लाइफस्टाइल

भारत की मूक- बधिर बेटी गीता के दूल्हे की तलाश के दौरान आए अनेक विवाह प्रस्ताव

Richa KulshresthaRicha Kulshrestha  |  Apr 24, 2018
भारत की मूक- बधिर बेटी गीता के दूल्हे की तलाश के दौरान आए अनेक विवाह प्रस्ताव

पाकिस्तान से दो साल पहले भारत लाई गई मूक-बधिर युवती गीता, जिसे सरकार की बेटी भी कहा जाता है, की शादी की तैयारियां शुरू हो गई हैं। सोशल मीडिया पर गीता की शादी के लिए विज्ञापन देने के बाद गीता से शादी के लिए अनेक  प्रस्ताव आने लगे हैं, जिनमें तीन मूक-बधिर युवकों समेत करीब 20 युवकों के बायोडाटा शामिल हैं।

गौरतलब है कि गीता सात- आठ साल की उम्र में पाकिस्तानी रेंजर्स को समझौता एक्सप्रेस में लाहौर रेलवे स्टेशन पर मिली थी। गलती से सरहद पार पहुंचने वाली मूक-बधिर लड़की गीता को भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के विशेष प्रयासों के कारण 26 अक्तूबर 2015 को स्वदेश लाया गया। इसके अगले ही दिन उसे इंदौर में मूक-बधिरों के लिए चलायी जा रही गैर सरकारी संस्था के आवासीय परिसर भेज दिया गया था। तब से वह इसी परिसर में रह रही है।

Geeta with Sushma Swaraj

अब तक नहीं मिले माता-पिता

इसके बाद दो साल से उसके माता-पिता की तलाश की जा रही थी, लेकिन वह अभी तक नहीं मिले। हालांकि पिछले ढाई साल में देश के अलग-अलग इलाकों से 10 से ज्यादा परिवार गीता को अपनी लापता बेटी बता चुके हैं. लेकिन सरकार की जांच में इनमें से किसी भी परिवार का इस मूक-बधिर युवती से संबंध साबित नहीं हो सका है।

शादी की तैयारियां

गीता को उसके माता-पिता तो नहीं मिल पाए लेकिन अब उसकी शादी की तैयारियां शुरू हो गई हैं। तीन मूक बधिर युवकों ने गीता से शादी की इच्छा जताई है। पाकिस्तान से लाए जाने के बाद से इंदौर के मूक-बधिर केंद्र में रह रही गीता अपने माता-पिता की जानकारी न मिल पाने से काफी निराश हो चुकी है, इसलिए उसके जीवन में गति लाने के लिए मूक-बधिर केंद्र के जिम्मेदार लोग उसकी शादी पर विचार कर रहे हैं।

सोशल मीडिया पर तलाश

इस बारे में गीता की मंजूरी मिलने के बाद सोशल मीडिया के जरिए दूल्हे की तलाश शुरू की गई है। इंदौर के इस मूक-बधिर केंद्र के सांकेतिक भाषा विशेषज्ञ ज्ञानेंद्र पुरोहित ने फेसबुक पर गीता के लिए ”स्मार्ट मूक-बधिर लड़के की आवश्यकता” पोस्ट शेयर की थी, जिसके बाद तीन युवाओं ने अपना बायोडेटा भेजा जबकि अन्य दस ने वीडियो कॉल के जरिए जानकारी ली। श्री पुरोहित ने बताया कि पिछले तीन दिनों में मध्यप्रदेश, गुजरात और दिल्ली के रहने वाले तीन युवकों ने गीता से शादी करने की इच्छा जताई है।

गीता खुद करेगी अपने दूल्हे का चयन

बताया गया है कि गीता और विदेश मंत्री की आपसी सहमति से दूल्हा तय किया जाएगा। गीता अपने लैपटॉप के जरिए इंटरनेट पर लड़के देखेगी। वहीं शादी का प्रस्ताव लाने वाले लड़कों से मिलने से पहले वीडियो चैटिंग भी कर सकेगी।

बेरोजगार युवक का खत

इस बीच गीता से शादी करने के इच्छुक एक ऐसे युवक का खत भी काफी चर्चा में है, जो बेरोजगार है। इस युवक ने लिखा है, “भैया! मैं गरीब हूं। मेरे पास कुछ काम भी नहीं है। गीता से शादी करवा दो तो सरकार से गाड़ी-बंगला मिल जाएगा। मेरा कुछ भला हो जाएगा तो गरीब की दुआ लगेगी।” इसके अलावा भी अनेक ऐसे पुरुषों के प्रस्ताव आए हैं जो या तो काफी ज्यादा उम्र के हैं, या फिर कुछ काम नहीं करते। ऐसे लोगों के प्रस्तावों को हटाकर अलग कर दिया गया है। 

फोटो सौजन्य – पंजाब केसरी

इन्हें भी देखें –