home / वेलनेस
स्ट्रॉबेरी के फायदे और नुकसान, Strawberry Benefits in Hindi, Strawberry in Hindi

जानें स्वास्थ्य के लिए स्ट्रॉबेरी के फायदे और नुकसान – Strawberry ke Fayde

 

 

गर्मियों में स्ट्रॉबेरी (strawberry kya hota hai) सबसे अधिक रिफ्रेशिंग, न्यूट्रिशियस और पसंद किए जाने वाले फलों में से एक होती है। खट्टी-मीठी स्ट्रॉबेरी में काफी अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो जल्दी से ब्लड शुगर को बढ़ने से रोकती है और इस वजह से ये मधुमेह के मरीजों के लिए एक बहुत ही अच्छा फल है। 
हर प्रकार के फल और सब्जियां, चाहे वो स्ट्रॉबेरी (स्ट्रॉबेरी खाने से क्या होता है) ही क्यों ना हो, सभी स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। WHO की माने तो यदि आप रोजाना 400 ग्राम फल और सब्जियों का सेवन करते हैं तो इससे आपको दिल की बीमारी, डायबिटीज और कैंसर होने का खतरा कम होता है।                                                                                              जानिए मौसमी जूस के फायदे और नुकसान

 

 

स्ट्रॉबेरी क्या है – What is Strawberry in Hindi

What is Strawberry in Hindi

स्ट्रॉबेरी (what is the meaning of strawberry in hindi) को भी एक प्रकार की बेरी ही माना जाता है। वैसे तो कई प्रकार की स्ट्रॉबेरी होती हैं लेकिन मुख्य रूप से इन्हें तीन प्रकार में विभाजित किया जाता है- 
जून बियरिंग – यह सबसे अधिक आम और लोकप्रिय प्रकार की स्ट्रॉबेरी है। विश्वभर में इस स्ट्रॉबेरी की खेती की जाती है और आमतौर पर जून के महीने में ये पक जाती हैं। जून बियरिंक स्ट्रॉबेरी के उत्कृष्ट किस्मों की बात करें तो इसमें अर्लीग्लो , होनोई , ऑलस्टार, ज्वेल आदि शामिल है। 
एवर बियरिंग- दूसरे प्रकार की स्ट्रॉबेरी एवर बियरिंग है। हालांकि, अपने नाम की तरह यह सदाबहार नहीं है। इसका उत्पादन साल में दो बार किया जाता है। एक बार गर्मियों में और एक बार बसंत में। एवर बियरिंग के सबसे प्रसिद्ध स्ट्रॉबेरी लार्मी और ओजार्क ब्यूटी हैं। 
डे न्यूट्रल – पूरी गर्मियों में मिलने वाली स्ट्रॉबेरी (स्ट्रॉबेरी खाने का तरीका) को डे न्यूट्रल स्ट्रॉबेरी कहते हैं। इसे सबसे स्वादिष्ट स्ट्रॉबेरी माना जाता है। विश्वभर में कई किस्मों की स्ट्रॉबेरी उगाई जाती है और भारत की बात करें तो यहां मुख्य रूप से चैंडलर, टियोगा, सेल्वा, आदि की खेती की जाती है। 
वहीं इसके पोष्टिक तत्वों की बात करें तो इसमें प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, शुगर, कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन, फास्फोरस, विटामिन सी, जिंक, सोडियम और विटामिन ए आदि कई पोषक तत्व पाए जाते हैं।

स्ट्रॉबेरी के फायदे – Strawberry ke Fayde

स्ट्रॉबेरी (स्ट्रॉबेरी के फायदे) में एंटीऑक्सीडेंट गुण और पॉलीफेनोल कंपआउंड पाए जाते हैं, जो मनुष्य के स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभकारी होते हैं। स्ट्रॉबेरी (strawberry benefits in hindi) में मौजूद विटामिन सी त्वचा और बालों को लंबे समय तक स्वस्थ रखने में मदद करता है, तो चलिए बिना कोई देरी किए आपको स्ट्रॉबेरी (स्ट्रॉबेरी खाने के फायदे) के स्वास्थ्य संबंधी लाभों के बारे में विस्तार से बताते हैं। 

