Advertisement

वेलनेस

महिलाओं को पता होना चाहिए निप्पल्स के बारे में ये बातें – Everything About Nipples in Hindi

POPxo HindiPOPxo Hindi  |  May 5, 2016
Everything About Nipples in Hindi

Advertisement

हम अपने शरीर के बारे में कैसा महसूस करते हैं या फिर हमारे शरीर के अलग-अलग हिस्से किस तरह से काम करते हैं, ये सब कई बार समझ पाना मुश्किल हो जाता है लेकिन ब्रेस्ट हमारे शरीर का एक ऐसा हिस्सा है, जिसके बहुत ही मिक्स्ड इमोशन होते हैं और इसे समझना काफी मुश्किल होता है। 

बदलते समय के साथ मार्केट में ब्रेस्ट से संबंधित बहुत सी चीजें मिलने लगी हैं। फिर चाहे वो ब्रेस्ट लिफ्टिंग ब्रा हो या फिर निप्पल टेप। आज के समय में ब्रेस्ट से संबंधित और महिलाओं की सुविधाओं के लिए काफी चीजे उपलब्ध हैं। हालांकि, इसके बाद भी महिलाओं के निप्पल के बारे में कुछ ऐसी बाते हैं, जिनके बारे में शायद उन्हें जानकारी ना हो। यहां हम आपको बता दें कि ये कुछ ऐसी बाते हैं जो पूरी तरह से समान्य है और यदि आपके साथ ऐसा कुछ होता है तो आपको डरने या परेशान होने की जरूरत नहीं है। 

तो चलिए बिना कोई देरी किए आपको निप्पल्स के बारे में कुछ तथ्य बताते हैं जिनके बारे में आपको जानकारी जरूर होनी चाहिए। 

क्या आप जानती हैं Nipples के बारे में ये बातें! – Nipples in Hindi

1. निप्पल का साइज अलग हो सकता है

nipples-1

चाहे आपके बूब्स का शेप और साइज़ कुछ भी हो….जब बात निप्पल के साइज़ या कलर की होती है तो किसी एक चीज़ को आप नॉर्मल नहीं कह सकती हैं – क्योंकि ये छोटे या बड़े हो सकते हैं, डार्क या लाइट, पिंक या ब्राउन आदि, कैसे भी हो सकते हैं। सभी के निप्पल अलग-अलग साइज़ और कलर के होते हैं! और ये बिलकुल संभव है कि छोटे बूब्स वाली लेडी के निप्पल बड़े हो या बड़े बूब्स वाली लेडी के निप्पल छोटे हों।

2. कुछ लेडिज के निप्पल ओवर सेनसिटिव होते हैं….

अधिकतर महिलाओं की nipple सेंसिटिविटी इस बात पर निर्भर करती है कि वो menstrual साइकल के किस phase में है। जैसे-जैसे महिला अपने पीरियड के नजदीक आती है nipples की सेंसिटिविटी बढ़ती जाती है। लेकिन, जिनके nipples बहुत ज़्यादा ही सेनसिटिव होते हैं कभी-कभी अचानक उनके nipples हार्ड हो जाते हैं और कभी-कभी वो soreness या chaffing भी experience करती हैं।

3. निप्पल की सामान्य हाइट लेडी बग जितनी होती है

nipple 1

2009 में 300 महिलाओं के निप्पल और एरोला के एक अध्ययन में, परिणामों ने 4 सेमी (जो कि गोल्फ की गेंद से थोड़ा छोटा है) का एक औसत एरोला डायमीटर दिखाया, औसत निप्पल डायमीटर 1.3 सेमी (चौड़ाई के समान, लंबाई नहीं, एक एए बैटरी), और औसत निप्पल ऊंचाई 0.9 सेमी (एक लेडी बग के आकार जितनी पाई गई)।

4. एक्सरसाइज करने से निप्पल हो सकते हैं चाफेड

nipples-4

एक अच्छी तरह से फिट होने वाली स्पोर्ट्स ब्रा मदद करती है, जैसे कि निपल्स पर लगाए जाने वाले नॉन-चफ़िंग बाम या गोल बैंड-एड्स। लेकिन अगर आप जोरदार गतिविधि नहीं कर रहे हैं और ध्यान दें कि आपके निपल्स लाल, खुजलीदार, पपड़ीदार और/या फड़क रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें। यह पगेट की बीमारी का संकेत हो सकता है, कैंसर का एक दुर्लभ रूप जिसमें निप्पल और इरोला शामिल होते हैं और इसे गेंडलर कहते हैं। यह एक्जिमा भी हो सकता है, इसलिए चिंता न करें। बस अपने डॉक्टर से जांच करवाएं।

5. निप्पल पर बाल का होना

अधिकतर महिलाओं के निप्पल्स के आस-पास कुछ बाल होते ही हैं! इसमें शर्म की या घबराने की कोई बात नहीं है। अगर आपको उनसे छुटकारा चाहिए तो उन्हें प्लक या वेक्स करें!

