home / लाइफस्टाइल
भारत में पीरियड्स को लेकर आपके क्या विचार हैं, हमें इस सर्वे से बताएं

भारत में पीरियड्स को लेकर आपके क्या विचार हैं, हमें इस सर्वे से बताएं

अगर आप एक महिला हैं और आपको भी पीरियड्स आते हैं तो शायद आपको पीरियड के साथ आने वाली परेशानियों का भी अंदाजा होगा। भारत जैसे देश में आज भी पीरियड्स को लेकर लोगों के बीच पिछड़े खयालात मौजूद हैं, जिनमें घर की रसोई में ना जाने से लेकर, महीने के उन दिनों में मंदिर में भी ना जाना आदि शामिल है। अगर आपको पीरियड्स आते हैं तो आपको भी सिरोना के इस पीरियड सर्वे को जरूर लेना चाहिए लेकिन अगर आपको पीरियड नहीं आते हैं लेकिन आपने कभी अपनी बहन, दोस्त, मां आदि को इस तरह के परेशानी के दिनों में देखा है, या फिर आपने पीरियड से जुड़े हमारे देश में पिछड़े विचारों के बारे में सुना है तो आपको भी यह सर्वे एक बार लेना चाहिए।

क्या खाने से पीरियड आता है - Periods Jaldi Lane ke Gharelu Nuskhe in Hindi

इस सर्वे को पूरा करने में आपको केवल 4 मिनट का समय ही लगेगा। सर्वे शुरू करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं। सर्वे में आपसे कुछ सवाल पूछे जाएंगे। जैसे कि क्या आपको पीरियड्स आते हैं या नहीं आते हैं, आप अपनी प्रीफरेंस के मुताबिक इसका जवाब दे सकते हैं। इसके बाद आपको अपना नाम लिखना होगा। फिर अपनी उम्र बतानी होगी, आप कौन से शहर में रहते हैं, सिंगल हैं या फिर शादी शुदा हैं। अगर आपको पीरियड्स आते हैं तो पहली बार कब आए थे, आदि तरह के सवालों के बारे में पूछा जाएगा। अगर आपको पीरियड नहीं आते हैं तो आपको पीरियड के बारे में किस उम्र में पता चला था। किसके जरिए इस बारे में पता चला था। क्या आपने कभी अपनी फीमेल दोस्त से इस बारे में बात की है, आदि प्रकार के प्रश्न पूछे जाएंगे।

सिरोना पीरियड सर्वे का उद्देश्य

सिरोना द्वारा शुरू किए गए इस सर्वे का उद्देश्य केवल यह समझना है कि हम या फिर आप लोगों के पीरियड्स को लेकर क्या विचार हैं। क्या आपने कभी मेंसुरल कप के बारे में सुना है, या फिर क्या आप जानते हैं कि पीरियड्स में पैड्स, टेंपॉन या फिर मेंसुरल कप में से किस चीज का इस्तेमाल करना अच्छा होता है, या फिर क्या चीज अधिक सस्टेनेबल है आदि। तो इस वजह से यदि आप भी पीरियड्स पर अपने विचार शेयर करना चाहते हैं तो आप इस सर्वे को पूरा करके पीरियड्स के बारे में अपने विचार हमारे साथ शेयर कर सकते हैं।

19 Apr 2022

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text