Advertisement

एंटरटेनमेंट

अक्षय कुमार और विक्की कौशल समेत कई कलाकारों ने वीडियो के जरिये दिया पॉल्यूशन से लड़ने का संदेश

Archana ChaturvediArchana Chaturvedi  |  Jun 5, 2019
अक्षय कुमार और विक्की कौशल समेत कई कलाकारों ने वीडियो के जरिये दिया पॉल्यूशन से लड़ने का संदेश

Advertisement

‘ये शहर भी क्या शहर है… हवाओं में धुआं है, फिजाओं में जहर है…’ कविता की ये चंद पंक्तियां हमारे समाज की उन गलतियों का आईना हैं, जिन्हें अगर समय रहते सुधारा न गया तो आने वाला कल तो बर्बाद होगा ही, आज भी इससे अछूता नहीं रहेगा। हर साल पर्यावरण दिवस के मौके पर हम पेड़ों की बात करते हैं और प्रदूषण रोकने के लेक्चर देते हैं लेकिन कुछ दिनों बाद अपने किये वादे हम भूल जाते हैं। जरा सोचिए, आने वाली पीढ़ियों के लिए पैसा जोड़ने में लगे हैं लेकिन उन्हें ताजी और साफ हवा मिल भी पायेगी या नहीं? कभी इस बारे में सोचा है? नहीं सोचा है तो अब सोचना शुरू कर दीजिए, ऐसा न हो कि हम पैसा बचाने की होड़ में अपनी जिंदगी ही गंवा बैठें।

विश्व पर्यावरण दिवस 2019 की थीम ‘वायु प्रदूषण’ रखी गई है यानि कि इस बार पूरी दुनिया एकजुट होकर वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए सभी को जागरूक करेगी। इसी के चलते भारत सरकार ने इस बार का थीम वीडियो सॉन्ग जनहित में जारी किया है। इस वीडियो सॉन्ग में अक्षय कुमार, कपिल शर्मा, राजकुमार राव, विक्की कौशल, शान, श्रेया घोषाल, शंकर महादेवन, शामक डावर आदि जाने- माने कलाकार नजर आ रहे हैं।

यह वीडियो सॉन्ग वायु प्रदूषण से होने वाली समस्याओं पर केन्द्रित है। इसमें पेड़ लगाने के साथ- साथ ट्रैफिक और उससे बढ़ने वाले प्रदूषण पर फोकस किया गया है। यह गाना काफी पसंद किया जा रहा है। सरकार की सभी से अपील है कि इस गाने को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें और साथ ही स्वयं से वादा करें कि पर्यावरण के बचाव में आप अपना पूरा- पूरा सहयोग देंगे।

ये भी पढ़ें – ये हैं दुनिया के 7 अजीबो- गरीब पेड़, आप भी देख कर हो जाएंगे हैरान

इस समय दुनिया वायु प्रदूषण का प्रकोप झेल रही है। बात करें अगर अपने देश भारत की तो यहां हालात और भी खराब हैं। प्रदूषित हवा के चलते फेफड़े, दिमाग और हार्ट की बीमारियां पहले से कई ज्यादा बढ़ गई हैं। संयुक्त राष्ट्र ने विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर ये आंकड़े जारी करते हुए बताया है कि दुनिया की 90 प्रतिशत आबादी प्रदूषित हवा में सांस ले रही है और इसके कारण हर पांच सेकेंड में एक व्यक्ति मौत का शिकार हो रहा है। लोगों की औसतन आयु भी घट रही है।

क्या करना चाहिए

दूसरों को दोष देने से बेहतर है कि स्वयं प्रदूषण के खिलाफ लड़ें। ज्यादा से ज्यादा पेड़ लगाएं। शुभ अवसरों पर अपनों को पौधा गिफ्ट करें। एसी का कम से कम इस्तेमाल करें। ट्रैवलिंग के लिए कार पूलिंग, पब्लिक ट्रांसपोर्ट या फिर साइकिल का इस्तेमाल करें। घरों में धुआं रहित ईंधनों को बढ़ावा दें।

ये भी पढ़ें – विश्व पर्यावरण दिवस: ऐसे 18 काम करके आप भी कर सकते हैं पर्यावरण बचाने में मदद

(आपके लिए खुशखबरी! POPxo शॉप आपके लिए लेकर आए हैं आकर्षक लैपटॉप कवर, कॉफी मग, बैग्स और होम डेकोर प्रोडक्ट्स और वो भी आपके बजट में! तो फिर देर किस बात की, शुरू कीजिए शॉपिंग हमारे साथ।)

.. अब आयेगा अपना वाला खास फील क्योंकि Popxo आ गया है 6 भाषाओं में … तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा – अंग्रेजी, हिन्दी, तमिल, तेलुगू, बांग्ला और मराठी.. क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।