6. मल्टीपल निप्पल होना है सामान्य

हर 17 में से एक लड़की के एक से ज्यादा nipples होते हैं! लेडिज अक्सर उन्हें मस्से या एक्सट्रा स्किन समझ लेती हैं, जबकि हकीकत में वो एक्सट्रा nipple होता है। और ये बिल्कुल नॉर्मल होता है! किसी भी तरह से ये abnormal नहीं होता है। कुछ लोग इसे सर्जरी के जरिये हटवा देते हैं, लेकिन इसके रहने या नहीं रहने से आपकी बॉडी को कोई फर्क नहीं पड़ता है।

7. मुड़े हुए निप्पल होना सामान्य है

nipples-7

मुड़े हुए निप्पल (inverted nipples) होना एक दम सामान्य है और ये सामान्य निप्पल की तरह ही काम करते हैं और इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। यहां तक कि ऐसा भी हो सकता है कि आपका एक निप्पल मुड़ा हुआ हो और एक निप्पल मुड़ा हुआ ना हो। या फिर ऐसा भी हो सकता है कि आपका मुड़ा हुआ निप्पल समय के साथ अपने आप सही हो जाए।

माना जाता है कि मुड़े हुए निप्पल उस समय पूरी तरह से सही हो जाते हैं जब एक महिला शिशु को अपना दूध पिलाती है और ये किसी भी तरह से स्तनपान में परेशानी नहीं बनते हैं। वहीं अधिक ठंड वाली जगह पर भी आपके निप्पल खुल सकते हैं और या फिर सर्जरी या फिर पियरसिंग कराने से भी आपके मुड़े हुए निप्पल सामान्य हो सकते हैं। 

8. निप्पल के आस-पास होने चाहिए बंप्स

nipple 2

निप्पल के आसपास होने वाले बंप्स को मोन्टगोमरी ग्लैंड कहते और वैज्ञानिक तौर पर इन्हें एरिओलर ग्लैंड्स के नाम से जाना जाता है। ये ग्लैंड्स लिपोइड नामक फ्लूड का सीक्रेशन करते हैं, जो पूरे एरिओलर और निप्पल को ल्यूब्रीकेट और कंफर्टेबल रखता है।

9. महिलाओं के बीच निप्पल में दर्द होना सामान्य है

इसमें कोई दोराय नहीं है कि स्तनपान कराने वाली महिलाओं को कई बार निप्पल में दर्द (sore nipples) होता है। इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं, जैसे कि दूध पिलाते समय पॉजिशनिंग प्रॉब्लम । हालांकि, स्तनपान कराना दर्दभरा नहीं होता है। वहीं जो महिलाएं मां नहीं होती हैं, उन्हें भी कई बार निप्पल में दर्द (sore nipples meaning in hindi) की शिकायत होती है। ऐसा मुख्य रूप से पीएमएस या फिर हार्मोनल चेंज के कारण होता है, इसके अतिरिक्त नीचे दिए गए कारणों की वजह से भी निप्पल में दर्द हो सकता है

– स्किन इरिटेशन

– एलर्जी

– स्पॉर्ट्स ब्रा से होने वाला फ्रिक्शन

वैसे तो निप्पल कैंसर सामान्य नहीं है लेकिन फिर भी यदि आपके निप्पल में दर्द रहता है और खूनी रंग का डिस्चार्ज होता है तो आपको एक बार डॉक्टर से जरूर चैकअप कराना चाहिए। 

10. निप्पल डिस्चार्ज होता है सामान्य चाहे आप प्रेगनेंट हों या ना हों

nipples-10

अगर आप लैक्टेट नहीं कर रही हैं तब भी ऐसा हो सकता है। अगर ब्रेस्ट को बहुत ज़्यादा ज़ोर से दबाया गया है तो ऐसा होना सामान्य है, लेकिन अगर ऐसा बिना किसी कारण काफी बार होता है तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

 

11. स्तनपान कराने वाली महिलाओं के साथ दूध लीक होने की समस्या

स्तनपान कराने वाली कई महिलाओं के साथ दूध लीक की समस्या होती है। दरअसल, ऐसा तब होता है जब मां अपने बच्चे के बारे में सोचती है या फिर कई बार ऐसा तब भी हो सकता है, जब मां किसी अन्य बच्चे की रोने की आवाज सुनती है।

 

यह भी पढ़ें: 

Really? हर लड़की को आते हैं Boobs के बारे में ये 17 ख्याल

इन 10 टिप्स के साथ Boobs लगेंगे gorgeous हमेशा!

इन तरीकों से बनाएं Sex को और भी Exciting!

सही साइज की ब्रा पहनने के फायदे