब आमिर ने खुद ट्वीट करके इस वीडियो को फेक बताया है। जी हां, आमिर खान ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट के जरिए एक ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने लिखा है, 'मैं वो इंसान नहीं हूं जिसने आटे के पैकेट में पैसे रखे थे। यह या तो पूरी तरह झूठी खबर है या फिर रॉबिनहुड खुद इस बात को बताना नहीं चाहते।'

आमिर खान ने ये साफ कर दिया कि या तो ये खबर पूरी तरह से झूठ है कि आटे के पैकेट में कोई 15 हजार रुपए गरीबों को मिलें हैं या फिर कोई मसीहा है जो अपना नाम उजागर करना नहीं चाहता। वैसे अक्षय कुमार, सलमान ख़ान, शाह रुख़ ख़ान, अजय देवगन से लेकर छोटे-बड़े सभी कलाकारों ने किसी ना किसी रूप में मदद की है। कुछ दिन पहले आमिर खान ने भी इस सकंट काल में एक चैरिटी के जरिए मदद की थी।

बता दें, आमिर खान को लेकर टिकटॉक पर एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें बताया गया था कि जिस किसी ने भी आटे के पैकेट लिए, उनके होश उड़ गए थे। क्योंकि हर एक पैकेट में 15 हजार रुपये छुपे हुए थे. इसके साथ ही टिकटॉक वीडियो में दावा किया गया था कि इसके पीछे आमिर खान का हाथ है। फिलहाल ये खबर पूरी तरह से झूठी है।

POPxo  की टीम आप सभी से अनुरोध करती है कि भारत सरकार द्वारा दिये गये सभी निर्देशों का पालन करें। जरूरत न हो तो घर से बाहर बिल्कुल भी न निकलें। बाहर निकलने की स्थिति में संक्रमण का खतरा बढ़ जाएगा।