वेडिंग

शादी-सीज़न! …और इस तरह रहेगी दुल्हन Stress Free!

POPxo HindiPOPxo Hindi  |  May 5, 2016
शादी-सीज़न! …और इस तरह रहेगी दुल्हन Stress Free!

शादी तय हो चुकी है और आपकी प्लानिंग भी हो गई है शुरू!! इस प्लानिंग का एक बहुत बड़ा पार्ट है- शॉपिंग-शॉपिंग-शॉपिंग! शॉपिंग आपके रुटीन का हिस्सा या तो बन चुकी है या बनने वाली है। इससे होने वाली थकान, शादी की तैयारियों से जुड़े दूसरे काम, इन सबके बीच लाइफ एकदम messy हो जाती है। फिर शादी से जुड़ी रस्में जैसे हल्दी, मेंहदी, बान भात से जुड़े कई कामों के बीच दुल्हन कुछ कामों को बाद में करने के लिए छोड़ देती है। जो बाद में extra pressure क्रिएट करते हैं। इसलिए हम आपको बताते हैं कि कैसे आप last minute rush से बच सकती हैं, जरूरत है शादी तय होते ही और तैयारियां शुरू होते ही थोड़े से मैनेजमेंट और प्लानिंग करने की।

1. अलग-अलग बैग करें

1 दुल्हन को अपने साथ बहुत सारे गिफ्ट्स और ससुराल में होने वाली रस्मों के दौरान use होने वाला सामान ले जाना होता है। इन सब सामान को एक-साथ रखने के बजाय शुरु से ही कैटेगरी डिवाइड करके रखें। जैसे, रस्मों के दौरना सास, ननद, देवर को दिए जाने वाले गिफ्ट किस बैग में हैं। अपना पर्सनल सामान किस बैग में है। इन बैग्स की नंबरिंग या कलर मैंशन कर एक लिस्ट बना लें और इस लिस्ट को अपने हैंड बैग में रखें। ताकि जब जिस चीज़ की जरुरत हो आपको सोचना या खोजना न पड़े।

2. टाइम मैनजमेंट

2 हर community में अलग-अलग रस्में होती हैं। तो आपके यहां शादी के दिन कौन-सी रस्में होनी हैं, इस बारे में मम्मी से बात करें और उनकी timing और duration के बारे में पूछें। इन सबको ध्यान में रखते हुए उस दिन का शेड्यूल पहले से बनाकर रखें कि कब पार्लर जाना है और कितना टाइम लगेगा etc.

3. बहुत ज्यादा लोगों से सलाह न लें

3 क्या अच्छा लग रहा है और क्या नहीं… ये पहनूं या ये… हेयर स्टाइल ये अच्छा है या ये… इस तरह की सलाह सिर्फ एक-दो close one से ही लें। कोशिश करें कि सबके views पहले ही ले लें। ऐसा न हो कि तैयार होने के बाद लास्ट मूमेंट पर आपने अपनी मासी या बुआ से कुछ पूछा और उन्होंने मुंह बनाते हुए कहा..”ठीक ही है..” उस समय होने वाले मूड ऑफ से बचें।

4. एक trustable दोस्त हर समय हो साथ

4 बेस्टफ्रेंड या कजिन। जिसके भी आप बहुत क्लोज हों, उससे पहले से ही बात करें ताकि पूरे समय वह आपके साथ रहे। इससे आपके पर्सनल काम में मदद के साथ ही मेंटल सपोर्ट भी रहता है।

5. पहले ही डिसाइड करें

5 सब कुछ खरीदा और एक साथ रख दिया… ये सोचकर कि तभी डिसाइड कर लेंगे। यकीन मानिए किसी भी काम और फैसले को लास्ट डे के लिए न छोड़ें। चाहे बात hair do से जुड़ी हो या accessories से जुड़ी हो। इस तरह आप शादी वाले दिन टेंशन फ्री bride की तरह हर रस्म को एंजॉय कर सकती हैं।