Advertisement

ब्यूटी

भूलकर भी न करें पुरानी लिपस्टिक का इस्तेमाल, हो सकते हैं ये साइड इफेक्ट्स

Archana ChaturvediArchana Chaturvedi  |  Jul 15, 2020
भूलकर भी न करें पुरानी लिपस्टिक का इस्तेमाल, हो सकते हैं ये साइड इफेक्ट्स

Advertisement

गुलाबी होंठ हर किसी को पसंद होते हैं लेकिन खराब लाइफस्टाइल और कुछ लापरवाहियों के चलते ज्यादातर ये बेदाग और फीके पड़ने लगते हैं। दरअसल, हमारे होंठों में ऑयल ग्लैंड्स नहीं होती हैं, इसलिए इन पर वैसे भी मौसमी बदलाव या हमारी लाइफस्टाइल का असर काफी जल्दी दिखने लगता है। बाकी की कसर हमारे द्वारा रोजाना इस्तेमाल किये जाने वाले ब्यूटी प्रोडक्ट्स भी इस पर बुरा प्रभाव डालते है। खासतौर पर पुरानी एक्सपायरी हो चुकी लिपस्टिक। जी हां, इसके एक नहीं बल्कि कई नुकसान हैं।

पुरानी लिपस्टिक इस्तेमाल करने के नुकसान – side effects of using expired lipstick in Hindi

एक कहावत है ‘ओल्ड इज गोल्ड’, लेकिन मेकअप प्रोडक्ट्स के मामले में ये बात फिट नहीं बैठती। समझदारी इसी में है कि जैसे ही किसी प्रोडक्‍ट की एक्‍सपायरी डेट (expired lipstick) आती है, उसे तुंरत फेंक देना चाहिए। लेकिन ज्यादातर लोग ऐसा नहीं करते। आजकल ज्यादातर महिलाएं ढ़ेर सारे कॉस्‍मेटिक प्रोडक्‍ट की शॉपिंग करती हैं लेकिन रोजाना इस्‍तेमाल न करने की वजह से बहुत सारे प्रोडक्ट्स रखे-रखे ही खराब हो जाते हैं। खासतौर पर लिपस्टिक (Lipstick), क्योंकि बहुत से लोगों के पास हर शेड्स की लिपस्टिक होती है और वो ज्यादा इस्तेमाल नहीं हो पाती है। ऐसे में नई-पुरानी सब एक साथ मिल जाती हैं और हम जाने-अनजाने उसे इस्तेमाल भी कर लेते हैं। अगर आप कोई सस्ती, घटिया क्वालिटी या पुरानी एक्सपायरी हो चुकी लिपस्टिक का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपके होंठ के साथ-साथ ये आपके शरीर को भी कई तरह से नुकसान पहुंचा सकती है। आइए जानते हैं इससे होने वाले साइड इफेक्ट्स के बारे में –

lips white bumps

होंठों पर सफेद परत या धब्बे

खराब और घटिया लिपस्टिक इस्तेमाल करने से होंठों पर ज्यादातर लोगों के सफेद परत जम जाती है या फर धब्बे से पड़ जाते हैं। क्योंकि पुरानी लिपस्टिकों में नमी के कारण बैक्टीरिया पैदा हो जाते हैं जो आपके होंठों पर प्रजनन स्थल बना लेते हैं। यही कारण है कि ये समस्या काफी समय तक बनी रहती है।

शरीर पर टॉक्सिक प्रभाव

लिपस्टिक बनने में कई तरह के केमिकल का इस्तेमाल होता है। इनकी एक निश्चित समयसीमा होती है उसके बाद ये केमिकल अपना बुरा प्रभाव हमारी स्किन पर दिखाने लगते हैं। जिनकी वजह से शरीर पर टॉक्सिक प्रभाव पड़ सकता है। इसकी वजह से आपके होंठ सुखने लगते हैं और काले भी पड़ जाते हैं।

हार्मोंनल असंतुलन

सस्ती और घटिया क्वालिटी की लिपस्टिक तैयार करने में इनमें पड़ने वाले रसायन शरीर के हार्मोन्स को प्रभावित करते हैं, जिससे वह असंतुलित हो सकते हैं।

आंखों में जलन

लिपस्टिक में इस्तेमाल होने वाले लेड और कैडमियम हमारी आंखों के लिए बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। होंठों के साथ-साथ बहुत सी महिलाएं लिपस्टिक को अपनी आईलेट पर भी आईशैडो की तरह इस्तेमाल करती है, जिसकी वजह से उनकी आंखों में जलन पड़ने की समस्या शुरू हो जाती है।

किस तरह की लिपस्टिक इस्तेमाल करनी चाहिए ?
बहुत बार ऐसा होता है की हम थोड़े से पैसे बचाने के चक्कर में सस्ते और चीप ब्रांड के लिप प्रोडक्ट खरीद लेते हैं और बाद में पछताते हैं। हमेशा इस बात का ध्यान रखें की हर मेकअप प्रोडक्ट एक लाइफटाइम के साथ आता है और जब लिपस्टिक जब बहुत ग्रीसी हो जाए तो समझ जाए वह पुरानी हो गई है। कोशिश करें कि लिपस्टिक अच्छे ब्रांड की ही खरीदें। साथ ही आजकल मार्केट में हर्बल लिपस्टिक भी उपलब्ध हैं, आप उसे भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
लिपस्टिक खराब न हो इसके लिए क्या करना चाहिए ?
लिपस्टिक को ज्यादा समय तक सुरक्षित रखने के लिए इसे आप सीधे होंठो पर न लगाकर कॉटन बॉल से लगाने की आदत डाले। जी हां इस तरह से आप लम्‍बे समय तक अपनी लिपस्टिक स्‍टोर कर सकती हैं।