एंटरटेनमेंट

घरेलू हिंसा पर छलका श्वेता तिवारी का दर्द, बेटी को दी अपनी लड़ाई खुद लड़ने की सलाह

Supriya SrivastavaSupriya Srivastava  |  Mar 9, 2021
Shweta Tiwari shares pain of domestic violence, Shweta Tiwari, Palak Tiwari
टीवी एक्ट्रेस श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर अक्सर चर्चा में रहती हैं। रील लाइफ में अगर उनका निभाया हुआ कोई किरदार बुराइयों से संघर्ष करता है तो रियल लाइफ में भी खुद उन्होंने कुछ कम संघर्ष नहीं किये हैं। 17 साल की उम्र में शादी और 18 साल ही उम्र में एक बेटी की मां बन चुकीं श्वेता तिवारी अपनी ज़िंदगी में घरेलू हिंसा (Domestic Violence) का शिकार रह चुकी हैं। कहने को तो श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) की दो शादियां हो चुकी हैं लेकिन दोनों ही रिश्तों में उन्हें दर्द और संघर्ष के सिवा कुछ नहीं मिला है। जहां पहले पति राजा चौधरी पर श्वेता तिवारी ने मार-पीट के आरोप लगाए वहीं दूसरे पति पर बेटी पलक (Palak Tiwari) को अश्लील मैसेज भेजने के आरोप लगाकर उन्होंने तलाक ले लिया। 
ज़िंदगी में इतना कुछ झेलने के बाद भी श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) अपने बच्चों के लिए चट्टान की तरह खड़ी हैं। आज वे एक सक्सेसफुल सिंगल मदर (Single Mother) हैं। श्वेता ने हाल ही में ‘विमंस डे’ के मौके पर अपनी 20 साल की बेटी पलक के लिए एक इमोशनल वीडियो शेयर किया है। इस वीडियो में श्वेता तिवारी ने अपने घरेलू हिंसा (Domestic Violence) के दर्द को बयां किया है। साथ ही बेटी को यह नसीहत भी दी है कि वो अपनी लड़ाई खुद लड़े और ज़िंदगी में कभी वो सब न झेले, जो उन्होंने झेला।

घरेलू हिंसा (Domestic Violence) पर अपना दर्द बयां करते हुए श्वेता तिवारी(Shweta Tiwari) ने कहा, “घरेलू हिंसा पर कभी भी चुप नहीं बैठना चाहिए। अगर आप चुप बैठ गईं तो आपके बच्चे भी आपसे कमजोर होना और चुप रहना सीखेंगे और घरेलू हिंसा (Domestic Violence) को स्वीकार कर लेंगे। वहीं अगर आप इसके खिलाफ स्टेप लेंगी तो आपके बच्चे भी मजबूत बनेंगे और सही-गलत का फर्क समझ पाएंगे।” 

श्वेता ने आगे बताया, “जब मैंने अपनी ज़िंदगी में घरेलू हिंसा (Domestic Violence) के खिलाफ स्टेप उठाया तो सभी ने मुझे ऐसा करने से रोका और कहा कि अपने बच्चों के बारे में तो सोचा होता, बेटी के बारे में तो सोचा होता। मगर मैंने जो कुछ भी किया उससे मेरी बेटी बहुत समझदार, इंटेलिजेंट और स्ट्रॉन्ग बनी है। उसे सही गलत का फर्क समझ में आया है।”

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) ने बेटी पलक को अपनी लड़ाई खुद लड़ने की सलाह दी। उन्होंने कहा, “आज के दिन मैं अपनी बेटी से यही कहना चाहती हूं कि बेटा मैं हमेशा तुम्हारे साथ हूं और रहूंगी लेकिन तुम्हे अपनी लड़ाई खुद लड़नी पड़ेगी। मैं शायद हर जगह तुम्हारे साथ न रहूं तुम्हे बचाने के लिए, इसलिए तुम्हे अपने लिए स्टेप खुद उठाना पड़ेगा। मेरी ज़िंदगी के उतार-चढ़ाव से तुम सीखो और स्ट्रॉन्ग बनो।” इसी के साथ उन्होंने घरेलू हिंसा (Domestic Violence) से जूझ रही सभी महिलाओं को भी इसके खिलाफ कदम उठाने के लिए प्रेरित किया और मदद के लिए 181 (Women Help line) डायल करने की सलाह दी।   

POPxo की सलाह: MYGLAMM के ये शनदार बेस्ट नैचुरल सैनिटाइजिंग प्रोडक्ट की मदद से घर के बाहर और अंदर दोनों ही जगह को रखें साफ और संक्रमण से सुरक्षित!