Strawberry ke Fayde

दिल की बीमारी से बचाए

स्ट्रॉबेरी (strawberry ke fayde) में उच्च पॉलीफेनोल सामग्री के कारण हृदय रोग के खिलाफ निवारक प्रभाव हो सकता है। पॉलीफेनोल्स पौधे के यौगिक होते हैं जो शरीर के लिए अच्छे होते हैं। 2019 की एक रिपोर्ट में सलाह दी गई है कि स्ट्रॉबेरी में एंथोसायनिन एक प्रकार के दिल के दौरे के कम जोखिम से जुड़ा होता है जिसे मायोकार्डियल इन्फ्रक्शन कहा जाता है। फ्लेवोनोइड क्वेरसेटिन, जो स्ट्रॉबेरी में भी मौजूद है, एक नैचुरल एंटी इंफ्लामेटरी है जो एथेरोस्क्लेरोसिस के जोखिम को कम करने में मदद करता है। स्ट्रॉबेरी में फाइबर और पोटेशियम की मात्रा भी हृदय स्वास्थ्य का समर्थन करती है। 2011 के एक अध्ययन में, प्रति दिन लगभग 1,000 मिलीग्राम पोटेशियम का सेवन करने वालों की तुलना में प्रति दिन 4,069 मिलीग्राम (मिलीग्राम) पोटेशियम का सेवन करने वालों में इस्केमिक हृदय रोग से मृत्यु का जोखिम कम था।

स्ट्रॉक के खतरे को कम करे

2016 के एक मेटा-विश्लेषण में ऐसे अध्ययन शामिल थे जिन्होंने एंटीऑक्सिडेंट क्वेरसेटिन, केम्पफेरोल और एंथोसायनिन का आकलन किया था। इस मेटा-विश्लेषण ने उन एंटीऑक्सिडेंट के बीच की कड़ी को देखा जो स्ट्रॉबेरी और स्ट्रोक के जोखिम में मौजूद थे। इसमें पाया गया कि स्ट्रॉबेरी स्ट्रॉक के खतरे को कम करने में मदद करती है। 

कैंसर

2016 की समीक्षा के अनुसार, स्ट्रॉबेरी (strawberry khane ke fayde) में शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंट मुक्त कणों के खिलाफ काम कर सकते हैं। समीक्षा बताती है कि यह कारक ट्यूमर के विकास को रोक सकता है और शरीर में सूजन को कम कर सकता है। हालांकि, कोई भी फल कैंसर के लिए प्रत्यक्ष उपचार के रूप में कार्य नहीं करता है, स्ट्रॉबेरी और इसी तरह के फल कुछ लोगों में बीमारी के विकास के जोखिम को कम करने में मदद कर सकते हैं।

डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद

मधुमेह वाले लोगों के लिए स्ट्रॉबेरी एक स्वस्थ फल विकल्प है। स्ट्रॉबेरी में पर्याप्त फाइबर सामग्री भी रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में मदद करती है और अत्यधिक उतार-चढ़ाव से बचकर इसे स्थिर रखती है। फाइबर तृप्ति में सुधार कर सकता है, जिससे लोगों को खाने के बाद लंबे समय तक पेट भरा हुआ महसूस करने में मदद मिलती है। यह भोजन के बीच नाश्ते के लिए आग्रह को कम कर सकता है, जो ग्लूकोज प्रबंधन का समर्थन करेगा और रक्त शर्करा के स्पाइक्स के जोखिम को कम करता है।

ब्लड प्रेशर के लिए उपयोगी

अपने उच्च पोटेशियम सामग्री के कारण, स्ट्रॉबेरी उन लोगों के लिए लाभ प्रदान कर सकती है जिनके शरीर में सोडियम के प्रभाव को ऑफसेट करने में मदद करके उच्च रक्तचाप का खतरा बढ़ जाता है। कम पोटेशियम का सेवन उच्च रक्तचाप के लिए उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि उच्च सोडियम सेवन। लोगों को अपने आहार में अधिक पोटेशियम का उपभोग करने में मदद करने के लिए स्ट्रॉबेरी एक मीठा,और अच्छा तरीका। 

कब्ज की समस्या दूर करे

स्ट्रॉबेरी, अंगूर, तरबूज और खरबूजे जैसे खाद्य पदार्थ खाने से पानी और फाइबर की मात्रा अधिक होती है जो शरीर को हाइड्रेट करने और नियमित मल त्याग को बनाए रखने में मदद कर सकते हैं। फाइबर कब्ज को कम करने और मल में भारी मात्रा में जोड़ने के लिए आवश्यक है।

त्वचा के लिए

त्वचा के लिए स्ट्रॉबेरी कई तरीकों से फायदेमंद है। इसमें पॉलीफेनोल्स होते हैं जो बहुत ही अच्छे एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी का काम करते हैं। साथ ही इसमें एंथोकायनिन भी पाया जाता है। इसकी वजह से ही स्ट्रॉबेरी लाल और चमकदार होती है। यह त्वचा के लिए भी फायदेमंद होता है। यह तत्व सूरज की हानिकारक किरणों से त्वचा को बचाने में मदद करता है। 

एंटी एजिंग

स्ट्रॉबेरी एंटी एजिंग के लिए भी उपयोग की जाती है। स्ट्रॉबेरी उम्र के साथ घटने वाली चेहरे की चमक और कसावट को बनाए रखने में मदद करती है। इसमें विटामिन सी होता है, जो चेहरे की रंगत को निखारता है और त्वचा की नमी को बनाए रखने में मदद करता है। स्ट्रॉबेरी फ्री रेडिकल की वजह से त्वचा पर होने वाले नुकसान को कम करने में मदद करती है। आप इसके लिए स्ट्रॉबेरी का पेस्ट बना कर अपने चेहरे पर लगा सकती हैं। 

इम्यूनिटी बढ़ाए

यदि आप स्वादिष्ट फल खा कर अपनी इम्यूनिटी को बढ़ाना चाहते हैं तो स्ट्रॉबेरी आपके लिए बेस्ट फल है। इसमें विटामिन सी होता है जो आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। 

हड्डियों के लिए फायदेमंद

हड्डियों को मजबूत बनाए रखने के लिए भी आप स्ट्रॉबेरी का इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल, स्ट्रॉबेरी भी एक प्रकार की बेरी होती है और इस वजह से बढ़ती उम्र के साथ कमजोर होती हड्डियों को स्वस्थ रखने में ये काफी मदद करती है। 

स्ट्रॉबेरी के नुकसान – Strawberry ke Nuksan

Strawberry ke Nuksan

पौष्टिक तत्वों से भरपूर स्ट्रॉबेरी के वैसे तो कोई नुकसान नहीं होते हैं लेकिन यदि आप इसका अत्यधिक सेवन करते हैं तो आपके स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाने की बचाए इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है-
– स्ट्रॉबेरी खाते समय इस बात का ध्यान रखें कि इसमें फाइबर की मात्रा बहुत अधिक होती है और यदि आप जरूरत से अधिक इसका सेवन करते हैं तो आपको डायरिका, गैस और ऐंठन भी हो सकती है।
– स्ट्रॉबेरी में विटामिन सी भी काफी अधिक मात्रा में पाया जाता है। इसका अधिक सेवन करने से आपके पेट में मरोड़ हो सकते हैं। साथ ही यदि किसी को हेमोक्रोमैटोसिस है तो उनकी स्थिति अधिक बिगड़ सकती है।
– स्ट्रॉबेरी के अधिक सेवन से शरीर में पौटैशियम की मात्रा बढ़ सकती है। पोटैशियम की मात्रा बढ़ने की वजह से दिल से संबंधित परेशानी हो सकती है। साथ ही आपको हाइपरकलेमिया भी हो सकता है, जिसकी वजह से मांसपेशियों में कमजोरी और लकवा हो सकता है।

स्ट्रॉबेरी से जुड़े सवाल और जवाब

Benefits of Strawberry in Hindi

स्ट्रॉबेरी की खेती कैसे की जाती है?

स्ट्रॉबेरी की अच्छी उपज के लिए बलुई दोमट मिट्टी को उपयुक्त माना जाता है। इसकी खेती के लिए ph 5.0 से 6.5 तक मान वाली मिट्टी भी उपयुक्त होती है। यह फसल शीतोष्ण जलवायु वाली फसल है जिसके लिए 20 से 30 डिग्री तापमान सही रहता है। तापमान बढ़ने पर पौधों में नुकसान होता है और उपज भी प्रभावित हो सकती है।

स्ट्रॉबेरी फल को हिंदी में क्या कहते हैं?

स्ट्रॉबेरी को हिंदी में झरबेर कहते हैं।

स्ट्रॉबेरी में कौन से विटामिन होते हैं?

स्ट्रॉबेरी में कई प्रमुख विटामिन और लवण मौजूद होते हैं. स्टॉबेरी में विटामिन सी, विटामिन ए और के पाया जाता है. इसके साथ ही यह कैल्शियम, मैग्नीशियम, फॉलिक एसिड, फॉस्फोरस, पोटैशियम और डायट्री फाइबर्स से भरपूर होता है

स्ट्रॉबेरी का वैज्ञानिक नाम क्या है?

स्ट्रॉबेरी का वैज्ञानिक नाम फ्रैगारिया या अनानासा है।

POPxo की सलाह : MYGLAMM के ये शानदार बेस्ट नैचुरल सैनिटाइजिंग प्रोडक्ट की मदद से घर के बाहर और अंदर दोनों ही जगह को रखें साफ और संक्रमण से सुरक्षित!

21 Jun 2021

Read More

read more articles like this

Read More

read more articles like this
good points logo

good points text